वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > ज़ुझाउ > मूलपाठ

ट्रंप का एक और भारत विरोधी फैसला, हो सकते हैं 7 हजार भारतीय प्रभावित

2022-09-30 07:09:56 ज़ुझाउ

ट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितडॉलर के मुकाबले 2 सप्ताह के उच्चतम स्तर पर रुपया, 47 पैसे बढ़कर 74.88 पर बंद******डॉलर के मुकाबले रुपये में मजबूतीनई दिल्ली। कच्चे तेल की वैश्चिक कीमतों में गिरावट तथा बाजार में जोखिम उठाने की क्षमता बढ़ने के साथ अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में बुधवार को रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 47 पैसे के उछाल के साथ 74.88 प्रति डॉलर के लगभग दो सप्ताह के उच्च स्तर पर बंद हुआ। बाजार सूत्रों ने कहा कि घरेलू शेयर बाजार में गिरावट के कारण रुपये पर कुछ दबाव रहा।बुधवार के कारोबार में अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया मजबूती का रुख लिए 75.10 रुपये पर खुला तथा कारोबार के दौरान यह 74.88 रुपये तक सुधर गया, जो सात अक्टूबर के बाद का उच्चतम स्तर है। कारोबार के दौरान रुपया 74.83 से 75.13 रुपये के दायरे में रहा और अंत में पिछले कारोबारी सत्र के बंद भाव के मुकाबले 47 पैसे का उछाल दर्शाता 74.88 प्रति डॉलर पर बंद हुआ। मंगलवार को ‘मिलाद-उन-नबी’ की वजह से मुद्रा बाजार बंद था। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के शोध विश्लेषक दिलीप परमार ने कहा, ‘‘कच्चे तेल की कम कीमतों और डॉलर मांग के कारण भारतीय रुपये को उभरते बाजार की मुद्राओं में सबसे ज्यादा फायदा हुआ, जबकि बाजार को आने वाले हफ्तों में अनुसूचित क्यूआईपी और आईपीओ से विदेशी पूंजी के निवेश की उम्मीद है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘डॉलर के मुकाबले चीनी युआन में तेजी, जो चार महीने के उच्च स्तर के करीब है, ने भी क्षेत्रीय मुद्राओं को समर्थन दिया।’’चीनी सरकार द्वारा कोयले की ऊंची कीमतों पर लगाम लगाने और आपूर्ति में सुधार की योजना बनाने की खबरों के बाद तेल की कीमतें 0.83 प्रतिशत घटकर 84.37 डॉलर प्रति बैरल रह गईं। वैश्विक मानक ब्रेंट कच्चा तेल वायदा 0.83 प्रतिशत की गिरावट के साथ 84.37 डॉलर प्रति बैरल रह गया। इस बीच, छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति बताने वाला डॉलर सूचकांक 0.12 प्रतिशत बढ़कर 93.84 हो गया।

ट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितकुछ महीनों में भारती सिंह ने घटाया 15 किलो वजन, जानें किस खास डाइट प्लान को किया फॉलो******'कॉमेडी क्वीन' का जब भी जिक्र आता है तो सिर्फ एक नाम जहन में आता है और वो है भारती सिंह। भारती सिंह ने अपनी जबरदस्त कॉमिक टाइमिंग और कड़ी मेहनत के बल पर आज वो मुकाम हासिल किया है जहां तक पहुंचना हर किसी का सपना होता है। लेकिन इन दिनों भारती सिंह किसी और वजह से लोगों के बीच चर्चा का विषय बनी हुई हैं। जी हां, आप ठीक पढ़ रहे हैं। भारती सिंह अब एकदम बदल चुकी हैं। वो पहले से ज्यादा फिट और पतली हो गई हैं। खास बात है कि भारती ने अपना वजन लॉकडाउन के दौरान घटाया। पहले भारती का वजन 91 किलो हुआ करता था लेकिन अब उनका वजन महज 76 किलो रह गया है।भारती के वजन का फर्क सिर्फ नंबरों में ही नहीं बल्कि खुद उनके फिजीक में भी दिख रहा है। भारती के इस वेट लॉस नंबर्स को जिसने भी पढ़ा या फिर सुना वो अब ये जानना चाहता है कि आखिर भारती ने ऐसा क्या किसा कि उनका वजन इतना ज्यादा घट गया। जानिए भारती सिंह का वो डाइट प्लान क्या है जिसके जरिए उन्होंने कुछ ही महीनों में अपना वजन 91 किलो से 76 किलो कर लिया।भारती सिंह के वजन घटाने के पीछे उनकी मेहनत, वर्कआउट और खास डाइट प्लान है। भारती का कहना है कि उन्होंने वजन कम करने के लिए इंटरमिटेंट फास्टिंग फॉलो की है। भारती शाम को 7 बजे से लेकर अगले दिन 12 बजे तक कुछ भी नहीं खाती। भारती ने अपने डाइट प्लान को लेकर कहा- ''मैं इस समय इंटरमिटेंट फास्टिंग करती हूं। मैं शाम को 7 बजे से अगले दिन 12 बजे तक कुछ नहीं खाती हूं। मैं खाने पर 12 बजे के बाद टूट पड़ती हूं। मेरी बॉडी शाम 7 बजे के बाद डिनर एक्सेप्ट नहीं करती है। करीब 30-32 साल बहुत खाना खाया है। उसके बाद एक साल अपनी बॉडी को वक्त दिया तो बॉडी ने सब एक्सेप्ट कर लिया।''भारती की वेट लॉस जर्नी जानकर हर कोई अचम्भे में है। यहां तक अपने इस ट्रांसफॉर्मेशन को लेकर भारती सिंह भी काफी हैरान हैं। उनका कहना है कि उन्हें खुद यकीन नहीं कि इतना वजन कैसे कम हो गया। भारती का कहना है कि वजन कम होने के बाद अब सांस नहीं चढ़ती और हल्का महसूस होता है। यहां तक कि डायबिटीज और अस्थमा भी कंट्रोल में हो गया है।ट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितAshok Gehlot: अशोक गहलोत ने फिर दोहराया- राहुल गांधी संभालें कांग्रेस की कमान, अन्य नेताओं ने भी हाथ उठाकर किया समर्थन****** राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने शनिवार को फिर दोहराया कि उनकी इच्छा है कि राहुल गांधी कांग्रेस की कमान संभालें। गहलोत की इस बात का पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व अन्‍य प्रतिनिधियों ने हाथ उठाकर समर्थन किया। गहलोत यहां राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधियों (डेलिगेट्स) की बैठक को संबोधित कर रहे थे। पार्टी के प्रवक्‍ता के अनुसार बैठक में, ‘‘मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि उनकी भावना यह है कि राहुल गांधी कांग्रेस के अध्यक्ष बनकर पार्टी की कमान संभालें जिस पर प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा ने उनका समर्थन किया तथा उपस्थित सभी नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों ने समर्थन में हाथ उठाए।’’ इससे पहले राजस्‍थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधियों (डेलिगेट्स) की बैठक में पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष व राजस्‍थान से अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के प्रतिनिधि चुनने का अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्‍यक्ष को देने का प्रस्ताव पारित किया गया।मुख्यमंत्री गहलोत ने क्या कहा?बैठक के बाद जारी आधिकारिक बयान के अनुसार बैठक में मुख्यमंत्री गहलोत ने प्रस्ताव किया कि राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्‍यक्ष तथा राजस्थान से एआईसीसी के प्रतिनिधि (डेलिगेट्स) का चयन कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा किया जाए। प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा ने इसका समर्थन किया तथा कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य रघुवीर मीणा ने अनुमोदन किया। यह प्रस्ताव राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के नवनिर्वाचित सभी 400 प्रतिनिधियों द्वारा सर्वसम्मति से पारित कर, इसे एआईसीसी में प्रस्तुत करने के लिए प्रदेश चुनाव अधिकारी राजेन्द्र सिंह चम्पावत को सौंपा गया। बयान के अनुसार प्रदेश चुनाव अधिकारी चंपावत द्वारा ली गई बैठक के बाद राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों की बैठक हुई।'सभी कांग्रेसजन एक हैं'इसमें मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि उनकी भावना यह है कि राहुल गांधी कांग्रेस के अध्यक्ष बनकर पार्टी की कमान संभालें जिस पर प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा ने उनका समर्थन किया तथा उपस्थित सभी नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों ने समर्थन में हाथ उठाकर अपनी सहमति दी। बैठक में उन्‍होंने कहा,‘‘ विचारधारा के आधार पर सभी कांग्रेसजन एक हैं और कोई किसी गुट में बंटा हुआ नहीं है।’’ उल्लेखनीय है कि खाद्य मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा था, ‘‘ राहुल गांधी को (पार्टी का राष्ट्रीय) अध्‍यक्ष बनाए जाने का प्रस्ताव पारित किया गया जो मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने रखा। सबने हाथ उठाकर इसका समर्थन किया।’’

ट्रंप का एक और भारत विरोधी फैसला, हो सकते हैं 7 हजार भारतीय प्रभावित

ट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितLIVE: पीएम मोदी ने डिफेंस कॉम्प्लेक्स का किया उद्घाटन******हमारे दैनिक जीवन में खबरों की बेहद महत्वपूर्ण भूमिका होती है। कुछ लोगों की सुबह यह जाने बगैर अधूरी ही रहती है कि दुनिया में क्या हो रहा है। जो लोग डिजिटल तकनीक को समझते हैं, वे अपने खाली समय में या यात्रा करते हुए भी देश-दुनिया की खबरों की जानकारी लेते रहते हैं। आज के दौर में, जबकि लोग खबरें पाने के लिए न्यूज वेबसाइट्स पर निर्भर हैं, इंडिया टीवी न्यूज आपको हर तरह की ब्रेकिंग न्यूज, ब्रेकिंग स्टोरी वीडियो, लाइव टीवी और अन्य बेहतरीन शो एक मंच पर उपलब्ध कराता है ताकि आप किसी भी जरूरी जानकारी से अनभिज्ञ न रह जाएं। इंटरनेट, ट्विटर, फेसबुक पर हम देश और दुनिया की तमाम ब्रेकिंग न्यूज देखते हैं।आप यहां सिर्फ एक पेज पर सभी तरह की ताजा खबरों और ब्रेकिंग न्यूज की लाइव कवरेज देख और पढ़ सकते हैं। इंडिया टीवी डिजिटल हर जरूरी खबर को कवर करता है और यह सुनिश्चित करता है कि उसके पाठकों से कोई भी जरूरी जानकारी छूट न जाए।ट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितGSTN में खामी के कारण निर्यातकों का 25,000 करोड़ रुपए अटका, कार्यशील पूंजी पर पड़ा असर****** ने सोमवार को कहा कि देश भर के 25,000 करोड़ रुपए वापस किए जाने का इंतजार कर रहे हैं। यह राशि की ‘अक्षमता’ के कारण अटकी पड़ी है। उन्होंने कहा कि देश के निर्यातकों के तीन लाख आवेदन अटके हैं और उन्हें रिफंड का इंतजार है। कुल मिलाकर यह राशि 25,000 करोड़ रुपए है। जीएसटी परिषद के सदस्य मित्रा ने निर्यात सम्मेलन के दौरान यह बात कही। मंत्री ने कहा कि जीएसटीएन स्वत: दावों का निपटान करती है लेकिन वह ऐसे करने में असमर्थ रही है और इसीलिए हाथों से सत्यापन पर भरोसा किया जा रहा है। इससे भारी संख्या में आवेदन एकत्रित हुए हैं और निर्यातकों की कार्यशील पूंजी पर असर पड़ा है।उन्होंने कहा कि इन आवेदनों में से औसतन 35 से 40 प्रतिशत सत्यापन के लिये राज्यों के पास आ रहे हैं और स्थिति पश्चिम बंगाल में भी खराब है। पहले भी मित्रा जीएसटी के क्रियान्वयन के लिये खिलाफ रहे। उनका आरोप है कि बिना जरूरी ढांचागत सुविधा के इसे जल्दबाजी में लागू किया गया।वित्त मंत्री ने कहा कि वह जीएसटीएन के समक्ष मुद्दे को उठाएंगे। उन्होंने कहा कि राज्य अगले तीन साल में निर्यात दोगुना करने का लक्ष्य रखा है जो फिलहाल 9.15 अरब डॉलर है। इसके लिए जिला स्तर पर निर्यातकों के लिये बुनियादी ढांचा में सुधार के लिए कदम उठाने का फैसला किया गया है।ट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितJio सिम को सपोर्ट करते हैं ये 6 फेमस 4G स्मार्टफोन, कीमत है 10 हजार रुपए से कम******(Reliance Jio)के फास्ट 4G सर्विस का सभी फायदा उठाना चाहते है लेकिनयूजर्स के बीच कंफ्यूजन की स्थिति बन गई है। ऐसे में कई कंपनियों ने 10 हजार रुपए से सस्ते 4G सिम को सपोर्ट करने वाले फोन लॉन्च किए है।4G smartphones under 5K new

ट्रंप का एक और भारत विरोधी फैसला, हो सकते हैं 7 हजार भारतीय प्रभावित

ट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितWasim Jaffer Suggestions: वसीम जाफर ने रोहित को दिलाई धोनी की याद, टी20 वर्ल्ड कप में पंत के साथ ये प्रयोग करने के लिए कहा******Highlightsपूर्व भारतीय बल्लेबाज वसीम जाफर ने आगामी टी20 वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया को एक खास सुझाव दिया है। उन्होंने विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को लेकर रोहित शर्मा को एक बड़ा प्रयोग करने के लिए कहा है। जाफर ने कहा कि टी20 में पंत का ओपनिंग में इस्तेमाल करना बेस्ट साबित हो सकता है। जाफर ने टीम इंडिया के लिए टॉप 5 बल्लेबाजी ऑर्डर को भी बताया और साथ ही रोहित को 2013 के चैंपियंस ट्रॉफी की याद दिलाई।44 साल के वसीम ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक ट्वीट करते हुए लिखा कि मुझे अभी भी लगता है कि ओपनिंग एक ऐसी जगह है जहां हमें पंत से फायदा मिल सकता है। उन्होंने रोहित को चौथे नंबर पर बल्लेबाजी का सुझाव देते हुए 2013 में धोनी के प्रयोग की याद दिलाई और कहा कि एमएस ने चैंपियंस ट्रॉफी में रोहित पर एक दांव लगाया था और उसके बाद सब इतिहास है। समय है जब रोहित भी पंत पर दांव लगाएं। जाफर ने टीम इंडिया के बल्लेबाजी क्रम के लिए अपना सुझाव देते हुए कहा कि केएल, पंत, विराट, रोहित और सूर्यकुमार, ये टॉप 5 खिलाड़ी हैं।बता दें कि 2013 के चैंपियंस ट्रॉफी में धोनी ने पहली बार रोहित शर्मा से पारी की शुरुआत करने को कहा था। तब रोहित ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले मैच में ही ओपनिंग करते हुए 65 रन की पारी खेली थी।जाफर केसुझाव की बात करें तो बीसीसीआई इसे आजमा चुकी है। पंत को टी20 में दो बार ओपनिंग करने का मौका मिला और उन्होंने 13.50 की औसत से कुल 27 रन ही बनाए। जबकि रोहित के चौथे नंबर पर बल्लेबाजी की बात करें तो भारतीय कप्तान आठ बार ऐसा कर चुके हैं और इस दौरान उन्होंने 31.33 की औसत और दो अर्धशतक की मदद से 188 रन बनाए हैं। वहीं सूर्या के पांचवें नंबर की बल्लेबाजी की बात की जाए तो इस बल्लेबाज ने तीन मौकों पर यहां खेला है और 58.50 की औसत से 117 रन बनाए हैं।रोहित शर्मा(कप्तान), केएल राहुल, विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा, ऋषभ पंत, दिनेश कार्तिक, हार्दिक पांड्या, रविचंद्रन अश्विन, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, हर्षल पटेल, अर्शदीप सिंह।: मोहम्मद शमी, श्रेयस अय्यर, रवि बिश्नोई, दीपक चाहरट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितMaharashtra Political Crisis: संजय राउत ने फिर दिया विधानसभा भंग होने का संकेत, कहा- बीजेपी ने हमारे विधायकों को किडनैप किया******Highlightsराजनीतिक संकट के बीच शिवसेना के सांसद संजय राउत ने एक बार फिर महाराष्ट्र विधानसभा भंग होने का संकेत दिया है। राज्यसभा सांसद ने बीजेपी पर विधायकों के किडनैपिंग का आरोप लगाते हुए कहा कि शिवसेना के लिए अग्निपरीक्षा की घड़ी है, लेकिन हम इस परीक्षा में सफल होंगे। वहीं रावत ने विधानसभा भंग होने का संकेत भी दिया। इससे पहले भी संजय राउत ने ट्वीट कर कहा था कि महाराष्ट्र विधानसभा भंग होने की दिशा में जा रही है। राउत के ट्वीट के बाद नीतीश राणे ने कहा कि- ''संजय राउत संविधान और उसके प्रावधानों को जानते ही नहीं हैं। क्या सरकार बचाने के लिए विधायकों को फिर से चुनाव के लिए डरा रहे हैं। चिंता न करें, महाराष्ट्र में नई सरकार आएगी और नए सिरे से विकास होगा।''एकनाथ शिंदे से आज सुबह मेरी एक घंटे बात हुई है: संजय राउतइससे पहले संजय राउत ने कहा था कि- ''एकनाथ शिंदे से आज सुबह मेरी एक घंटे बात हुई है। इस बात की पूरी जानकारी मैंने सीएम उद्धव ठाकरे को दी है। हम गुवाहाटी में मौजूद विधायकों के संपर्क में हैं। सभी विधायक जल्द मुंबई लौटेंगे।' राउत ने ये भी कहा, 'बीजेपी का सपना कभी पूरा नहीं होगा। ज्यादा से ज्यादा क्या होगा? सत्ता जाएगी तो फिर से आ जाएगी। लेकिन सत्ता से ऊपर पार्टी की प्रतिष्ठा होती है।' इस दौरान राउत ने ये भी कहा कि एकनाथ शिंदे हमारे करीबी साथी हैं।मेरे पास 40 विधायकों का समर्थन है: एकनाथ शिंदेशिंदे ने बुधवार को दावा किया है कि उनके पास 40 विधायकों का समर्थन है। इसके अलावा जल्द ही 10 और विधायक मेरे साथ आएंगे। लेकिन मैं किसी की आलोचना नहीं करना चाहता। बता दें शिंदे ने ये बयान गुवाहाटी हवाई अड्डे पर पहुंचने पर पत्रकारों से बातचीत के दौरान दिया। बता दें कि शिवसेना के विधानसभा में इस समय 56 विधायक हैं। गौरतलब है कि शिंदे सोमवार देर रात मुंबई से शिवसेना के कुछ विधायकों के साथ निकल गए थे। इसके बाद उन्होंने गुजरात के सूरत में डेरा डाला था। हालांकि बाद में उन्होंने गुवाहाटी जाने का फैसला किया और वह असम पहुंच गए।

ट्रंप का एक और भारत विरोधी फैसला, हो सकते हैं 7 हजार भारतीय प्रभावित

ट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितयूपी STF से मुठभेड़ के बाद हापुड़ लूट-हत्याकांड का संदिग्ध गिरफ्तार******उत्तर प्रदेश पुलिस के विशेष कार्य बल (एसटीएफ) के साथ मंगलवार को हुई मुठभेड़ में चार दिन पहले हापुड़ में एक कारोबारी की सनसनीखेज हत्या में कथित रूप से शामिल एक संदिग्ध को गिरफ्तार कर लिया गया। अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी। अधिकारियों ने कहा कि 23 वर्षीय रोहित नामक संदिग्ध को एसटीएफ की नोएडा इकाई ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हापुड़ जिले के पिलखुआ इलाके में स्थानीय पुलिस की सहायता से पकड़ा।अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राज कुमार मिश्रा ने कहा, 'एसटीएफ को पिलखुआ इलाके में संदिग्ध की आवाजाही के बारे में जानकारी मिली थी। उसे पकड़ने के लिए जाल बिछाया गया, लेकिनशाम करीब साढ़े तीन बजे संदिग्ध और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई जिसमें आरोपी घायल हो गया। उसे गिरफ्तार कर इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया।'अधिकारी ने कहा कि उसके कब्जे से एक अवैध पिस्तौल और कुछ गोला-बारूद बरामद किया गया है, जबकि उसकी मोटरसाइकिल को जब्त कर लिया गया है और संदिग्ध को आगे की कानूनी कार्रवाई के लिए स्थानीय पुलिस को सौंप दिया गया है। इनपुट-भाषा

ट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितहिमाचल प्रदेश में नवोदय विद्यालय के 35 विद्यार्थी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए******हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर में शुक्रवार को कोविड-19 के 67 नए मामले सामने आए, जिनमें से 35 विद्यालय में पढ़नेवाले विद्यार्थी हैं। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही जिले में संक्रमण का उपचार करा रहे रोगियों की संख्या 317 हो गई। अधिकारी के अनुसार, हमीरपुर के डूंगरी के नवोदय विद्यालय के 35 विद्यार्थी शुक्रवार को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए, जहां इससे पहले 11 विद्यार्थी संक्रमित पाए गए थे। जिले में संक्रमण से अब तक 281 लोगों की जान गई है।बताया जा रहा है कि यह सभी रैपिड एंटीजन टेस्ट में संक्रमित पाए गए हैं। जबकि, आरटीपीसीआर में कोई मामला संक्रमित नहीं पाया गया है। नवोदय विद्यालय डूंगरी में वीरवार को 11 विद्यार्थी संक्रमित पाए जाने के बाद यहां संक्रमण फैला है। एहतियातन तौर पर लिए गए सैंपलों में 35 विद्यार्थी संक्रमित निकले हैं।वहीं, भोरंज के उखल और कड़ोहता गांव के दो वृद्धों की मौत हो गई है। हालांकि, कड़ोहता गांव के वृद्ध की मौत वीरवार को हो गई थी, लेकिन स्वास्थ्य विभाग के रिकॉर्ड में यह शुक्रवार को दर्ज हुई है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. आरके अग्निहोत्री ने बताया कि शुक्रवार को जिले में रैपिड एंटीजन टेस्ट के लिए कुल 706 सैंपल लिए गए, जिनमें से 67 पॉजिटिव निकले। उन्होंने लोगों से नियमों का पालन करने और लक्षण दिखने पर जांच करवाने का आग्रह किया है।ट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितGemini Horoscope 2022: मिथुन राशि को मिलेंगे धनलाभ के कई मौके, जानिए स्वास्थ्य को लेकर कैसा रहेगा नया साल******Highlightsमिथुन राशि के जातकों के लिए नया साल किसी वरदान से कम नहीं होगा। जहां एक ओर शिक्षा के नए-नए रास्ते खुलेंगे। वहीं कारोबार करने वाले लोगों को धनलाभ मिलने के काफी अवसर मिलेंगे। आचार्य इंदु प्रकाश से जानिए कैसा रहेगा आपका नया साल 2022।करियर की दृष्टि से यह साल उम्मीद से कम बढ़िया रहेगा। इस साल आपका ध्यान कुछ भटक सकता है। साहस और ध्यान बनाए रखने की आवश्यकता है। अपनी मेहनत व सकारात्मक व्यवहार के ज़रिए आप इन कठिन परिस्थितियों से निश्चय ही बाहर आ सकते हैं। वेतन बढ़ने की आस काफी कम है। इस साल आपकी सभी इच्छाएं पूरी होना थोड़ा मुश्किल है। कार्य-स्थल पर कड़ी मेहनत की जरूरत है, जो लोग नौकरी बदलने की सोच रहे हैं उन्हें सोच-समझकर कदम उठाना चाहिए।इस वर्ष आर्थिक मामलों में आपकी स्थिति सामान्य रहेगी | आप अपने कारोबार को बढाने के लिए कोई बड़ा कदम उठाएंगे लेकिन कदम बढाने से पहले आप अपने बड़े या जो बड़ों के समान है उनकी राय लें या फिर अपने बिज़नेस के सहकर्मी की राय लें। पैसों के लेन-देन से थोड़ा सतर्क रहें। लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है सब ठीक हो जायेगा। इस वर्ष जो लोग रेस्टोरेंट चला रहे है उन्हें काफी फायदा होगा। शैक्षणिक संस्था चलाने वाले लोगों को इस वर्ष काफी राहत मिलेगी।इस साल आपका गृहस्थ जीवन बहुत अच्छा रहने वाला है। सामाज में आप दोनों का मान-सम्मान बढ़ेगा। किसी महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिये आपको कुछ दिनों के लिये जीवनसाथी से दूर रहना पड़ सकता है। लेकिन ये दूरियां आपके रिश्ते को और भी मजबूत बनाएंगी। मुश्किल परिस्थितियों में जीवनसाथी का पूरा सहयोग प्राप्त होगा। लवमेट्स भी यह साल एक-दूसरे के साथ रोमांटिक पलों में गुजारेंगे। आपका रिश्ता और भी मजबूत होगा। कुल मिलाकर ये साल आपके लिये बेहद खुशनुमा माहौल लेकर आएगा।इस वर्ष आप अपने स्वास्थ्य को लेकर सावधानी बरतने की जरुरत है। आपके गुस्से में वृद्धि होगी। जिसकी वजह से आपको हाई ब्लडप्रेशर, सिर दर्द आदि जैसे समस्याएं हो सकती है, जिससे आपका काम बिगड़ेगा। ख़ासतौर पर अपने घर के बुजुर्गों के स्वास्थ्य का ख्याल रखें, जिससे आपको दिक्कतों का सामना ना करना पड़े। अपने स्वास्थ्य से संबंधित हल निकालने के लिए आपको नियमित मेडिटेशन करना चाहिए, खान-पान और अपने आस पास की सफाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए। अच्छे स्वास्थ्य के लिए माता दुर्गा की उपासना करें और छोटी कन्याओं को कुछ गिफ्ट करें।विद्यार्थियों के लिए यह साल किसी वरदान से कम नहीं रहने वाला है। साल 2022 में आपको हर तरह से पढ़ाई का लाभ मिलेगा। अगर आपका प्रोजेक्ट सोशल स्टडीज़ से रिलेटिड है तो उसे आप साल के अंतिम महीनों में पूरा कर सकते हैं, जिसका फायदा आपके साथ-साथ आपके जूनियर्स को भी मिलेगा। जो छात्र घर से बाहर रह कर पढ़ाई कर रहे हैं, उनके लिए भी यह साल काफी अच्छा रहने वाला है। आपको बहुत से नए और अच्छे एक्सपीरियंस मिलेंगे, जिनसे आपको बहुत कुछ सीखने को मिलेगा।

ट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितFilmfare Awards 2022: फिल्मफेयर अवॉर्ड्स के लिए जमीं पर उतरे सितारे, अनिल कपूर, दीया मिर्जा समेत इन सितारों का लगा मेला******Highlightsफिल्मफेयर अवॉर्ड्स समारोह आज मुंबई में हुआ, इस फंक्शन में शामिल होने के लिए बॉलीवुड के कई बड़े सेलेब्स अलग-अलग अंदाज में पहुंचे।मुंबई के जियो वर्ल्ड कन्वेंशन सेंटर में आज फिल्मफेयर अवॉर्ड फंक्शन हुआ। अवॉर्ड शो में अनिल कपूर से लेकर मौनी रॉय तक, दीया मिर्जा से लेकर मनीष मल्होत्रा तक कई बड़े सेलेब्स शामिल हुए। हम आपको दिखाते हैं आपके पसंदीदा सितारे किस अंदाज में आज फिल्मफेयर अवॉर्ड्स के लिए पहुंचे।अनिल कपूर झक्कास अंदाज में पहुंचेवरुण धवन और विक्की कौशलटीवी एक्टर धीरज धूपर का दिखा जलवाकरण कुंद्रा ने बढ़ाई फैंस की धड़कनेंमौनी रॉय ने रेड ड्रेस में ढाया कहरमनीष पॉल भी पहुंचेदिव्या खोसला लगीं बेहद खूबसूरतरकुल की ड्रेस ने जीता दिलदीया मिर्जा की ड्रेस ने खींचा सबका ध्यानजैकी दादा का स्वैग देखिएतनुश्री दत्ता साड़ी में पहुंचीतुषार कपूरबॉलीवुड की पसंदीदा जोड़ीमनीष मल्होत्राअनु मलिक और अनमोल मलिकअमृता सुभाषट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितJammu Kashmir News: फारूक अब्दुल्ला ने किया था नजरबंद होने का दावा, JK पुलिस ने बताया बेबुनियाद******Highlights जम्मू-कश्मीर पुलिस ने शुक्रवार को नेशनल कॉन्फ्रेंस(National Conference) के उस दावे को खारिज किया, जिसमें यहां पार्टी मुख्यालय में एक बैठक की अगुवाई के बाद इसके अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला(Farooq Abdullah) को नजरबंद करने की बात कही गई थी। पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘‘एक फर्जी खबर फैल रही है कि नेशनल कॉन्फेंस(National Conference) और पीडीपी(PDP-Peoples Democratic Party) के कुछ नेताओं को गुपकर रोड पर नजरबंद किया गया है। यह खबर पूरी तरह बेबुनियाद है।’’पुलिस प्रवक्ता नेशनल कॉन्फ्रेंस(National Conference) और इसके उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला के फारूक अब्दुल्ला को नजरबंद किए जाने के दावे पर प्रतिक्रिया दे रहे थे। बता दें कि फारूक अब्दुल्ला श्रीनगर सीट से सांसद हैं। उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट किया, ‘‘ऐसा लगता है कि उन्हें इस ट्रक को किसी मजबूरीवश द्वार के बाहर खड़ा करना पड़ा क्योंकि यह एक मूर्खतापूर्ण कार्य है (पूरी तरह से अवैध होने के अलावा)। वह कार्यालय गए, नमाज पढ़ने गए, शोक व्यक्त करने गए। आज जब उन्हें कहीं और नहीं जाना था, तो ट्रक आ गया।’’पार्टी प्रवक्ता ने ट्वीट किया, ‘‘पार्टी मुख्यालय में एक बैठक की अगुवाई के बाद लौटे फारूक अब्दुल्ला को नजरबंद किया गया है।’’ हालांकि, पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि आतंकवादी हमले की आशंका के मद्देनजर गुपकर रोड के कुछ स्थानों पर अतिरिक्त सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया था। पुलिस प्रवक्ता ने अब्दुल्ला और मुफ्ती के घरों के बाहर की ताजा तस्वीरें भी पोस्ट कीं जिनमें सुरक्षा वाहनों की कोई मौजूदगी नहीं दिख रही है।

ट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितVivek Agnihotri ने उठाया बॉलीवुड के चेहरे से फरेब का पर्दा, कहा - 'सपनों की कब्र पर नाचते हैं लोग'******HighlightsVivek Agnihotri: बॉलीवुड फिल्ममेकर विवेक अग्निहोत्री (Vivek Agnihotri) यूं तो अपनी फिल्मों की जबरदस्त कहानियों के लिए जाने जाते हैं। 'द कश्मीर फाइल्स' बनाकर उन्होंने न जाने कितनों लोगों का दर्द दुनिया के सामने रखा। उनके दर्द को तमाम लोगों के दिलों तक पहुंचाया है। लेकिन इन दिनों विवेक अग्निहोत्री अपने बयान के चलते सुर्खियों में छाए हुए हैं। उनका एक ट्वीट आग की तरह सोशल मीडिया पर हर तरफ छाया हुआ है।विवेक अग्निहोत्री (Vivek Agnihotri) ने ट्विटर पर बॉलीवुड की 'इनसाइड स्टोरी' सुनाई है। फिल्म मेकर ने एक लंबा नोट शेयर किया है। जिसमें उन्होंने बॉलीवुड के काले चेहरे से पर्दा उठाया है। कई ऐसी बातों का ज़िक्र किया है जो हमेशा से गुमनाम थे।शेयर किए गए पोस्ट में विवेक ने लिखा है कि - मैंने बॉलीवुड में कई साल गुज़ार दिए इसे समझने के लिए कि ये आखिर कैसे काम करता है। जो आप देखते हैं वो बॉलीवुड नहीं है। असली बॉलीवुड अंधेरी गलियों में पाया जाता है। एक आम आदमी इसकी गलियों तक नहीं पहुंच सकता। चलिए इसे समझते हैं। इन अंधेरी गलियों में आपको मिलते हैं टूटे हुए सपने, कुचले हुए सपने, दफन किए हुए सपने। बॉलीवुड अगर कहानियों का म्यूजियम है तो यह टैलेंट्स की कब्र भी है। जो भी यहां आता है वो जानता है कि रिजेक्शन डील का ही एक हिस्सा है।विवेक अग्निहोत्री आगे लिखते हैं कि - "यह अपमान और शोषण ही है जो लोगों का सपने और इंसानियत के ऊपर से विश्वास को तोड़ देता है। लोग खाने के बिना तो जी लेते हैं पर सेल्फ रिस्पेक्ट और होप के बिना नहीं। कोई भी मिडिल क्लास यंगस्टर ऐसी सिचुएशन का हिस्सा होने के बारे में कभी नहीं सोचता है। लोग अक्सर इन सब स्थितियों से लड़ने की बजाय घुटने टेक देते हैं। सिर्फ वो लोग लकी हैं जो अपने घर वापिस लौट पाते हैं। जो यहां रह जाते हैं, वो टूट कर बिखर जाते हैं। जो लोग थोड़ी सफलता पाते हैं वे ड्रग्स, शराब और हर तरह से अपनी जिंदगी को बर्बाद कर लेते हैं।"अपनी बातों के जरिए विवेक बताना चाह रहें है कि लोग लंबी रेस के चलते धीरे-धीरे गहे गड्ढे में गिर रहे हैं। फिल्ममेकर के इस पोस्ट ने बॉलीवुड के पीछे छिपी काली अंधेरी गलियों का ज़िक्र तो किया ही है। साथ ही वहां लोग किस तरह से जी रहे हैं उनसपर से भी पर्दा उठाया है।ट्रंपकाएकऔरभारतविरोधीफैसलाहोसकतेहैं7हजारभारतीयप्रभावितTeam India: 'टीम इंडिया की बड़ी कमजोरी हुई उजागर', एशिया कप के बाद छिन सकता है वर्ल्ड कप!******Highlights एशिया कप 2022 की शर्मनाक हार के बाद टीम इंडिया की नजरें अब अगले महीने से शुरू हो रहे टी20 वर्ल्ड कप पर टिकी हुई हैं। एशिया कप में भारतीय टीम को अपनी कमजोर गेंदबाजी के चलते हार का सामना करना पड़ा था, लेकिन इस बार जसप्रीत बुमराह की वापसी के बाद गेंदबाजी लाइन अप पहले से ज्यादा अच्छा नजर आ रहा है। हालांकि इसी बीच ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज गेंदबाज मिचेल जॉनसन ने वर्ल्ड कप से पहले टीम इंडिया की एक बड़ी कमजोरी को उजागर किया है।ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज मिचल जॉनसन का मानना है कि टी20 वर्ल्ड कप के लिए भारत का संयोजन थोड़ा जोखिम भरा है क्योंकि टीम ने उछाल भरी पिचों के लिए कम तेज गेंदबाजों का चयन किया है। अनुभवी मोहम्मद शमी को स्टैंडबाय में रखने के कदम से कुछ विशेषज्ञों आश्चर्यचकित है। भारतीय सेलेक्टर्स ने भुवनेश्वर कुमार, हर्षल पटेल और अर्शदीप सिंह के साथ जसप्रीत बुमराह की अगुआई वाली चौकड़ी पर भरोसा जताया है। बता दें कि इन चारों गेंदबाजों ने पहले भी टीम इंडिया के लिए शानदार प्रदर्शन किया है।जॉनसन ने ‘लीजेंड्स् लीग क्रिकेट (एलएलसी)’ के इतर ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘अगर आपने टीम में एक ऑलराउंडर (तेज गेंदबाजी), दो स्पिनर और चार तेज गेंदबाज को रखा है तो यह थोड़ा जोखिम भरा है। लेकिन भारत अंतिम 11 में दो तेज गेंदबाजों और एक ऑलराउंडर (हार्दिक पांड्या) और दो स्पिनरों को खेलने पर विचार कर रहा है।’’ बाएं हाथ के इस पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा, ‘‘ऑस्ट्रेलिया में आपको तीन तेज गेंदबाजों को टीम में रखना ही होगा। पर्थ की परिस्थितियों में चार तेज गेंदबाज रखने पड़ेंगे। मुझे लगता है उन्होंने योजना बनाकर टीम चुनी है लेकिन सिर्फ चार तेज गेंदबाजों के साथ जोखिम भरा हो सकता है।’’जॉनसन ने इस मौके पर किसी युवा को एकदिवसीय फॉर्मेट में ऑस्ट्रेलिया का कप्तान बनाने की मांग की। एरोन फिंच के वनडे से इस्तीफे के बाद टीम की कप्तानी को लेकर बहस छिड़ी है। गेंद से छेड़छाड़ के कारण प्रतिबंध झेल चुके स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर ने टीम का नेतृत्व करने की इच्छा जताई है लेकिन जॉनसन ने कहा कि दोनों खिलाड़ी अपने करियर के आखिरी पड़ाव पर है ऐसे में किसी युवा खिलाड़ी को टीम की कमान दी जानी चाहिए।उन्होंने कहा, ‘‘पैट कमिंस (टेस्ट कप्तान) को सभी फॉर्मेट की जिम्मेदारी देने से उनके काम का बोझ काफी बढ़ जाएगा। सेलेक्टर के मन में ग्लेन मैक्सवेल का नाम हो सकता है। अगर आप भविष्य को देखे तो कैमरून ग्रीन भी एक अच्छा विकल्प होगा। एक ऑलराउंडर के रूप में हालांकि उनके लिए पहले से काम का ज्यादा बोझ है। एक और विकल्प ट्रेविस हेड के प्रदर्शन में निरंतरता की कमी है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘वॉर्नर और स्मिथ दोनों को कप्तान नहीं होना चाहिए। वह पहले की तरह अब भी टीम का मार्गदर्शन करना जारी रख सकते हैं। उनके कप्तान बनने से फिर से पुरानी चीजें (गेंद से छेड़छाड़ मुद्दा) पर चर्चा शुरू हो जाएगी।’’

हाल का ध्यान

लिंक