वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > यूलिन सिटी > मूलपाठ

Good News: पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के बीच सरकार ने दी खुशखबरी, केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 3% की बढ़ोतरी का ऐलान

2022-10-04 17:23:05 यूलिन सिटी

पेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानVastu Shastra: इस दिशा में आईना लगाने से चमकेगी आपके भाग्य की रेखा, छप्पर फाड़ कर होगी धन वर्षा******Highlights हम अपने घर को बहुत अच्छी तरह से सजाकर रखते हैं, लेकिन चीजें सही दिशा और स्थान पर नहीं होने से वास्तु दोष पैदा हो जाता है और परेशानियां आने लगती हैं। घर की दीवारों में लगाए जाने वाले इस आईने का संबंध हमारे सुख सौभाग्य और समृद्धि से जुड़ा होता है। वास्तु के अनुसार यदि घर के भीतर सही दिशा में आईना लगा हो तो वह आपकी खुशियों का माध्यम हो सकता है, जबकि गलत दिशा में आईना आपके दुर्भाग्य और तमाम तरह के कष्टों का बड़ा कारण बन सकता है।ऐसे में चलिए आपको बताते हैं कि घर में किस तरह का आईना होना चाहिए और उसको किस दिशा में लगाना चाहिए।वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर के अंदर आईना सही दिशा में लगाना बहुत जरूरी है। बता दें कि घर में पूर्व या उत्तर दिशा की दीवार पर आईना लगाना सबसे अच्छा माना जाता है। मान्यता है कि सही दिशा में आईना लगा होने पर आर्थिक स्थिति में सुधार होता है। और माँ लक्ष्मी की कृपा आप पर हमेशा बनी रहती है। इसके अलावा समाज में मान-सम्मान भी बढ़ता है।बता दें कि वास्तु शास्त्र में घर के अंदर लगाए जाने वाले मिरर का आकार चौकोर होना चाहिए। इसके अलावा आपको इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि जो आईना आपके घर में लगा हो उसमें आपका चेहरा साफनजर आना चाहिए। आईना गंदा नहीं होना चाहिए और उसमें धुंधला नहीं दिखना चाहिए।वास्तु के अनुसार बेडरूम के भीतर कभी भी पश्चिम या दक्षिण दिशा की दीवार पर आईना नहीं लगाना चाहिए। दरअसल, बेडरूम में मिरर लगाने से बचना चाहिए। वास्तु के अनुसार बेडरूम में लगे हुए आईने में यदि आपके बेड का प्रतिबिंब बनता है तो उसके कारण आपके जीवन में कई तकलीफें आती हैं।।यदि जगह की कमी के चलते बेडरूम में आईना लगाना आपकी मजबूरी हो तो उसके लिए कवर या परदा बनवा लें। आईने को प्रयोग करने के बाद उसे ढक दें।बाथरूम में जब भी आईना लगाएं इस बात का पूरा ख्याल रखें कि वह दरवाजे के ठीक सामने न हो।घर में नुकीले आकार वाला आईना नहीं लगाना चाहिए। वास्तु के अनुसार टूटा या चटका हुआ आईना रखना भी अशुभ होता है। साथ ही चटके हुए या फिर धुंधले आईने का इस्तेमाल भी नहीं करना चाहिए और न ही उसे घर में रखना चाहिए।टूटा हुआ आईना घर में रखने से नकारात्मक ऊर्जा पैदा होता है।

पेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानUdaipur Kanhaiyalal Murder Case: उदयपुर कन्हैयालाल हत्याकांड के बाद शहर का पर्यटन उद्योग बर्बाद, हो चुकी हैं इतने प्रतिशत बुकिंग कैंसिल******Highlights राजस्थान के उदयपुर में हुए कन्हैयालाल हत्याकांड के बाद पूरा देश सहमा हुआ है। उदयपुर में दुकानदार दुकाने बंद किये हुए हैं। लोग बाजार में जाने से कतरा रहे हैं। राजस्थान की टूरिस्ट नगरी कहा जाने वाला उदयपुर आज सहमा हुआ है। इस हत्याकांड से उदयपुर के दामन में कभी न छुटने वाला दाग लग चुका है। इस दाग की वजह से उदयपुर के पर्यटन को भारी नुकसान हुआ है।उदयपुर पर्यटन उद्योग से जुड़े लोगों का दावा है कि कन्हैयालाल की निर्मम हत्या के कारण पर्यटन उद्योग को झटका लगा है। घटना के कारण उदयपुर आने वाले पर्यटकों ने अगले दो महीनों के लिये होटलों में आधे से अधिक बुकिंग रद्द कर दी है। शहर में ज्यादातर लोगों के लिये पर्यटन ही उनके दाल-रोटी की जुगाड़ है। अब इसके बाद लोगों को अपनी आजीविका पर एक बड़ा संकट नजर आ रहा है। इस घटना से बड़े पैमाने पर शहर की छवि को झटका लगा है और सितंबर से शुरू होने वाले पर्यटन सीजन पर गलत प्रभाव पड़ेगा।उदयपुर के होटल एसोशिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सुदर्शन देव सिंह ने बताया कि, ‘‘इस घटना के बाद लोगों ने बुकिंग कैंसिल करना शुरू कर दियाहै। जुलाई और अगस्त माह में मानसून के मौसम के दौरान वीकेंड के लिये मेरे पास अच्छी संख्या में पर्यटक आने वाले थे लेकिन घटना के बाद अगले दो महीनों के लिये पचास प्रतिशत से अधिक बुकिंग पिछले पांच-छह दिनों में कैंसिल की जा चुकी हैं।’’ उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के कारण पर्यटन उद्योग पहले से ठंडा था और इस साल अच्छे कारोबार की उम्मीद थी लेकिन इस घटना ने उदयपुर की छवि को बुरी तरह प्रभावित किया है।वहीं जयपुर में राजस्थान एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स के सचिव संजय कौशक ने कहा, ‘‘उदयपुर एक बहुत ही शांतिपूर्ण शहर रहा है और ऐसा कोई अपराध आज तक नहीं हुआ। यह न केवल उदयपुर बल्कि पूरे राजस्थान जहां पर्यटन के लिये एक झटका है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ उदयपुर आने वाले कई टूरिस्टों ने घटना को देखते हुए अपनी बुकिंग को कैंसिल कर दिया है। उदयपुर आकर्षक स्थानों के अलावा शांतिपूर्ण वातावरण के कारण पर्यटकों का आकर्षण का केन्द्र था लेकिन इस घटना से नकारात्मक प्रभाव पड़ा है।’’पेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानRussia Cremia: यूक्रेन जंग के बीच रूस के कब्जे वाले 'क्रीमिया' पर टिकीं दुनिया की निगाहें, रहस्यमयी भंडारण स्थल पर भीषण विस्फोट के बाद लगी आग******Highlightsयूक्रेन पर रूस के आक्रमण के बीच दुनिया की निगाहें अब रूसी कब्जे वाले क्रीमियाई प्रायद्वीप पर टिक गई हैं, जहां गोला-बारूद के एक रहस्यमयी भंडारण स्थल पर आग लगने और विस्फोट होने से दो लोग झुलस गए। क्रीमिया में एक सप्ताह में इस तरह की यह दूसरी घटना है। स्थानीय गवर्नर ने बताया कि आसपास के इलाकों से करीब 2,000 लोगों को निकाला गया है। सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए आग लगने और विस्फोट होने के वीडियो में धुएं का गुबार उठते हुए देखा जा रहा है और पीछे से कई धमाके होने की आवाज सुनी जा सकती है।यूक्रेन के राष्ट्रपति के सलाहकर मिखाइलो पोदोल्याक ने गूढ़ शब्दों में ट्वीट किया, ‘रूसी कब्जे वाला क्रीमिया विस्फोटों का गोदाम बन गया है और यहां आक्रमणकारियों और चोरों की मौत का खतरा बेहद बढ़ गया है।’रूसी मीडिया में आईखबरों के अनुसार, क्रीमिया में झानकोई प्रांत के मेयसकोये गांव में मंगलवार तड़के आग लगी और धमाके हुए। पोदोल्याक ने 2014 में क्रीमिया पर रूस के कब्जे से पहले के वक्त का जिक्र करते हुए कहा, ‘झानकोई के समीप सुबह लोगों की आंखें धमाकों के साथ खुलीं। याद दिलाया जाए : एक आम से देश का क्रीमिया काला सागर, पर्वतों, मनोरंजन और पर्यटन वाला है।’रूस के रक्षा मंत्रालय ने बताया कि ‘सेना की एक इकाई के गोला बारूद के अस्थायी भंडारण स्थल’ पर आग लगी। उसने बताया, ‘आग लगने के कारण वहां रखे गोला-बारूद में धमाके हुए।’ अभी आग लगने की वजह का पता नहीं चला है। झानकोई प्रांत क्रीमियाई प्रायद्वीप के उत्तर में स्थित है और दक्षिणी यूक्रेन के रूस के कब्जे वाले खेरसोन प्रांत से करीब 50 किलोमीटर दूर है। कीव ने इस क्षेत्र में हाल के महीनों में हमले तेज कर दिए हैं और वह वहां रूसी सेना और गोला-बारूद के गोदामों को निशाना बना रहा है।रूस द्वारा क्रीमिया के लिए नियुक्त गवर्नर सर्गेइ अक्सियोनोव ने कहा कि दो लोगों को चोटें आई हैं और धमाके जारी रहने के कारण इलाके से स्थानीय निवासियों को निकाला जा रहा है। उन्होंने बताया कि घटनास्थल के समीप कुछ रिहायशी इमारतें क्षतिग्रस्त हुई हैं और आसपास के इलाकों से करीब 2,000 लोगों को निकाला गया है। रूसी मीडिया के अनुसार मेयसकोये से गुजरने वाली रेल की पटरियों को भी नुकसान पहुंचा है। यूक्रेन के अधिकारियों ने अभी धमाकों की सार्वजनिक रूप से जिम्मेदारी नहीं ली है।क्रीमिया प्रायद्वीप का दोनों देशों के लिए सामरिक और सांकेतिक महत्व है। क्रेमलिन ने युद्ध को खत्म करने की अहम शर्तों में से एक यह मांग रखी है कि यूक्रेन क्रीमिया को रूस के हिस्से के तौर पर मान्यता दे दे जबकि यूक्रेन ने रूसियों को क्रीमिया प्रायद्वीप और अन्य सभी कब्जे वाले क्षेत्रों से खदेड़ने का आह्वान किया है।गौरतलब है कि पिछले सप्ताह क्रीमिया के नोवोफ्योदोरोव्का गांव के समीप साकी वायु सेना अड्डे पर कई धमाके हुए थे। रूसी सेना ने इस घटना के लिए युद्ध सामग्री के आकस्मिक विस्फोट को जिम्मेदार ठहराया है लेकिन यह घटना यूक्रेन के हमले का परिणाम लगती है। कीव ने दावा किया कि धमाकों में रूस के नौ विमान बर्बाद हो गए हैं।

Good News: पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के बीच सरकार ने दी खुशखबरी, केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 3% की बढ़ोतरी का ऐलान

पेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानAshes 2021-22 : मिचेल स्टार्क ने दोहराया 85 साल पुराना इतिहास, पहली ही गेंद पर विकेट लेकर मचाई सनसनी******Highlightsएशेज सीरीज 2021-22 का आगाज का हो चुका है। ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की इस सीरीज का पहला मुकाबा ब्रिसबेन में खेला जा रहा है। मुकाबले में इंग्लैंड की टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लेकिन कमाल ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क ने कर दिखाया।दरअसल स्टार्क ने अपने ओवर की पहली गेंद पर ही इंग्लैंड के ओपनर बल्लेबाज रोरी बर्न्स को बोल्ड कर सनसनी मचा दी। इतना ही उन्होंने एशेज में 85 साल पुराने इतिहास को भी दोहरा दिया। यह ना सिर्फ स्टार्क के ओवर की पहली गेंद थी बल्कि मैच और सीरीज का भी यह पहला गेंद ही था।इससे पहले एशेज में मैच की पहली गेंद पर साल 1936 में किसी ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज ने विकेट लिया था। वहीं स्टार्क एशेज के इतिहास में चौथे गेंदबाज बने हैं जिन्होंने अपने पहले ओवर की पहली गेंद पर विकेट चटकाया है।यही कारण है की ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज के कहर के आगे इंग्लैंड की पूरी टीम सिर्फ 147 रन बनाकर ऑलआउट हो गई। इंग्लैंड के लिए जोस बटलर ने सबसे अधिक ने 39 रनों की पारी खेली। वहीं ओली पोप ने 35 रन बनाए जबकि ओपनर बल्लेबाज हसीब हमीद ने 25 और निचलेक्रम में क्रिस वोक्स ने 21 रनों का योगदान दिया।वहीं टीम के साथ ऐसे बल्लेबाज रहे जिन्होंने दहाई का आंकड़ा भी पार नहीं किया जबकि तीन बल्लेबाज शून्य पर आउट हुए।गेंदबाजी में ऑस्ट्रेलिया के लिए पैट कमिंस ने अपने 13.1 ओवर के स्पेल में 38 रन खर्च कर इंग्लैंड के पांच बल्लेबाजों का शिकार किया। मैच में स्टार्क और हेजलवुड ने दो विकेट लिए जबकि कैमरन ग्रीन ने एक विकेट हासिल की।पेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानIndian Railways: लंबी दूरी वाले यात्रियों को अब ट्रेन में मिलेगा गर्म खाना, साइड वेंडिंग की सुविधा शुरू, पढ़िए डिटेल******Highlightsरेलवे ने लंबी दूरी वाले यात्रियों की सुविधा बढ़ाने के लिए एक और कदम उठाया है। अब लंबी दूरी की ट्रेनों में यात्रियों को गर्मागर्म भोजन देने के लिए साइड वेंडिंग की सुविधा शुरू की है। रेलवे ने 13 ट्रेनों में साइड वेंडिंग की सुविधा शुरू की है। इन ट्रेनों में अत्याधुनिक एलएचबी पेंट्रीकार लगाए गए हैं, जिनमें यात्रियों की सुविधा के लिए रेफ्रिजरेटर, डीप फ्रीजर, हाटकेस, वाटर ब्वॉयलर व अग्नि रहित इंडक्शन भी उपलब्ध होंगे। साथ ही फायर डिटेक्टर सिस्टम के साथ आठ अग्निशमन यंत्र भी लगे होंगे। दरअसल रेलवे प्रशासन ने खानपान की व्यवस्था के लिए नौ ट्रेनों में पेंट्रीकार के अलावा 13 ट्रेनों में साइड वेंडिंग की सुविधा दी है।हाईटेक रसोईघर से मिलेगा खाना: रेलवे पीआरओपूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज सिंह के अनुसार ट्रेनों में सफर करने वाले यात्रियों को हाईटेक रसोई घर से गर्म खान-पान के साथ सुरक्षित भोजन और पेय पदार्थ उपलब्ध कराया जा सकेगा। इन ट्रेनों में अत्याधुनिक एलएचबी पेंट्रीकार लगाए गए हैं। यात्रियों के लिए तमाम सुविधाएं व्यवस्थाएं की गई हैं ताकि यात्रियों को गर्म भोजन एवं ठंडे पेय पदार्थ उपलब्ध हो सके।जानिए कौन-कौनसी हैं ट्रेनरेलवे के अनुसार, गोरखपुर-कोचुवेली, गोरखपुर-सिकन्दराबाद, गोरखपुर-लोकमान्य तिलक टर्मिनस, गोरखपुर-यशवंतपुर, गोरखपुर-ओखा, भागलपुर-जम्मूतवी और गोरखपुर-जम्मूतवी में पैंट्री कार लगाई जा रही है। इसी तरह लखनऊ-गोरखपुर इंटरसिटी, गोरखपुर-आनन्द विहार, छपरा-दिल्ली-छपरा, काठगोदाम-देहरादून-काठगोदाम, छपरा-दुर्ग-छपरा एक्सप्रेस में यह सुविधा मिलनी शुरू हो गई है।इनपुट-आईएएनएसपेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानWeather Report: यूपी-बिहार में भारी बारिश का अलर्ट, जानिए देश के मौसम का हाल******Highlightsभीषण गर्मी के बीच देश के कई राज्यों में मौसम ने करवट ले ली है। सोमवार को उत्तरी भारत के कई इलाके बारिश के कारण प्रभावित हुए हैं। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों के दौरान उत्तरी और मध्यभारत के कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। प्री-मानसून का असर आज भी उत्तर भारत में देखने को मिलेगा। राजस्थान, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में बारिश हो सकती है। वहीं, मौसम विभाग ने राजस्थान, बिहार, झारखंड, पंजाब और हिमाचल प्रदेश में ओलावृष्टि तथा UP, MP और छत्तीसगढ़ में बिजली गिरने का अलर्ट जारी किया है। कई राज्यों में तेज हवाएं चल सकती हैं, जिससे तापमान से राहत रहेगी।केदारनाथ में बर्फबारी और बारिशउत्तराखंड के केदारनाथ धाम में बर्फबारी और सुबह से हो रही बारिश के कारण वहां ठंड बढ़ गई है। लेकिन खराब मौसम और भीषण ठंड के बावजूद केदारनाथ धाम में दर्शन के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद हैं।बिहार में भारी बारिश की आशंकाबिहार के कई जिलों में प्री-मानसून के कारण गरज-चमक के साथ तेज हवाएं चलीं। पटना छोड़कर 25 जिलों में झमाझम बारिश हुई। इससे 5 डिग्री तापमान गिर गया, लेकिन अभी उमस से राहत नहीं मिलने वाली है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में ओले के साथ भारी बारिश की आशंका जताई है।यूपी के 16 जिलों में बारिश का यलो अलर्टमौसम विभाग ने कानपुर समेत यूपी के 16 जिलों में बारिश का अनुमान जताया है। इसको लेकर यलो अलर्ट भी जारी किया है। लोगों से कहा गया है कि जरूरी होने पर ही घरों से बाहर निकले। मेरठ और आसपास के जिलों में तेज आंधी आई। इस दौरान बारिश भी हुई। इससे मौसम बदल गया। 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चली। जिसके चलते तापमान में 2 से 4 डिग्री तक की गिरावट दर्ज की गई। तेज हवाओं और बारिश ने लोगों को गर्मी से राहत का अहसास कराया। रविवार को भी आंधी पानी के आसार हैं।झारखंड: 19 डिग्री गिरा रांची का पारादाे दिनाें से रांची में काले बादल व तेज हवाओं के साथ बारिश ने अधिकतम तापमान में ब्रेक लगा दिया है। गर्मी के इस सीजन में पहली बार एक दिन में तापमान 39 डिग्री से गिरकर 20 डिग्री पर पहुंच गया है। यानी 19 डिग्री तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। आने वाले तीन दिनों में अधिकतम तापमान 34-35 डिग्री तक ही पहुंचने के आसार हैं।एमपी में हल्की बौछारें पड़ने के आसारएमपी में भी कई स्थानों पर गरज चमक के साथ बारिश हुइ। वहीं मौसम विभाग के अनुसार भोपाल, रीवा, सागर, चंबल, जबलपुर, कटनी, उमरिया, बालाघाट, अनूपपुर, शहडोल, ग्वालियर, दतिया और शिवपुरी में शाम तक हल्के बादल और गरज-चमक हो सकती है। बिजली गिरने का भी अलर्ट है। अगले 24 घंटे में हल्की बौछारें पड़ सकती हैं। तीन से चार दिन तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश के आसार हैं।पाकिस्तान में बने वेस्टर्न डिस्टर्बेंस का राजस्थान में असरराजस्थान में मौसम लगातार बदल रहा है। भीषण गर्मी के बाद प्रदेश में एक्टिव हुए नए वेदर सिस्टम (वेस्टर्न डिस्टरबेंस) की वजह से आंधी के साथ बारिश हो रही है। नया वेदर सिस्टम प्रदेश में अगले 48 घंटे तक एक्टिव रहेगा। इससे जयपुर समेत राजस्थान के 16 जिलों में आंधी के साथ बारिश की संभावना है। अगले 24 घंटे में 4 जिलों में ओले गिरने की भी चेतावनी है। मौसम विभाग के अनुसार पाकिस्तान से एक्टिव हुए नए वेस्टर्न डिस्टरबेंस का असर राजस्थान में शुरू हो गया है। इससे जयपुर, उदयपुर, कोटा, भरतपुर और अजमेर संभाग में अगले 48 घंटों तक आंधी के साथ बारिश होगी।

Good News: पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के बीच सरकार ने दी खुशखबरी, केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 3% की बढ़ोतरी का ऐलान

पेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानघरेलू बाजार में बढ़ी मांग से सोने-चांदी की कीमतों में आई तेजी, 29,550 रुपए प्रति दस ग्राम हुआ नया भाव****** वैश्विक स्‍तर पर सकारात्‍मक रुख और स्‍थानीय ज्‍वैलर्स की खरीदारी बढ़ने से सोने-चांदी की कीमतों में म्ंगलवार को तेजी का रुख रहा। लगातार दूसरे दिन सोने का भाव 150 रुपए उछलकर 29,550 रुपए प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया। वहीं दूसरी ओर औद्योगिक इकाइयों और सिक्‍का निर्माताओं की ओर से मांग बढ़ने की वजह से चांदी भी 150 रुपए की तेजी के साथ 41,900 रुपए प्रति किलो के भाव पर बंद हुई।विदेशों में सकारात्‍मक रुख के अलावा विवाह सीजन की मांग को पूरा करने के लिए स्‍थानीय आभूषण निर्माताओं की ओर से खरीदारी बढ़ने से सोने की कीमतों में यह तेजी आई है।पेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानजून में दो मैचों की टी20 सीरीज के लिए आयरलैंड के दौरे पर जाएगी भारतीय टीम, इस तारीख को खेले जाएंगे मुकाबले******Highlightsभारतीय क्रिकेट टीम जून में दो टी-20 मुकाबले के लिए आयरलैंड का दौरा करेगी। यह मुकाबले जून के आखिरी हफ्ते में खेले जाएंगे। दोनों टीमों के बीच पहला मुकाबला 26 जून और दूसरा मैच 28 जून को मलाहाइड में खेला जाएगा। सोशल मीडिया पर क्रिकेट आयरलैंड ने टी-20 सीरीज का शेड्यूल जारी किया है।इससे पहले साल 2018 में टीम इंडिया ने आयरलैंड का दौरा किया था। इस दौरान भी भारतीय टीम ने आयरलैंड के खिलाफ 2 मैच खेला था और दोनों ही मैचों में भारतीय टीम को जीत हासिल हुई थी। जबकि सबसे पहले साल 2007 में भारतीय टीम ने एकमात्र टी-20 मैच के लिए आयरलैंड का दौरा किया था. इस मैच को भारतीय टीम ने 9 विकेट से जीता था। भारत के अलावा न्यूजीलैंड, दक्षिण और अफगानिस्तान की टीमें भी आयरलैंड का दौरा करेंगी।टीम इंडिया इस दौरे से ठीक पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 5 मैचों की टी-20 सीरीज खेलेगी। इस टी20 सीरीज की मेजबानी भारत ही करेगा। यह सीरीज 9 जून से शुरू होगा और आखिरी मुकाबला 15 जून के बीच खेले जाएगा। दक्षिण अफ्रीका सीरीज के तुरंत बाद आयरलैंड के दौरे पर भारतीय टीम अनुभवी खिलाड़ियों को आराम देकर युवा खिलाड़ियों को ज्यादा मौके दे सकती है।26 जून: आयरलैंड बनाम भारत, पहला टी20 मैच (मलाहाइड)28 जून: आयरलैंड बनाम भारत, दूसरा टी20ई (मलाहाइड)10 जुलाई: आयरलैंड बनाम न्यूजीलैंड, पहला वनडे (मैलाहाइड)12 जुलाई: आयरलैंड बनाम न्यूजीलैंड, दूसरा वनडे (मैलाहाइड)15 जुलाई: आयरलैंड बनाम न्यूजीलैंड, तीसरा वनडे (मैलाहाइड)18 जुलाई: आयरलैंड बनाम न्यूजीलैंड, पहला टी20 मैच (स्टॉर्मोंट)20 जुलाई: आयरलैंड बनाम न्यूजीलैंड, दूसरा टी20 मैच (स्टॉर्मोंट)22 जुलाई: आयरलैंड बनाम न्यूजीलैंड, तीसरा टी20 मैच (स्टॉर्मोंट)3 अगस्त: आयरलैंड बनाम दक्षिण अफ्रीका, पहला टी20 अंतरराष्ट्रीय (ब्रिस्टल)5 अगस्त: आयरलैंड बनाम दक्षिण अफ्रीका, दूसरा टी20ई (ब्रिस्टल)।

Good News: पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के बीच सरकार ने दी खुशखबरी, केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 3% की बढ़ोतरी का ऐलान

पेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानDelhi News: कार से पानी के छींटे पड़ने पर शख्स ने लगा दिया दिल्ली पुलिस को फोन, फिर मामले में आया अजीबोगरीब ट्विस्ट******Highlightsदेश की राजधानी से एक ऐसा अजीबोगरीब मामला सामने आया है, जिसने सबको चौंका दिया। यहां एक शख्स ने दूसरे शख्स को सबक सिखाने के लिए डायरेक्ट पुलिस को फोन लगा दिया लेकिन सच्चाई कुछ और ही निकली। दरअसल, 39 साल के एक व्यक्ति ने उस कार ड्राइवर को सबक सिखाने का फैसला किया जिसकी गाड़ी से बारिश के पानी के छींटे उसके शरीर पर पड़े थे। शख्स ने पुलिस को फोन लगाया लेकिन कार ड्राइवर पर किसी अन्य अपराध का आरोप मढ़ दिया।एक अधिकारी ने सोमवार को ये जानकारी दी। पुलिस उपायुक्त (बाहरी) समीर शर्मा ने कहा कि मुंडका पुलिस स्टेशन में 22 जुलाई को एक पीसीआर कॉल आई जिसमें फोन करने वाले ने कहा कि कोई व्यक्ति उस पर बंदूक तान कर भाग गया है।पुलिस तुरंत हरकत में आई और मौके पर पहुंची लेकिन फोन करने वाला शख्स वहां नहीं मिला और यहां तक कि उसका मोबाइल फोन भी बंद था। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने एक जांच दल का गठन कर दिया।23 जुलाई को, कॉलर की पहचान की गई और संपर्क किया गया और बाद में पूछताछ के दौरान, उसने खुलासा किया कि एक दिन पहले जब वह अपने दफ्तर से मुंडका रेड लाइट होते हुए गांव कराला अपने मोटरसाइकिल पर जा रहा था, एक कार पीछे से आई और उस पर पानी के छींटे मार कर चली गई।डीसीपी ने कहा, इससे उसके कपड़े खराब हो गए। वह गुस्से में आ गया और एक्सेंट कार के मालिक को सबक सिखाने के लिए उसने बंदूक दिखाने के संबंध में एक पीसीआर कॉल की और उसके बाद उसने अपना मोबाइल फोन बंद कर दिया। इसके बाद, आरोपी कॉलर, जो गैस एजेंसी में मैकेनिक के रूप में काम करता था, पर पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 182 के तहत मामला दर्ज कर लिया।

पेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानअखिलेश यादव ने कहा, बारिश के एक तेज झोंके में ही बह गईं बीजेपी सरकार की तमाम योजनाएं******Highlightsसमाजवादी पार्टी के सुप्रीमो अखिलेश यादव ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश में भारी बारिश के चलते हुई जन-धन की हानि को लेकर बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बारिश के एक तेज झोंके में ही भारतीय जनता पार्टी की सरकार की तमाम योजनाएं बह गईं। पूर्व मुख्‍यमंत्री ने शुक्रवार को समाजवादी पार्टी के मुख्यालय से जारी एक बयान में कहा, ‘उत्तर प्रदेश में तेज बारिश से जनजीवन बुरी तरह अस्त-व्यस्त हो गया है। सरकारी दावों और स्थानीय निकायों के कामकाज की भी इससे पोल खुल गई है और राजधानी लखनऊ सहित कई जनपदों में मौतें हुई हैं।’ ने दावा किया, ‘स्मार्टसिटी बनाने के नाम पर करोड़ो के वारे-न्यारे हो गए पर हालात जस के तस हैं। बारिश के एक तेज झोंके में ही बीजेपी सरकार की तमाम योजनाएं बह गईं।’ मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर तीखा हमला बोलते हुए पूर्व मुख्‍यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार जनता और जनसमस्याओं के प्रति पूर्णतया उपेक्षा और संवेदनहीनता का रवैया अपनाये हुए है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी सख्ती करने के तथाकथित निर्देश जारी करते रहते हैं, पर अब उनके ही अधिकारी उनकी बातों पर ध्यान नहीं देते हैं।सपा सुप्रीमो ने कहा कि इन दिनों भारी बरसात होने की भविष्यवाणी पहले ही मौसम विभाग कर चुका है, लेकिन इससे शासन-प्रशासन ने कोई सबक नहीं लिया। उन्होंने कहा कि भारी बारिश की भविष्यवाणी होने के बावजूद अधिकारी अनजान बने रहे। अखिलेश ने कहा कि तमाम जगहों पर जलभराव से जनजीवन ठप हो गया और जल निकासी की व्यवस्था लचर होने, नालों की सफाई न होने से लोग मुश्किल में फंस गए। बता दें कि गुरुवार रात से हुई भारी बारिश के कारण प्रदेश के कई जिलों से जन-धन की हानि की खबरें सामने आई हैं।लखनऊ के दिलकुशा इलाके में गुरुवार को रातभर हुई भारी बारिश के कारण एक ‘आर्मी एन्क्लेव’ की चारदीवारी गिरने से झांसी जिले के रहने वाले कम से कम 9 लोगों की मौत हो गई। मलबे से एक व्यक्ति को जिंदा बाहर निकाला गया और 2 अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने इस घटना में मारे गए लोगों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये की आर्थिक मदद देने के निर्देश दिए हैं। मारे गए लोग मजदूर थे जो एन्क्लेव के पास झोपड़ियों में रह रहे थे।वहीं, प्रयागराज जिले के गंगापार सराय ममरेज थाना अंतर्गत छतौना गांव में शुक्रवार को बारिश के दौरान एक कच्चे मकान की दीवार ढहकर गिरने से उसमें दबकर 2 बच्चों की मृत्यु हो गई। मरने वालों बच्चों के नाम श्रेया (4 साल) और अमित (5 साल) थे। वहीं, रायबरेली सदर कोतवाली क्षेत्र के मुर्रैयापुर मुहल्ले में शुक्रवार की सुबह तेज बारिश के कारण एक पक्का मकान गिर जाने से पूरा परिवार मलबे में दब गया, जिसमें 3 साल के बच्चे की मौत हो गयी। बच्चे की मां और भाई-बहन भी मकान गिरने से घायल हो गये।बता दें कि सूबे में भारी बारिश को देखते हुए मुख्यमंत्री ने संबंधित जिलों के अधिकारियों को राहत कार्यों पर नजर रखने और प्रभावित लोगों की मदद करने के निर्देश दिये हैं। एक बयान में उन्होंने कहा कि अधिकारी क्षेत्र का भ्रमण कर राहत कार्य पर नजर रखें और प्रभावित लोगों को मदद प्रदान करें। उन्‍होंने आपदा से हुई जनहानि से प्रभावित परिवारों को राहत राशि तुरंत प्रदान करने के निर्देश दिए। योगी ने कहा कि जिन लोगों के घरों को नुकसान पहुंचा अथवा पशु हानि हुई, ऐसे प्रभावितों को तुरंत मदद दी जाए।पेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानट्रंप की अपील के कुछ घंटों बाद तालिबान का हमला, सेना और पुलिस के 20 कर्मियों की मौत****** अफगानिस्तान में अमेरिका और तालिबान के बीच हुए ऐतिहासिक समझौते के बाद वहां हमले रुक नहीं रहे हैं जिसके बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने तालिबान नेता मुल्ला अब्दुल गनी बरादर से शांति कायम करने की ओर आगे बढ़ने पर चर्चा की लेकिन ट्रंप की अपील के कुछ घंटों बाद ही अफगानिस्तान में तालिबानी हमला हुआ। एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि तालिबान के हमले में सेना और पुलिस के 20 कर्मियों की मौत हो गई है जबकि कई लोग घायल हैं।बता दें कि इससे पहले व्हाइट हाउस ने जानकारी दी थी कि राष्ट्रपति ट्रंप ने नेता से बात की है। किसी अमेरिकी राष्ट्रपति और आतंकवादी समूह के बीच फोन पर बातचीत की यह जानकारी पहली बार सामने आयी।टेलीफोन पर यह ऐतिहासिक बातचीत तब हुई जब तालिबान ने युद्धग्रस्त देश में आंशिक युद्धविराम को खत्म कर दिया जिससे 10 मार्च को शुरू होने वाली अंतर-अफगान वार्ता को लेकर संशय के बादल मंडराने लगे।व्हाइट हाउस ने बताया कि मंगलवार को हुई इस बातचीत में ट्रंप ने हिंसा में कमी लाने की जरूरत पर जोर दिया जिसके चलते अमेरिका और तालिबान के बीच 29 फरवरी को ऐतिहासिक समझौते पर हस्ताक्षर हुए। राष्ट्रपति ने कहा कि अमेरिका, अफगान लोगों का सहयोग करते रहने के लिए तैयार है।

पेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानVirat Kohli- Shahid Afridi: शाहिद अफरीदी को इस खिलाड़ी ने दिया टका सा जवाब******Highlights टीम इंडिया के पूर्व कप्तान विराट कोहली ने टी20 इंटरनेशनल में अपना पहला शतक लगा दिया है। विराट कोहली ने इससे पहले 70 शतक लगाए थे, लेकिन उनका टी20 इंटरनेशनल में एक भी शतक नहीं था। इसके बाद अब ऐसा लगने लगा है कि पूर्व कप्तान कोहली जिस फार्म को लेकर पिछले करीब ढाई साल से जूझ रहे थे, वो अब वापस आ गया है। लेकिन पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी तो शाहिद अफरीदी ही ठहरे। वे कुछ न कुछ ऐसी बातें कर ही देते हैं, जो बाद में मीडिया की सुर्खियां बनती हैं। अब शाहिद अफरीदी ने विराट कोहली को सलाह दे दी है कि उन्हें रिटायरमेंट ले लेना चाहिए। इस पूरे मसले पर विराट कोहली ने तो कुछ नहीं कहा है, लेकिन भारतीय टीम के शानदार स्पिनर अमित मिश्रा ने उन्हें टका सा जवाब दे दिया है। उम्मीद की जानी चाहिए कि शाहिद अफरीदी अब इस मामले में ज्यादा कुछ नहीं बोलेंगे।दरअसल शाहिद अफरीदी ने पाकिस्तानी टीवी चैनल को दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि विराट कोहली ने जिस तरह से खेला है, अपने करियर की जो शुरुआत कि और उन्होंने अपना नाम बनाने से पहले संघर्ष भी किया। अफरीदी ने कहा कि वह एक चैंपियन हैं और मेरा मानना है कि एक समय ऐसा आता है जब आप संन्यास की ओर बढ़ रहे होते हैं। आपका लक्ष्य टॉप पर रहते हुए खेल को अलविदा कहने का होना चाहिए। ऐसी स्थिति तक नहीं पहुंचना चाहिए कि आपको टीम से बाहर कर दिया जाए। अफरीदी यहीं नहीं रुके। उन्होंने ये भी कहा कि जब आप अपने खेल के टॉप पर हों तब आपको यह फैसला कर लेना चाहिए। जब आप अपने पीक पर होते हैं तब यह निर्णय होना चाहिए। अफरीदी बोले कि बहुत कम खिलाड़ी खासतौर से एशिया के बहुत कम क्रिकेटर ऐसा फैसला करते हैं। लेकिन मुझे लगता है कि जब विराट कोहली यह फैसला लेंगे तो वह इसे स्टाइल में करेंगे और शायद उसी तरह से जैसे उन्होंने अपने करियर की शुरुआत की थी।शाहिद अफरीदी के इस बयान पर स्पिनर अमित मिश्रा ने बहुत खूब ट्वीट किया है। उन्होंने लिख है कि डियर अफरीदी, कुछ लोग केवल एक ही बार संन्यास लेते हैं, कृपया विराट कोहली को इन सबसे बख्श दीजिए। अमित मिश्रा ने इतना ही ट्वीट किया है, लेकिन सभी को पता है कि अमित मिश्रा का इशारा किस ओर है। आपको याद ही होगा कि पाकिस्तान के कई क्रिकेटर ऐसा कर चुके हैं कि वे पहले संन्यास का ऐलान करते हैं और कुछ समय बाद उसे वापस लेकर फिर से खेलना शुरू कर देते हैं। अमित मिश्रा का इसी ओर इशारा है। उनके इस ट्वीट को खूब लाइक और शेयर किया जा रहा है। लोग उनके इस तरह की बात की खूब तारीफ भी कर रहे हैं।पेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानशहनाज कौर गिल ने 6 महीने में घटाया 12 किलो वजन, बर्थडे पर जानिए एक्ट्रेस के वेटलॉस का तरीका******'बिग बॉस 13' नजर आ चुकीं शहनाज कौर गिल आज अपना 27वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रही हैं। बिग बॉस में आने के बाद शहनाज लोगों की निगाहों में ऐसी चढ़ीं कि हर कोई उनका दीवाना हो गया। वो ना केवल अपने खास अंदाज से लोगों के दिलों में उतरीं बल्कि हाल ही में वो अपने वजन घटाने को लेकर भी चर्चा में रहीं। शहनाज ने कुछ वक्त पहले ही 12 किलो वजन घटाया, वो भी महज 6 महीनों में। शहनाज के इस ट्रांसफॉर्मेशन को लेकर हर कोई हैरान है। साथ ही उनकी तारीफ भी कर रहा है। ऐसे में अगर आप भी शहनाज की तरह वजन घटाना चाहते हैं तो उनका ये तरीका जानना आपके लिए बेहद जरूरी है। शहनाज के बर्थडे पर जानिए उन्होंने अपना वजन घटाने के लिए क्या क्या किया।शहनाज कौर गिल ने कहा कि वजन घटाने के दौरान चॉकलेट, आइसक्रीम, जंक और प्रोसेस्ड फूड बिल्कुल नहीं खाया। इसके अलावा नॉन वेज खाना भी छोड़ दिया। इसकी वजह से शरीर का एक्स्ट्रा बॉडी फैट कम हुआ।शहनाज ने वजन घटाने के लिए सबसे पहले एक डाइट प्लान को बनाया। शहनाज के अनुसार उन्होंने बाहर की चीजों को खाना बंद कर दिया। वो घर पर बना खाना खाती थीं। स्पाइसी और तले भुने खाने को छोड़कर सिंपल आहार ही लिया। इसकी वजह से वजन घटाने में काफी हद तक मदद मिली।शहनाज ने कहा कि वजन कम करने के दौरान उन्होंने खाने को लेकर कोई एक्सपेरिमेंट नहीं किया। बल्कि रोजाना एक ही डाइट ली यानी कि अगर वो दोपहर के खाने में दाल और मूंग खाती थीं तो रात के खाने में भी वही लिया। बस कितनी कैलोरी ले रही है उसका ध्यान रखा।शहनाज के मुताबिक वजन घटाने के लिए उन्होंनेअपने खाने की मात्रा को कम किया। यानी कि अगर उन्हें दो रोटी की भूख थी तो एक ही रोटी खाई। इसी तरह दूसरी चीजें भी खाई। एक साथ सारी चीजें खाने से अच्छा है कि थोड़ा-थोड़ा कई बार में खाएं।शहनाज के अनुसार लॉकडाउन जब शुरू हुआ तो उनका वजन 67 किलो था। बिना एक्सरसाइज के 6 महीने में 12 किलो वजन घटा लिया। अब वजन 55 किलो है।

पेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानMumbai News: 'तारीख पे तारीख', मुंबई के 2 रेलकर्मी चोरी के मामले में 36 साल बाद बरी!******Highlights रेल संपत्ति की मामूली चोरी के आरोप में पश्चिम रेलवे के दो पूर्व कर्मचारी 36 साल बाद आखिरकार निर्दोष साबित हुए और आरोप से बरी हो गए। यह न्याय में देरी का एक चौंकाने वाला उदाहरण है। वकील महेंद्र डी. जैन ने कहा कि ये दोनों कर्मचारी मुंबई में जोगेश्वरी के जावर बच्चूभाई मर्चेंट और उत्तर प्रदेश के गजधर प्रसाद वर्मा हैं। सेंट्रल के 36वें कोर्ट के मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट जे.सी. ढेंगले ने 30 मार्च को फैसला सुनाते हुए दोनों को बरी कर दिया। यह मर्चेंट के लिए एक लंबे समय से प्रतीक्षित 'जन्मदिन का उपहार' भी बन गया। वह 30 मार्च 1947 को पैदा हुआ था।उन्हें पश्चिम रेलवे के महालक्ष्मी डिपो से कुछ तांबे के केबल और लकड़ी के तख्ते चोरी करने के आरोप में तीन अन्य- अरुण एफ. पारिख, सचिन पी. पारिख और रमेश रमाकांत कदले के साथ 3 मार्च 1986 को गिरफ्तार किया गया था। उनके वकील ने कहा कि उन्हें रेलवे सुरक्षा बल (RPF) द्वारा गिरफ्तार किया गया था और रेलवे संपत्ति (गैरकानूनी कब्जा) अधिनियम, 1966 के तहत संबंधित धाराओं के तहत दोषी साबित होने पर अधिकतम 5 साल की सजा का प्रावधान किया गया था।मुकदमे के शुरुआती चरण में दो पारिखों को दोषी ठहराया गया और उन्हें एक महीने की जेल की सजा सुनाई गई, जबकि कदले को मामले से बरी कर दिया गया। मर्चेंट मुख्य ट्रैक्शन फोरमैन था और वर्मा ट्रक चालक था। दोनों ने गिरफ्तारी के बाद जमानत हासिल कर ली थी। फैसले में देरी के कारणों का हवाला देते हुए जैन ने कहा कि कुछ आरोपियों ने रिहाई के लिए आवेदन किया था और सिर्फ एक को रिहा किया गया। इसके अलावा अन्य कुछ बड़े व छोटे पहलुओं के कारण स्थगन और 'तारीख पे तारीख' के साथ कानूनी चक्कर चलता रहा। आखिरकार 36 साल बाद सबूतों के अभाव में दोनों को बरी कर दिया गया।इस समय दोनों वृद्ध पूर्व-डब्ल्यूआर कर्मचारी- मर्चेंट (75) और वर्मा (72) मुंबई में रह रहे हैं। वे साढ़े तीन दशक तक आरोप के दाग के साथ जीते रहे। जैन ने बताया, "यह वास्तव में दुखद बात है कि मामला 36 वर्षों के बाद अपने तार्किक निष्कर्ष पर पहुंचा और इस बात की कठोर वास्तविकता को दर्शाता है कि कैसे लंबित मामले निर्दोष लोगों को प्रभावित कर सकते हैं, उनके जीवन को बर्बाद कर सकते हैं, उनके परिवार को तोड़ सकते हैं और एक 'आरोपी' होने के सामाजिक आघात को झेल सकते हैं।"दोनों का स्वास्थ्य खराब रहता है। इतने वर्षों के बाद बरी किए जाने के बावजूद कानून से इनका पीछा छूटता नहीं दिख रहा है, क्योंकि अभियोजन पक्ष मजिस्ट्रेट के फैसले के खिलाफ 6 महीने के भीतर अपील दायर करने की तैयारी में है। जैन का कहना है कि यह छोटा सा मामला होने के बावजूद शायद हाल के दिनों में सबसे लंबे समय तक चले मुकदमों में से एक था।पेट्रोलकीबढ़तीकीमतोंकेबीचसरकारनेदीखुशखबरीकेंद्रीयकर्मचारियोंकेमहंगाईभत्तेमें3कीबढ़ोतरीकाऐलानMP News: मध्य प्रदेश के विदिशा में बड़ा सड़क हादसा, बीजेपी विधायक सहित 5 लोग घायल, एक शख्स की मौत******Highlightsमध्य प्रदेश के विदिशा जिले में कार और एक ट्रक की टक्कर में भाजपा विधायक लीना जैन और चार अन्य लोग घायल हो गए जबकि विधायक के एक रिश्तेदार की मौत हो गई। पुलिस अधीक्षक (नगर) विकास पांडेय ने बताया कि हादसा बुधवार रात दस से 11 बजे के बीच बगरोद चौराहे के पास हुआ। सड़क पर एक गाय को बचाने के प्रयास में कार ट्रक से टकरा गई। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. वैभव जैन ने कहा कि घायलों को विदिशा मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया जहां कार में सवार प्रेम बाई जैन (85) की इलाज के दौरान मौत हो गई।विधायक लीना जैन की सास की मौतपारिवारिक सूत्रों के अनुसार मृतक विदिशा के बासौदा से विधायक लीना जैन की सास थीं। विधायक और चार अन्य घायलों की हालत खतरे से बाहर है। विधायक के पति ने कहा कि पर्युषण पर्व के चलते वे ग्यारसपुर के एक मंदिर में दर्शन कर लौट रहे थे। जिस वाहन में लीना जैन और उनकी मां यात्रा कर रही थीं उसके पीछे उनकी कार थी।मवेशी को बचाने के चक्कर में हुआ हादसाउन्होंने कहा, ''यात्रा के दौरान मवेशी को बचाने के चक्कर में कार की ट्रक से टक्कर हो गई। घायलों में विधायक की जेठानी मीना पत्नी पवन जैन, सुनैना पत्नी रामकुमार, मान्या पत्नी मोहित जैन और मोहित जैन की 10 साल की बेटी घायल हुए हैं। कार में ड्राइवर और गनमैन भी थे लेकिन उन्हें ज्यादा चोट नहीं आई है।

हाल का ध्यान

लिंक