वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > वोंग ताई सिन जिला > मूलपाठ

'आदिपुरुष' की नई रिलीज डेट आई सामने, प्रभास के फैंस को और कितना इंतजार करना पड़ेगा

2022-10-04 17:54:24 वोंग ताई सिन जिला

आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगाRohit Sharma Captaincy: रोहित शर्मा के निशाने पर कोहली का ‘विराट’ रिकॉर्ड, कल हांगकांग के खिलाफ मैच में होगा ध्वस्त******Highlightsरोहित शर्मा के नेतृत्व में भारतीय टीम का शानदार प्रदर्शन जारी है। टीम इंडिया ने एशिया कप के ग्रुप ए के पहले मुकाबले में पाकिस्तान को हराकर रोहित के रिकॉर्ड को और बेहतर किया है। भारतीय टीम छह देशों वाले इस टूर्नामेंट का अपना दूसरा मुकाबला बुधवार (31 अगस्त) को हांगकांग के साथ खेलेगी। टीम इंडिया की नजरें इस मुकाबले को जीतकर सुपर 4 में पहुंचने पर होगी। रोहित तुलनात्मक रूप से कमजोर हांगकांग के खिलाफ बल्लेबाजी में जहां अपनी लय हासिल करने की कोशिश करेंगे तो वहीं कप्तानी में भी उनके पास एक खास मुकाम के हासिल करने का मौका होगा।रोहित के पास बतौर कप्तान विराट के रिकॉर्ड को तोड़ने का मौका होगा। टीम इंडिया के हांगकांग के खिलाफ मैच जीतते ही रोहित टी20I में सर्वाधिक मैच जीतने वाले भारतीय कप्तानों की सूची में दूसरे स्थान पर पहुंच जाएंगे। रोहित की इस फॉर्मेट में यह 31वीं जीत होगी। जबकि विराट की कप्तानी में टीम इंडिया ने 30 मैच जीते थे।टी20I में बतौर कप्तान सर्वाधिक मैच जीतने का रिकॉर्ड महेंद्र सिंह धोनी के नाम दर्ज है। उनकी कप्तानी में टीम इंडिया 72 मैच खेली थी और इसमें उसे 41 में जीत और 28 में हार मिली थी। वहीं विराट की कप्तानी में टीम को 50 मैच में 30 में जीत मिली और 16 में हार का सामना करना पड़ा। जबकि रोहित के छोटे से कप्तानी करियर में टीम इंडिया ने 36 मैच में 30 जीत दर्ज किए हैं।

आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगामहिलाएं है इस क्रीम के लिए क्रेजी, सिर्फ 4 दिनों में पाएं 10 साल जवां स्किन******आज के समय में हर कोई खूबसूरत दिखने की चाह रखता है। खासकर महिलाएं। महिलाएं खुद को दिखाने के क्या-क्या उपाय अपनाती है। काम में बिजी होते हुए भी वह खुद को सवांरने के लिए समय निकाल लेती है।आज के समय में सुंदर दिखने के लइए मार्केट में कई तरह के प्रोडक्ट आसानी से मिल जाते है। कई तो फायदेमंद होते है, लेकिन इनके साइड इफेक्ट ज्यादा होते है। अगर आप इस समस्या से बचना चाहते है तो हम आपको ऐसा घरेलू उपाय बता रहे है। जिससे सिर्फ आप ग्लोइंग स्किन नहीं पाएंगे बल्कि 10 साल ज्यादा जवां स्किन भी हो जाएगी। जानिए इन घरेलू उपाय के बारें में। सबसे पहले चावल को मैश कर लें। इसके बाद इसमें दूध और शहद अच्छी तरह से मिला लें। इसके बाद चेहरे को ठीक से साफ कर लें और इसकी पतली परत चेहरे पर अच्छी तरह से लगा लो। कम से कम 15-20 मिनट इसे छोड़ दें। तय समय के बाद गर्म पानी से धो लें। इसके बाद चेहरा सुखने दें। इसे रोजाना अपने चेहरे पर लगाएं। इससे आपको झाईयां और डार्क स्पॉट से निजात मिल जाएगा। साथ ही आपकी स्किन 10 साल ज्यादा जवां हो जाएगी।आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगाPetrol Diesel Rate Today 1st March 2020: पेट्रोल-डीजल के दाम में बड़ी गिरावट, जानिए अपने शहर का रेट******Petrol Diesel Rate Today 1st march 2020: पेट्रोल और डीजल के दाम में रविवार को बड़ी गिरावट दर्ज की गई जिससे उपभोक्ताओं को लगातार दूसरे दिन दोनों वाहन ईंधनों की कीमतों में राहत मिली। तेल विपणन कंपनियों ने रविवार को पेट्रोल के दाम में दिल्ली में 18 पैसे, कोलकाता में 15 पैसे, मुंबई में 16 पैसे जबकि चेन्नई में 17 पैसे प्रति लीटर की कटौती की। डीजल की कीमत दिल्ली में 21 पैसे कोलकाता में 20 पैसे जबकि मुंबई और चेन्नई मे 26 पैसे प्रति लीटर घट गई है।लगातार दो दिनों में देश की राजधानी दिल्ली में 25 पैसे जबकि डीजल 30 पैसे प्रति लीटर सस्ता हो गया है। इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल का दाम घटकर क्रमश: 71.71 रुपए, 74.38 रुपए, 77.40 रुपए और 74.51 रुपएप्रति लीटर हो गया है। चारों महानगरों में भी घटकर क्रमश: 64.30 रुपए, 66.63 रुपए, 67.34 रुपए और 67.86 रुपए प्रति हो गया है। अपने शहर में पेट्रोल-डीजल का रेट चेक करने के लिए यहां करें।अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में आई भारी गिरावट के बाद फिर में गिरावट का सिलसिला शुरू हुआ है। बता दें कि कोरोना वायरस का कहर दुनिया के अनेक देशों में फैलने के कारण कच्चे तेल की मांग घट गई है जिससे इसकी कीमतों पर लगातार दबाव बना हुआ है। बेंचमार्क कच्चा तेल ब्रेंट क्रूड का भाव करीब एक महीने की ऊंचाई से 30 फीसदी से ज्यादा गिरा है। ब्रेंट क्रूड पिछले सप्ताह 50 डॉलर प्रति बैरल जबकि अमेरिकी लाइट क्रूड वेस्ट टेक्सास 45 डॉलर प्रति बैरल के करीब आ गया जोकि कच्चे तेल के भाव का बीते एक साल से ज्यादा समय का निचला स्तर है।

'आदिपुरुष' की नई रिलीज डेट आई सामने, प्रभास के फैंस को और कितना इंतजार करना पड़ेगा

आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगा5 से 11 साल तक के बच्चों के लिए Corbevax लगाने की इजाजत देने की सिफारिश******Highlightsभारत के केंद्रीय औषधि प्राधिकरण की एक विशेषज्ञ समिति ने 5 से 11 साल तक की उम्र के बच्चों के लिए बायोलॉजिकल ई (Biological E) के कोविड-19 निरोधक टीके Corbevax के लिए आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी देने की सिफारिश की है। आधिकारी सूत्रों द्वारा गुरुवार को दी गई जानकारी के मुताबिक, CDSCO की कोविड-19 पर विषय विशेषज्ञ समिति ने हालांकि 2 से 11 वर्ष के आयु के बच्चों के बीच Covaxin के उपयोग के लिए भारत बायोटेक से आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण (EUA), उसके आवेदन की समीक्षा के लिए अधिक आंकड़ा मांगा है।भारत के औषधि महानियंत्रक (DCGI) ने पिछले साल 28 दिसंबर को वयस्कों में आपातकालीन स्थितियों में प्रतिबंधित उपयोग के लिए कोवोवैक्स को मंजूरी दी थी और इस साल 9 मार्च को कुछ शर्तों के अधीन 12 से 17 वर्ष के आयु वर्ग के लोगों के लिये उपयोग की मंजूरी दी थी। Biological E के Corbevax का इस्तेमाल 12 से 14 वर्ष आयु के बच्चों को के खिलाफ लगाने के लिए किया जा रहा है। 24 दिसंबर, 2021 को 12 से 18 वर्ष आयु वर्ग के लिए DCGI द्वारा कोवैक्सीन को आपातकालीन उपयोग सूची (EUL) प्रदान की गई है।एक सूत्र ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा, ‘बायोलॉजिकल ई के ईयूए आवेदन पर विचार-विमर्श करने वाली सीडीएससीओ की कोविड-19 संबंधी विषय विशेषज्ञ समिति ने 5 से 11 वर्ष के आयु वर्ग में कॉर्बेवैक्स के उपयोग के लिए आपातकालीन उपयोग अनुमति देने की सिफारिश की है।’ भारत ने 16 मार्च को 12-14 वर्ष की आयु के बच्चों का टीकाकरण शुरू किया।आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगा'हंगामा 2' की शूटिंग से पहले शिल्पा शेट्टी ने कराया कोरोना टेस्ट, रेट्रो लुक का शेयर किया वीडियो******बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी कुंद्रा ने शहर में आगामी फिल्म 'हंगामा 2' की शूटिंग फिर से शुरू करने से पहले कोरोना टेस्ट करवाया। इसकी जानकारी अभिनेत्री ने इंस्टाग्राम अकाउंट के जरिए दी। अभिनेत्री ने इंस्टाग्राम पर एक बूमरैंग वीडियो भी शेयर की, जहां वह एक रेट्रो लुक में दिखाई दे रही हैं।नेट से बनी ब्लैक फुल-स्लीव की ड्रेस में शिल्पा काफी खुबसूरत लग रही हैं। शिल्पा ने शेयर वीडियो को कैप्शन देते हुए लिखा, "सेट पर वापस। कोरोना टेस्ट करवा लिया है। हंगामा 2 अपने रेट्रो वाइब्स में। ओजी क्वीन हेलेनजी के रुप में तैयार।"शिल्पा शेट्टी फिल्मों के अलावा सोशल मीडिया के जरिए भी अपने फैंस से जुड़ी रहती हैं। कुछ दिन पहले शिल्पा का एक वीडियो खूब वायरल हुआ था जिसमें वो शमिता के साथ डांस करते हुए नजर आई थीं। इस वीडियो को शमिता शेट्टी अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से शेयर किया था। अपने इंस्टाग्राम से इस वीडियो को साझा करते हुए शमिता ने लिखा था, "मंकी को अचानक से क्या हुआ पता नहीं, लेकिन वह हमेशा मेरी फेवरेट डांस पार्टनर बनी रहेगी!! उसे ढेर सारा प्यार।" दरअसल, शमिता शिल्पा को प्यार से मंकी बुलाती है। अपने कैप्शन में उन्होंने शिल्पा के लिए इसी नाम का इस्तेमाल किया है।वीडियो में आप देखेंगे कि वीडियो में एक सिंगर हाथ में गिटार लिए इस गाने पर अपनी प्रस्तुति देते नजर आ रहा है, जबकि शिल्पा और शमिता एक-दूसरे के साथ डांस करती दिखाई पड़ रही हैं।यह वीडियो दिसंबर में शूट किया हुआ मालूम पड़ता है, जहां क्रिसमस के दौरान ये गोवा में फैमिली वेकेशन पर गए हुए थे। अभिनय की बात करें, तो शमिता हाल ही में मर्डर मिस्ट्री वेब सीरीज 'ब्लैक विडो' में नजर आई हैं, वहीं शिल्पा 'हंगामा 2' और 'निकम्मा' जैसी फिल्मों के साथ बॉलीवुड में अपना कमबैक करने जा रही हैं।(इनपुुट/आईएएनएस)आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगाजियो दे रही है फ्री 4G सर्विस के साथ हर महीने कमाई का मौका, ऐसे उठाएं फायदा******रिलायंस जियो अनलिमिटेड फ्री 4जी सर्विस के साथ आपको हर महीने कमाई का मौका भी दे रही है। कंपनी ने कॉल ड्रॉप की समस्या को दूर करने के लिए अगले 6 महीने में 45,000 मोबाइल टावर लगाने का फैसला लिया है। ऐसे में आप घर की छत पर मोबाइल टॉवर लगवा कर हर महीने 25 से 30 रुपए कमा सकते हैं। इंडियाटीवी पैसा आपको टावर लगाने का पूरा प्रोसेस बता रही है।reliance JIO offers

'आदिपुरुष' की नई रिलीज डेट आई सामने, प्रभास के फैंस को और कितना इंतजार करना पड़ेगा

आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगाRajat Sharma’s Blog | योगी फॉर्मूला: हिंसा से तौबा करो, वरना कार्रवाई******सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को जमीयत उलेमा-ए-हिंद द्वारा राज्य में तोड़फोड़ की कार्रवाई पर रोक लगाने की मांग वाली याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार को तीन दिन का वक्त दिया है। जस्टिस ए. एस. बोपन्ना और जस्टिस विक्रम नाथ की वैकेशन बेंच ने कहा, ‘सबकुछ निष्पक्ष होना चाहिए और अधिकारियों को कानून के तहत निर्धारित प्रक्रिया का पालन करना चाहिये।’ मामले की अगली सुनवाई मंगलवार को होगी।इस बीच, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी जिला कलेक्टरों और SSPs को मौलानाओं, इमामों और उलेमा के साथ ‘पीस मीटिंग’ करने और यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि मस्जिदों में जुमे की नमाज के बाद इस हफ्ते कोई हिंसा न हो। योगी ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे शहर के प्रतिष्ठित लोगों, मौलानाओं और धर्मगुरुओं से बात करके लोगों को जुमे की नमाज के बाद विरोध-प्रदर्शन न करने के लिए प्यार से समझाने की कोशिश करें।बुधवार को अधिकांश जिलों के DMs और SSPs ने थानों के SHOs के साथ मिलकर सिविल सोसाइटी के लोगों के साथ ‘पीस मीटिंग’ की। उन्होंने सिविल सोसाइटी के लोगों से कहा कि अब किसी भी कीमत पर विरोध प्रदर्शन नहीं होना चाहिए। साथ ही अधिकारियों ने यह भी कहा कि अगर प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया तो उनपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि अपनी बात कहिये, अपनी दिक्कत बताइये, पुलिस सब सुनेगी, लेकिन पत्थरबाजों और उनके आकाओं के लिए बुलडोजर तैयार है।गोंडा जिले में डीएम उज्ज्वल कुमार व एसपी संतोष कुमार मिश्रा ने सभी धर्मों के प्रमुख लोगों के साथ बैठक की और कहा कि इस बार हिंसा नहीं होनी चाहिए। पीस कमेटी के लोगों से साफ-साफ कहा गया कि वे नौजवानों और अन्य लोगों को बताएं कि सोशल मीडिया पर की गई पोस्ट को बिना वेरिफाई किए हुए न फॉर्वर्ड करना है, न उस पर यकीन करना है, वरना एक गलती नौजवानों को जेल पहुंचा सकती है।3 जून को जुमे की नमाज के बाद कानपुर में हुई हिंसा के बाद भी इस तरह की मीटिंग्स हुईं थीं। उस वक्त भी लोगों ने अमन चैन का भरोसा दिलाया था, लेकिन इसके बाद भी 10 जून को जुमे की नमाज के बाद प्रयागराज, सहारनपुर और मुरादाबाद समेत कुछ शहरों में हिंसा हुई।बुधवार को गोंडा में पीस कमेटी की मीटिंग के दौरान रहमानिया मस्जिद के महासचिव खुर्शीद आलम अज़हरी ने कहा कि अगर किसी व्यक्ति ने पैगंबर के बारे में गलतबयानी की है, तो उसे कानून के जरिए सजा मिलनी चाहिए, लेकिन पथराव और आगजनी करना गलत है। अजहरी ने मुसलमानों से कहा कि अगर नौजवानों ने किसी के बहकावे में आकर कोई गलती की तो फिर उसकी सजा पूरे परिवार को भुगतनी पड़ेगी।एटा में अलीगढ़ रेंज के DIG दीपक कुमार खुद पीस कमेटी की मीटिंग में मौजूद रहे। उन्होंने कहा कि लाठी चलाना, नौजवानों को जेल में डालना पुलिस को अच्छा नहीं लगता। DIG ने कहा, ‘इससे पुलिस को गोल्ड मेडल नहीं मिलता, लेकिन मजबूरी में करना पड़ता है। अगर पीस कमेटी के लोग अपने-अपने मजहब के लोगों को समझाएंगे, बात करेंगे, तो इस तरह के हालात ही पैदा नहीं होंगे जिनके कारण लोगों को सलाखों के पीछे डालना पड़े।’गाजियाबाद के लोनी में सीओ रजनीश कुमार उपाध्याय ने पीस कमेटी के लोगों से कहा, ‘दंगे के दौरान, हिंसा के दौरान जो पब्लिक प्रॉपर्टी जलाई जाती है, जिन सड़कों को तोड़ा जाता है, वे किसी एक मजहब की नहीं होती हैं। वे पूरे समाज की संपत्ति होती हैं, तो फिर अपनी ही संपत्ति का नुकसान कौन करता है। लोगों को ऐसा करने से बचना चाहिए।’पीस कमेटी की मीटिंग में आए मौलाना हनीफ कादरी ने कहा कि कुछ लोगों की बात-बात में सड़क पर उतरने की आदत से मुसलमानों का बड़ा नुकसान हो रहा है। उन्होंने कहा, ‘गड़बड़ी कुछ लोग करते हैं, लेकिन बदनाम पूरी कौम होती है। पैगंबर के खिलाफ इस तरह के बयानात पहले भी आए लेकिन इस तरह से हिंसा कभी नहीं हुई। आज जो हो रहा है उससे हालात और खराब होंगे।’यूपी में जुमे की नमाज के बाद हुई के मामले में अब तक 350 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। पिछले हफ्ते जुमे के दिन हुई हिंसा का हॉटस्पॉट रहे प्रयागराज में 92 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया है। कई लोग अंडरग्राउंड हो गए हैं, और उनके परिवारों को अब अपने घरों और दुकानों पर बुलडोजर चलने का डर सता रहा है।बुधवार को प्रयागराज पुलिस ने हिंसा में शामिल करीब 40 आरोपियों के फोटो जारी कर दिए। CCTV वीडियो से ली गई इन तस्वीरों में आरोपी पत्थर चलाते हुए, गाड़ियों में आग लगाते हुए साफ-साफ नजर आ रहे हैं। ये पोस्टर पूरे शहर में लगाए जा रहे हैं। पुलिस ने साफ लफ्जों में कहा है कि या तो दंगाई सरेंडर कर दें, या उनके घरों की कुर्की जब्ती होगी।मुझे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की एक बात याद आ रही है। योगी ‘आप की अदालत’ में आए थे। उन्होंने तब कहा था, ‘मैं एक संन्यासी हूं। समाज को सही रास्ता दिखाना मेरा धर्म है। अच्छे-बुरे का फर्क बताना मेरा कर्तव्य है। जो समाज के दुश्मन हैं, उन्हें प्यार से समझाना जरूरी है, लेकिन जो प्यार से न समझें, उनके साथ सख्ती जरूरी है। हमारी सनातन परंपरा में एक संन्यासी अपने एक हाथ में माला और दूसरे हाथ में भाला रखता है।’योगी उत्तर प्रदेश में इसी फॉर्मूले का इस्तेमाल कर रहे हैं। मंदिरों और मस्जिदों से लाउडस्पीकर उतरवाने का मुद्दा हो, या जुमे के दिन सड़कों को बंद करके नमाज पढ़ने का मुद्दा हो, योगी की रणनीति बिल्कुल स्पष्ट है।जब इन मुद्दों पर देश के तमाम राज्यों में झगड़ा झंझट हो रहा था, उस वक्त योगी ने इसी तरह से धार्मिक और मजहबी लोगों से बात करके, उन्हें समझाकर मामले को हल करने को कहा था। इसका नतीजा यह निकला कि यूपी में मंदिरों और मस्जिदों से लाउडस्पीकर उतर गए। जुमे की नमाज तो छोड़िए, ईद की नमाज भी सड़कों पर नहीं हुई। हां, यह जरूर हुआ कि ईद की नमाज के लिए प्रशासन ने मस्जिदों के आसपास के स्कूल-कॉलेजों के मैदान खुलवा दिए। ईदगाहों पर बड़े-बड़े पंडाल लगाकर नमाज के इंतजाम किए गए।इसका नतीजा यह हुआ कि सड़कों पर नमाज नहीं हुई। योगी ने प्यार से, भाईचारे से, शान्ति और अमन का रास्ता निकालने की कोशिश की। इस बार अब हर जुमे को हंगामा हो रहा है, तो योगी सबसे बात कर रहे हैं। बातचीत से रास्ता निकलेगा, और जो समझाने से नहीं मानेंगे उनके लिए दूसरे तरीके का विकल्प तो हमेशा खुला है।मौलाना तौकीर रजा ने जुमे के दिन 17 जून को प्रोटेस्ट की कॉल दी थी। उन्होंने मुसलमानों से 17 जून को लाखों की संख्या में बरेली पहुंचने के लिए कहा था। हालांकि बरेली पुलिस ने सख्त लफ्जों में कह दिया कि प्रशासन ने इस तरह के किसी कार्यक्रम की इजाजत नहीं दी है, और अगर बिना इजाजत के भीड़ इक्कठा की गई तो कड़ी कार्रवाई होगी। प्रशासन का रुख देखने के बाद तौकीर रजा ने जुमे के दिन प्रोटेस्ट की कॉल वापस ले ली। अब वह कह रहे हैं कि रविवार को प्रदर्शन करेंगे।इसमें कोई शक नहीं कि ज्यादातर हिंदू और मुसलमान शांति से रहना चाहते हैं। वे अपने काम से काम रखते हैं, एक दूसरे की धार्मिक भावना का सम्मान करते हैं। इसी तरह ज्यादातर मौलाना, इमाम, पुजारी और साधु संत भी भाईचारा चाहते हैं। लेकिन दोनों समाजों में कुछ असामाजिक तत्व हैं जो आग लगाते हैं, लोगों को भड़काते हैं ताकि उनकी दुकान चलती रहे।मैंने कई बार आपको दिखाया है कि ये लोग बयानों को अपने हिसाब से इंटरप्रेट करते हैं, लोगों को उनके गलत मतलब समझाते हैं ताकि उनका महत्व बना रहे, लेकिन जब पत्थर चलते हैं, लाठियां चलती हैं तो ये असामाजिक तत्व गायब हो जाते हैं। पत्थर और लाठी की मार गरीब पर पड़ती है। लोगों को यही समझाने की जरूरत है। असामाजिक तत्वों ने नूपुर शर्मा के बयान को बहाना बनाकर पत्थरबाजों और आगजनी करने वालों को उकसाया। हमें ऐसे लोगों से सावधान रहने की जरूरत है।आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगास्विमिंग पूल, लग्जरी कारें और आलीशान बंगले वाली महिला सरपंच, लोकायुक्त की छापेमारी में मिली करोड़ों की संपत्ति******मध्य प्रदेश के रीवा में लोकायुक्त ने एक महिला सरपंच पर छापेमारी के दौरान करोड़ों रुपए की संपत्ति जब्त की है। मामला रीवा जीले की हुजूर तहसील के बैजनाथ गांव का है। महिला के खिलाफ लोकायुक्त को शिकायत मिली थी और छापेमारी के बाद लोकायुक्त की टीम को महिला के पास से 11 करोड़ रुपए से अधिक की संपत्ति प्राप्त हुई है। महिला सरपंच का गांव में आलीशान बंगला है और लोकायुक्त की टीम को बंगले में दर्जनों लग्जरी गाड़ियां, सोने और चांदी के आभूषण तता कई जमीनों की रजिस्ट्री मिली है।महिला सरपंच का नाम सुधा सिंह है और उनके एक एकड़ के बंगले में की टीम ने स्विमिंग पूल भी देखा है। लोकायुक्त की टीम अभी पूरे मामले की जांच कर रही है। अभी तक 2 दर्जन से अधिक जमीनों की रजिस्ट्री, कई वाहन, आलीशान बंगला, क्रेसर, सोना चांदी और नगदी बरामद हुई है। भ्रस्टाचार की शिकायत मिलने पर लोकायुक्त ने न्यायालय से सर्च वारंट लिया था। कार्यवाई अभी जारी है जिसमे संपति और भी बढ़ने की संभावना है। लोकायुक्त ने सरपंच के दो ठिकानों बैजनाथ गांव और शारदापुरम कॉलोनी में एक साथ छापा मारा था।लोकायुक्त, रीवा के विशेष पुलिस प्रतिष्ठान के पुलिस अधीक्षक (एसपी) राजेंद्र वर्मा ने बताया कि बैजनाथ गांव की सरपंच सुधा सिंह की संपत्तियों पर दिन के दौरान छापेमारी की गई और अब तक 11 करोड़ रुपये की बिना हिसाब की संपत्तियों का पता चला है। अधिकारी ने कहा कि छापेमारी अभी भी चल रही है तथा अभी और संपत्तियों का पता चलने की संभावना है।वर्मा ने कहा कि बिना हिसाब की संपत्तियों में दो करोड़ रुपये मूल्य के स्विमिंग पूल के साथ एक महलनुमा बंगला, 1.5 करोड़ रुपये का एक और घर, 20 लाख रुपये मूल्य के आभूषण, 3.50 लाख रुपये की नकदी और 12.53 लाख रुपये की बैंक जमा और बीमा पॉलिसियां शामिल हैं। अधिकारी ने कहा कि इसके अलावा 36 भूखंडों के दस्तावेज भी बरामद किए गए, जिनमें से 12 भूखंडों की कीमत लगभग 80 लाख रुपये है। उन्होंने बताया कि लोकायुक्त ने दो स्टोन क्रशर, एक मिक्सर मशीन, 30 अन्य वाहन और सात करोड़ रुपये मूल्य की अन्य मशीनरी भी बरामद की है।

'आदिपुरुष' की नई रिलीज डेट आई सामने, प्रभास के फैंस को और कितना इंतजार करना पड़ेगा

आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगाIIMC Entrance Exam Result 2019 : इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन ने लिखित प्रवेश परीक्षा के नतीजे किए घोषित, यहां देखें******इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन, आईआईएमसी ने शनिवार को पोस्ट-ग्रेजुएशन कोर्स के लिए आयोजित हुई लिखित परीक्षा के नतीजे जारी कर दिए। जिसमें ग्रुप डिस्कशन और पर्सनल इंटरव्यू के लिए कुल 1,365 उम्मीदवारों का चयन किया गया है।आपको बता दें कि इस लिखित परीक्षा में 5,839 उम्मीदवार शामिल हुए थे।इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन की लिखित परीक्षा में शामिल हुए छात्र आईआईएमसी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं. नई दिल्ली, ढेंकानाल, आइजोल, जम्मू, अमरावती और कोट्टायम में कैंपस में आठ स्नातकोत्तर डिप्लोमा पाठ्यक्रम के कुल 476 सीटें हैं।इसमें राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा के माध्यम से प्रवेश दिया जाता है, जिसमें एक लिखित परीक्षा, ग्रुप डिस्कशन और पर्सनल इंटरव्यू शामिल हैं।इंग्लिश जर्नलिज्म, हिंदी जर्नलिज्म, उर्दू जर्नलिज्म, रेडियो एंड टीवी जर्नलिज्म एंड एडवरटाइजिंग एंड पब्लिक रिलेशंस में पीजी डिप्लोमा कोर्सेज के लिए ग्रुप-डिस्कशन और इंटरव्यू नई दिल्ली में 1-5 जुलाई के बीच आयोजित किया जाएगा।ओडिया, मराठी और मलयालम में पीजी डिप्लोमा के लिए ग्रुप डिस्कशन और इंटरव्यू धेनकनाल (ओडिशा), अमरावती (महाराष्ट्र), और कोट्टायम (केरल) मे क्षेत्रीय केंद्रों द्वारा अधिसूचित तारीखों पर आयोजित किए जाएंगे।अंतिम परिणाम 15 जुलाई के आसपास घोषित किए जाएंगे और शैक्षणिक सत्र की क्लासेज 29 जुलाई से शुरू होगा।

आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगाडायबिटीज के मरीजों के लिए लीची का सेवन फायदेमंद या नुकसानदेय? जानिए इस सवाल का जवाब******Highlightsमौसमी फल बेहद गुणकारी और फायदेमंद होते हैं। इनका सेवन करने काएकअपना ही अलग मजा होता है। अगर डायबिटीज के मरीजों की बात करें तो इन्हें अपने खानपान का खास ख्याल रखना होता है। खासकर, मीठी चीजों को लेकर। ऐसे में के मरीजों के पास मीठे में एक हीऑप्शन रह जाता है और वह हैं फ्रूट्स। ये ना केवल शुगर लेवल को कंट्रोल करके रखता है बल्कि उन्हें पोषक तत्व भी प्रदान करता है। इन्हीं फलों में से एक लीची है। कई लोगों को ऐसा लगता है कि लीची का सेवन करने सेउनका ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है। लेकिन आप गलत है। अगर इसका सेवन सीमित मात्रा में किया जाए तो यह ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद कर सकता है।डायबिटीज के मरीजों के लिए लीची बेहद गुणकारी होता है। इसके अंदर पाए जाने वाले बायोएक्टिव यौगिक डायबिटीज से जुड़ी परेशानियों को रोकने का काम करते हैं। लीची में अधिक मात्रा में फाइटोकेमिकल्स जैसे सैपोनिन, स्टिग्मारस्टरोल, एपिटिक्न, ल्कूकोसाइनाइडिन, मालविदिन, ग्लाइकोसाइड और प्रोसायनिडिन ए2, और बी2 आदि होते हैं। इसके अलावा इसमें फाइबर, विटामिन सी, विटामिन बी6, नियासिन, राइबोफ्लेविन, फोलेट, तांबा, पोटेशियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम और मैंगनीज सहित खनिज और अन्य पोषक तत्व पाए जाते हैं। जिसके सेवन से ग्लूकोज लेवल को कंट्रोल किया जा सकता। इसके अलावा ये इम्यूनिटी बूस्ट करने भी में मददगार होता है।एक रिसर्च के अनुसार लीची में एंटी ऑक्सीडेंट, एंटी डायबिटिक और इम्नूयोमॉड्यूलेटरी होते हैं। जो शरीर में इंसुलनिन की मात्रा बढ़ा देते हैं। इसलिए डायबिटीज के मरीजों के लिए लीची फायदेमंद है। आप लीची के पत्ते, बीज और फूलों का भी सेवन कर सकते हैं।लीची में विटामिन सी, बीटा कैरोटीन, नियासिन, राइबोफ्लेविन और फोलेट पाए जाते हैं जो इम्यूनिटी को मजबूत बनाने में मदद कर सकते हैं। इसके सेवन से आपकी इम्यूनिटी बूस्ट होगी।पाचन तंत्रलीची में ऐसे गुण पाए जाते हैं जो पाचन क्रिया को मजबूत बनाती है। इसके सेवन से पाचन तंत्र को दुरुस्त रखा जा सकता है। इसके अलावा यह कब्ज, एसिडिटी को भी सही करती हैं।शरीर को डिहाइड्रेशन से बचाने के लिए आप लीची का सेवन कर सकते हैं। इसमें काफी अच्छी मात्रा में पानी पाया जाता है। जिसकी वजह से ये शरीर में पानी की कमी को दूर करने मेंसहायकहै।लीची कैंसर के लिए भी कारगर माना जाता है। इसके फल और पत्तियां दोनों ही कैंसर से लड़ने में मदद करते हैं।लीची सर्दी-जुकाम के साथ कई अन्य इंफेक्शन से भी छुटकारा दिलाने में मदद करती हैं।आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगाचंद्रयान-2 मिशन को मिली बड़ी सफलता, ऑर्बिटर ने देखा चांद की सतह पर पानी******भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान परिषद () के चंद्रयान-2 मिशन के ऑर्बिटर की मदद से चांद की नई जानकारियां लगातार सामने आ रही हैं। अब पता चला है कि चांद की सतह पर हाइड्रॉक्सिल और वाटर मॉलिक्यूल्स (पानी के अणु) मौजूद हैं। वैज्ञानिकों ने चांद की खनिज सरंचना को समझने के लिए ऑर्बिटर के इमेजिंग इंफ्रारेड स्पेक्ट्रोमीटर (IIRS) से मिले आंकड़ों का अध्ययन किया। इससे चांद की सतह पर पानी मौजूद होने के संकेत सामने आए हैं।आपको बता दें कि मिशन को जुलाई, 2019 में लॉन्च किया गया था। यह भारत की चांद की सतह पर उतरने की पहली कोशिश थी। इसके तहत एक ऑर्बिटर, लैंडर और रोवर को भेजा गया था लेकिन लैंडिंग से कुछ सेकंड पहले लैंडर का कंट्रोल रूम से संपर्क टूट गया था, जिसके बाद उससे संपर्क की सारी कोशिशें बेकार हुई। भले ही भारत चांद की सतह पर नहीं उतर पाया। लेकिन उसने कई ऐसी उपलब्धियां हासिल कर लीं जो आगामी मिशन में सहायता करेंगी। अब ऑर्बिटर नई खोजों की ओर अग्रसर है जो वर्तमान में चंद्रमा की परिक्रमा कर रहा है। ऑर्बिटर से चांद की सतह पर हाइड्रॉक्सिल और पानी के अणुओं का पता चला है।करंट साइंस जर्नल में प्रकाशित रिसर्च में बताया गया है कि चांद की सभी प्रकार की सतहों पर हाइड्रेशन एब्जोर्पशन पाया गया है। रिसर्चर ने बताया कि आंकड़ों की शुरुआती समीक्षा में चांद की सतह पर हाइड्रेशन का पता चलता है और 29 डिग्री नॉर्थ से लेकर 62 डिग्री नॉर्थ के बीच स्पष्ट तौर पर हाइड्रोक्सिल (OH) और पानी (H2O) के संकेत मिले हैं। जिस क्षेत्र में सूरज की रोशनी पड़ती है, वहां ऐसे ज्यादा संकेत मिले हैं।देहरादून स्थित इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ रिमोट सेंसिंग के वैज्ञानिकों ने बताया कि स्पेस वेदरिंग की वजह से चांद पर हाइड्रोक्सिल और पानी मौजूद हो सकते हैं। स्पेस वेदरिंग उस प्रक्रिया को कहते हैं, जब सौर हवाएं चांद की सतह के साथ टकराती हैं। इसके साथ कुछ अन्य कारकों की वजह से केमिकल चेंज होते हैं, जो हाइड्रोक्सिल बनने का कारण हो सकते हैं। वैज्ञानिकों ने इस जानकारी को बेहद अहम माना है।

आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगाजानें, GST में कटौती से आपको होगा कितना फायदा, सरकारों को होगा कितना नुकसान****** (GST) के निर्धारण में अब तक का सबसे बड़े बदलाव करते हुए ने चुइंग गम से लेकर चॉकलेट, सौंदर्य प्रसाधनों, विग से लेकर हाथ घड़ी तक करीब 200 उत्पादों पर टैक्स की दरें दी हैं। उम्मीद है कि इससे उपभोक्ताओं को राहत देने के साथ साथ उद्योग एवं व्यापार जगत को सुस्ती के दौर में सहूलियत होगी। वित्त मंत्री ने GST काउंसिल की बैठक के बाद कहा कि आम इस्तेमाल वाली 178 वस्तुओं पर टैक्स दर को मौजूदा के 28 प्रतिशत से घटाकर 18 प्रतिशत करने का फैसला किया है।काउंसिल ने AC से लेकर नॉन AC तक सभी प्रकार के रेस्तरांओं पर टैक्स की दर 5 प्रतिशत करने का फैसला किया है। अभी तक गैर एसी रेस्तरां में खाने के बिल पर 12 प्रतिशत की दर से GST लगता था। वहीं एसी रेस्तरां पर GST की दर 18 प्रतिशत थी। इन सभी को इनपुट टैक्स क्रेडिट (ITC) की सुविधा मिलती थी। इसमें अंतिम टैक्स के भुगतान पर इनपुट कर भुगतान को घटा दिया जाता है। लेकिन अब रेस्तरां चालाने वालों को इस्तेमाल होने वाली सामग्री पर चुकाए गए टैक्स का फायदा नहीं मिलेगा। जेटली ने कहा कि रेस्तरां इनपुट टैक्स क्रेडिट की सुविधा ग्राहकों को नहीं दे रहे थे, इसलिए इस सुविधा को वापस लिया जा रहा है और सभी रेस्तरांओं के लिए टैक्स की दर 5 पर्सेंट की जा रही है।ऐसे सितारा होटल जिनमें कमरे का एक दिन का किराया 7,500 रुपये या अधिक है, उन पर 18 प्रतिशत GST लगाया जाएगा, लेकिन ITC की सुविधा मिलेगी। वहीं ऐसे होटल जिनमें कमरे का एक दिन का किराया 7,500 रुपये से कम होगा, उन पर 5 प्रतिशत की दर से GST लगेगा। हालांकि, उन्हें ITC की सुविधा नहीं मिलेगी।​GST काउंसिल ने 28 पर्सेंट के सर्वाधिक टैक्स दर वाले स्लैब में वस्तुओं की संख्या को घटाकर सिर्फ 50 कर दिया है जो कि पहले 228 थी। अब 28 प्रतिशत के टैक्स स्लैब में सिर्फ लग्जरी और अहितकर वस्तुएं ही रह गई हैं। रोजमर्रा के इस्तेमाल की वस्तुओं को 18 प्रतिशत के टैक्स स्लैब में डाल दिया गया है। वहीं पफ्ड राइस चिक्की, आलू का आटा, चटनी पाउडर और फ्लाई सल्फर पर GST की दर 18 से घटाकर 6 पर्सेंट कर दी गई है। ग्वार मील, हाप कोन, कुछ सूखी सब्जियों, बिना छिले नारियल और मछली पर GST की दर 5 से घटाकर शून्य कर दी गई है। इसी तरह इडली डोसा बैटर, तैयार चमड़े, कायर, मछली पकड़ने का जाल, पुराने कपड़े और सूखे नारियल पर टैक्स की दर को 12 से घटाकर 5 प्रतिशत किया गया है।जेटली ने कहा कि इससे उपभोक्ताओं को फायदा होगा क्योंकि ज्यादातर कर योग्य उत्पाद अब 5, 12 और 18 प्रतिशत के टैक्स स्लैब में आ गए हैं। बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि टैक्स की दरों में इस कटौती से सरकारों को सालाना 20,000 करोड़ रुपये के राजस्व से वंचित होना पड़ेगा। GST को 1 जुलाई को लागू किया गया था। इससे 29 राज्यों में एक बाजार और एक कर व्यवस्था लागू हो गई थी। छोटे व्यापारियों ने GST के लागू होने के बाद इसके अनुपालन में आ रही दिक्कतों को उठाया था वहीं आम इस्तेमाल की वस्तुओं पर कर की ऊंची दर को लेकर विरोध हो रहा था। अनुपालन बोझ को कम करने के लिए परिषद ने रिटर्न दाखिल करने के मानदंड में छूट दी है और साथ ही देरी से GST रिटर्न दाखिल करने पर जुर्माना कम कर दिया है।जेटली ने कहा कि GST ढांचे को तर्कसंगत बनाने के प्रयास के तहत परिषद समय-समय पर दरों की समीक्षा करती है। पिछली 3 बैठकों से हम 28 प्रतिशत कर स्लैब को प्रणालीगत तरीके से देख रहे हैं और इन कर स्लैब से वस्तुओं को निचले कर स्लैब में ला रहे हैं। इनमें से ज्यादातर वस्तुओं को 18 या उससे कम के टैक्स स्लैब में लाया गया है। उन्होंने GST की 5, 12, 18 और 28 प्रतिशत की कर स्लैब इस आधार पर तय किया गया था जिसमें प्रत्येक उत्पाद को उस श्रेणी में रखने का प्रयास किया गया था जो GST पूर्व व्यवस्था में उसके सबसे नजदीकी श्रेणी में आती थीं।आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगाBSEB Bihar Board Result 2021: बिहार बोर्ड इन छात्रों को दे रहा है दोबारा मौका, ट्वीट कर दी ये जरूरी जानकारी******बिहार स्‍कूल एग्‍जामिनेशन बोर्ड (BSEB) ने ट्वीट कर बोर्ड परीक्षा में शामिल हुए छात्रों के लिए विशेष सूचना जारी की है। बिहार बोर्ड ने 12वीं के कंपार्टमेंटल/स्‍पेशल एग्‍जाम में शामिल होने जा रहे छात्रों के लिए जानकारी देते हुए कहा है कि बिहार बोर्ड 12वीं की कंपार्टमेंटल परीक्षाएं 29 अप्रैल से 10 मई 2021 तक आयोजित की जाएंगी। जो छात्र कंपार्टमेंटल एग्‍जाम में शामिल होना चाहते हैं, वे सोमवार 05 अप्रैल से इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। वहीं रजिस्‍ट्रेशन करने की आखिरी तारीख 10 अप्रैल 2021 है। बता दें कि, इस बार कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षा में 2,94,317 छात्र फेल हुए हैं।छात्रों के कंपार्टमेंट एग्‍जाम के फॉर्म स्‍कूल के प्रिंसिपल को आधिकारिक वेबसाइट पर भरने होंगे। कंपार्टमेंट एग्‍जाम में वे छात्र शामिल हो सकेंगे जो एक या दो सब्‍जेक्‍ट्स में फेल हुए हों। कंपार्टमेंटल एग्‍जाम का परिणाम मई में घोषित हो सकता है। बिहार बोर्ड ने बीते 26 मार्च को कक्षा 12वीं की बोर्ड परीक्षा में शामिल हुए 13.4 लाख छात्रों का रिजल्‍ट जारी किया था।कंपार्टमेंटल एग्‍जाम के अलावा, बिहार बोर्ड एक स्‍पेशल एग्‍जाम भी आयोजित करेगा। जिन छात्रों ने कक्षा 12वीं की बोर्ड परीक्षा के लिए आवेदन किया था, लेकिन उनकी परीक्षा की फीस स्कूलों द्वारा जमा नहीं की गई थी, उन्हें स्‍पेशल एग्‍जाम के दौरान सभी विषयों में उपस्थित होने की अनुमति दी जाएगी। जो छात्र अपने परीक्षा फॉर्म में गलतियों के कारण बोर्ड परीक्षा में उपस्थित नहीं हो सके थे, उन्हें भी स्‍पेशल एग्‍जाम में उपस्थित होने की अनुमति दी जाएगी।

आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगाRailway में अब इन पदों के लिए नहीं होगी नियुक्तियां, नौकरी की तैयारी कर रहे युवाओं को बड़ा झटका******RialwayHighlights आने वाले समय में कई पदों पर नियुक्तियां नहीं करने का फैसला किया है। दरअसल, भारतीय रेलवे में आउटसोर्सिंग के चलते सहायक कुक, बिल पोस्टर, टाइपिस्ट, माली, दफ्तरी, बढ़ई, खलासी व पेंटर जैसे पदों को अब समाप्त कर दिया जाएगा। भारतीय रेलवे की ओर से की गई एक आंतरिक समीक्षा के बाद इन पदों को समाप्त करने का फैसला लिया गया है। आने वाले समय में अब कभी भी रेलवे में इन पदों पर कोई भर्ती नहीं की जाएगी। इन विभागों में रेलवे आउटसोर्सिंग के माध्यम से ही कार्यों को निपटाएगा। यह स्थिति तब है, जब रेलवे के विभिन्न श्रेणियों में कुल 60 हजार कर्मचारियों के पदों में से 14,329 पद खाली पड़े हैं।रेलवे के अनुसार तकनीकी वृद्धि के कारण इन पदों पर तैनात कर्मचारियों के लिए पर्याप्त कार्य नहीं बचे हैं। रेलवे के बढ़ते खर्चे को ध्यान में रख कर ये फैसला लिया है। हालांकि, जिन कार्यस्थलों पर कर्मचारियों की आवश्यकता है, वहां आउटसोर्सिंग के माध्यम से कार्य करवाए जाएंगे। गौरतलब है कि रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने सभी जोनल महाप्रबंधकों को इस संबंध में एक पत्र लिखकर मानव संसाधन के ऊपर हो रहे खर्चे को कम करने पर ध्यान देने को कहा है। उनका कहना है कि रेलवे की ओर से किए जाने वाले कुल खर्च का 67 प्रतिशत केवल मानव संसाधन के उपर किया जाता है। इसी कारण से रेलवे ने कम कार्य वाले पदों को निरस्त करने का फैसला लिया है। इसके साथ ही उन्हें कार्यस्थलों के पद और कार्य की रिपोर्ट व आउटसोर्स के लिए प्रस्ताव तैयार कर बोर्ड को भेजने को भी कहा है, जिससे खर्चे को कम करने के उपायों को सुनिश्चित किया जा सके।रेलवे बोर्ड ने इन पदों पर कार्य कर रहे कर्मचारियों को किसी अन्य विभाग के कार्यस्थलों पर समायोजित करने का फैसला लिया है। रेलवे बोर्ड अध्यक्ष के अनुसार खाली हो रहे इन पदों पर आवश्यक कार्य आउटसोर्स के माध्यम से कराए जाएं। इसी सिलसिले में फिलहाल पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन की तरफ से कई पदों को सरेंडर करने की प्रक्रिया शुरू भी कर दी गई है। लखनऊ, वाराणसी और इज्जतनगर मंडल में सहायक लोको पायलटों के 434 पद, स्वास्थ्य विभाग में सफाईकर्मियों के 120 पद, रेलवे स्कूलों के टीजीटी व पीजीटी के 100 पद तथा यांत्रिक कारखाना में 50 पद समेत 1300 पदों को सरेंडर करने की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। साथ ही इसकी रिपोर्ट भी रेलवे बोर्ड को भेज दी गई है।आदिपुरुषकीनईरिलीजडेटआईसामनेप्रभासकेफैंसकोऔरकितनाइंतजारकरनापड़ेगाIPL 2022 में नहीं मिला मौका तो इस लीग में खेलेंगे ये 7 भारतीय खिलाड़ी******Highlightsटीम इंडिया के ​लिए खेलने वाले खिलाड़ी अब कुछ दिन इंटरनेशनल क्रिकेट से दूर रहेंगे। वे आईपीएल 2022 के लिए अपनी अपनी टीमों से जुड़ गए हैं। इस बीच कुछ खिलाड़ी ऐसे भी हैं, जो भारतीय टीम के लिए खेल रहे थे, लेकिन आईपीएल में उन्हें किसी भी टीम ने अपने साथ नहीं जोड़ा। अब खबर है कि ये खिलाड़ी इस दौरान दूसरी लीग में खेलते हुए दिखाई देंगे। इस लिस्ट में कई बड़े बड़े खिलाड़ी शामिल हैं।टेस्ट विशेषज्ञ हनुमा विहारी और बंगाल के कप्तान अभिमन्यु ईश्वरन उन सात भारतीय क्रिकेटरों में शामिल हैं, जो ढाका प्रीमियर लीग यानी डीपीएल एकदिवसीय क्रिकेट टूर्नामेंट में हिस्सा लेंगे। आईपीएल के लिए नहीं चुने गए भारतीय घरेलू क्रिकेटरों के लिए यह फ्री विंडो है। आईपीएल 26 मार्च से शुरू हो रहा है। श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में भारत की 2-0 की जीत के दौरान टीम इंडिया का हिस्सा रहे हनुमा विहारी ने अबहानी लिमिटेड से करार किया है और हैदराबाद में छोटे से ब्रेक के साथ उनके टीम से जुड़ने की संभावना है।बंगाल के कप्तान ईश्वरन 2017 और 2019 के बाद तीसरे सेशन के लिए प्राइम बैंक क्रिकेट क्लब से दोबारा जुड़ेंगे। यह आमंत्रण टूर्नामेंट है और ईश्वरी को डेढ़ महीने लंबे टूर्नामेंट के लिए ढाका जाने के लिए सोमवार को भारतीय क्रिकेट बोर्ड की स्वीकृति मिली। ईश्वरन ने मंगलवार को सावर में हुए मुकाबले में सिटी क्लब पर अपनी टीम की 50 रन की जीत के दौरान 30 रन की पारी खेली। अन्य भारतीय खिलाड़ियों में परवेज रसूल को शेख जमाल धनमोंदी, बाबा अपराजित को रूपगंज टाइगर्स, अशोक मेनारिया को खेलाघर, चिराग जानी को लीजेंड्स आफ रूपगंज और गुरिंदर सिंह को बाजी ग्रुप आफ क्रिकेटर्स ने अपने साथ जोड़ा है। टूर्नामेंट में 11 टीम हिस्सा लेंगी। विहारी, अपराजित, मेनारिया और रसूल भी इस टूर्नामेंट में पहले खेल चुके हैं।(Bhasha inputs)

हाल का ध्यान

लिंक