वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > युनयांग काउंटी > मूलपाठ

अंबेडकर जयंती 2020: विकसित भारत के लिए उपयोगी हैं बाबा साहेब के अनमोल विचार

2022-10-01 00:14:12 युनयांग काउंटी

अंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचारपाकिस्तान की सेना में शामिल हुए ‘मेड इन चाइना’ VT-4 युद्धक टैंक, जानें इनकी खासियत******पाकिस्तान की सेना ने चीन निर्मित VT-4 युद्धक टैंकों (Made in China VT-4 Tanks) के पहले बैच को औपचारिक रूप से अपने शस्त्रागार में शामिल कर लिया है। चीन के सरकारी स्वामित्व वाले टैंक निर्माता नोरिन्को द्वारा निर्मित इन टैंकों की आपूर्ति पिछले साल अप्रैल में शुरू हुई थी, हालांकि ये टैंक 2017 से ही सर्विस में हैं। थाइलैंड तथा नाइजीरिया के बाद इन टैंकों को चीन से खरीदने वाला पाकिस्तान तीसरा देश है। बता दें कि VT-4 चीन का थर्ड जेनरेशन मेन बैटल टैंक है और इसे MBT3000 के नाम से भी जाना जाता है।VT-4 टैंकों की बात करें तो एक टैंक की कीमत करीब 49 लाख डॉलर (लगभग 36 करोड़ रुपये) है। इन टैंकों का उत्पादन 2014 से किया जा रहा है और 2017 से ये विभिन्न सेनाओं में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। हालांकि युद्ध की बात करें तो अभी तक में बने इन टैंकों का सबसे बड़ा इस्तेमाल कुख्यात आतंकी संगठन बोको हराम के खिलाफ ही हुआ है। इन टैंकों की लंबाई 10.10 मीटर, चौड़ाई 3.40 मीटर और ऊंचाई 2.30 मीटर है। इस टैंक में 125एमएम की मुख्य तोप के अलावा कई और छोटे-बड़े हथियार फिट किए गए हैं। इसका इंजन 1200 हॉर्स पावर का है और यह एक बार में 70 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम गति के साथ 500 किलोमीटर तक की दूरी तय कर सकता है। के मीडिया प्रकोष्ठ ने एक बयान में कहा कि मंगला कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल शाहीन महमूद ने बुधवार को शस्त्रागार का दौरा किया तथा के पहले बैच का मुआयना किया। बता दें कि चीन रक्षा क्षेत्र में का साझेदार बन गया है। हाल के वर्षों में पाकिस्तान ने उससे कई हथियार खरीदे हैं। इन हथियारों में टैंकों से लेकर फाइटर प्लेन और वॉरशिप तक शामिल हैं। कई मौकों पर पाकिस्तान और चीन ने अपनी दोस्ती को खास बताया है और ड्रैगन ने इस्लामाबाद में CPEC के जरिए बड़े पैमाने पर निवेश भी कर रखा है।

अंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचार'बेहद 2' के सेट पर शिविन नारंग को लगी चोट, हाथ में हुआ फ्रैक्चर****** के एक्टर को सेट पर चोट लग गई है। शिविन के हाथ में फ्रैक्चर हो गया है। सीन शूट करते गौरान शिविन का बैलेंस बिगड़ गया जिसकी वजह से वह गिर गए और उनके हाथ में हेयरलाइन फ्रैक्चर हो गया है।दरअसल शिविन एक सीन शूट कर रहे थे जिसमें उन्हें भागते हुए एक-तरफ से दूसरी तरफ जाना था। इस दौरान शिविन का बैलेंस बिगड़ गया और वह गिर गए। हाथ में मामूली चोट लगी है यह सोचकर शिविन ने ध्यान नहीं दिया। मगर जब बाद में हाथ में सूजन आने लगी तब वह तुरंत डॉक्टर के पास चेकअप के लिए गए। चेकअप के दौरान हेयरलाइन फ्रैक्चर के बारे में पता चला।टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए इंटरव्यू में शिविन ने बताया, सीन में वह अपने छोटे भाई को पकड़ रहे थे। भागते दौरान वह गिर गए और चोट लग गई। चोट की वजह से शिविन ने परिवार के साथ न्यू ईयर प्लान भी कैसिंल कर दिया। वह कुछ दिनों तक शूट भी नहीं कर पाएंगे।आपको बता दें इससे पहले भी बेहद 2 के सेट पर शिविन को चोट लग चुकी है। शिविन को-एक्टर जेनिफर विगेंट के साथ एक सीन शूट कर रहे थे। इस दौरान जेनिफर को एक्सीडेंट से बचाने के लिए शिविन को चोट लग गई थी।अंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचारवित्‍त मंत्री ने कहा कई जिलों में बैंकिंग सुविधाओं की कमी, HDFC Bank ने की ग्रामीण क्षेत्रों में उपस्थिति बढ़ाने की घोषणा******HDFC Bank aims to double rural presence, hire 2500 peopleदेश में निजी क्षेत्र के सबसे बड़े ऋणदाता एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) ने कहा है कि वह ग्रामीण इलाकों में अपनी पहुंच को दोगुना कर दो लाख गांव तक करेगा। इसके लिए बैंक ने अगले छह माह में 2,500 लोगों को नियुक्‍त करने का भी फैसला किया है। बैंक ने कहा कि उसका लक्ष्य अगले 18-24 महीनों में शाखा नेटवर्क, व्यापार प्रतिनिधियों, सीएससी (साझाा सेवा केंद्रों), भागीदारों, आभासी संबंध प्रबंधन और डिजिटल पहुंच मंचों के जरिये ग्रामीण क्षेत्रों में अपनी उपस्थिति को दोगुना करने का है। उल्‍लेखनीय है कि इससे पहले रविवार को ही वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बैंकों की पहुंच पर निराशा व्यक्त करते हुए उनसे अपनी उपस्थिति को और अधिक बढ़ाने के लिए कहा था। के समूह प्रमुख (वाणिज्यिक और ग्रामीण बैंकिंग) राहुल शुक्ला ने कहा कि भारत के ग्रामीण और अर्द्धशहरी बाजारों में बैंक ऋण का विस्तार कम है। वे भारतीय बैंकिंग प्रणाली के लिए स्थायी दीर्घकालिक विकास के अवसर पेश करते हैं। शुक्ला ने कहा कि आगे चलकर बैंक का सपना देश के हर पिनकोड में अपनी सेवाएं उपलब्ध कराना है।केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा है कि देश के कई जिलों में बैंकिंग सुविधाओं का अभाव है। उन्होंने रविवार को इंडियन बैंक्स एसोसिएशन (आईबीए) के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि इन जिलों में आर्थिक गतिविधियों का स्तर काफी ऊंचा है, लेकिन बैंकिंग उपस्थिति काफी कम है। सीतारमण ने बैंकों से कहा कि वे अपनी मौजूदगी को बढ़ाने के प्रयासों को और बेहतर करें। उन्होंने बैंकों से कहा कि उनके पास विकल्प है कि वे यह तय कर सकते हैं कि गली-मोहल्ले में छोटे स्तर के मॉडल के जरिये कहां बैंकिंग मौजूदगी दर्ज कराने की जरूरत है।वित्त मंत्री ने स्पष्ट किया कि वह डिजिटलीकरण और प्रयासों के खिलाफ नहीं हैं। उन्होंने कहा कि आज बैंकों का बही-खाता अधिक साफ-सुथरा है। इससे सरकार पर बैंकों के पुनर्पूंजीकरण का बोझ कम होगा। सीतारमण ने कहा कि आगामी राष्ट्रीय संपत्ति पुनर्गठन कंपनी को बैड बैंक नहीं कहा जाना चाहिए, जैसा अमेरिका में कहा जाता है। उन्होंने कहा कि बैंकों को तेज-तर्रार बनने की जरूरत है। उन्हें प्रत्येक इकाई की जरूरत को समझना होगा जिससे 400 अरब डॉलर के निर्यात लक्ष्य को हासिल किया जा सके।

अंबेडकर जयंती 2020: विकसित भारत के लिए उपयोगी हैं बाबा साहेब के अनमोल विचार

अंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचारPAK vs AUS: तीसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को 115 रन से धूल चटाकर 1-0 से सीरीज किया अपने नाम******Highlightsतीन टेस्ट मैचों की सीरीज के आखिरी मुकाबले के पांचवे दिन ऑस्ट्रेलिया ने मेजबान पाकिस्तान को 115 रन से हराकर 1-0 से सीरीज अपने नाम कर लिया। इससे पहले खेले दो मैच ड्रॉ रहे थे। चौथी पारी में पाकिस्तान को 350 रन का लक्ष्य मिला था जिसका बचाव करते हुए ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 235 रन पर अपने विरोधी को आउट कर मैच को अपने नाम कर लिया।मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के लिए दूसरी पारी में नाथन लियोन ने शानदार पांच विकेट लिए जबकि कप्तान पैट कमिंस ने 3 विकेट झटक कर पाकिस्तान को संभलने का मौका नहीं दिया। इन दोनों के अलावा मिचेल स्टार्क और कैमरून ग्रीन ने एक-एक विकेट हासिल किए।वहीं लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तानी टीम के लिए इमाम उल हक ने जरूर 70 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली उन्हें बांकी के बल्लेबाजों का साथ नहीं मिल सका। इमाम के बाद कप्तान बाबर आजम इकलौते बल्लेबाज रहे जिन्होंने 55 रनों की प्रभावशाली पारी खेली और एक बार को मैच बचाने की तरफ आगे बढ़े थे लेकिन मध्यक्रम में बाकी के बल्लेबाज ऑस्ट्रेलियाई आक्रमण के सामने नहीं टिक सके।इससे पहले मुकाबले में के पहले ऑस्ट्रेलियाई टीम ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला किया था। पहली पारी में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 391 रनों का स्कोर खड़ा कियावहीं इस स्कोर के जवाब में पाकिस्तानी टीम पहली पारी में 268 रन ही बना सकी थी। पाकिस्तान के लिए पहली पारी में ओपनर बल्लेबाज अब्दुल्ला शफीक ने 81 रनों की बेहतरीन पारी खेली। इसके अलावा अजहर अली 78 रन बनाए जबकि कप्तान बाबर आजम ने 97 रनों का योगदान दिया।टेस्ट सीरीज के बाद पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के बीच अब तीन वनडे मैचों की सीरीज खेली जाएगी जबकि दौरे पर एकमात्र टी20 खेला जाएगा। वनडे सीरीज का आगाज 29 मार्च से होगा। वहीं टी20 मुकाबला 5 अप्रैल को खेला जाना है।अंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचारस्विगी से प्रति मिनट 95 बिरयानी ऑडर करते हैं भारतीय : रिपोर्ट******: ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म स्विगी ने सोमवार को कहा कि उसकी एप के माध्यम से प्रति मिनट 95 बिरयानी भारतीय यूजर्स द्वारा ऑर्डर की जाती है, जिसका अर्थ है प्रत्येक सेंकेड में 1.6 बिरयानी मंगाई जाती है। भारतीयों की फूड ऑर्डिग की आदत पर कंपनी की चौथी वार्षिक 'स्टैटिक्स' रिपोर्ट के अनुसार, यहां तक की पहली बार स्विगी का इस्तेमाल करने वाला यूजर इस एप के माध्यम से पहले ऑडर में बिरयानी ही मंगाते हैं।ऑडर वाली इस लिस्ट में बिरयानी ने तीसरे साल भी बाजी मारी है।हालांकि, 128 प्रतिशत के साथ इस साल 'खिचड़ी' के ऑडर्स में भी वृद्धि देखने को मिली है।स्विगी ने कहा, "हमारे यूजर्स चिक्कन बिरयानी को पसंद करते हैं, वह पिज्जा में वेजिटेरियन टॉपिंग्स को महत्व देते हैं। पिज्जा ऑर्डर पर पनीर, प्याज, चीज, एक्सट्रा चीज, मशरूम, शिमला मिर्च और मक्का सबसे आम टॉपिंग में से एक रहे।"लोग में गुलाब जामुन और मूंग दाल के हलवा काफी पसंद किया जाता है, लेकिन भारतीयों को इसके अलावा एक और मिठाई पसंद है। गुलाब जामुन के 17,69,399 और हलवे के 2,00,301 ऑर्डर्स आए। जबकि 11,94,732 ऑडर्स के साथ फलूदा स्विगी के शीर्ष डेसर्ट में रहा।मुंबई में फलूदे के साथ वाली एक विशेष आइसक्रीम को 6 हजार बार ऑडर किया गया।अंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचारDelhi News| ‘सबका साथ, सबका विकास’ का दर्शन गांधीवादी विचार से प्रेरित: जगदीप धनखड़****** जगदीप धनखड़ ने शनिवार को कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार का ‘सबका साथ, सबका विश्वास, सबका विकास और सबका प्रयास’ का दर्शन एक गांधीवादी विचार है, जो ‘हर तरह की राजनीति’ से परे है। उपराष्ट्रपति ने समाज के एक वर्ग के बीच इस धारणा को बहुत ‘खतरनाक रुझान’ के रूप में वर्णित किया, जिसके तहत लोग मानते हैं कि केवल वही दर्शन सही है, जिसमें वे विश्वास करते हैं। उन्होंने यह भी जोड़ा कि गांधी जी सबकी बात को सुनते थे। वह यहां ‘हरिजन सेवक संघ’ की स्थापना के 90 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।उपराष्ट्रपति ने कहा कि कानून के समक्ष सभी समान हैं और यह मायने नहीं रखता कि उनका इतिहास क्या है या वे कितने ताकतवर हैं। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति देश के कानून से बंधा है। धनखड़ ने कहा कि गांधी के सिद्धांतों को ध्यान में रखते हुए कोविड-19 महामारी के दौरान दो साल तक 90 करोड़ लोगों को मुफ्त में अनाज दिया गया, जो किसी देश की कल्पना से परे की बात है।धनखड़ ने कहा कि करोड़ों देशवासियों को कोरोना वायरस टीका की दो खुराक लगने से ‘महात्मा की आत्मा संतुष्ट हुई होगी’। उन्होंने कहा कि गांधीवादी दर्शन के अनुरूप 18 करोड़ परिवारों को मुफ्त गैस कनेक्शन दिया गया, ताकि वे खाना पकाने के लिए परंपरागत ईंधन के इस्तेमाल से मुक्ति पा सकें। उपराष्ट्रपति ने कहा कि पहले जो लोग बैंक में प्रवेश करने से डरते थे, उन्हें उनके दरवाजे पर पहुंचकर बैंकिंग प्रणाली में शामिल किया गया। उन्होंने जोर देकर कहा कि गांधीवादी आदर्श संविधान के मौलिक अधिकारों और नीति निदेशक सिद्धांतों में व्याप्त हैं।उपराष्ट्रपति के मुताबिक बापू की शिक्षाएं मानवता के लिए सदैव प्रासंगिक रहेंगी। उपराष्ट्रपति ने कहा, ‘‘महात्मा गांधी द्वारा प्रतिपादित सिद्धांतों से मानवता को बहुत लाभ होगा। आज दुनिया में गरीबी, जलवायु परिवर्तन और युद्ध समेत कई तरह की समस्याएं हैं, लेकिन गांधी जी के विचार इन सबका समाधान उपलब्ध कराते हैं। उन्होंने गांधीजी के स्वराज का जिक्र करते हुए कहा कि इसका अर्थ पंक्ति में मौजूद अंतिम व्यक्ति का उत्थान है। उपराष्ट्रपति ने कहा कि सरकार की खाद्य सुरक्षा, टीकाकरण, सार्वभौमिक बैंकिंग की सभी योजनाएं गांधीवादी भावना के अनुरूप हैं।उपराष्ट्रपति ने डॉ.बी आर आंबेडकर को भी श्रद्धांजलि दी और संविधान सभा में उनके आखिरी भाषण का उल्लेख किया, जिसमें कहा गया है, ‘‘राजनीतिक लोकतंत्र तब तक नहीं चल सकता, जब तक कि इसके आधार के रूप में सामाजिक लोकतंत्र न मौजूद हो।’’

अंबेडकर जयंती 2020: विकसित भारत के लिए उपयोगी हैं बाबा साहेब के अनमोल विचार

अंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचारRIL Shares: लगातार चार सत्रों में गिरावट के बाद आरआईएल में आई तेजी, चार प्रतिशत चढ़े शेयर******RIL Chairman Mukesh Ambani रिलायंस इंडस्ट्रीज में मुकेश अंबानी, उनकी पत्नी और तीन बच्चों के व्यक्तिगत हिस्सेदारी बढ़ाने के एक दिन बाद कंपनी के शेयरों में चार प्रतिशत से अधिक की वृद्धि हुई। बीएसई में आरआईएल के शेयर 4.34 प्रतिशत उछलकर 956.95 रुपये पर पहुंच गए, जबकि एनएसई पर भाव 4.36 प्रतिशत बढ़कर 957.75 रुपये हो गया। इससे पहले गुरुवार तक लगातार चार सत्रों में आरआईएल के शेयरों में 17.14 प्रतिशत की गिरावट आई थी। दिग्गज उद्योगपति , उनकी पत्नी और तीन बच्चों ने एक अन्य प्रवर्तक समूह की इकाई के कुछ शेयर खरीदकर में अपनी व्यक्तिगत हिस्सेदारी बढ़ायी है। कंपनी ने शेयर बाजार को दी सूचना में बताया कि तेल से लेकर दूरसंचार क्षेत्र में कारोबार करने वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज में प्रवर्तक समूह की हिस्सेदारी 47.45 पर बनी हुई है। प्रवर्तक समूह की कंपनी देवषिर् कमशिर्यल एलएलपी ने अपनी हिस्सेदारी अंबानी परिवार और अन्य प्रवर्तक समूह की दो कंपनियों कंपनियों तत्वम एंटरप्राइजेज एलएलपी और समरजित एंटरप्राइजेज एलएलपी को बेची है।इस सौदे के बाद देवर्षि कमशिर्यल एलएलपी की कंपनी में हिस्सेदारी 11.21 प्रतिशत से घटकर 8.01 प्रतिशत पर आ गयी है। इस सौदे के बाद आरआईएल में मुकेश अंबानी की हिस्सेदारी 0.11 (72.31 लाख शेयर) प्रतिशत से बढ़कर 0.12 प्रतशित (75 लाख शेयर) हो गयी है। इसी तरह कंपनी में उनकी पत्नी नीता अंबानी की हिस्सेदारी 67.96 लाख शेयर से बढ़कर 75 लाख , उनके बच्चे आकाश और ईशा की हिस्सेदारी 67.2 लाख शेयर से बढ़कर 75 लाख शेयर हो गयी है।तीसरे बच्चे अनंत की हिस्सेदारी 2 लाख से बढ़कर 75 लाख शेयर पर पहुंच गयी है। यह पहला मौका है जब मुकेश, उनकी पत्नी और बच्चों के पास कंपनी में बराबर-बराबर शेयर होंगे। सूचना के अनुसार कंपनी में तत्वम एंटरप्राइजेज की हिस्सेदारी 6.81 प्रतिशत से बढ़कर 8.01 प्रतिशत था समरजित एंटरप्राइजेज की हिस्सेदारी 200 शेयर से बढ़कर 1.83 प्रतिशत हो जाएगी।अंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचारइस तरह खाएंगे आलू तो नहीं बढ़ेगा वेट, दूर कीजिए आलू से जुड़ी गलतफहमी******परिवार में छोटे से लेकर बड़े तक सभी की थाली में आलू जरूर नजर आता है। हर कोई इसे बड़े ही चाव के साथ खाता है। आलू एक ऐसी सब्जी है जिसे हम कई सब्जियों के साथ इस्तेमाल कर कई तरह के व्यंजन बना सकते हैं। जैसे आलू गोभी, आलू पालक, आलू मेथी, आलू टमाटर आदि, लेकिन कई लोग बढ़ते वजन के चलते आलू खाने से कतराते हैं। आप भी इस समस्या से परेशान हैं तो घबराइये मत क्योंकि आज हम आपको आलू खाने का ऐसा तरीका बताएंगे जिससे आप इसका लुत्फ भी उठा सकेंगे और आपका वजन भी नहीं बढ़ेगा।अगर आप वजन घटाना चाहते हैं तो अपको आलू को छोड़ने की जरूरत नहीं है बल्कि इसे सही तरीके से खाने की जरूरत है। आपको अपनी डाइट में उबला हुआ और ठंडा किया हुआ आलू शामिल करना चाहिए। उबला हुआ आलू खाने के बाद पेट लंबे समय तक भरा रहता है और बार-बार स्नैक्स खाने की जरूरत नहीं पड़ती जिससे आप एक्स्ट्रा कैलोरीज का सेवन करने से बच जाते हैं। उबले हुए ठंडे आलू में स्टार्च अधिक होता है जो मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है और अतिरिक्त चर्बी को घटाता है। आप इसे दही के साथ भी खा सकते हैं।उबले हुए आलू में फैट की मात्रा काफी कम होती है। इसके छिलकों में भी कई प्रकार के पोषक त्तव पाए जाते हैं। ऐसे में इसे छिलके समेत खाने से शरीर को कई तरह के पोषक तत्व प्राप्त होते हैं।उबले हुए आलू विटामिन बी और विटामिन सी का अच्छा सोर्स होते हैं। रोजाना एक उबले आलू का सेवन करने से शरीर को विटामिन बी- 6 मिलता है। इसमें विटामिन- सी भी उच्च मात्रा होता है।उबला हुआ आलू अधिक पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसमें उबले हुए आलू के रूप में लगभग 25 प्रतिशत अधिक मैग्नीशियम होता है। इसमें फोलेट की भी भरपूर मात्रा होती है इसलिए गर्भावस्था में होने वाले बच्चे के ब्रेन के विकास में भी सहायता मिलती है।

अंबेडकर जयंती 2020: विकसित भारत के लिए उपयोगी हैं बाबा साहेब के अनमोल विचार

अंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचारदेश में अप्रैल-जून तिमाही में सोने की मांग 213.20 टन पर पहुंची, विश्व स्वर्ण परिषद की रिपोर्ट में खुलासा******India's Q2 gold demand rise 13 per cent to 213 tonne त्योहारी एवं वैवाहिक मौसम तथा आकर्षक कीमत के कारण अप्रैल-जून तिमाही में देश में सोने की मांग 13 प्रतिशत बढ़कर 213.20 टन पर पहुंच गयी। (डब्लयूजीसी) ने एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी। परिषद ने अपनी रिपोर्ट ‘गोल्ड डिमांड ट्रेंड’ में कहा कि पिछले साल की समान तिमाही में देश की कुल स्वर्ण मांग 189.20 टन रही थी। मूल्य के संदर्भ में इस दौरान सोने की मांग पिछले साल के 53,260 करोड़ रुपये से 17 प्रतिशत बढ़कर 62,422 करोड़ रुपये पर पहुंच गयी। परिषद के प्रबंध निदेशक (भारत) सोमासुंदरम पीआर ने कहा कि शानदार व्यापार संवर्धन,त्योहारी दिनों की अधिक संख्या तथा कम कीमत के कारण उपभोक्ताओं की सकारात्मक प्रतिक्रिया के कारण 2019 की दूसरी तिमाही में देश की स्वर्ण मांग में 13 प्रतिशत की तेजी देखी गयी।इस दौरान आभूषणों की मांग 149.90 टन से 12 प्रतिशत बढ़कर 168.60 टन पर पहुंच गयी। मूल्य के संदर्भ में आभूषणों की मांग 17 प्रतिशत बढ़कर 49,380 टन रही। निवेश मांग में 13 प्रतिशत की तेजी देखने को मिली और यह 44.50 टन पर पहुंच गयी।मूल्य के संदर्भ में निवेश मांग 18 प्रतिशत बढ़कर 13,040 करोड़ रुपये रही। देश में सोने का पुनर्चक्रीकरण 18 प्रतिशत बढ़कर 37.90 टन हो गया। सोमासुंदरम ने कहा कि आर्थिक मोर्चे पर नरमी तथा चुनाव के दौरान नकदी प्रवाह में शिथिलता के बाद भी साल की पहली छमाही में देश में सोने की मांग में नौ प्रतिशत की तेजी रही और 372.20 टन पर पहुंच गयी। उन्होंने कहा कि रिजर्व बैंक ने 17.70 टन सोने की खरीद की। उन्होंने आयात के बारे में कहा कि मांग से आपूर्ति के अधिक होने के कारण आयात कम रहेगा।

अंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचारब्रिटेन की रिटेल कंपनी BHS होगी बंद, 11,000 लोगों की जाएगी नौकरी****** यूरोपिय अर्थव्यवस्था की हालत दिनोंदिन खराब होने के संकेत मिल रहे हैं। ब्रिटेन में बड़ी खुदरा दुकानों की चेन चलाने वाली कंपनी BHS अपना कारोबार बंद कर रही है। इस कंपनी के बंद होने से करीब 11,000 लोगों को नौकरियां जाएंगी। कंपनी लंबे समय से किसी खरीदार की तलाश कर रही थी। खरीदार को तलाशने में नकाम रहने के बाद कंपनी के प्रशासकों ने फैसला लिया है।88 साल पुरानी यह कंपनी कपड़े, खाने-पीने का सामान तथा घरों में इस्तेमाल होने वाले सामान बेचती है। इस कंपनी के बंद होने के पीछे मुख्य वजह रिटेल बाजार की बड़ी कंपनी माक्र्स एंड स्पेंसर तथा ई कॉमर्स कंपनी अमेजन से प्रतिस्पर्धा थी। इन कंपनियों की वजह से BHS की बाजार हिस्सेदारी का काफी नुकसान हुआ।एक बयान के अनुसार डफ एंड फेल्प्स के प्रबंध निदेशक फिलिप डफी तथा बेंजामिन वाइल्स (प्रशासक) ने बीएचएस का कारोबार बंद होने की घोषणा की।कंपनी के कुल 163 स्टोर हैं। कंपनी के बंद होने से बीएचएस में काम करने वाले 11,000 लोगों को नौकरियों से हाथ धोना पड़ेगा।10 most expensive destinationsइससे पहलेटाटा स्टील ने अपना ब्रिटेन का लॉन्च प्रोडक्ट कारोबार ग्रेबुल कैपिटल एलएलपी को बेच दिया था। कंपनी ने सरिया, गर्डर-ट्यूब जैसे इस्पात उत्पाद बनाने वाले यूरोपीय कारोबार को बेचने की प्रक्रिया इसी हफ्ते पूरी की है। सौदे में स्कनथॉर्प का बड़ा प्लांट भी शामिल है। आपको जानकार हैरानी होगी की टाटा ने अपना स्टील कारोबार सिर्फ 97.51 रुपए में (एक पाउंड) में बेचा है।टाटा स्टील ने 100 रुपए से भी कम में बेचा अपना ब्रिटेन का स्टील कारोबार, ग्रेबुल के साथ पूरा हुआ सौदाअंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचारXiaomi ने भारत में लॉन्च किया Mi MIX 2 स्मार्टफोन, बैजल-लैस डिसप्‍ले और 6GB रैम से है लैस****** Xiaomi के नए स्‍मार्टफोन Mi MIX 2 का इंतजार आज खत्‍म हो गया है। कंपनी ने इसे 35,999 रुपए की कीमत के साथ भारत में लॉन्‍च कर दिया है। Mi MIX 2 स्‍मार्टफोन 6GB रैम और 128GB इंटरनल स्‍टोरेज से लैस है। 17 अक्‍टूबर को दोपहर 12 बजे फ्लिपकार्ट पर इसकी प्रीव्‍यू सेल आयोजित की है। इसके अलावा Mi MIX 2 की खरीदारी Mi Store और दूसरे पार्टनर विक्रेताओं से की जा सकती है जहां ये नवंबर के पहले हफ्ते से बिक्री के लिए उपलब्ध हो जाएगा। कंपनी ने इस स्मार्टफोन के साथ जीरो प्रतिशत EMI स्कीम भी पेश की है।We’ll be offering with 0% EMI, exclusively on and Flipkart! RT if you’re planning to buy one! — Mi India (@XiaomiIndia) लॉन्‍च हुआ BlackBerry Motion एंड्रॉयड स्मार्टफोन, 4GB रैम और 12MP कैमरे से है लैस Mi MIX 2 में सैरेमिक बॉडी दी गई है और इसका कलर ब्‍लैक है। इसमें 5.99-इंच का सुपर AMOLED डिसप्‍ले है जिसका स्क्रीन रिजोल्‍यूशनशन 2160 x 1080 पिक्सेल है और इसका स्क्रीन अस्पैक्ट रेशियो 18:9 है। Mi MIX 2 बैजल लैस डिसप्‍ले वाला स्‍मार्टफोन है। यह डिवाइस 2.45GHz ऑक्टा-कोर स्नैपड्रैगन 835 प्रोसेसर व एड्रिनो 540 GPU पर चलता है। यह डुअल सिम वाला स्मार्टफोन कंपनी के MIUI 9 व एंड्रॉयड 7.1 नूगा ऑपरेटिंग सिस्टम पर आधारित है। Here’s – 5.99” full-screen display | Snapdragon 835 | 6GB RAM | 128GB ROM | Global LTE support RT it with & you might win 1! — Mi India (@XiaomiIndia) लावा ने शुरू किया मनी बैक चैलेंज, 30 दिनों में पसंद न आने पर कंपनी करेगी पूरे पैसे वापसXiaomi Mi MIX 2 में 12MP का ऑटोफोकस रियर कैमरा डुअल टोन LED फ्लैश के साथ दिया गया है और इसमें Sony IMX386 सेंसर, 4 एक्सिस OIS, f/2.0 अपर्चर, 5P लेंस, PDAF, HDR जैसे फीचर्स दिए गए हैं। वहीं फ्रंट में 5MP का ऑटोफोकस सेल्फी कैमरा है। इसमें 3400 mAh की बैटरी दी गई है जो क्विक चार्ज 3.0 फास्ट चार्जिंग को सपोर्ट करती है। इस डिवाइस में फिंगरप्रिंट स्कैनर पीछे कैमरा के नीचे दिया गया है। कनेक्टिविटी के लिए इसमें 4G VoLTE, ब्लूटूथ 5.0, वाईफाई (802.11 b/g/n), GPS, AGPS/GLONASS और USB टाइप-C पोर्ट है।

अंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचारजगुआर BMW से लेकर ऑडी मर्सिडीज जैसी लक्जरी कार चलाने का शौक कीजिए पूरा, ये कंपनी दे रही है मौका******जगुआर BMW से लेकर ऑडी मर्सिडीज जैसी लक्जरी कार चलाने का शौक कीजिए पूरा, ये कंपनी दे रही है मौकाHighlightsयदि आपको भी जगुआर, मर्सिडीज, ऑडी जैसी कारें चलाने का शौक है, लेकिन बजट न होने के कारण आप सिर्फ इनके सपने देख रहे हैं तो जाग जाइए। अब आप भी इन लक्जरी कारों की स्टेयरिंग थाम सकते हैं। दरअसल महिंद्रा एंड महिद्रा की किराये पर कारें उपलब्ध कराने वाली इकाई क्विकलीज़ ने लक्जरी वाहनों के इलेक्ट्रिक मॉडलों को किराये पर यूज करने की सुविधा शुरू की है।महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड के वाहन लीजिंग और सब्सक्रिप्शन बिजनेस वर्टिकल क्विकलीज लीजिंग और सब्सक्रिप्शन के लिए इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) की व्यापक रेंज लेकर आया है। बता दें कि Quiklyz व्हीकल लीजिंग और सब्सक्रिप्शन प्लेटफॉर्म है जो भारतीय शहरों में ग्राहकों को शानदार किराये पर कारें उपलब्ध कराता है।Quiklyz के सब्सक्रिप्शन प्लेटफॉर्म पर EVs का सबसे बड़ा पोर्टफोलियो उपलब्ध कराया गया है। यहां आप महिंद्रा, टाटा मोटर्स, मर्सिडीज-बेंज, एमजी मोटर्स, ऑडी, और जगुआर सहित अन्य कंपनियों के इलेक्ट्रिक वाहनों को किराये पर ले सकते हैं। EV फोर व्हीलर के लिए मासिक सदस्यता शुल्क 21,399 / रुपये प्रति माह से शुरू होता है।कंपनी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार यहां पर जगुआर से लेकर टाटा की इलेक्ट्रिक कारें उपलब्ध हैं। यहां पर जगुआर की आईपेस कार 248099 रुपये प्रति माह पर उपलब्ध है। वहीं आडी ईट्रॉन कार 234,599 रुपये प्रति माह पर मिल रही है। एमजी हेक्टर की ZS EV 55,999 रुपये प्रति माह पर मिल रही है। इसके अलावा टाटा टिगोर ईवी भी 28,399 रुपये प्रति माह पर मिल रही है।कार रेंटल के मार्केट में दूसरे कई खिलाड़ी भी मौजूद हैं। लक्सोराइड, रेंटलकार्स, रेंट लक्जरी जैसी वेबसाइट भी लक्जरी कारों को रेंट पर उपलब्ध करा रही हैं। यहां पर आप आडी और मर्सिडीज जैसी कारें 25000 रुपये के मासिक किराये पर ले सकते हैं। इसके अलावा हमर जैसी बड़ी कारों के लिए करीब 1 लाख रुपये खर्च करने होंगे।अंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचारPM मोदी ने वर्चुअल माध्यम से बद्रीनाथ और केदारनाथ में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों की समीक्षा की******प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने गुरूवार को वर्चुअल माध्यम से बद्रीनाथ और केदारनाथ में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों की समीक्षा की। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सचिवालय से इस बैठक में वर्चुअली भाग लिया। इस अवसर पर मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु, विशेष कार्याधिकारी पर्यटन विभाग भाष्कर खुल्बे, सचिव पर्यटन सचिन कुर्वे वर्चुअल माध्यम से सचिव संस्कृति भारत सरकार गोविन्द मोहन, संयुक्त सचिव भारत सरकार रोहित यादव, उप सचिव भारत सरकार मंगेश घिल्डियाल भी उपस्थित थे।प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बद्रीनाथ और केदारनाथ के पुनर्निर्माण कार्यों की प्रगति की पूरी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में केदारनाथ और बद्रीनाथ में श्रद्धालुओं की संख्या तेजी से बढ़ेगी। केदारनाथ निकटवर्ती स्थानों को भी आध्यात्मिक पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने होंगे। उन्होंने कहा कि इसके लिए आस-पास के एरिया के डेवलपमेंट की दिशा में प्रयास करने होंगे। रामबाड़ा और केदारनाथ के बीच श्रद्धालुओं को ठहरने और कौन सी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध हो सकती हैं, इस ओर भी ध्यान दिया जाए। प्रधानमंत्री ने कहा कि वासुकिताल, गरूड़ चट्टी, लिंचोली और उनके आस-पास श्रद्धालुओं के लिए आध्यात्मिक दृष्टि से क्या किया जा सकता है, इसका पूरा प्लान तैयार किया जाए।प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि बद्रीनाथ के साथ ही आस-पास के क्षेत्रों को मॉडल के रूप में विकसित करने के लिए भी योजना बनाई जाए। माणा गांव और उसके आस-पास के क्षेत्रों को रूरल टूरिज्म के लिए विकसित करने की दिशा में भी ध्यान दिया जाए। इनमें स्थानीय कल्चर और स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देकर ईकोनॉमी का अच्छा मॉडल बनाया जा सकता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि केदारनाथ और बद्रीनाथ में श्रद्धालुओं की सुविधा के दृष्टिगत सेवकों और डॉक्टरों से भी अधिक से अधिक सहयोग लिया जाए। सरकारी व्यवस्थाओं के साथ जन सहयोग भी जरूरी है।मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में बद्रीनाथ और केदारनाथ में पुनर्निर्माण के कार्य तेजी से चल रहे हैं। श्रद्धालुओं की सुविधा के दृष्टिगत रात-दिन कार्य प्रगति पर है। दिसम्बर 2023 तक सभी कार्यों को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। इस साल अभी तक 35 लाख से अधिक पंजीकृत श्रद्धालु चारधाम यात्रा में आ चुके हैं।मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने केदारनाथ और बद्रीनाथ के पुनर्निर्माण कार्यों का प्रजेंटेशन दिया। उन्होंने कहा कि केदारनाथ में प्रथम चरण के पुनर्निर्माण कार्य पूरा हो चुके हैं। द्वितीय चरण में 188 करोड़ रूपये के 21 कार्य किये जा रहे हैं। जिनमें से 03 कार्य पूरा किये जा चुके हैं, 06 कार्य दिसम्बर 2022 तक पूरा हो जायेंगे। अवशेष 12 कार्यों को जुलाई 2023 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। गौरीकुण्ड में गेट का निर्माण किया जा चुका है।संगम घाट का कार्य जून 2023 तक पूरा किया जायेगा। ईशानेश्वर टेम्पल का कार्य भी एक माह में पूरा हो जायेगा। मास्टर प्लान के अनुसार सभी कार्य दिसम्बर 2023 तक पूरा किये जायेंगे। मुख्य सचिव ने कहा कि बद्रीनाथ में भी मास्टर प्लान के अनुसार तेजी से कार्य हो रहे हैं। शीश नेत्र लेक और बद्रीश लेक का कार्य 03 माह में पूरा हो जायेगा। रिवर डेवलपमेंट प्रोजक्ट का कार्य जून 2023 तक पूरा हो जायेगा।सचिव संस्कृति, भारत सरकार गोविन्द मोहन ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से जानकारी दी कि केदारनाथ के लिए संस्कृति मंत्रालय के तहत चार प्रकार के कार्य होने हैं। जो जल्द शुरू किये जायेंगे। सोनप्रयाग में ओरिएंटेशन सेंटर की स्थापना, रामबाड़ा, छोटी लिंचोली, बड़ी लिंचोली और चन्नी कैंप में चिन्तन स्थल (ध्यान स्थल), केदारनाथ में शिव उद्यान और केदारनाथ में केदार गाथा म्यूजियम का निर्माण किया जायेगा। इन सभी कार्यों की पूरी योजना बनाकर तैयारी कर ली गई है।

अंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचारअब निष्क्रिय EPF खातों पर भी मिलेगा 8.8 पर्सेंट का ब्याज, सरकार जल्‍द जारी करेगी नोटिफिकेशन****** केंद्र सरकार देश के करीब 9.70 करोड़ कर्मचारियों को दिवाली के बाद खुशखबरी देने की तैयारी कर रही है। जल्द ही निष्क्रिय EPF अकाउंट्स में जमा राशि पर 8.8% का ब्याज दिए जाने का ऐलान सरकार कर सकती है। केंद्रीय श्रम मंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने इस बात की जानकारी दी।नोटिफाई हुए रियल एस्‍टेट एक्‍ट के नियम, पजेशन में देरी पर घर खरीदारों को मिलेगा 10.9% मिलेगा ब्याजPF account galleryये हैं लोन और निवेश कैलकुलेट करने के आसान फॉर्मूले, साबित हो चुकी है इनकी कामयाबीअंबेडकरजयंती2020विकसितभारतकेलिएउपयोगीहैंबाबासाहेबकेअनमोलविचारहीरो इलेक्ट्रिक राजस्थान में लगाएगी 1,200 करोड़ रुपये का EV Plant, 2023 के अंत तक शुरु हो सकेगा उत्पादन******Highlights इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहन निर्माता हीरो इलेक्ट्रिक ने सोमवार को कहा कि वह राजस्थान में 1,200 करोड़ रुपये प्रति वर्ष मेगा विनिर्माण केंद्र स्थापित करेगी। कंपनी ने कहा कि उसने निवेश के लिए राजस्थान शिखर सम्मेलन में राज्य सरकार के साथ पर हस्ताक्षर किए हैं।कंपनी के अनुसार, प्रस्तावित इकाई 170 एकड़ में सलारपुर औद्योगिक क्षेत्र में स्थित होगी और 2023 के अंत तक उत्पादन शुरू होगा। हीरो इलेक्ट्रिक के प्रबंध निदेशक नवीन मुंजाल ने कहा कि यह मेगा विनिर्माण सुविधा पूरे भारत में ईवी अपनाने को बढ़ावा देने के लिए हमारी क्षमता वृद्धि का हिस्सा है। यह राज्य को स्वच्छ गतिशीलता समाधान बदलाव और पारिस्थितिक पर्यटन प्रथाओं को बढ़ावा देने का काम करेगा। प्रस्तावित संयंत्र सभी मौजूदा और आगामी हीरो इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों का निर्माण करेगा।भारत सरकार के तरफ से इलेक्ट्रिक गाड़ियों को प्रमोट किया जा रहा है। सरकार कई तरह की योजनाओं पर भी काम कर रही है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, घरेलू इलेक्ट्रिक वाहन उद्योग में 2030 तक दोपहिया और तिपहिया वाहनों की बिक्री तेजी से बढ़ने की उम्मीद है। इस श्रेणी के तहत कुल बिक्री में इलेक्ट्रिक दोपहिया और तिपहिया वाहनों की हिस्सेदारी क्रमश: 50 और 70 प्रतिशत हिस्सेदारी होगी। वाहन कलपुर्जा विनिर्माता संघ (एसीएमए) और मैकिंजी की संयुक्त रूप से तैयार रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में यात्री या भारी वाणिज्यिक वाहनों की तुलना में बिजली से चलने वाली दोपहिया और तिपहिया वाहनों की कुल लागत अधिक आकर्षक होने की संभावना है। एसीएमए के 62वें वार्षिक सत्र से इतर यहां जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्ष 2030 तक नए इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों की बिक्री 50 प्रतिशत और तिपहिया वाहनों की बिक्री 70 प्रतिशत तक बढ़ सकती है।रिपोर्ट में कहा गया है कि विद्युतीकरण की धीमी रफ्तार की वजह से भारतीय यात्री और भारी वाणिज्यिक वाहन खंड में परंपरागत ईंजन (पेट्रोल और डीजल) का दबदबा कायम रहेगा। रिपोर्ट के अनुसार, 2030 तक कुल वाहन बिक्री में इलेक्ट्रिक यात्री वाहनों की हिस्सेदारी 10-15 प्रतिशत और भारी वाणिज्यिक वाहनों की हिस्सेदारी पांच से 10 प्रतिशत की होगी।

हाल का ध्यान

लिंक