वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > वूहाइ > मूलपाठ

मोदी का 2022 तक भारत को गरीबी, भ्रष्टाचार मुक्त बनाने का आह्वान

2022-10-04 16:57:48 वूहाइ

मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानIPL 2022: पहले ही मैच में धमाका कर आयुष बडोनी ने मचाई सनसनी, पंत के कोच से सीखे क्रिकेट के गुर******Highlightsमुंबई। एक खिलाड़ी लगातार 3 साल से अपना नाम IPL नीलामी में दे रहा था लेकिन किसी ने मौका नहीं दिया। फिर एक दिन अचानक इस खिलाड़ी की किस्मत खुली औरलखनऊ सुपरजायंट्स ने इस 22 साल के खिलाड़ी को खरीद लिया। इसके बाद जब ये खिलाड़ी पहली बार IPL में खेलने उतरा तो अपनी अर्धशतकीय पारी से सभी को चौंका दिया। हम बात कर रहे हैंआयुष बडोनी की, जिन्होंनेसोमवार को गुजरात टाइटन्स के खिलाफ 41 गेंदों पर 54 रन की शानदार पारी खेली।स्वर्गीय कोच तारक सिन्हा की आखिरी देन में से एक बडोनी ने भारत अंडर-19 स्तर पर 2018 में श्रीलंका के खिलाफ युवा टेस्ट मैच में नाबाद 185 रन बनाये थे। एशिया कप में भी उन्होंने फाइनल में केवल 28 गेंदों पर 52 रन की पारी खेली थी। इसके बावजूद उन्हें रणजी ट्राफी और विजय हजारे ट्रॉफी के लिये दिल्ली की टीम में जगह नहीं मिली। उन्हें आईपीएल की पिछली तीन नीलामी में भी नजरअंदाज किया लेकिन इस बार पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने उन्हें मौका दिया।बडोनी ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘मुझे कुछ पता नहीं था, क्योंकि मेरा नाम (नीलामी में) तीन साल से आ रहा था और कोई टीम मुझे खरीद नहीं रही थी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए इस बार जब मेरा नाम आया, मेरी धड़कन तेज़ थी। मैं नहीं जानता था। मैंने दो-तीन टीम से ट्रायल दिया था। ऐसा दो तीन साल से हो रहा था लेकिन किसी ने मुझे नहीं लिया।’’बडोनी ने कहा, ‘‘मैं लखनऊ का आभारी हूं कि जो उसने मुझे चुना। इसलिए मुझे अच्छा प्रदर्शन करने और टीम की जीत में योगदान देने की जरूरत है। मैं अपनी तरफ से सर्वश्रेष्ठ प्रयास करूंगा।’’ बडोनी ने पिछले साल मुंबई में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में केवल पांच टी20 खेले। इनमें भी उन्हें केवल एक मैच में बल्लेबाजी का मौका मिला जिसमें उन्होंने आठ रन बनाये थे। उन्होंने अब तक रणजी ट्रॉफी के मैच नहीं खेले हैं। उन्होंने कहा, "हां, पिछले तीन साल में थोड़ा संघर्ष किया। मुझे दिल्ली से मौका नहीं मिला, जिसकी वजह से मैंने अपने खेल को बेहतर बनाया। नये शॉट आजमाए, नये शॉट सीखे और इससे मुझे टी20 में मदद मिली।’’

मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानMumbai News: गणेशोत्सव के दौरान सड़क पर किए 180 से ज्यादा गड्ढे, अब भुगतना पड़ेगा 3.66 लाख रुपए का जुर्माना, नगर निगम ने की कार्रवाई******Highlightsमहाराष्ट्र में गणेशोत्सव धूमधाम से मनाया जाता है, जिसमें कई बार लोग सड़क पर गड्ढे कर देते हैं। लेकिन इस बार गणेशोत्सव के दौरान सड़क पर 180 से ज्यादा गड्ढे करने पर जुर्माना लगाया गया है। बृहन्मुंबई नगर निगम ने इस साल गणेशोत्सव के दौरान सड़क पर 183 गड्ढे करने के लिए लालबागचा राजा सार्वजनिक गणेशोत्सव मंडल पर 3.66 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है। यह जुर्माना 2000 रुपए प्रति गड्ढे के हिसाब से लगाया गया है। ये जानकारी BMC ने दी है।बता दें कोरोना की वजह से 2 साल बाद इस बार मुंबई में धूमधाम से गणेश उत्सव मनाया गया था। घरों और पंडालों में भगवान गणेश की प्रतिमाएं स्थापित की गई थीं और 10 दिनों तक पूजन-अर्चन के बाद 9 सितंबर को इनका विसर्जन किया गया।कब से शुरू हुआ था गणेश उत्सवदेश में पहली बार गणेश उत्सव की शुरूआत साल 1893 में हुई थी। इसके बाद हर साल धूमधाम से गणेश उत्सव मनाया जाने लगा। गणेश चतुर्थी के दिन से लेकर अनंत चौदस के दिन तक देश गणेश पूजा में रम जाता है।कहां धूमधाम से मनता है गणेश उत्सवमुंबई में गणेश उत्सव काफी उत्साह के साथ मनाया जाता है। मुंबई में पांडाल सजते हैं और गणेश उत्सव पर करोड़ों रुपए खर्च होते हैं। मुंबई मे लाल बागचा राजा की खास झांकी को देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं।पुणे में भी गणेश उत्सव की धूम रहती है। यहां गणेश उत्सव पर मराठी रीति-रिवाज से पूजा होती है। महिला और पुरूष पारंपरिक कपड़ो में डांस करते हैं और यहां ढोल-नगाड़ों के साथ गणेश जी का स्वागत होता है।हैदराबाद में गणेश उत्सव धूमधाम से मनाया जाता है। यहां पूरे 10 दिन तक गणपति बप्पा की पूजा होती है और अनंत चौदस के दिन बप्पा का विसर्जन होता है। यहां हर साल करीब 75 हजार पांडाल लगते हैं।दिल्ली में भी लोग पूरे उत्साह के साथ गणेश उत्सव में भाग लेते हैं। जगह-जगह धार्मिक आयोजन होते हैं और लोग डांस करते हैं।मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानBigg Boss 11, Episode 9: हिना और विकास में शुरु हुई जबरदस्त तकरार, इन दोनों के बीच बढ़ने लगीं नजदीकियां****** बॉलीवुड के दबंग की होस्टिंग वाले रियलिटी शो को लेकर हर दिन चर्चा और तेज हो रही है। पिछले एपिसोड में हम सभी ने देखा था कि चारों पड़ोसी भी अब मुख्य घर का हिस्सा बनने के लिए प्रवेश कर चुके हैं। लेकिन इसके साथ ही उन्हें घर के सभी सदस्यों को यह यकीन दिलाना है कि वह चारों के ही परिवार से हैं। हालांकि अब तक घर में कोई भी उनकी इस कहानी पर भरोसा नहीं कर पाया है और सभी को लगता है कि वह चारों झूठ बोल रहे हैं। शिल्पा शिंदे और विकास गुप्ता के बीच चल रहा तकरार तो अब पुरानी बात हो गई है, लेकिन अब जो नया देखने को मिला वह है हिना खान और विकास की लड़ाई। मंगलवार के एपिसोड में दोनों के जबरदस्त नोंक झोक देखने को मिली।हिना और विवाक के बीच की यह लड़ाई इतनी बढ़ गई कि विकास ने दोगली तक कह डाला। वहीं दूसरी तरफ हिना ने भी भड़ास निकालते हुए कहा कि शिल्पा जो भी उनके साथ कर रही हैं, वह बिल्कुल सही है। इसके घर के बाकी सदस्य भी विकास के खिलाफ नजर आए और कास्टिंग काउच कहकर बुलाने लगे। हालांकि हितेन उन्हें समझाते हैं कि घर के लोग चाहते हैं जैसे प्रियांक इस शो से बाहर हुए हैं वैसे तुम भी यहां से निकल जाओ। दूसरी ओर विकास इन सभी बातों से बेहद निराश हो जाते हैं और खुद को बाथरूम में बंदकर जोर जोर से रोने लगते हैं। लेकिन शिल्पा शिंदे यहां भी विकास का पीछा नहीं छोड़तीं और उनके बाथरूम के बाहर खड़े होकर बोलती हैं कि अभी तो तू और भी रोएगा।विकास इन सबसे इतना परेशान हो जाते हैं कि वह माइक निकालकर फेंक देते हैं और घर से बाहर की ओर चले जाते हैं। हालांकि तुरंत बाद वह वापस भी आते हैं और बिग बॉस उन्हें कन्फेशन रूम में बुलाकर बाते करते हैं। इसी दौरान अब घरवालों को अपना लक्जरी बजट मिलता है। इसमें हितेन को राजा, शिल्पा को अच्छी रानी और अर्शी को बुरी रानी बनाया जाता है। अब घरवाले दो हिस्सों में बंट जाते हैं, एक टीम शिल्पा की है और दूसरी अर्शी। उन्हें अलग रंगों की ईटों से दीवार बनानी है और एक दूसरे की टीम के काम को खराब करना है। इसी बीच हितेन, सपना से कहते हैं कि वह अर्शी के पैर दबाएं हालांकि सपना ऐसा करने से साफ इंकार कर देती हैं। लेकिन अर्शी अब इस बात के पीछे पड़ जाती हैं कि सपना को उनके पैर दवाने ही होंगे।टास्क होने के बाद सपना बेहद गुस्से में आ जाती हैं और से बात करने के लिए जाती हैं। हालांकि हितेन दोनों के बीच आकर बात को संभालते हैं। लेकिन घर में जहां एक तरफ सभी सदस्य एक दूसरे पर तीखे वार कर रहे हैं वहीं घर के एक कोने में कुछ और ही चल रहा है। दरअसल हम बात कर रहे हैं बंदगी कालरा और पुनीश शर्मा की। इनकी अपनी एक अलग ही कहानी शुरु हो चुकी है, दोनों को काफी एक दूसरे के साथ क्वालिटी टाइम बिताते हुए देखा जा रहा है। सोने के वक्त भी पुनीश ने बंदगी के हाथों पर किस तक कर डाला।

मोदी का 2022 तक भारत को गरीबी, भ्रष्टाचार मुक्त बनाने का आह्वान

मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानIndia on OIC Comments: 'पैगंबर विवाद में मुस्लिम मुल्कों के संगठन की टिप्पणी संकीर्ण मानसिकता वाली', भारत ने दिया करारा जवाब******Highlights पैगंबर मोहम्मद पर की गई टिप्पणी पर इस्लामिक देशों की प्रतिक्रिया के बाद भारत ने इन देशों को जवाब दिया है। नुपूर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी की गई थी, इसके बाद कतर, ईरान जैसे देशों ने ऐतराज जताया था। हालांकि भाजपा ने नुपूर शर्मा को पार्टी से निष्कासित कर दिया। इसी बीच भारत ने इस्लामिक मुल्कों के समूह की टिप्पणी को अवांछित और संकीर्ण मानसिकता वाली बताया है।अरब में आवाज उठी तब जाकर कार्रवाई की गई: ओवैसीउधर, ओवैसी ने भी नुपूर शर्मा के बयान पर प्रतिक्रिया दी है। उनका कहना है कि अरब देशों ने नुपूर शर्मा के पैगंबर मोहम्मद मामले पर बयान के खिलाफ आवाज उठाई तब जाकर उन्हें निष्कासित किया गया। उन्होंने सवाल किया कि 10 दिनों तक नुपूर शर्मा के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं हुई। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने भारत की विदेश नीति को बर्बाद किया है।ओआईसी ने की थी निंदादरअसल, सऊदी शहर जेद्दा में स्थित इस्लामिक सहयोग संगठन (OIC) ने भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी की निंदा करते हुए कहा था कि यह 'भारत में इस्लाम के प्रति घृणा और तेज करने और मुसलमानों के खिलाफ दुर्व्यवहार के संदर्भ में आया है।' दरअसल, ओआईसी खुद को मुस्लिम दुनिया की सामूहिक आवाज कहता है। हालांकि नुपूर शर्मा के निष्कासन की कार्रवाई के बाद कतर, अरब और अन्य देशों ने स्वागत किया है।भारत ने किया टिप्पणी का विरोधओआईसी के इस ​हालिया बयान का विदेश मंत्रालय के आधिकारिक प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा है कि हमने आईओसी के महासचिव का बयान देखा है। भारत सरकार ओआईसी सचिवालय की इस अनुचित और संकीर्ण सोच वाली टिप्पणियों को ​सिरे से खारिज करती है।'क्या है आईओसी?गौरतलब है कि ओआईसी इस्लामिक देशों का एक संगठन है, जिससे मुस्लिम राष्ट्र जुड़े हुए हैं। इसके सदस्य देशों में कतर, ईरान जैसे देशों के अलावा पाकिस्तान भी शामिल है। भारत ने देश के आंतरिक मामलों खासकर जम्मू-कश्मीर से जुड़े मामलों पर टिप्पणी करने के लिए ओआईसी की अक्सर निंदा की है।मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानStock Market Live: शेयर बाजार में टूटा तेजी का दौर, सेंसेक्स 200 अंक टूटा, निफ्टी 17300 से नीचे लुढ़का******Highlightsभारतीय शेयर बाजार में बीते हफ्ते से जारी तेजी का सिलसिला आखिरकार टूट गया। 2 अगस्त मंगलवार को शेयर बाजार की शुरुआत गिरावट के साथ हुई और सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 205.04 अंक टूटकर 57910.46 अंक पर पर आ गया। दूसरी ओर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 71.85 अंक के नुकसान के साथ 17,268.20 अंक पर पहुंच गया।सेंसेक्स की कंपनियों में टाटा स्टील, अल्ट्राटेक सीमेंट, आईसीआईसीआई बैंक, टेक महिंद्रा, एचडीएफसी तथा एक्सिस बैंक के शेयर नुकसान में कारोबार कर रहे थे। वहीं दूसरी ओर एशियन पेंट्स, आईटीसी, हिंदुस्तान यूनिलीवर, रिलायंस इंडस्ट्रीज, इंडसइंड बैंक और भारतीय स्टेट बैंक के शेयर लाभ में थे।एशियाई बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, चीन का शंघाई कम्पोजिट, जापान का निक्की और हांगकांग का हैंगसेंग भी नुकसान में कारोबार कर रहे थे। सोमवार को अमेरिकी बाजार नुकसान के साथ बंद हुए थे।डॉलर के कमजोर होने से मंगलवार को शुरुआती कारोबार में रुपया 12 पैसे की बढ़त के साथ 78.94 प्रति डॉलर पर पहुंच गया। डीलरों ने कहा कि इसके अलावा कच्चे तेल की कीमतों में नरमी से भी रुपये को समर्थन मिला। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 78.96 प्रति डॉलर पर मजबूती के साथ खुला। बाद में यह 12 पैसे की बढ़त के साथ 78.94 प्रति डॉलर पर पहुंच गया। पिछले कारोबारी सत्र में रुपया 79.06 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था। छह मुद्राओं की तुलना में अमेरिकी मुद्रा की मजबूती का आकलन करने वाला डॉलर सूचना 0.22 प्रतिशत गिरकर 105.21 पर आ गया।मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानPM Kisan: 42 लाख से ज्‍यादा किसान ‘अपात्र’, सरकार करेगी 3000 करोड़ रुपये की वसूली******pm kisan samman nidhi yojana big mistake Rs 3000 crore transferred to over 42 lakh ineligible farmersप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की किसानों के लिए महत्‍वाकांक्षी योजना प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि (PM Kisan) योजना में एक बड़ी गड़बड़ी का खुलासा हुआ है। सरकार ने खुद यह बात स्‍वीकार की है। कृषि एवं किसान कल्‍याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मंगलवार को लोकसभा में बताया कि देशभर में 42 लाख से अधिक ऐसे किसानों का पता चला है, जो गलत तरीके से पीएम किसान योजना का लाभ ले रहे हैं। कृषि मंत्री ने बताया कि देशभर में अबतक कुल 42,16,643 अपात्र किसानों की पहचान की गई है। इनके खातों में के अंतर्गत कुल 29,92,75,16,000 रुपये जमा कराए गए हैं, जिनकी वसूली सरकार द्वारा की जाएगी। उन्‍होंने कहा कि पीएम किसान स्‍कीम का लाभ पाने के लिए किसान परिवार के लिए भूमि का आकार कोई मानदंड नहीं है।पीएम किसान स्‍कीम एक निरंतर और सतत रूप से चलने वाला काम है और जब भी संबंधित राज्‍य/संघ राज्‍य से पीएम किसान पोर्टल पर पंजीकृत किसानों का सही और सत्‍यापित डेटा प्राप्‍त होता है और उसके बाद आधार/पीएफएमएस के माध्‍यम से सत्‍यापन होता है तो स्‍कीम के लाभ डीबीटी मोड के माध्‍यम से लक्षित लाभार्थी के बैंक खाते में अंतरित कर दिए जाते हैं।मंत्री ने बताया कि पीएम किसान के तहत सबसे ज्‍यादा अपात्र किसानों की संख्‍या असम में है। यहां 8,35,268 किसानों से वसूली की जानी है। इसके बाद तमिलनाडु (7,22,271), पंजाब (5,62,256), महाराष्‍ट्र (4,45,497), गुजरात (2,36,543), कर्नाटक (2,08,705), मध्‍य प्रदेश (2,51,391), राजस्‍थान (2,13,937) और उत्‍तर प्रदेश (2,65,321) का स्‍थान है।मंत्री ने लोकसभा में यह भी बताया कि पीएम किसान योजना का लाभ उठाने वाले अपात्र किसानों की सबसे कम संख्‍या सिक्‍किम में केवल एक है। इसके बाद लक्ष्‍यद्वीप में ऐसे किसानों की संख्‍या 5, लद्दाख में 23, पश्चिम बंगाल में 19, चंडीगढ़ में 30 और अरुणाचल प्रदेश में 136 है।

मोदी का 2022 तक भारत को गरीबी, भ्रष्टाचार मुक्त बनाने का आह्वान

मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानराहत-आफत: महंगाई बढ़ाएगी EMI का बोझ लेकिन जमा पर मिलेगा ज्यादा ब्याज******FDHighlightsदेश में खुदरा महंगाई बढ़कर 6.95 प्रतिशत पर पहुंच गई जो कि 17 महीने का उच्च्तम स्तर है। यह लगातार तीसरा महीना है जब खुदरा महंगाई भारतीय रिजर्व बैंक के स्तर से ऊपर है। ऐसे में यह तय है कि जून की मौद्रिक समीक्षा में ब्याज दरों में बढ़ोतरी होगी। यानी, आपकी होम, कार समेत दूसरे लोन की ईएमआई बढ़ेगी। हालांकि, इसके साथ ही राहत की यह भी खबर है कि जमा पर भी ज्यादा ब्याज मिलेगा। बैंकों ने इसकी तैयारी अभी से शुरू कर दी है। कई बैंकों ने एफडी की ब्याज दरों में इजाफा किया है।आरबीआई द्वारा ब्याज दरों में बढ़ोतरी से पहले ही कोटक महिंद्रा बैंक, एचडीएफसी बैंक और बैंक ऑफ बड़ौदा ने हाल ही में एफडी दरों में बढ़ोतरी की है। कोटक महिंद्रा बैंक ने 2 करोड़ रुपए से कम की राशि के लिए विभिन्न अवधि की एफडी दरों में वृद्धि की है। एचडीएफसी बैंक ने कुछ टेन्योर पर 2 करोड़ रुपए से कम की फिक्स्ड डिपोजिट पर ब्याज दरों में वृद्धि की है। बैंक ऑफ बड़ौदा (बीओबी) ने 2 करोड़ से कम की जमा राशि के लिए एफडी पर ब्याज दरें बढ़ा दी हैं। एचडीएफसी बैंक 7 दिन से 10 साल तक के एफडी पर 2.50% से 5.60% तक ब्याज दे रहा है।आर्थिक विशेषज्ञों का कहना है कि बढ़ती महंगाई को काबू करने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक जून-अगस्त 2022 की मौद्रिक समीक्षा में रेपो दर में 0.5 फीसदी और 2022-23 की शेष अवधि में रेपो दर में कुल मिलाकर आधा फीसदी की बढ़ोतरी कर सकता है। इसके साथ ही आरबीआई बाजार में तरलता कम करने के उपायों का ऐलान कर सकता है। इसके बाद ब्याज दरों में तेजी से बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है। रेपो रेट में बढ़ोतरी के बाद सभी तरह के लोन महंगे हो जाएंगे। यानी लोन की ईएमआई बढ़ जाएगी।मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानसरकार ने बीपी को भारत में 3500 पेट्रोल पंप खोलने का दिया लाइसेंस, फ्यूल बेचने वाली बनी 10वीं कंपनी****** सरकार ने देश में 3,500 पेट्रोल पंप स्थापित करने के लिये यूरोप की तीसरी सबसे बड़ी तेल कंपनी बीपी पीएलसी को औपचारिक रूप से लाइसेंस दिया है। यह 10वीं कंपनी है जो देश में आकर्षक ईंधन के खुदरा कारोबार में कदम रखेगी। बीपी ने ट्विटर पर लिखा है कि कंपनी को पेट्रोल और डीजल (हाई स्पीड डीजल) के विपणन के लिये 14 अक्टूबर को औपचारिक लाइसेंस मिल गया। कंपनी के लिए यह एक और मील का पत्थर है।सूत्रों ने कहा कि ब्रिटेन की कंपनी के साथ हल्दिया पेट्रोकेमिकल्स लि. को पेट्रोलियम मंत्रालय ने खुदरा पेट्रोल और डीजल के लिये लाइसेंस दिया है। इससे पहले कंपनी को भारत में एयरलाइंस को विमान ईंधन (एटीएफ) के खुदरा विपणन के लिए सैद्धांतिक मंजूरी मिली थी।IOC

मोदी का 2022 तक भारत को गरीबी, भ्रष्टाचार मुक्त बनाने का आह्वान

मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानIND vs WI: भारत ने रोमांचक मुकाबले में विंडीज को हराया, बल्लेबाजों ने शुरू से अंत तक बरसाए रन, हासिल की 2-0 की अजेय बढ़त******HighlightsIND vs WI: सीरीज के दूसरे वनडे में वेस्टइंडीज को पर जीत पूरे भारतीय बैटिंग ऑर्डर की जीत है। इसे यूं समझें कि भारत ने जब 312 रन के लक्ष्य को हासिल किया तब उसके हाथ में सिर्फ 2 विकेट थे और जीत के वक्त इसके सबसे बड़े नायक क्रीज पर मौजूद थे। पोर्ट ऑप स्पेन में हुए सीरीज के दूसरे मुकाबले में टीम इंडिया के सामने जीत के लिए 312 रन का लक्ष्य था। शुरुआत अच्छी नहीं हुई, कप्तान शिखर धवन सिर्फ 13 रन बना सके, सूर्यकुमार यादव भी 9 रन पर पवेलियन लौट गए लेकिन बाकी के बल्लेबाजों ने कमाल कर दिया।इस मुकाबले में भारत के तीन बल्लेबाजों ने हाफ सेंचुरी लगाई। तीसरे नंबर पर आए श्रेयस अय्यर और पांचवें नंबर पर उतरे संजू सैमसन ने शानदार अर्धशतकीय पारियां खेली और टीम को एक मजबूत बुनियाद दी। लेकिन जिस खिलाड़ी ने भारत को जीत का सेहरा पहनाया, वो थे अक्षर पटेल। अक्षर ने सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए ताबड़तोड़ शॉट लगाए। उन्होंने बिंदास अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए टीम पर बढ़ते दबाव को पूरी तरह से अनदेखा कर दिया। उन्होंने 27 गेंदों पर 50 रन के आंकड़े को छुआ और इसके बाद पूरी संवेदनशीलत के साथ बल्लेबाजी करते हुए टीम को जीत की दहलीज के पार पहुंचा दिया। अक्षर जब बल्लेबाजी करने आए तब भारत को 74 गेंदों पर 107 रन की जरूरत थी। उनके सामने दीपक हुड्डा, शार्दुल ठाकुर और आवेश खान पवेलियन लौट गए पर अक्षर डटे रहे। उन्होंने अपनी मैच जिताऊ पारी में 35 गेंदों पर नाबाद 64 रन बनाए।श्रेयस अय्यर ने धवन के जल्दी आउट होने के बाद पारी को आगे बढ़ाया। हालांकि उनके क्रीज पर आने के बाद दूसरे छोर से दो महत्वपूर्ण विकेट गिरे पर उन्होंने अपने नब्ज पर पूरा काबू बनाए रखा। अय्यर ने लगातार दूसरा अर्धशतक लगाते हुए इस मुकाबले में 71 गेंदों पर 63 रन बनाए। उन्होंने संजू सैमसन के साथ 94 गेंदों पर 99 रन की साझेदारी की। सैमसन ने भी इस अहम मुकाबले में हाफ सेंचुरी लगाकर अपनी उपयोगिता जाहिर कर दी। सैमसन ने 51 गेंदों पर 54 रन बनाए।यह वेस्टइंडीज में चेज करते हुए वनडे मेंतीसरी सबसे बड़ी जीत थी, जिसे अक्षर ने पूरे स्टाइल के साथ दो गेंद शेष रहते छक्का लगाकर हासिल किया। - 25 July 2022

मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानPNB को हुआ पहली तिमाही में 308 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ, NPA में आई कमी******PNB posts Q1 net profit of Rs 308 cr सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) को चालू वित्त वर्ष की जून में समाप्त पहली तिमाही में 308 करोड़ रुपए का एकल शुद्ध लाभ हुआ है। देश के दूसरे सबसे बड़े बैंक ने इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 1,018.63 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया था। इस लिहाज से समीक्षाधीन तिमाही में बैंक के शुद्ध लाभ में 70 प्रतिशत की गिरावट आई है। शेयर बाजारों को भेजी सूचना में पीएनबी ने कहा है कि इन आंकड़ों की तुलना पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही के आंकड़ों से नहीं की जा सकती, क्योंकि एक अप्रैल, 2020 से ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया का में विलय प्रभावी हुआ है।तिमाही के दौरान बैंक की कुल आय बढ़कर 24,292.80 करोड़ रुपए पर पहुंच गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 15,161.74 करोड़ रुपए थी। संपत्ति के मोर्चे पर बैंक की सकल गैर निष्पादित आस्तियां (एनपीए) जून, 2020 के अंत तक घटकर 14.11 प्रतिशत रह गईं, जो जून, 2019 में 16.49 प्रतिशत थीं। इसी तरह बैंक का शुद्ध एनपीए 7.17 प्रतिशत से घटकर 5.39 प्रतिशत रह गया।मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानNepal Plane Crash: नेपाल में लापता विमान का मलबा मिला, आखिरी बार मुस्तांग जिले में देखा गया था प्लेन******Highlightsनेपाल में लापता हुए विमान का मलबा मिल गया है। मस्टैंग में थासांग-2 के सानोसवेयर में तारा एयर का विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ। खोज और बचाव दल ने विमान दुर्घटना स्थल का पता लगाया है।तारा एयर का 9 एनएईटी ट्विन इंजन विमान रविवार की सुबह पहाड़ी जिले मस्टैंग में लापता हो गया था। नेपाली हवाई अड्डा प्राधिकरण के एक अधिकारी ने बताया है कि इस जहाज के मलबे को कोवांग गांव में पाया गया है। त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के प्रमुख ने मलबा मिलने की पुष्टि करते हुए बताया कि घटनास्थल पर वर्तमान हालात का पता लगाया जाना बाकी है। राहत और बचाव की टीमें दुर्घटनास्थल तक पहुंचने के लिए हर संभव कोशिश कर रही हैं।दुर्घटनास्थल की ओर बढ़ रही नेपाली सेनानेपाल सेना के अनुसार तारा एयर का विमान मनापति हिमाल के भूस्खलन में लामचे नदी के मुहाने पर दुर्घटनाग्रस्त हुआ। सेना के प्रवक्ता ने कहा कि नेपाल सेना जमीन और हवाई मार्ग से घटनास्थल की ओर बढ़ रही है। इस विमान में तीन जापानी, चार भारतीय समेत कुल 19 यात्री सवार थे। मुख्य जिलाधिकारी ने कहा कि हवाई जहाज को आखिरी बार मुस्तांग जिले में देखा गया था। बाद में इसे माउंट धौलागिरी की ओर मोड़ दिया गया, जिसके बाद इसे नहीं देखा गया था।विमान ने रविवार सुबह भरी थी उड़ानतारा एयर का 9 NAET डबल इंजन विमान ने पोखरा से जॉमसम के लिए सुबह 9.55 बजे उड़ान भरी थी। इस हवाई जहाज को कैप्टन प्रभाकर घिमिरे उड़ा रहे थे। हवाई अड्डा प्राधिकरण के अधिकारियों ने बताया कि विमान के मस्टैंग के लेटे क्षेत्र में पहुंचने के बाद, संपर्क टूट गया था।स्थानीय लोगों ने तेज धमाके की आवाज सुनने का दावा कियापुलिस अधिकारियों के अनुसार, विमान के मस्टैंग जिले के लेटे के "तिती" इलाके में दुर्घटनाग्रस्त होने का संदेह है। टिटी के स्थानीय लोगों ने हमें फोन किया और सूचित किया कि उन्होंने एक असामान्य आवाज सुनी है जैसे कि कोई धमाका हुआ हो। हम तलाशी अभियान के लिए इलाके में एक हेलीकॉप्टर तैनात कर रहे हैं।धौलागिरी और अन्नपूर्णा पहाड़ों के बीच स्थित है मस्टैंग क्षेत्रमस्टैंग शब्द तिब्बती मुंटन से लिया गया है जिसका अर्थ है "उपजाऊ मैदान"। पारंपरिक क्षेत्र काफी हद तक शुष्क है। धौलागिरी और अन्नपूर्णा पहाड़ों के बीच तीन मील लंबवत नीचे जाने वाली दुनिया की सबसे गहरी घाटी इस जिले से होकर गुजरती है।

मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानहर माह जमा करें केवल 210 रुपए, 60 साल की उम्र से मिलेगी 60,000 रुपए की पेंशन******Atal Pension Yojna: with invest Rs 210 monthly you will get Rs 60000 pension भारत सरकार ने असंगठित क्षेत्र के कामगारों को वृद्धावस्‍था में पेंशन की सुविधा उपलब्‍ध कराने के लिए अटल पेंशन योजना की शुरुआत की है, जो कम निवेश में पेंशन की गारंटी के लिए एक बेहतर विकल्‍प है। अटल पेंशन योजना के तहत सरकार अंशदान के आधार पर 1000 से लेकर 5000 रुपये महीना पेंशन की गारंटी देती है। 40 साल उम्र तक का व्यक्ति अटल पेंशन योजना के लिए आवेदन कर सकता है। का मकसद हर तबके को पेंशन के दायरे में लाना है। हालांकि, पेंशन निधि विनियामक व विकास प्राधिकरण (PFRDA) ने सरकार से अटल पेंशन योजना (APY) के तहत अधिकतम उम्र बढ़ाने की सिफारिश की है। योजना के तहत अकाउंट में हर महीने एक तय योगदान करने पर रिटायरमेंट के बाद 1 हजार रुपये से 5 हजार रुपये मासिक तक की पेंशन मिलेगी। सरकार हर 6 महीने में सिर्फ 1239 रुपये के अंशदान पर 60 साल की उम्र के बाद आजीवन 5,000 रुपये महीना या 60,000 रुपये सालाना पेंशन की गारंटी दे रही है।मौजूदा नियमों के अनुसार अगर 18 साल की उम्र में योजना से अधिकतम 5 हजार रुपये मंथली पेंशन के लिए जुड़ते हैं तो आपको हर महीने 210 रुपये देने होंगे। अगर यही पैसा हर तीन महीने में देते हैं तो 626 रुपये और छह महीने में देने पर 1,239 रुपये देने होंगे। महीने में 1,000 रुपये पेंशन पाने के लिए अगर 18 साल की उम्र में निवेश करते हैं तो मासिक 42 रुपये देने होंगे।मान लिजिए कि 5 हजार रुपये पेंशन के लिए आप 35 की उम्र में जुड़ते हैं तो 25 साल तक हर 6 महीने में 5,323 रुपये जमा करना होगा। ऐसे में आपका कुल निवेश 2.66 लाख रुपये होगा, जिसपर आपको 5 हजार रुपये मंथली पेंशन मिलेगी। जबकि 18 की उम्र में जुड़ने पर आपका कुल निवेश सिर्फ 1.04 लाख रुपये ही होगा। यानी एक ही पेंशन के लिए करीब 1.60 लाख रुपये ज्यादा निवेश करना होगा।मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानFlipkart पर एक बार फिर फ्लैश सेल के लिए उपलब्ध होगा Honor 9 Lite स्मार्टफोन, पिछली सेल में मिनटों में हुआ था आउट ऑफ स्‍टॉक****** Huawei के सब-ब्रांड ने अपना लेटेस्ट स्मार्टफोन हाल ही में भारत में लॉन्च किया था। 20 फरवरी को Honor 9 Lite एक बार फिर पर सेल के लिए आने वाला है। यह इस स्मार्टफोन की 7वीं फ्लैश सेल होगी जो 20 फरवरी को दोपहर 12 बजे से शुरू होगी। कंपनी का दावा है कि यह कंपनी का इस साल का बेस्ट सेलिंग स्मार्टफोन है। Honor 9 Lite स्‍मार्टफोन पहली बार फ्लिपकार्ट पर 21 जनवरी को बिक्री के लिए उपलब्‍ध हुआ था। कंपनी ने जानकारी दी थी कि ये स्मार्टफोन अपनी पहली फ्लैश सेल के दौरान केवल 6 मिनट में ही 'आउट ऑफ स्टॉक' हो गया। Honor ने भारत में इस स्‍मार्टफोन को दो वैरिएंट्स के साथ लॉन्च किया है जिसमें एक वैरिएंट 3GB रैम और 32GB इंटरनल स्टोरेज क्षमता वाला है। वहीं इसका दूसरा वैरिएंट 4GB रैम और 64GB इंटरनल स्टोरेज क्षमता से लैस है। इस स्मार्टफोन के 3GB रैम वाले वैरिएंट की कीमत 10,999 रुपए और 4GB रैम वाले वैरिएंट की कीमत 14,999 रुपए है।Honor 9 Lite की खासियत इसके चार कैमरे और बैजल-लैस डिसप्‍ले है जो 18:9 के आसपैक्ट रेशियो के साथ है। नए Honor 9 Lite में 5.65 इंच का फुल HD प्लस IPS LCD डिसप्‍ले दिया गया है जिसका स्क्रीन रिजोल्‍यूशन 2160 x 1080 पिक्सल्स है। इसमें कंपनी का हाईसिलिकॉन किरिन 659 प्रोसेसर है। इसकी इंटरनल स्‍टोरेज को माइक्रोएसडी कार्ड से 256GB तक बढ़ाया जा सकता है।इस स्मार्टफोन में चार कैमरा दिए गए हैं यानी दो कैमरा डिवाइस के आगे और दो रियर साइड में दिए गए हैं। इनमें 13MP का प्राइमरी सेंसर और 2MP का सेकेंडरी सेंसर दोनों कैमरों में दिया गया है। ये सेंसर्स PDAF, 3D ब्यूटी, बोके‍ह इफेक्ट आदि की खूबी से लैस हैं।Honor 9 Lite में 3000 mAh की बैटरी दी गई है और ये EMUI 8.0 के साथ लेटेस्ट एंड्रॉयड 8.0 ओरियो ऑपरेटिंग सिस्टम पर आधारित है। वहीं फिंगरप्रिंट सेंसर इसमें बैक पैनल पर दिया गया है। कनेक्टिविटी के लिए 4G VoLTE, डुअल सिम, ब्लूटूथ, वाई-फाई, GPS, डुअल-सिम और माइक्रो USB पोर्ट आदि दिए गए हैं।

मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानक्या इस वजह से महेंद्र सिंह धोनी ने 7 बजकर 29 मिनट पर किया संन्यास का ऐलान? सामने आया ये कारण******भारतीय पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर हर किसी क्रिकेट फैन की आंखें नम कर दी। 2004 में टीम इंडिया के लिए डेब्यू करने वाले धोनी ने 16 साल के अंतरराष्ट्रीय करियर को सोशल मीडिया पर एक भावूक वीडियो पोस्ट कर अलविदा कहा। धोनी के इस वीडियो में पल दो पल का शायर गाना बज रहा था और साथ में उनकी और टीम के साथी खिलाड़ियों की तस्वीरें चल रही थी। धोनी ने इस वीडियो को पोस्ट करते हुए लिखा था कि 7 बजकर 29 मिनट के बाद उन्हें रिटायर समझ लिया जाए।धोनी के हर फैसले के पीछे कोई ना कोई वजह होती है, अब धोनी ने अपने रिटायरमेंट के लिए यही समय क्यों चुना इस पर सवाल खड़े होने लगे हैं। तो आइए बताते हैं कि धोनी ने इसी समय रिटायरमेंट लेने का क्यों ऐलान किया।धोनी ने भारत के लिए अपना आखिरी मैच वर्ल्ड कप 2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था। इस मैच में धोनी के रन आउट होते ही भारत की जीत की उम्मीद खत्म हो गई थी। जब युजवेंद्र चहल के रूप में भारत के आखिरी विकेट का पतन हुआ तो लगभग घड़ी में उस समय 7.30 ही बज रहे थे। शायद इसी वजह से धोनी ने यह समय चुना।जब टीम इंडिया हारी तो न्यूजीलैंड के पूर्व खिलाड़ी ग्रांट इलियट ने अपनी टीम को एक ट्वीट के जरिए शुभकामनाएं दी थी और उनका यह ट्वीट 7 बजकर 29 मिनट पर ही दर्ज हुआ था। इसी वजह से कहा जा सकता है कि धोनी ने अपने रिटायरमेंट के लिए यही समय चुना।बता दें, वर्ल्ड कप 2019 के बाद जब धोनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से दूरियां बनाना शुरू कर दी थी तो बीसीसीआई ने भी उन्हें अपने सालाना कॉन्ट्रैक्ट से बाहर कर दिया था। कहा जा रहा था कि आईपीएल में अच्छा परफॉर्म कर धोनी टीम में वापसी कर सकते हैं, लेकिन धोनी ने इस टूर्नामेंट के शुरू होने से पहले ही रिटायरमेंट ले ली।मोदीका2022तकभारतकोगरीबीभ्रष्टाचारमुक्तबनानेकाआह्वानUSAID, DFC ने महिलाओं को 5 करोड़ डॉलर की ऋण गारंटी देने के लिए कोटक बैंक के साथ समझौता किया******USAID, DFC ने महिलाओं को 5 करोड़ डॉलर की ऋण गारंटी देने के लिए कोटक बैंक के साथ समझौता कियामुंबई: दो अमेरिकी संस्थानों ने, निजी क्षेत्र के ऋणदाता कोटक महिंद्रा बैंक के साथ गठजोड़ करके, संयुक्त रूप से भारतीय महिलाओं और छोटे व्यवसाय उधारकर्ता के लिए पांच करोड़ डॉलर (लगभग 372 करोड़ रुपये) की ऋण गारंटी प्रायोजित की है। एक बयान के अनुसार, यह कोटक महिंद्रा बैंक (केएमबी) को यूनाइटेड स्टेट्स एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (यूएस-ऐड) और यूएस इंटरनेशनल डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन (डीएफसी) द्वारा भारत भर में महिला लेनदारों, और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) के लिए वित्त तक पहुंच बढ़ाने का समर्थन करने के लिए एक ऋण पोर्टफोलियो गारंटी है।इसने बताया कि केएमबी, एमएसएमई और सूक्ष्म ऋण देने के क्षेत्र में काम करने वाले गैर-बैंक ऋणदाताओं को ऋण प्रदान करेगा। इस कार्यक्रम से 30,000 महिला लेनदारों और 7,500 एमएसएमई को लाभ होने की संभावना है। केएमबी के समूह अध्यक्ष डी कन्नन ने कहा कि इस पहल से एमएसएमई और निम्न सामाजिक-आर्थिक क्षेत्रों से संबंधित महिला उद्यमियों को औपचारिक स्रोतों से ऋण उपलब्ध कराने में मदद मिलेगी। यूएसएड इंडिया की मिशन निदेशक वीना रेड्डी ने कहा, ‘‘भारत में महिलाएं कोविड-19 महामारी से बहुत अधिक प्रभावित हुई हैं और उन आर्थिक कठिनाइयों का सामना कर रही हैं जो सीधे उनके परिवारों और समुदायों की आजीविका पर असर डालती हैं।’’

हाल का ध्यान

लिंक