वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > झांगये शहर > मूलपाठ

नोएडा: ग्रेटर नोएडा में रेडीकॉन बिल्डर का कार्यालय सील, बिल्डर पर 4.26 करोड़ बकाया

2022-10-04 16:39:23 झांगये शहर

नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकायावित्त वर्ष 2019-20 के लिए 27 दिसंबर तक 4.23 करोड़ आयकर रिटर्न दाखिल******4.23 करोड़ आयकर रिटर्न दाखिलनई दिल्ली। वित्त वर्ष 2019-20 (आकलन वर्ष 2020-21) के लिए 27 दिसंबर तक 4.23 करोड़ से अधिक आयकर रिटर्न दाखिल कर दिये गये हैं। आयकर विभाग ने सोमवार को यह जानकारी दी। आयकर विभाग ने ट्वीट किया, ‘‘आकलन वर्ष 2020-21 के लिए 27 दिसंबर तक 4.23 करोड़ से अधिक आयकर रिटर्न दाखिल किए जा चुके हैं। क्या आपने दाखिल किया? यदि नहीं तो प्रतीक्षा नहीं करें, आज ही अपना आयकर रिटर्न दाखिल करें।’’ दाखिल किये गये आयकर रिटर्न में से 2.38 करोड़ करदाताओं ने आईटीआर-1 दाखिल किया है, 92.26 लाख ने आईटीआर-4, वहीं, 51.05 लाख से अधिक ने आईटीआर-3 और 31.09 लाख से अधिक करदाताओं ने आईटीआर-2 जमा कराया है। व्यक्तिगत आयकरदाताओं के लिए वित्त वर्ष 2019-20 (आकलन वर्ष 2020-21) के लिए आयकर रिटर्न जमा कराने की अंतिम तारीख 31 दिसंबर, 2020 है। वहीं जिन करदाताओं के खातों के ऑडिट की जरूरत है, वे आयकर रिटर्न 31 जनवरी, 2021 तक जमा करा सकते हैं। कोविड-19 महामारी की वजह से आयकर रिटर्न जमा कराने की तारीख पहले 31 जुलाई फिर 31 अक्टूबर, 2020 बढ़ाई गई थी जिसके बाद अब उसे 31 दिसंबर कर दिया गया है।बिना विलंब शुल्क के वित्त वर्ष 2018-19 (आकलन वर्ष 2019-20) के लिए अंतिम तिथि तक 5.65 करोड़ आयकर रिटर्न दाखिल किए गए थे। पिछले साल आयकर रिटर्न दाखिल करने की तारीख को 31 अगस्त, 2019 तक बढ़ाया गया था। आयकर विभाग ने कहा कि पिछले साल 27 अगस्त, 2019 तक 4.30 करोड़ आयकर रिटर्न दाखिल किए गए थे, जबकि 27 दिसंबर, 2020 तक 4.23 करोड़ आयकर रिटर्न जमा कराए गए हैं। आईटीआर-1 सहज फार्म को कोई भी सामान्य निवासी जिसकी सालाना आय 50 लाख रुपये से अधिक नहीं है, अपनी व्यक्तिगत आय के बारे में जानकारी देते हुये भर सकता है। वहीं आईटीआर- 4 सुगम फार्म को ऐसे निवासी व्यक्ति, हिंदु अविभाजित परिवार और फर्म (एलएलपी को छोड़कर) द्वारा भरा जा सकता है जिनकी व्यवसाय और किसी पेशे से अनुमानित आय 50 लाख रुपये तक है। वहीं आईटीआर- 3 और 6 व्यवसायियों के लिये, आईटीआर- 2 आवासीय संपत्ति से आय प्राप्त करने वाले लोगों द्वारा भरा जाता है। आईटीआर- 5 फार्म एलएलपी और एसोसियेसन आफ पर्सन के लिये वहीं आईटीआर- 7 उन लोगों के लिये हैं जिन्हें ट्रस्ट अथवा अन्य कानूनी दायित्वों के तहत रखी गई संपत्ति से आय प्राप्त होती है।

नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकायापरिणीति चोपड़ा ने निक जोनस से मांगी थी 3 करोड़ की जूता चुराई, मिली इतनी रकम******(Priyanka Chopra) और (Nick Jonas) ने 1 और 2 दिसंबर को जोधपुर के उम्मेद भवन में शादी कर ली। प्रियंका की शादी को लेकर उनके फैंस के बीच खासा उत्साह रहा। इस दौरान प्रियंका की कजिन और बॉलीवुड एक्ट्रेस परिणीति चोपड़ा (Parineeti chopra) भी खूब एक्साइटेड थीं, परिणीति को सबसे ज्यादा एक्साइटमेंट जूता चुराई की रस्म की थी। परिणीति ने पहले ही कहा था कि वो इस शादी में अपने जीजू से 3 करोड़ से ज्यादा लेने वाली थी, लेकिन जीजू ने कम कराते कराते 5 लाख रुपये दे दिए और परिणीति ने ये रकम लेते हुए निक जीजू का जूता वापस कर दिया।डीएनए में छपी खबर के मताबिक निक जोनस की बारात का स्वागत प्रियंका की मां ने किया। इसके बाद परिणीति ने शादी के दौरान निक जीजू का जूता चुरा लिया। परिणीति ने जूता वापस करने के बदले साढ़े 3 करोड़ मांगे मगर निक जोनस ने उन्हें 5 लाख रुपये दिए। परिणीति मान गईं और उन्होंने जीजू को जूते वापस कर दिये।बता दें, दिल्ली में आज रात 8 बजे प्रियंका और निक की रिसेप्शन पार्टी होगी, इस पार्टी में सोनाली बेंद्रे, ड्वेन जॉनसन और पीएम मोदी जैसी हस्तियां शामिल हो सकती हैं।नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकाया9,999 पर अटके एम एस धोनी, अब 1 रन बनाने के लिए करना होगा अगले साल तक का इंतजार******एम एस धोनी और उनके फैंस के लिए निराश करने वाली खबर है। क्योंकि एम एस धोनी को वेस्टइंडीज के खिलाफ पांचवें मैच में भारत की तरफ से वनडे क्रिकेट में अपने 10,000 वनडे रन पूरे करने के लिए सिर्फ 1 रन की जरूरत थी। माना जा रहा था कि एम एस धोनी पांचवें वनडे मैच में इस मुकाम को आसानी से छू लेंगे। लेकिन ऐसा हो नहीं सका और वेस्टइंडीज की टीम महज 104 रनों पर सिमट गई और जिसके बाद रोहित शर्मा और विराट कोहली की जोड़ी ने भारत को 9 विकेट से जीत दिला दी। लेकिन अब एब बेहद ही मजेदार बात निकल कर सामने आ रही है। और वो ये है कि एम एस धोनी को दस हजारी बनने के लिए अगले साल यानी साल 2019 तक का इंतजार करना होगा। आखिर क्या है इसके पीछे की वजह? आइए जानते हैं। दरअसल, भारतीय टीम को अब इस साल एक भी वनडे मैच नहीं खेलना है। यानी टीम इंडिया साल 2018 में अपने सारे वनडे मैच खेल चुकी है और अब इस साल टीम कोई भी वनडे मैच नहीं खेलेगी। टीम इंडिया अब सीधा साल 2019 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोई वनडे खेलेगी।वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज के बाद टीम इंडिया वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन मैचों की टी20 सीरीज और इसके बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इतने ही मैचों की टी20 सीरीज के अलावा चार मैचों की टेस्ट सीरीज खेलेगी। भारत को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज का पहला मैच 12 जनवरी, 2019 को खेलना है और इससे पहले टीम कोई भी वनडे नहीं खेलेगी।साफ है कि अब एम एस धोनी को अब एक रन बनाने के लिए लंबा-चौड़ा इंतजार करना होगा और उनका ये इंतजार साल 2019 में जाकर ही खत्म होगा। आपको ये भी याद दिला दें कि एम एस धोनी को वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 सीरीज में टीम इंडिया का हिस्सा नहीं बनाया गया है।

नोएडा: ग्रेटर नोएडा में रेडीकॉन बिल्डर का कार्यालय सील, बिल्डर पर 4.26 करोड़ बकाया

नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकायाLakhimpur Kheri Case: अजय मिश्रा 'टेनी' की बर्खास्तगी को लेकर किसानों का धरना दूसरे दिन भी जारी******Highlights लखीमपुर खीरी में पिछले साल हुए तिकोनिया कांड मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा 'टेनी' की बर्खास्तगी समेत कई और मांगों को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा की अगुवाई में किसानों का 75 घंटे का धरना शुक्रवार को दूसरे दिन भी जारी रहा। संयुक्त किसान मोर्चा के नेता लखीमपुर खीरी में अपने धरना प्रदर्शन के अंतिम दिन शनिवार को जिलाधिकारी कार्यालय तक मार्च निकालेंगे। भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के नेता राकेश टिकैत ने देश के किसानों को अपने मुद्दों के समाधान के लिए बड़े पैमाने पर राष्ट्रव्यापी आंदोलन के लिए तैयार रहने का आह्वान किया।राकेश टिकैत ने धरने को संबोधित करते हुए कहा, "राष्ट्रव्यापी आंदोलन कब, कहां और किस तरह से होगा, संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) के नेता उचित समय पर इस बारे में जानकारी देंगे।" एसकेएम को मजबूत करने का आह्वान करते हुये टिकैत ने कहा, "अगर एसकेएम कमजोर हो जाता है, तो सरकारें किसानों पर हावी हो जाएंगी।" उन्होंने कहा कि तिकोनिया कांड को लेकर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री की बर्खास्तगी के साथ-साथ न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) सुनिश्चित करने के लिए कानून भी किसानों का एक बड़ा मुद्दा है।उल्लेखनीय है कि धरना स्थल राजापुर मंडी समिति में शुक्रवार को भी विभिन्न राज्यों से किसान आंदोलन में शामिल होने पहुंचे। लखीमपुर खीरी केंद्रीय गृह राज्य मंत्री का पैतृक जिला है और वह खीरी से लगातार दूसरी बार भाजपा के सांसद हैं। पंजाब के बीकेयू-चढूनी धड़े के पदाधिकारी भी आंदोलनकारी किसानों के साथ अपनी एकजुटता व्यक्त करने के लिए आंदोलन स्थल पर पहुंचे। चढूनी धड़ा संयुक्त किसान मोर्चा का हिस्सा नहीं है। संयुक्त किसान मोर्चा कोर कमेटी के सदस्य दर्शन सिंह पाल, स्वराज इंडिया के राष्ट्रीय संयोजक योगेंद्र यादव और सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटेकर सहित प्रमुख नेता गुरुवार को शुरू हुए इस धरने में शामिल हुये हैं। इनके अलावा, किसान नेता तेजिंदर सिंह विर्क, रंजीत राजू, अशोक मित्तल, दीपक लांबा, भाकियू -टिकैत राष्ट्रीय संगठन सचिव भूदेव शर्मा और पंजाब के अन्य प्रमुख किसान नेता धरने में शामिल हैं।हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, केरल, उत्तर प्रदेश के किसान नेताओं ने भी किसानों को संबोधित किया। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री पर निशाना साधते हुए राकेश टिकैत ने अपने संबोधन में कहा, "पूरा देश तिकुनिया हिंसा के बारे में अच्छी तरह से जानता है और यह भी सबको पता था कि हिंसा भड़काने वाले कौन थे।" अजय कुमार मिश्रा को भारतीय दंड संहिता की धारा 120बी का आरोपी बताते हुए टिकैत ने कहा, "यह विडंबना है कि मंत्री अब भी अपने पद पर बने हुये हैं।" भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 120बी अपराध करने के लिए आपराधिक साजिश से संबंधित है। टिकैत ने कहा कि 75 घंटे लंबे धरने के बाद भी किसानों को अपनी मांगों को पूरा करने के लिए बड़े आंदोलन के लिए तैयार रहना चाहिए। टिकैत ने कहा कि गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा को बर्खास्त करने के अलावा जेल में बंद निर्दोष किसानों की रिहाई, एमएसपी गारंटी कानून, बिजली संशोधन विधेयक 2022 को वापस लेने, गन्ना बकाया का भुगतान और सरकार के भूमि अधिकार समेत कई अन्य मुद्दे किसानों के सामने हैं।नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकायाCognizant का शुद्ध लाभ जनवरी-मार्च तिमाही में 16.7 प्रतिशत घटा, 20 हजार लोगों को देगी नौकरी******Cognizant January-march Quarter net profit falls 17 percentसूचना प्रौद्योगिकी कंपनी कॉग्निजैंट का शुद्ध लाभ कैलेंडर वर्ष 2020 की पहली तिमाही में 16.7 प्रतिशत गिरकर 36.7 करोड़ डॉलर रहा। 2019 की जनवरी-मार्च तिमाही में कंपनी को 44.1 करोड़ डॉलर का शुद्ध लाभ हुआ था। कंपनी जनवरी-दिसंबर को वित्त वर्ष मानती है। भारत में अमेरिकी आईटी कंपनी कॉग्निजैंट के करीब दो लाख कर्मचारी हैं।ब्रायन हंफरीज ने कहा कि 2020 चुनौतीपूर्ण रहना वाला है और इस दौरान कंपनी ने डिजिटल कौशल बढ़ाने पर निरंतर निवेश करते रहने की योजना बनाई है। कंपनी की योजना कर्मचारी लागत ढांचे को समायोजित करने के लिए इस साल 20 हजार शुरुआती स्‍तर के कर्मचारियों को नौकरी पर रखने की है।कोरोना वायरस संकट के चलते 2020 के दौरान कंपनी को मांग के स्तर पर चुनौतियों पेश आने की आशंका है। वैसे कंपनी को अपने कारोबारों के विविधतापूर्ण होने, नकदी की अच्छी स्थिति और बेहतर बैलेंस शीट से कोविड-19 संकट को पार कर लेने की उम्मीद है। समीक्षावधि में कंपनी की आय सालाना आधार पर 2.8 प्रतिशत बढ़कर 4.2 अरब डॉलर रही।कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ब्रायन हंफरीज ने कहा कि हमने इस चुनौतीपूर्ण तिमाही में भी सही से काम किया। उन्होंने कहा कि कोविड-19 संकट की वजह से मानवीय और आर्थिक व्यवस्था के समक्ष अभूतपूर्व चुनौतियां हैं। इसलिए कंपनी ने कारोबार को बनाए रखने के साथ-साथ कर्मचारियों और सहायकों के स्वास्थ्य और सुरक्षा पर बराबर ध्यान रखा है। वायरस के फैलाव को देखते हुए हम डिजिटल कारोबारी मॉडल की ओर बढ़ रहे हैं।नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकायापीएम मोदी ने रविदास मंदिर में की प्रार्थना, श्रद्धालुओं के साथ भजन में हुए शामिल******Highlights प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविदास जयंती के अवसर पर यहां करोल बाग स्थित 'श्री गुरु रविदास विश्राम धाम मंदिर' में प्रार्थना की। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने श्रद्धालुओं के साथ भजन में हिस्सा लिया। देशभर में संत कवि रविदास के अनुयायी हैं। इनमें दलित समुदाय के लोगों की बड़ी संख्या है।मध्यकालीन कवि एवं समाज सुधारक संत रविदास ने अपने दोहों और उपदेशों के माध्यम से जाति आधारित सामाजिक भेदभाव के खिलाफ संदेश दिया।इससे पहले, मोदी ने मंगलवार को गुरु रविदास की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्होंने जातिवाद और छुआछूत जैसी कुरीतियों को खत्म करने के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने हर कदम और योजना में गुरु रविदास की भावना को आत्मसात किया है।

नोएडा: ग्रेटर नोएडा में रेडीकॉन बिल्डर का कार्यालय सील, बिल्डर पर 4.26 करोड़ बकाया

नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकायामशहूर कन्‍नड़ एक्‍टर सतीश वज्र की खून से लथपथ बॉडी बरामद, 3 महीने पहले हुई थी पत्नी की मौत******कल ही एक उड़िया एक्ट्रेस की मौत की खबर सामने आई थी अब कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री को एक झटका लगा है क्योंकि कन्नड़ के मशहूर एक्टर सतीश वज्र की मौत हो गई है। पुलिस को घर पर खून से सनी उनकी डेडबॉडी मिली है। सतीश बेंगलुरू में रहते थे, ऐसा लग रहा है कि किसी ने उनका मर्डर किया है। तीन महीने पहले उनकी पत्नी की मौत भी हुई थी, खबरों के मुताबिक उनकी पत्नी ने आत्महत्या की थी। सतीश की मौत से इंडस्ट्री को झटका लगा है, पुलिस को शक है कि सतीश की हत्या किसी और ने नहीं बल्कि उनकी वाइफ के भाई यानी कि उनके साले ने की है।खबरों के मुताबिक जब सतीश वज्र के लैंड लॉर्ड ने देखा कि फ्लैट से खून बाहर निकल रहा है तो उन्होंने पुलिस को इनफॉर्म किया, पुलिस ने जब फ्लैट खोला तो वहां जमीन पर सतीश की बॉडी खून में सनी मिली। पुलिस सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है। पुलिस ने डेडबॉडी को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।कर्नाटक के मांड्य जिले के रहने वाले सतीश वज्र ने फिल्म 'लागोरी' से फिल्मों में डेब्यू किया था, वो फिल्मों में सपोर्टिंग रोल किया करते थे। बेंगलुरु के आरआर नगर में सतीश अपनी फैमिली के साथ रहा करते थे। रविवार को सतीश पर दो अज्ञात लोगों ने धारदार हंसिए से उनपर वार किया और हत्या करके वहां से फरार हो गए।सतीश वज्र ने अपने परिवार के किलाफ जाकर शादी की थी, उनकी शादी से ने उनके घरवाले खुश थे न ही उनकी पत्नी के। दोनों परिवारों के बीच इस शादी को लेकर कई बार लड़ाई भी हो चुकी थी। इन्हीं सबसे परेशान होकर उनकी पत्नी ने तीन महीने पहले खुदकुशी कर ली थी, अब सतीश की मौत ने लोगों को हैरान कर दिया है। फिलहाल पुलिस मामले की तफ्तीश कर रही है।नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकायाPM Modi: अरुण जेटली मेमोरियल लेक्चर में शामिल होंगे पीएम मोदी, 8 जुलाई को होगा आयोजन******Highlightsप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 8 जुलाई को पहली बार होने वाले अरुण जेटली मेमोरियल के लेक्चर में शामिल होंगे। वित्त मंत्रालय 8 जुलाई को इसका आयोजन कर रहा है। खबरों के अनुसार इस लेक्चर के बाद देश में कौटिल्य इकोनॉमिक कॉन्क्लेव की भी शुरुआत कर दी जाएगी।आर्थिक विभाग के सचिव अजय सेठ ने मीडिया को इस बाबत बताया है कि वित्त मंत्रालय आठ जुलाई को पहली बार अरुण जेटली मेमोरियल लेक्चर का आयोजन करने जा रहा है। इस कार्यक्रम के दौरान पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा देश के आर्थिक सुधार में दिए गए योगदान को याद किया जाएगा। इस कार्यक्रम को विज्ञान भवन में आयोजित किया जाएगा, जिसके मुख्य अतिथि प्रधानमंत्री मोदी होंगे।मिली जानकारी के अनुसार, अरुण जेटली मेमोरियल लेक्चर का आयोजन हर साल इसी तारीख को होगा। इस लेक्चर में सिंगापुर के वरिष्ठ मंत्री और ग्रुप थर्टी के अध्यक्ष थरमन शनमुगरत्नम अपना भाषण देंगे। इसके साथ 8 जुलाई से ही तीन दिवसीय कौटिल्य इकोनॉमिक कॉन्क्लेव का भी आयोजन किया जा रहा है। इस आयोजन में भारत समेत कई देशों से लोग जुड़ेंगे।इंस्टीट्यूट ऑफ एकोनॉमिक ग्रोथ के सहयोग से आर्थिक मामलों का विभाग कौटिल्य आर्थिक सम्मेलन आयोजित करेगा। इसमें हार्वर्ड केनेडी स्कूल के अंतर्राष्ट्रीय व्यापार और निवेश विषय के प्रोफेसर रॉबर्ट लॉरेंस, फाइनेंशियल टाइम्स के एसोसिएट एडिटर मार्टिन वुल्फ, भारतीय रिज़र्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास, नीति आयोग के पूर्व सीईओ अमिताभ कांत और लंदन स्कूल ऑफ एकोनॉमिक्स के निकोलस स्टर्न सहित 21 देशों के प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे।इस आयोजन का उद्धाटन मौजूदा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण करेंगी। इस आयोजन में वित्त मंत्रालय के सभी अधिकारी भी शिरकत करेंगे। इसके साथ-साथ इस कार्यक्रम नें अमेरिका, इजरायल, पाकिस्तान, श्रीलंका, नेपाल और बांग्लादेश के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे।

नोएडा: ग्रेटर नोएडा में रेडीकॉन बिल्डर का कार्यालय सील, बिल्डर पर 4.26 करोड़ बकाया

नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकायाLFW 2020: लैक्मे फैशन वीक के पहले दिन जाह्नवी कपूर ने विक्की कौशल के साथ बिखेरे जलवे******बॉलीवुड अभिनेता विक्की कौशल अपनी एक्टिंग के साथ-साथ लुक्स के कारण सुर्खियों में छाई रहते हैं। वहीं दूसरी ओर बॉलीवुड अभिनेत्री जाह्नवी कपूर अपनी एक्टिंग से ज्यादा फिटनेस और फैशन सेंस के कारण सुर्खियों में बनी रहती हैं। एक्ट्रेस अधिकतर अपने लुक से फैंस को इंप्रेस कर लेती हैं। ऐसा ही एक मौका मिला जब विक्की कौशल और जाह्नवी कपूर ने अपने लुक से हर किसी को दीवाना बना दिया।दरअसल लैक्मे फैशन वीक 2020 की शानदार आगाज हो चुकी है। फैशन वीक के पहले ही दिन और विक्की कौशल ने अपने लुक से पूरा समां बांध दी।विक्की कौशल के लुक की बात करें तो उन्होंने फैशन डिजाइनर कुनाल रावल द्वारा डिजाइन कियाहुआ बटनडाउन कुर्ताके साथ ब्लैक कलर का पैंट और ब्लैक कलर का लॉंग जैकेट पहनीं। इस लुक को विक्की से ब्लैक कलर के जूती पहनकर पूरा किया। वह इस लुक में काफी हैंडसम नजर आ रहे हैं।जाह्नवी कपूर के लुक की बात करें तो उन्होंने डिजाइनर राहुल मिश्रा के द्वारा डिजाइन की हुई कलरफुल गाउन पहना। जिसमें रिच थ्रेड और पेंट का वर्क किया गया था। इसके साथ ही इसमें ब्लू कलर का प्रॉमिनेच रखा था। जिसकी नेकलाइन इल्यूजन डिजाइन की थी। जो बिल्कुल नेकपीस की तरह लग रहा था।इस डिजाइन को लेकर राहुल मिश्रा ने खुद बताया कि वह जब मालदीव में डाइविंग के लिए गए थे तो उन्होंने समुद्र के अंदर की दुनिया का जो नजारा देखा उसकी ब्यूटी देख वह दंग रह गए। बस इसी खूबसूरती को उन्होंने इस गाउन में उकेरा है।इस लुक के साथ जाह्नवी ने लाइट मेकअप के साथ न्यूड लिपस्टिक और बालों को ओपन किया हुआ था। इसके साथ ही अपने बालों को लंबा करने के लिए हेयर एक्सटेंशन के लगाया। जिससे उन्हें लॉन्ग वेवी स्टाइल मिले। इस लुक में जाह्नवी बेहद खूबसूरत नजर आईं।

नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकायाबिहार के मुख्य सचिव अरूण कुमार सिंह की कोरोना से मौत, सीएम नीतीश कुमार ने श्रद्धांजलि दी****** बिहार के मुख्य सचिव अरूण कुमार सिंह की कोरोना से मौत हो गई है। मुख्य सचिव अरूण कुमार सिंह को इलाज के लिए हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, जहां उन्होंने अंतिम सांस ली। मुख्य सचिव की मौत के बाद प्रशासनिक गलियारे में शोक की लहर है।अरुण कुमार सिंह 1985 बैच के बिहार कैडर के आईएएस अधिकारी थे। 28 फरवरी को सरकार ने उन्हें मुख्य सचिव के पद पर तैनात किया था। पिछले दिनों वह कोरोना संक्रमित पाए गए थे और तब से लगातार उनका इलाज चल रहा था। बिहार के मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह की कोविड-19 से मौत को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी शोक व्यक्त कर श्रद्धांजलि दी है।नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकायाखाद्य विषमता के कुपोषण से दुनिया को सालाना 13,600 अरब डालर का नुकसान: रिपोर्ट******खाद्य विषमता के कुपोषण से दुनिया को सालाना 13,600 अरब डालर का नुकसान: रिपोर्टमुंबई.दुनिया में एक न्यायोचित, सक्षम और सतत् खाद्य उतपादन, वितरण और खपत के तौर तरीके से कुपोषण की समस्या से निपटा जा सकता है।एक रिपोर्ट में कहा गया है कि कुपोषण से विश्व अर्थव्यवस्था को हर साल 13,600 अरब डालर का नुकसान होता है। क्रेडिट सूईस रिसर्च इंस्टीट्यूट ने मंगलवार को जारी रपट में कहा है कि कुपोषण और बढ़ती जनसांख्यिकी के दोहरे बोझ से इस चुनौती और पर्यावरण पर दबाव बढ़ता है। खाद्य उत्पादन और खपत में एक अधिक टिकाऊ प्रणाली की तरफ बदलाव कर इस समस्या का समाधान किया जा सकता है।संयुक्तराष्ट्र का अनुमान बताता है कि दुनिया की आबादी 2050 तक मौजूदा 7.8 अरब से बढ़कर करीब दस अरब पर पहुंच जायेगी और 2100 तक यह 11 अरब पर पहुंच जायेगी। लेकिन जनसंख्या में होने वाली यह वृद्धि दुनिया के विभिन्न हिस्सों में अलग अलग तरह से होगी। इसमें से 93 प्रतिशत जनसंख्या वृद्धि अगले तीन दशक के दौरान कम विकसित माने जाने वाले अफ्रीका (59 प्रतिशत) और एशिया (34 प्रतिशत) में होने का अनुमान है।इस आबादी को खाने के लिये वर्ल्ड रिसोर्स इंस्टीट्यूट के अनुमान के मुताबिक कैलोरीज में खाद्य उत्पादन 2010 से लेकर 2050 के बीच 56 प्रतिशत बढ़ना चाहिये। रिपोर्ट में कहा गया है कि एक टिकाऊ वैश्विक खाद्य प्रणाली से मानव स्वास्थ्य और वैश्विक पारिस्थिकी को लाभ होता है। लेकिन यह वास्तविकता से काफी दूर है। करीब 70 करोड लोग अल्पपोषण का शिकार है। 1.8 अरब लोग मोटापे के शिकार है और दुनिया में कुल मौतों का 20 प्रतिशत मौतें खानपान में गड़बड़ी की वजह से होती हैं। इस प्रकार कुपोषण से ही वैश्विक अर्थव्यवसथा को 13,600 अरब डालर का सालाना नुकसान पहुंचता है।

नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकायाअक्षय तृतीया पर सोने की बिक्री 30 प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद, सोना खरीदना माना जाता है शुभ****** आभूषण विक्रेताओं को अक्षय तृतीया पर्व पर सोने की बिक्री 30प्रतिशत तक बढ़ने की उम्मीद है। अक्षय तृतीया इस बार 28 अप्रैल को है और इस पर्व पर सोना खरीदना शुभ माना जाता है।अखिल भारतीय रत्न एवं आभूषण व्यापार महासंघ के अध्यक्ष नितिन खंडेलवाल ने बताया कि पिछले वर्ष के मुकाबले इस बार अक्षय तृतीया की बिक्री में 20 से 30 प्रतिशत की वृद्धि होने की उम्मीद है। आने वाले दिनों में सोने की दरें और मजबूत होने की भी संभावना है। उद्योग संगठन वर्ल्‍ड गोल्ड काउंसिल के प्रबंध निदेशक सोमासुन्दरम पीआर ने कहा कि अक्षय तृतीया का पर्व उपभोक्ताओं की धारणा का संकेत देता हैं। उन्होंने कहा कि सोने की कीमतें उतनी नहीं बढ़ीं जितनी कि अंतरराष्ट्रीय बाजारों में बढ़ी हैं, इसका कारण रुपए की धारणा मजबूत होना है। लोगों को सोने में निवेश करने का यह बेहतर मौका दिख रहा है।उन्होंने कहा कि हालांकि वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) तथा नकदी खरीद को लेकर चिंता अभी भी बनी हुई है।पीएन गाडगिल ज्वैलर्स के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक सौरभ गाडगिल ने कहा कि इस बार अक्षय तृतिया विवाह सीजन के बीच में और सप्‍ताह के अंत में पड़ रही है, जिसकी वजह से बिक्री 30 प्रतिशत अधिक होने की संभावना है।मनुभाई ज्‍वैलर्स के डायरेक्‍टर समीर सागर का कहना है कि बाजार में सकारात्‍मक रुख है और गुड़ी पड़वा से एक हफ्ते पहले ही मांग आना शुरू हो गई थी, जिससे यह संकेत मिलता है कि इस बार अक्षय तृतीया पर पिछले साल से 25 फीसदी अधिक खरीदारी होगी। सबसे ज्‍यादा मांग 25-25 ग्राम वजन में रहेगी। इस साल सबका फोकस विवाह आभूषणों पर रहेगा, क्‍योंकि अभी शादी विवाह का सीजन चल रहा है।अनमोल के संस्‍थापक इशू दतवानी कहते हैं कि सोने की बढ़ती कीमतों और ज्‍वैलर्स के विभिन्‍न ऑफर्स की वजह से इस बार अक्षय तृतीया पर सोने की बिक्री 25-25 प्रतिशत अधिक रहेगी। नोटबंदी के बाद से स्थिति में अब काफी सुधार आ चुका है और इस साल लोग न केवल सोने के आभूषण खरीद रहे हैं बल्कि हीरे जडि़त आभूषणों की भी मांग कर रहे हैं।नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकायाBhuvneshwar Kumar : भुवनेश्वर कुमार ने बताया अपनी सफलता का राज, कही ये बड़ी बात******Highlightsटीम इंडिया के शानदार गेंदबाजों में से एक भुवनेश्वर कुमार इस वक्त कमाल की गेंदबाजी कर रहे हैं। भारतीय टीम इन दिनों वेस्टइंडीज के साथ पांच टी20 मैचों की सीरीज खेल रही है, इसमें भी भुवनेश्वर कुमार खेल रहे हैं और बेहतरीन गेंदबाजी भी कर रहे हैं। भुवनेश्वर कुमार ने अपनी सफलता का श्रेय कड़ी मेहनत को दिया है। बीसीसीआई की ओर से भुवनेश्वर कुमार का एक वीडियो शेयर किया गया है, जिसमें उन्होंने अपनी बात रखी और बताया कि उनकी सफलता के पीछे का कारण क्या है।जब भुवनेश्वर कुमार से पूछा गया कि क्या उन्होंने पिछले कुछ महीनों में अपने गेंदबाजी एक्शन में कोई बदलाव किया है, तो उन्होंने जवाब दिया कि नहीं मेरे केवल कड़ी मेहनत की है। उन्होंने कहा कि ईमानदारी से कहूं तो मैंने अपनी गेंदबाजी एक्शन में कोई बदलाव नहीं किया। मैंने सिर्फ अधिक गेंदबाजी करने की कोशिश की, जिससे मेरा शरीर लय में आ गया। इससे मुझमें आत्मविश्वास वापस जगाया। फिटनेस एक ऐसी चीज है, जिसमें आप सुधार करते हैं, इससे आपको मदद मिलती है। पिछले वर्ष और दक्षिण अफ्रीका में तीन मैचों की वनडे सीरीज में उन्होंने कोई प्रभाव नहीं डाला, जिसे भारत 3.0 से हार गया।भुवनेश्वर कुमार ने बीसीसीआई की ओर से पोस्ट किए गए एक वीडियो में कहा कि बेशक जब आप टीम के साथ होते हैं, तो आप अभ्यास करते हैं, लेकिन मैंने घर पर अपनी गेंदबाजी पर भी कड़ी मेहनत की और खुद को लय में रखने का प्रयास किया। गेंदबाज ने यह भी कहा कि उन्होंने तेज गेंदबाज अर्शदीप सिंह में जबरदस्त क्षमता देखी। एक युवा गेंदबाज के लिए ऐसा सोचना अच्छा है। अर्शदीप ने 29 जुलाई को त्रिनिदाद में वेस्टइंडीज के खिलाफ पहला टी20 मैच में 24 रन देकर दो विकेट लेने में अहम भूमिका निभाई थी। भुवी ने महसूस किया कि अर्शदीप ने आईपीएल टीम के साथ चार साल बिताए हैं, पंजाब किंग्स ने इस लंबे तेज गेंदबाज को टीम इंडिया के लिए खेलने के लिए परिपक्वता और आत्मविश्वास दिया है। उन्होंने कहा कि वह पिछले दो.तीन वर्षों से शीर्ष स्तर पर लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। इसलिए, वह जानते हैं कि वह खेल में या उस समय में क्या हासिल करना चाहते हैं, जो एक बड़ी बात है। सावधानीपूर्वक योजना बनाना उनकी सबसे बड़ी बात है।इस साल अक्टूबर में ऑस्ट्रेलिया में टी20 विश्व कप खेला जाना है। भारतीय टीम इस बार भी विश्व कप जीतने की प्रबल दावेदार है। विश्व कप के लिए टीम इंडिया में भुवनेश्वर कुमार का सेलेक्शन करीब करीब पक्का है। विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया में होना है, इसलिए भुवनेश्वर कुमार की स्विंग इसमें बड़ा रोल निभा सकती है। देखना होगा कि वेस्टइंडीज के खिलाफ बचे हुए मैचों में वे कैसा प्रदर्शन करते हैं।(input ians)

नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकायाCM बनने से पहले आज संसद की सदस्यता से इस्तीफा देंगे भगवंत मान, 16 मार्च को खटकर कलां में लेंगे शपथ******Highlights आम आदमी पार्टी (आप) के नेता भगवंत मान ने सोमवार को कहा कि वह आजसंसद की सदस्यता से इस्तीफा देंगे। मान संगरूर लोकसभा क्षेत्र से दो बार के सांसद हैं। भगवंत मान आज संसद में बतौर सांसदअपनी आखिरी स्पीच भी देंगे। भगवंत मान आज दोपहर 3.30 बजे संसद भवन में लोक सभा स्पीकर से मुलाकात कर उन्हें अपना इस्तीफा सौपेंगे।मान ने ट्वीट किया, ‘‘मैं आज दिल्ली जाकर संगरूर के सांसद पद से इस्तीफा दे रहा हूं। संगरूर के लोगों ने इतने साल मुझे बहुत प्यार दिया। इसके लिए बहुत धन्यवाद। अब मुझे पूरे पंजाब की सेवा करने का मौका मिला है। मैं संगरूर के लोगों से वादा करता हूं कि कुछ ही महीनों में उनकी आवाज लोक सभा में फिर से गूंजेगी।’’‘आप’ के 48 वर्षीय नेता मान 16 मार्च को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। शपथ ग्रहण समारोह नवांशहर जिले में स्थित महान स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह के मूल गांव खटकड़ कलां में आयोजित होगा। आप ने पंजाब विधानसभा चुनाव में 117 में से 92 सीट पर जीत हासिल की है। मान धुरी विधानसभा सीट से चुनाव जीतने में कामयाब रहे। उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी दलवीर सिंह गोल्डी को 58,206 मतों से हराया। ‘आप’ के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल और मान ने मतदाताओं के प्रति आभार व्यक्त करने के लिए अमृतसर में रविवार को रोड शो किया था।( इनपुट भाषा )नोएडाग्रेटरनोएडामेंरेडीकॉनबिल्डरकाकार्यालयसीलबिल्डरपर426करोड़बकायाराजस्थान में 30 जनवरी तक स्कूल बंद, पढ़ें गहलोत सरकार की नई कोरोना गाइडलाइन******Highlights राजस्थान सरकार ने संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी के मद्देनजर पाबंदियों का दायरा बढ़ाते हुए राज्य के सभी शहरी क्षेत्रों में 12वीं तक के स्कूल 30 जनवरी तक के लिए बंद करने के साथ ही रविवार को कर्फ्यू, बाजार के समय को सीमित करने और रेस्टोरेंट में बैठने की क्षमता को सीमित करने की घोषणा की है। राज्य सरकार की ओर से जारी नए दिशानिर्देशों का उद्देश्य लोगों की आवाजाही और गतिविधियों पर पाबंदियों को कड़ा करना है क्योंकि कोरोना वायरस और उसके नए वेरिएंट के मामले राज्य में तेजी से बढ़ रहे हैं।गृह विभाग की ओर से रविवार को जारी दिशानिर्देशों के अनुसार राज्य के समस्त नगर निगम/ नगरपालिका क्षेत्र में कक्षा 12वीं तक की शैक्षणिक (विद्यालय/ कोचिंग) गतिविधियां 30 जनवरी तक बंद रहेंगी लेकिन ऑनलाइन अध्ययन जारी रहेगा। इससे पहले सरकार ने जयपुर और जोधपुर नगर निगम क्षेत्रों में पहली से आठवीं तक की कक्षाएं 17 जनवरी तक बंद करने की घोषणा की थी। राज्य में सोमवार से स्कूल बंद रहेंगे जबकि बाकी पाबंदिया 11 जनवरी से प्रभावी होंगी।वहीं राज्य में शनिवार रात 11 बजे से सोमवार सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू लगा दिया है। इस दौरान सभी बाजार कार्यालय और व्यवसायिक परिसर बंद रहेंगे। वहीं महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय में शैक्षणिक /कोचिंग गतिविधियां कोविड उपयुक्त व्यवहार के अनुसार सुनिश्चित की जायेंगी। वहीं विवाह समारोह के आयोजन में अधिकतम 100 (नगर निगम/नगर पालिका क्षेत्रों में 30 जनवरी तक 50) व्यक्तियों के सम्मिलित होने की अनुमति होगी। विवाह समारोह में बैंड बाजा वालों को संख्या से अलग रखा जायेगा। निरंतर उत्पादन और रात की पाली वाले कारखानों, आईटी और ई कामर्स, दवा की दुकानों, विवाह संबंधी सेवाओं, आपातकालीन सेवाओं और बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन और स्वास्थ्य सेवाओं को छूट दी गई है।वहीं दुकानें, मॉल और अन्य व्यवसासिक प्रतिष्ठान रात आठ बजे तक खुले रहेंगे जबकि रेस्टोरेंट और क्लब रात 10 बजे तक 50 प्रतिशत बैठने की क्षमता के साथ खुलेंगे। सिनेमा हॉल, मल्टीप्लेक्स, मनोरंजन पार्क, बैंक्वेट हॉल आदि रात 8 बजे तक 50 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालित हो सकेंगे। सभी धार्मिक स्थल रात 8 बजे तक खुलेंगे और माला, प्रसाद (मिठाई) चादर या कोई अन्य प्रसाद चढाने पर प्रतिबंध रहेगा। प्रतिदिन रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक रात का कर्फ्यू लागू रहेगा।वहीं, आपको बता दें कि राजस्थान में रविवार को कोविड-19 के 5660 नए मामले सामने आए जबकि संक्रमण से एक और मरीज की मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार रविवार शाम तक के 24 घंटे में राज्य में कोविड-19 के 5660 नए मामले सामने आए। इसके अनुसार इनमें जयपुर में 2377, जोधपुर में 600, अलवर में 364, उदयपुर में 312, बीकानेर में 237, कोटा में 209, भरतपुर में 200 मामले शामिल हैं। इसके अनुसार राज्य में उपचाराधीन मामलों की संख्या बढकर 19,467 हो गई है। विभाग के अनुसार रविवार को 358 व्यक्ति संक्रमण मुक्त हुए।आंकडों के अनुसार जयपुर में रविवार को एक और संक्रमित मरीज की मौत हो गई जिससे राज्य में मृतक संख्या बढ़कर 8972 हो गई। विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि राज्य में रविवार शाम तक 8,58,44,801 लाभार्थियों को कोरोना वायरस रोधी टीके की खुराक लगाई जा चुकी है। इसमें 18 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के 8,40,11,232 लाभार्थी और 15 से 18 वर्ष तक आयुवर्ग के 18,33,569 लाभार्थी शामिल हैं।(इनपुट- एजेंसी)

हाल का ध्यान

लिंक