वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > नानहुई जिला > मूलपाठ

BSNL ने लॉन्च किया 666 रुपए में नया प्लान, अब अनलिमिटेड कॉलिंग के साथ पाए रोजाना 2GB डेटा

2022-10-04 06:11:32 नानहुई जिला

नेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटाAmit Malviya: 'इंदिरा गांधी ने सबसे पहले...', बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने दिया यह बयान****** बुलडोजर मामले पर कांग्रेस और बीजेपी के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। बीजेपी के आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने कांग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने मनीष तिवारी के बुलडोजर पर लिखे एक आर्टिकल का जवाब देते हुए कहा कि क्या कांग्रेस पार्टी में मनीष तिवारी से लेकर राहुल गांधी तक हर कोई भूलने की बीमारी से पीड़ित हैं या क्या वे अपने अतीत के बारे में केवल गलत जानकारी रखते हैं? उन्होंने अपने ट्वीट संदेश में कहा कि नाजियों और यहूदियों को भूल जाइए, भारत में इंदिरा गांधी ने सबसे पहले तुर्कमान गेट पर अल्पसंख्यकों पर बुलडोजर के इस्तेमाल का आदेश दिया था।अमित ने कहा कि वहीं अप्रैल 1976 में, आपातकाल के दौरान, इंदिरा गांधी के पुत्र संजय गांधी ने मुस्लिम पुरुषों और महिलाओं को जबरन नसबंदी कराने के लिए मजबूर किया। जब उन्होंने इसका विरोध किया तो तुर्कमान गेट पर बुलडोजर चलाए गए। 20 लोगों की मौत हो गई ​थी।जानिए मनीष तिवारी ने 'बुलडोजर' पर क्या कहा था?मनीष तिवारी ने अपने एक आर्टिकल में लिखा था कि दिल्ली और देश के विभिन्न हिस्सों में सांप्रदायिक संघर्ष से प्रभावित क्षेत्रों में लोगों के घरों और आजीविका को नष्ट करने के लिए बुलडोजर हाल ही में ‘पसंद की गदा’ के रूप में बहुत चर्चा में रहा है। वास्तव में सुप्रीम कोर्ट को ‘बुलडोजर’ के उपयोग पर रोक लगाने के लिए हस्तक्षेप करना पड़ा, जिसे ‘अवैध अतिक्रमण’ हटाने के लिए एक नियमित अभियान के रूप में सख्ती से तैनात किया जा रहा था। दिखावा इतना कमजोर है कि अगर इसके निहितार्थ बहुत ज्यादा नहीं होते तो यह लगभग उपहासपूर्ण होता।मनीष ने लिखा था कि यह स्पष्ट है कि ‘बुलडोजर सिंड्रोम’ हमारे सिस्टम की संस्थागत हार्ड ड्राइव में घुस गया है। समय आ गया है कि उन भारतीय और विदेशी कंपनियों के खिलाफ एक देशव्यापी आंदोलन खड़ा किया जाए, जिनके बुलडोजर और जे.सी.बी. जैसे अन्य भारी उपकरणों का इस्तेमाल नफरत और कट्टरता को बढ़ावा देने के विकृत और दुर्भावनापूर्ण उद्देश्यों के लिए देश के कानून की घोर अवमानना और उल्लंघन में किया जाता है।

नेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटाJagannath Rath Yatra 2022: जगन्नाथ रथ यात्रा के बारे में जानें विस्तार से, देखें जुलाई महीने के सभी व्रत और त्यौहार!******जुलाई महीना अब बस शुरू ही होने वाला है।धार्मिक दृष्टि से यह महीना बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है। इस महीने में जगन्नाथ रथ यात्रा और भगवान शिव के सावन महीने की शुरुआत होती है। जुलाई महीने में ही चातुर्मास होगा। इसके अलावा इस महीने देवशयनी एकादशी, गुरु पूर्णिमा, व्यास जयंती, सावन सोमवार व्रत, मंगला गौरी व्रत, हरियाली तीज और कर्क संक्रांति जैसे व्रत और त्यौहार आनेवाले हैं। जुलाई महीना धार्मिक तीज-त्योहारों से भरा हुआ है। जुलाई महीने के व्रत और त्यौहार कब से शुरू हो रहे हैं, ताकि आप समय से अपनी तैयारियां कर पाएं और ये व्रत और त्यौहार विधि विधान से पूरे हो सकें। आपको बताते हैं जुलाई महीने के व्रत और त्योहारों के बारे में।01 जुलाई: शुक्रवार के दिन जगन्नाथ रथ यात्रा03 जुलाई: रविवार के दिन विनायक चतुर्थी व्रत05 जुलाई: मंगलवार के दिन स्कन्द षष्ठी व्रत07 जुलाई: गुरुवार के दिन श्री दुर्गाष्टमी व्रत10 जुलाई: रविवार के दिन देवशयनी एकादशी, चातुर्मास की शुरुआत11 जुलाई: सोमवार के दिन सोम प्रदोष व्रत, जया पार्वती व्रत13 जुलाई: बुधवार के दिन गुरु पूर्णिमा, आषाढ़ पूर्णिमा, व्यास जयंती14 जुलाई: गुरुवार के दिन सावन मा​​ह प्रारंभ, श्रावण मास का कृष्ण पक्षारंभ16 जुलाई: शनिवार के दिन गजानन संकष्टी चतुर्थी, कर्क संक्रांति18 जुलाई: सोमवार के दिन पहला सावन सोमवार व्रत19 जुलाई: मंगलवार के दिन पहला मंगला गौरी व्रत24 जुलाई: रविवार के दिन कामिका एकादशी25 जुलाई: सोमवार के दिन सोम प्रदोष व्रत, दूसरा सावन सोमवार व्रत26 जुलाई: मंगलवार के दिन मासिक शिवरात्रि, दूसरा मंगला गौरी व्रत28 जुलाई: गुरुवार के दिन श्रावण अमावस्या, स्नान दान की अमावस्या29 जुलाई: शुक्रवार के दिन श्रावण मास का शुक्ल पक्षारंभ31 जुलाई: रविवार के दिन हरियाली तीजसावन के महीने में सोमवार व्रत और मंगला गौरी व्रत को बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है। इस दिन माता पार्वती की विधिपूर्वक पूजा की जाती है। सावन के सोमवार का व्रत करने से सभी इच्छाएं पूरी होती हैं। मंगला गौरी और हरियाली तीज व्रत के व्रत को अखंड सुहाग और सौभाग्य प्रदान करने वाला व्रत माना गया है।नेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटाYear Ender 2021: गुजरे साल की वो 10 बड़ी घटनाएं जिसने देश को झकझोर दिया******Highlights2021 हमसे विदा लेचुकाहै। नई उम्मीदों से भरा सूरज 2022 के साथ दस्तक दे चुका है। लेकिन, प्रत्येक वर्ष हमें कुछ खुशियां, कुछ गम, अच्छे और बुरे वक्त का अहसास कराकर गुजर जाता है। बीतासाल भी कुछ ऐसा ही रहा। 2020 से कोरोनावायरस महामारी की मारा झेल रहे देश ने गुजरेसाल भी इसके दंश को झेला। लाखों परिवार ने अपनों खोया। जबकि कई अन्य घटना के भी हम गवाह बनें।आइए... आपको बताते हैं गुजरेसाल घटने वाली उन बड़ी घटनाओं के बारे में जिसने हर किसी को झकझोरदिया।इस साल के पहले महीने जनवरी में ही राजधानी दिल्ली में हुई हिंसा ने देश को हिला दिया। दरअसल, 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के दिन नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलनकारी किसानों ने ट्रैक्टर परेड का आयोजन किया था। दिल्ली में एंट्री के साथ ही हालात तनावपूर्ण हो गए। कुछ उपद्रवियों ने लाल किले की प्राचीर पर चढ़ धार्मिक झंडा फहरा दिया। कई जगहों पर दिल्ली पुलिस और आंदोलनकारी किसानों के बीच हिंसक झड़प भी हुई। इस दौरान पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा और आंसू गैस के गोले दागने पड़े। इस झड़प में दिल्ली पुलिस के सैकड़ों पुलिसकर्मी घायल हो गए थे। जबकि, एक किसानों की भी मौत हुई थी। घटना के दिन पूरे दिल्ली में हालात तनावपूर्ण बने थे।8 दिसंबर बुधवार का दिन देश के लिए 'काला' दिन रहा। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधूलिका रावत समेत अन्य कुल 11 लोगों ने तमिलनाडु के कुन्नूर में हुए हेलीकॉप्टर हादसे में जान गंवा दी। इसमें मात्र एक ग्रुप कैप्टन वरूण सिंह बचे थे, जिन्होंने पिछले दिनों इलाज के दौरान जिंदगी से जंग लड़ते हुए सांसे तोड़ दी। इस घटना में सभी सवार अधिकारी मारे गए। देश ने अपने जांबाज अवसरों को खो दिया।साल के अप्रैल महीने में जब कोरोना महामारी की वजह से देश में जब हायतौबा जैसे हालात हो गए तब हर कोई इस बात को सोचने पर विवश हो गया कि आज वो है, उसका दोस्त है। लेकिन, कल वो रहेगा या नहीं, ये पता नहीं। पहली बार देशवासियों ने इस बात का अहसास किया था। हजारों बच्चे अनाथ हो गए। इसमें ऑक्सीजन संकट भी सुर्खियों में रहा। अस्पताल के भीतर मरीजों को बेड तक नहीं मिल रहे थे। मरीजों के परिजन ऑक्सीजन सिलिंडर के लिए भटक रहे थे। कोरोना की पहली लहर से ज्यादा दूसरी लहर में लोगों ने अपनी जानें गंवाई और संक्रमित हुए। दूसरी लहर में कुल 730 डॉक्टर्स की मौत हुई। अब तक कोरोना से हुई कुल मौत में से आधी मौत दूसरी लहर के दौरान हुई। 235,986 लोगों ने अप्रैल से लेकर जून के बीच अपनी जानें गंवाई। कोरोना से कुल मौतें 418,480 के पार हुई है।इसी दिसंबर के पहले सप्ताह में नागालैंड में सैन्य गोलीबारी में 14 आम नागरिकों की मौत हो गई थी। सुरक्षाबलों द्वारा की गई फायरिंग में 6 नाबालिगों की भी मौत हुई। हालांकि, सुरक्षाबलों ने अपने बयान में बताया कि आत्मरक्षा में सेना को फायरिंग करनी पड़ी। क्योंकि, भीड़ ने सेना पर हमला किया था जब एक बोलेरो को रोकने पर भी गाड़ी नहीं रूकी और सेना को फायरिंग करनी पड़ी। इसी के बाद हिंसा भड़क गई थी।किसी ने सपने में भी नहीं सोचा रहा होगा कि इतनी कम उम्र में बॉलीवुड के यंग अभिनेताओं में से एक सिद्धार्थ शुक्ला दुनिया को अलविदा कह देंगे। बिग बॉस 13 के विनर 'बालिका वधु' फेम एक्टर सिद्धार्थ शुक्ला की मौत ने हर किसी का दिल दहला दिया। दरअसल, उनकी मौत की वजह हार्ट-अटैक बताया गया। किसी के लिए भी विश्वास मुश्किल था कि स्वास्थ्य रूप से इतने फिट एक्टर का निधन हार्ट अटैक से कैसे हो सकता है। उन्हें वेब सीरीज ब्रोकन बट ब्यूटीफुल 3, बालिका वधू और दिल से दिल तक में उनकी भूमिकाओं के लिए जाना गया। सबसे बड़ा सदमा उनकी गर्लफ्रेंड शहनाज गिल का लगा। मीडिया रिपोर्ट्स में ये भी दावा किया गया कि सिद्धार्थ को मौत से कुछ वक्त पहले से बेचैनी की शिकायत हो रही थी। जिसके बाद वो आराम करने के लिए शहनाज की गोद में सोए थे, लेकिन सुबह उठाने पर नहीं उठे। वहीं, एक्ट्रेस के पिता संतोख सिंह ने भी अपनी बेटी सहनाज का हाल और दर्द बयां किया, जिसे सुनकर हर किसी के आंसू छलक पड़ें। उन्होंने कहा कि सहनाज ठीक नहीं है।अगस्त के महीने में अचनाक बॉलीवुड में चल रहे गहमा गहमी के बीच अभिनेत्री शिल्पा शेठ्ठी के पति बिजनेस मैन राज कुंद्रा सुर्खियों में आ गए। आरोप लगा कि राज कुंद्रा पॉर्न वीडियो बनाने के बाद पेड ऐप के जरिए उन्हें स्ट्रीम करते थे। इसके लिए कई लड़कियों से जबरन पॉर्न फिल्मों में काम कराया जाता था। हालांकि, राज कुंद्रा ने खुद पर लगे सभी आरोपों से इनकार किया। बाद में उन्हें जेल जाना पड़ा। फिलहाल वो जमानत पर बाहर हैं। कई ओटीटी प्लेटफॉर्म्स के जरिए राज कुंद्रा पर पॉर्न वीडियो रिलीज करने और शर्लिन चोपड़ा, पूनम पांडे जैसी अभिनेत्रियों ने जबरदस्ती काम करवाने का आरोप लगाया। वहीं, इस मामले में अभिनेत्री-मॉडल गहना वशिष्ठ घिरीं। गहना पर इंडस्ट्री में आने वाली लड़कियों को काम के नाम पर इस तरह के कंटेंट तैयार करवाने और पैसा ना देने का आरोप लगा।साकीनाका रेप मामले की आग कुछ की लौह धीमी होती कि तभी महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई से सटे डोंबिवली में एक नाबालिग से रेप की वारदात सामने आई। दरिंदों ने वहशीपन की सारे हदें पार कर दी। 15 साल की लड़की के साथ 33 लोगों ने आठ महीने में अलग-अलग जगहों पर गैंगरेप किया था। नाबालिग पीड़िता के साथ दरिंदगी का सिलसिला इसी साल जनवरी में शुरू हुआ था और यह आठ महीनों तक जारी रहा। रेप करने वाले ज्यादातर आरोपी पीड़ित लड़की के पहचान वाले बताए गए। इसने इंसानियत को शर्मसार कर दिया।केरल जैसे सबसे ज्यादा साक्षरता वाले राज्य से जब एक छात्रा द्वारा दहेज की वजह से आत्महत्या करने का मामला आया तो हर कोई सहम गया। भले ही आयुर्वेद की छात्रा विस्मया मौत को गले लगा पति के तानों से आजाद हो गई, लेकिन इसने इस समाज को सोचने पर विवश कर दिया। 24 साल की विस्मया आयुर्वेद की पढ़ाई कर रही थी। उनकी शादी एक सरकारी कर्मचारी एस किरन कुमार से हुई थी। दहेज की वजह से पति किरन विस्मया को ना सिर्फ ताने सुनाता था बल्कि मारपीट भी करता था।केंद्र के नए कृषि कानूनों का एक साल से देशभर के किसान विरोध कर रहे थे। इस बीच लखीमपुर खीरी में तीन अक्टूबर को एक एसयूवी ने चार किसानों को कुचल दिया था। ये घटना तब हुई थी जब यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की यात्रा थी और इसका किसान विरोध कर रहे थे। इसी दौरान गाड़ी से रौंदने से एक पत्रकार, चार किसान समेत कुल नौ लोगों की मौत हो गई। इसमें चार बीजेपी कार्यकर्ता बताए गएं। आरोप केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा पर है। एसआईटी टीम ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि ये पहले से प्लान की गई योजना थी। अब विपक्ष से लेकर किसान टेनी मिश्रा का इस्तीफा मांग रहे हैं। हालांकि, अब ये कानून वापस लिया जा चुका है।करीब दो महीने पहले किसान आंदोलन के दौरान सिंघु बॉर्डर से लगे हरियाणा के सोनीपत जिले के कुंडली में एक युवक की अंग-भंग लाश बैरिकेड पर लटकी मिली थी। इस घटना ने हर किसी को चौका दिया। दरअसल, 35-36 साल के युवक लखबीर सिंह को निहंगों ने बेरहमी से मार दिया था। पहले उसके हाथ-पैर काटे, उसे रस्सी से बांधकर 100 मीटर तक घसीटा और दम निकलने के बाद निहंगों ने लाश को किसान आंदोलन के मंच के सामने बैरिकेड से लटका दिया।

BSNL ने लॉन्च किया 666 रुपए में नया प्लान, अब अनलिमिटेड कॉलिंग के साथ पाए रोजाना 2GB डेटा

नेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटाPost Office की ये 9 बचत योजनाएं आपके पैसे को कर देंगी डबल, जानिए इनके बारे में सबकुछ******9 Post Office Saving Schemes will double your money Check detailsPost Office Saving Schemes) गारंटिड रिटर्न का वादा करती हैं, इसका मतलब है कि आप आंख मूंद कर इन बचत योजनाओं पर भरोसा कर सकते हैं। क्‍योंकि इन योजनाओं में आपकी मेहनत की कमाई कभी डूबती नहीं है। पोस्‍ट ऑफ‍िस की ये बचत योजनाएं आपके धन को डबल करने का भी वादा करती हैं। तो आइए जानते हैं पोस्‍ट ऑफ‍िस की ऐसी ही उन 9 बचत योजनाओं के बारे में, जो आपके धन को कर सकती हैं डबल। पोस्‍ट ऑफ‍िस की 1 से लेकर 3 साल तक की टाइम डिपोजिट पर 5.5 प्रतिशत की ब्‍याज दर की पेशकश की जाती है। यदि आप इस योजना में निवेश करते हैं तो आपका जमा धन लगभग 13 साल में दोगुना हो जाएगा।पोस्‍ट ऑफ‍िस सेविंग अकाउंट में आपके निवेश पर 4.0 प्रतिशत की ब्‍याज दर से ब्‍याज का भुगतान किया जाता है। इस योजना में आपका धन 18 साल में डबल होगा।पोस्‍ट ऑफ‍िस रेकरिंग डिपोजिट (आरडी) योजना में 5.8 प्रतिशत वार्षिक ब्‍याज दर से ब्‍याज का भुगतान किया जाता है। यदि आप इस योजना में अपना धन निवेश करते हैं तो यह 12 साल में दोगुना हो जाएगा। पोस्‍ट ऑफ‍िस मंथली इनकम स्‍कीम (एमआईएस) पर 6.6 प्रतिशत की दर से वार्षिक ब्‍याज मिलता है। आपका धन इस योजना में 10 साल के भीतर डबल हो जाएगा।पोस्‍ट ऑफ‍िस की सीनियर सिटीजन सेविंग स्‍कीम (एससीएसएस) पर वर्तमान में 7.4 प्रतिशत ब्‍याज दर मिल रही है और इस योजना में लगाया आपका धन 9 साल में दोगुना हो जाता है।15 साल के लॉक-इन पीरियड वाली पोस्‍ट ऑफ‍िस की पब्लिक प्रोविडेंट फंड (पीपीएफ) स्‍कीम पर वर्तमान में 7.1 प्रतिशत की दर से ब्‍याज देय है। यह योजना इस दर पर आपके धन को डबल करने के लिए लगभग 10 साल का वक्‍त लेगी।पोस्‍ट ऑफ‍िस की सुकन्‍य समृद्धि अकाउंट योजना पर सबसे ज्‍यादा 7.6 प्रतिशत ब्‍याज की पेशकश की जा रही है और यह योजना आपके धन को 9 साल में डबल कर देगी।पोस्‍ट ऑफि‍स की नेशनल सेविंग सर्टिफ‍िकेट (एनएससी) पर 6.8 प्रतिशत ब्‍याज मिलता है और यह 5 साल वाला बचत प्‍लान है। यदि आप इस योजना में निवेश करते हैं तो इस मौजूदा ब्‍याज दर पर आपका धन लगभग 10 साल में दोगुना होगा।वर्तमान में पोस्‍ट ऑफ‍िस किसान विकास पत्र (केवीपी) पर 6.9 प्रतिशत की दर से ब्‍याज दिया जा रहा है। इस ब्‍याज दर पर आपका जमा धन 10 वर्ष और 4 माह में दोगुना होगा। उल्‍लेखनीय है कि लघु बचत योजनाओं पर मिलने वाले ब्‍याज दर को केंद्र सरकार द्वारा प्रत्‍येक तिमाही पर संशोधित किया जाता है। इस लि‍हाज से ब्‍याज दरों में बदलाव भी आता रहता है।नेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटाकांग्रेस का इतिहास असफलताओं से भरा, प्रशांत किशोर भी कुछ नहीं कर पाएंगे-टीएमसी******चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के कांग्रेस में शामिल होने की चर्चाओं के बीच तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने दावा किया है कि असफलताओं से जूझ रही कांग्रेस को इससे भी सफलता हाथ नहीं लगेगी। टीएमसी महासचिव कुणाल घोष ने पीके के कांग्रेस में शामिल होने की चर्चा को लेकर कहा, "चुनावी रणनीतिकार ( प्रशांत किशोर) कभी भी टीएमसी में शामिल नहीं हुए। वह हमारे राजनीतिक विश्लेषक थे। किशोर एक चुनावी रणनीतिकार हैं। वह टीएमसी नेता नहीं हैं। वह किसी भी पार्टी से बात कर सकते हैं। हम जानते हैं कि कांग्रेस का असफलताओं का इतिहास रहा है। अगर कांग्रेस खुद को फिर से जीवित करना चाहती है, तो कोशिश कर सकती है। हमारा मुख्य ध्यान भाजपा को हराने में है।"घोष ने कहा, "जैसे बंगाल में है, टीएमसी मजबूत है। अगर कांग्रेस को लगता है कि वह लड़ सकते हैं और भाजपा को हरा सकते हैं, तो उनका स्वागत है।" गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 में पीके ने टीएमसी के साथ काम किया था लेकिन पार्टी नेताओं से मतभेदों के कारण वह टीएमसी से अलग हो गए।उल्लेखनीय है कि सोनिया गांधी ने प्रशांत किशोर की पार्टी में भूमिका को लेकर एक 13 सदस्यीय नेताओं की समिति बनाई थी। इस कमेटी में दिग्विजय सिंह, कमलनाथ, एके एंटनी, मल्लिकार्जुन खड़गे, मुकुल वासनिक, अंबिका सोनी, केसी वेणुगोपाल, जयराम रमेश, पी.चिदंबरम, रणदीप सुरजेवाला भी समिति के सदस्य हैं। फिलहाल इस समिति ने प्रशांत किशोर के प्लान पर अपनी रिपोर्ट सोनिया गांधी को दे दी है।रिपोर्ट में पीके को पार्टी में शामिल करने पर सहमति जताते हुए पार्टी नेताओं ने कहा कि उन्हें दूसरे राजनीतिक दलों से खुद को अलग करना होगा। अंतिम निर्णय कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को लेना है। हालांकि ये भी माना जा रहा है कि गांधी परिवार ने पीके के कांग्रेस में आने का रास्ता साफ कर दिया है। मगर उस पर एक आम राय बनाने के लिए वरिष्ठ नेताओं को भी शामिल किया है।इनपुट-एजेंसीनेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटाTCS buyback offer: Tata Sons ने की 3.33 करोड़ शेयरों की पेशकश, मिलेंगे 9,997 करोड़ रुपये******TCS buyback offer: Tata Sons tenders shares worth Rs 9,997 crटाटा संस ने टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) के हाल में संपन्न 16,000 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर पुनर्खरीद योजना के दौरान 9,997 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर की पेशकश की। शेयर बाजार को दी गई सूचना के अनुसार टीसीएस की सबसे बड़ी शेयरधारक टाटा संस ने पेशकश के दौरान 3.33 करोड़ शेयर की पेशकश की। टीसीएस के अनुसार पेशकश के तहत 3,000 रुपये प्रति इक्विटी के हिसाब से 5.33 करोड़ से अधिक शेयर की पुनर्खरीद की गई। इसमें से टाटा संस के 3,33,25,118 शेयर को पुनर्खरीद पेशकश के तहत स्वीकार किया गया। सूचना के अनुसार पुनर्खरीद पेशकश करीब 16,000 करोड़ रुपये की थी। यह 18 दिसंबर, 2020 को खुली और एक दिसंबर 2021 को बंद हुई। द्वारा पेश किए गए शेयरों का कुल मूल्य 9,997.5 करोड़ रुपये था। इसके अलावा भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) और आरबीआई एमर्जिंग मार्केट्स इक्विटी फंड ने टीसीएस के क्रमश: 16.69 लाख और 7.69 लाख शेयर की पेशकश की।दिसंबर, 2019 में टीसीएस के सीईओ और मैनेजिंग डायरेक्‍टर राजेश गोपीनाथन ने कहा था कि कंपनी शेयरधारकों को उनकी पूंजी लौटाने की अपनी नीति पर ध्‍यान केंद्रित कर रही है। मुंबई मुख्‍यालय वाली कंपनी के पास सितंबर, 2020 तक कुल 58,500 करोड़ रुपये की नगदी उपलब्‍ध थी।अक्‍टूबर, 2019 में टीसीएस के बोर्ड ने प्रति इक्विटी शेयर 40 रुपये का डिविडेंड देने की घोषणा की थी। 2018 में टीसीएस ने 16,000 करोड़ रुपये के शेयरों की पुर्नखरीद की थी। इसी तरह 2017 में भी कंपनी ने शेयरों की पुर्नखरीद की थी।

BSNL ने लॉन्च किया 666 रुपए में नया प्लान, अब अनलिमिटेड कॉलिंग के साथ पाए रोजाना 2GB डेटा

नेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटा47 साल पुराने यौन उत्पीड़न मामले में अभिनेता जीतेंद्र पर FIR दर्ज, गिरफ्तारी की मांग******मशहूर फिल्म स्टार पर उनकी एक रिश्तेदार ने यौन उत्पीड़न का गंभीर आरोप लगाते हुए उनकी गिरफ्तारी की मांग की है। शिमला के महिला थाने में उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। यह मामला साल 1971 का है जब वो महिला 18 साल की थी और अभिनेता जीतेंद्र 28 के थे। जीतेंद्र पर आरोप है कि अपनी फिल्म की शूटिंग दिखाने के लिए वो महिला को शिमला लेकर आए थे। महिला के पिता ने भी यही सुनकर उसे साथ जाने की इजाजत दे दी। रात को शिमला के एक होटल में नशे में धुत होकर जीतेंद्र ने महिला का यौन उत्पीड़न किया।महिला ने अपनी शिकायत में लिखा है कि वो इतने साल तक अपने माता-पिता की वजह से खामोश रही। लेकिन वो अब गुजर चुके हैं इसलिए उसने शिकायत करने का फैसला कर लिया। महिला ने शिकायत पत्र भेजकर जीतेंद्र पर एफआईआर की मांग की है।महिला जल्द ही शिमला आकर मजिस्ट्रेट के सामने बयान देने वाली है। शिकायत के आधार पर जीतेंद्र के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। पुलिस लगातार सच्चाई की जांच में जुटी है, और महिला के साथ लगातार संपर्क में है।नेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटासरकार ने शुरू की सस्‍ते AC की बिक्री, 5.4 स्‍टार 1.5 टन इन्‍वर्टर एसी की कीमत है बहुत कम******EESL begins sale of 5.4-star rating ACsसार्वजनिक क्षेत्र की (ईईएसएल) ने 1.5 टन इन्‍वर्टर एसी की बिक्री 41,300 रुपए की कीमत पर शुरू कर दी है। फरवरी 2019 में ईईएसएल ने रिहायशी और संस्‍थागत उपभोक्‍ताओं के लिए अपनी सुपर-एफीशियंट एयर कंडीशनिंग कार्यक्रम को लॉन्‍च किया था। इस कार्यक्रम के तहत, ऊर्जा दक्ष एयर कंडीशनर्स (एसी) को लॉन्‍च किया जाना था। ईईएसएल के मैनेजिंग डायरेक्‍टर सौरभ कुमार ने एसी की बिक्री शुरू करते हुए कहा कि पहले चरण में दिल्‍ली में बीएसईएस राजधानी पावर लि‍. (बीआरपीएल), बीएसईएस यमुना पावर लि. (बीवाईपीएल) और टाटा पावर दिल्‍ली डिस्‍ट्रीब्‍यूशन लि. (टाटा पावर-डीडीएल) के उपभोक्‍ताओें के लिए 50,000 एसी पहले आओ पहले पाओ के आधार पर उपलब्‍ध कराए गए हैं। उन्‍होंने कहा कि दिल्‍ली के अलावा अन्‍य स्‍थानों के उपभोक्‍ताओं के ऑर्डर भी स्‍वीकार किए जाएंगे, यदि वोल्‍टास, जो इन एसी का वितरण करेगी, उस इलाके में उपस्थित है। उपभोक्‍ता केवल ईईएसएल की डेडीकेटेड ऑनलाइन पोर्टल ईईएसएल मार्ट के जरिये ही ऑर्डर कर सकते हैं।एसी की कीमत के बारे में पूछे जाने पर उन्‍होंने कहा कि सिंगल यूनिट की कीमत 41,300 रुपए होगी, जिसमें जीएसटी और ट्रांसपोर्टेशन लागत भी शामिल है। एसी की विशेषता पर उन्‍होंने कहा‍ कि हमारा उत्‍पाद भारत में अकेला ऐसा स्‍पलिट एसी है, जो 5.4 स्‍टार रेटिंग के साथ आता है।यह ऊर्जा दक्ष है और यह उपभोक्‍ताओं को 5-स्‍टार रेटिंग एसी की तुलना में सालाना 300 यूनिट बिजली की बचत करने में मदद करेगा। उन्‍होंने कहा कि बाजार में 5 स्‍टार रेंटिंग वाले इन्‍वर्टर एसी की कीमत 50,000 रुपए तक है, जबकि हमारे एसी की कीमत 41,300 रुपए है।कुमार ने कहा कि तीन इलेक्‍ट्रॉनिक उपकरण बनाने वाली कंपनियों ने बोली में भाग लिया था लेकिन वोल्‍टास 41,300 रुपए के साथ सबसे कम बोली लगाने वाली कंपनी रही और वह एसी की आपूर्ति करेगी। अन्‍य दो कंपनियों में एक डैकिन थी, जिसने 46,000 रुपए की बोली लगाई थी।उन्‍होंने कहा कि बिक्री का पहला चरण पूरा होने और उत्‍पाद को मिलने वाली प्रतिक्रिया के आधार पर ईईएसएल बोली की दूसरी प्रक्रिया शुरू करेगी। कुमार ने कहा कि ईईएसएल इस कार्यक्रम और इसके लाभों को पूरे देश के उपभोक्‍ताओं को उपलब्‍ध कराने की दिशा में काम कर रही है और भविष्‍य में अन्‍य डिस्‍कॉम भी ईईएसएल के साथ भागीदारी कर सकते हैं।

BSNL ने लॉन्च किया 666 रुपए में नया प्लान, अब अनलिमिटेड कॉलिंग के साथ पाए रोजाना 2GB डेटा

नेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटाCDS-II 2019 exam result: सीडीएस एग्जाम-II 2019 का रिजल्ट जारी, www.upsc.gov.in पर देखें नतीजे****** यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (यूपीएससी) ने कंबाइंड डिफेंस सर्विसेज एग्जाम (II) 2019 में पास होने वाले कैंडिडेट्स की लिस्ट जारी कर दी है। इन उम्मीदवारों को रक्षा मंत्रालय के सेवा चयन बोर्ड द्वारा इंटरव्यू के लिए शॉर्टलिस्ट किया गया है। आयोग ने एसएसबी इंटरव्यू के लिए क्वॉलिफाई हुए उम्मीदवारों के रोल नंबर और नाम दोनों जारी किए हैं। शॉर्टलिस्टिंग होने के बाद जिन कैंडिडेट्स को जगह मिलेगी, उनकी उम्मीदवारी प्रोविजनल है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, एसएसबी के लिए कुल 8120 उम्मीदवारों का चयन किया गया है।- आपको बता दें कि जिन उम्मीदवारों को प्रोविजनल लिस्ट में जगह मिली है, उन्हें अपनी जन्मतिथि और शैक्षणिक योग्यता के संबंध में अपना ऑरिजनल सर्टिफिकेट जमा करना होगा। जानकारी के मुताबिक, और एन के लिए 1 जुलाई 2020 तक, एएफए के लिए 13 मई 2020 तक और एसएससी कोर्स के लिए 1 अक्टूबर 2020 तक ही असली प्रमाणपत्र जमा कर सकते हैं। यदि उम्मीदवार इन तारीखों के बाद सर्टिफिकेट जमा करते हैं तो उन्हें स्वीकार नहीं किया जाएगा। आपको यह भी बता दें कि कैंडिडेट्स को अपना असली सर्टिफिकेट यूपीएससी को नहीं भेजना होगा।लिखित परीक्षा में हुए उन उम्मीदवारों को जिन्होंने अपनी पहली पसंद सेना (IMA/OTA) भरा है, उनको भर्ती निदेशालय की वेबसाइट () पर खुद को रजिस्टर्ड करना होगा। इसके बाद ही उनके पास एसएसबी इंटरव्यू के लिए कॉल आएगी। आपको बता दें कि जिन उम्मीदवारों का निदेशालय की वेबसाइट पर पहले से रजिस्ट्रेशन है, उनको दोबारा रजिस्टर कराने की जरूरत नहीं है। आपको बता दें कि इसकी लिखित परीक्षा 8 सितंबर, 2019 का आयोजित हुई थी।

नेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटाभारत ने दिखाए F-16 विमान को मार गिराने के सबूत तो पाकिस्तान ने दिया यह बयान****** भारत द्वारा को मार गिराए जाने के पुख्ता सबूत दिखाए जाने के बावजूद पाकिस्तान इस बात को नहीं मान रहा। पाकिस्तानी सेना ने सोमवार को कहा कि भारत जम्मू कश्मीर के नौशेरा में हवाई संघर्ष में पाकिस्तान के लड़ाकू विमान एफ-16 को मार गिराने के कोई भी सबूत पेश करने में विफल रहा है। पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट किया,‘बार-बार दोहराने से झूठ सच में बदल नहीं जाता। F-16 को मार गिराने के सबूत होने का दावा करने के बावजूद भारतीय वायु सेना इसे पेश करने में नाकाम रही है।’ गफूर का यह बयान ऐसे वक्त आया है जब भारतीय वायुसेना ने F-16 को मार गिराने की अपनी बात के साक्ष्य के तौर पर सोमवार को रडार तस्वीरें जारी कीं।इससे पहले भारतीय वायुसेना ने गत 27 फरवरी को जम्मू कश्मीर के नौशेरा के ऊपर हुई हवाई लड़ाई के दौरान पाकिस्तान के एक एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराने के दमदार सबूत के रूप में सोमवार को रडार तस्वीरें जारी कीं। वायुसेना ने रक्षा मंत्रालय में मीडिया ब्रीफिंग की और हवाई चेतावनी तथा नियंत्रण प्रणाली (आवाक्स) द्वारा ली गईं ग्राफिक तस्वीरें मीडिया को दिखाईं और दोहराया कि उसके पास इस तथ्य के अकाट्य साक्ष्य हैं कि हवाई लड़ाई में पाकिस्तानी वायुसेना ने अपना एक F-16 लड़ाकू विमान खो दिया। भारतीय वायुसेना ने इसी तरह का बयान शुक्रवार को तब जारी किया था जब अमेरिकी पत्रिका ‘फॉरेन पॉलिसी’ ने कहा कि अमेरिका ने पाकिस्तान के F-16 विमानों की गिनती की और उसके किसी भी विमान को लापता नहीं पाया।भारत कहता रहा है कि भारतीय वायुसेना के पायलट अभिनंदन वर्द्धमान ने अपने के गिरने से पहले पाकिस्तान के एक एफ-16 विमान को मार गिराया। अभिनंदन को पाकिस्तान ने पकड़ लिया था और लगभग 60 घंटे बाद वह रिहा हो गए थे। एअर स्टाफ (ऑपरेशंस एंड स्पेस) के सहायक प्रमुख एअर वाइस मार्शल आर.जी.के. कपूर ने ब्रीफिंग में एक बयान में कहा, ‘भारतीय वायुसेना के पास न सिर्फ इस तथ्य के अकाट्य साक्ष्य हैं कि पाकिस्तानी वायुसेना ने 27 फरवरी को एफ-16 विमान का इस्तेमाल किया, बल्कि इस तथ्य के भी अकाट्य साक्ष्य हैं कि भारतीय वायुसेना के मिग-21 बाइसन ने पाकिस्तानी वायुसेना के एफ-16 विमान को मार गिराया।’ हालांकि, उन्होंने इस मुद्दे पर कोई सवाल नहीं लिया।भारतीय वायुसेना के अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तानी वायुसेना ने कई एम्राम मिसाइलें दागीं जिन्हें जवाबी कार्रवाई और तकनीकी कौशल से हरा दिया गया। उन्होंने कहा, ‘हवाई लड़ाई में विंग कमांडर अभिनंदन के मिग 21 बाइसन ने पाकिस्तानी वायुसेना के एक एफ-16 विमान को मार गिराया जैसा कि स्लाइड पर रडार तस्वीर में दिखा। एफ-16 नष्ट हो गया और नियंत्रण रेखा के पार पाकिस्तान के कब्जे वाले जम्मू कश्मीर में गिरा। भारतीय वायुसेना ने हवाई लड़ाई में अपना एक मिग 21 खो दिया और अभिनंदन उसके भीतर से सुरक्षित निकल गए, लेकिन उनका पैराशूट पाकिस्तान के कब्जे वाले जम्मू कश्मीर में चला गया।’नेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटाRIL की बड़ी छलांग, Fortune Global 500 की लिस्ट में 51 स्‍थान की छलांग के साथ 104वें स्थान पर पहुंची******Highlightsउद्योगपति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की रिलायंस इंडस्‍ट्रीज ने एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है। रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (RIL) ने फॉर्च्‍यून ग्‍लोबल 500 सूची (Fortune Global 500 List) में 51 स्‍थान की छलांग के साथ 104वें स्थान पर पहुंच गई है। फॉर्च्‍यून की ओर से 2022 के लिए जारी सूची में ऑयल से लेकर टेलीकॉम सेक्‍टर तक दखल रखने वाली रिलायंस 104वें पायदान पर पहुंच गई है। साल 2021 में फॉर्च्यून की ग्लोबल 500 लिस्ट में रिलायंस इंडस्ट्रीज को 155वां स्थान मिला था।फॉर्च्यून ग्लोबल 500 सूची में भारत की नौ कंपनियां शामिल हुई हैं। उनमें से पांच सार्वजनिक क्षेत्र से और चार निजी क्षेत्र की कंपनी है। केवल सरकारी क्षेत्र की भारतीय जीवन बीमा निगम को रिलायंस से आगे की रैकिंग मिली है। फॉर्च्यून 500 सूची में एलआईसी को 98वां स्थान मिला। भारतीय कंपनियों की सूची में भारतीय जीवन बीमा निगम शीर्ष पर है। अन्य प्राइवेट क्षेत्र की कंपनियां जिन्हें फॉर्च्यून की ग्लोबल 500 सूची में स्थान मिला है, वे हैं टाटा मोटर्स, टाटा स्टील और राजेश एक्सपोर्ट्स। इस सूची मेंटाटा मोटर्स (370वें स्थान पर) और टाटा स्टील (435वें स्थान पर) हैं। राजेश एक्सपोर्ट्स सूची में 437वें स्थान के साथ एक अन्य निजी भारतीय कंपनी है। भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) 17 पायदान चढ़कर 236वें स्थान पर और भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड 19 पायदान चढ़कर 295वें स्थान पर है। फॉर्च्यून ग्लोबल 500 सूची में 31 मार्च 2022 या उससे पहले समाप्त हुए वित्त वर्ष के लिए कुल राजस्व के आधार पर कंपनियों को स्थान दिया जाता है। चीन की ऊर्जा कंपनी स्टेट ग्रिड, चाइना नेशनल पेट्रोलियम और सिनोपेक ने शीर्ष पांच में जगह बनाई। पहली बार ग्रेटर चीन (ताइवान सहित) की कंपनियों का कुल राजस्व सूची में शामिल अमेरिकी कंपनियों के कुल राजस्व से अधिक है।फॉर्च्यून की ग्लोबल 500 सूची में इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन को 142वां स्थान मिला है। आईओसी भारतीय कंपनियों में तीसरी सर्वश्रेष्ठ है। तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम (ओनजीसी) 190वें स्थान पर है। यह भारतीय कंपनियों में चौथे स्थान पर है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया 236वें स्थान पर है। इस बार फॉर्च्‍यून 500 सूची में टॉप पर अमेरिकी कंपनी वालमार्ट (Walmart) ने कब्‍जा जमाया है। दूसरे स्थान पर अमेजन और तीसरे पर एप्पल है।

नेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटाआज ट्रेड यूनियनों की हड़ताल, बैंक सेवाएं हो सकतीं हैं प्रभावित****** ट्रेड यूनियनों की बुधवार को होने वाली राष्ट्रव्यापी हड़ताल के दौरान बैंक सेवायें प्रभावित हो सकतीं हैं। देश की दस केन्द्रीय मजदूर यूनियनों ने आठ जनवरी को हड़ताल का आह्वान कियाहै। ज्यादातर बैंकों ने इस हड़ताल और इससे उनकी सेवाओं पर पड़ने वाले असर के बारे में शेयर बाजारों को सूचित कर दिया है। बैंक कर्मचारियों की ज्यादातर यूनियनों ने भी हड़ताल में भाग लेने औरउसका समर्थन करने की अपनी इच्छा जाहिर कर दी है। बैंक कर्मचारियों की अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ (एआईबीईए), अखिल भारतीय बैंक अधिकारी संघ (एआईबीओए), भारतीय बैंक कर्मचारीमहासंघों और बैंक कर्मचारी सेना महासंघ सहित विभिन्न यूनियनों ने हड़ताल का समर्थन करने का फैसला किया है। बैंकों में राशि जमा करने, निकासी करने, चेक क्लियरिंग और विभिन्न वित्तीयसाधनों को जारी करने का काम हड़ताल की वजह से प्रभावित हो सकता है। हालांकि, निजी क्षेत्र के बैंकों में सेवाओं पर कोई असर पड़ने की संभावना नहीं है।सरकार की ‘‘जन- विरोधी’’ नीतियों के खिलाफ की जा रही इस हड़ताल में देशभर में 25 करोड़ लोगों के भाग लेने की उम्मीद है। इंडियन नेशनल ट्रेड यूनियन कांग्रेस (इंटक), आल इंडिया ट्रेड यूनियनकांग्रेस (एटक), हिन्द मजदूर सभा (एचएमएस), कन्फेडरेशन आफ इंडियन ट्रेड यूनियंस (सीटू) के अलावा टीयूसीसी, सेवा, एआईसीसीटीयू, एलपीएफ, यूटीयूसी तथा विभिन्न क्षेत्रों की स्वतंत्र यूनियनों औरमहासंघों ने पिछले साल सितंबर में ही आठ जनवरी 2020 को राष्ट्रव्यापी हड़ताल पर जाने की घोषणा कर दी थी।दस कर्मचारी संघों के परिसंघ ने एक संयुक्त वक्तव्य में कहा है, ‘‘श्रम मंत्रालय कर्मचारियों की किसी भी मांग को लेकर आश्वासन नहीं दे पाया। मंत्रालय ने दो जनवरी 2020 को कर्मचारी संघों केप्रतिनिधियों की बैठक बुलाई थी। सरकार की नीतियों और कार्रवाई से लगता है कि सरकार श्रमिकों के प्रति रवैया ठीक नहीं है।’’ इसमें कहा गया है, ‘‘हमारा मानना है कि आठ जनवरी 2020 को होनेवाली आम हड़ताल में 25 करोड़ से अधिक कामकाजी लोग भागीदारी करेंगे। सरकार की कर्मचारी विरोधी, जन विरोधी और राष्ट्र विरोधी नीतियों के खिलाफ इस हड़ताल के बाद और भी कदम उठायेजायेंगे।नेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटाIND vs ENG: पांड्या और पंत के आगे अंग्रेज हुए ढेर, मैनचेस्टर में दिखा इन पांच भारतीय खिलाड़ियों का दम******Highlightsभारत ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरा और निर्णायक मुकाबला पांच विकेट से जीत लिया है। मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रेफर्ड में खेले गए आखिरी वनडे में हार्दिक पांड्या और ऋषभ पंत ने जबरदस्त प्रदर्शन किया और मेजबान टीम के खिलाफ भारत को एक शानदार जीत दिलाने में सफल रहे। भारत ने 2014 यानी आठ साल बाद इंग्लैंड में वनडे सीरीज अपने नाम किया है।भारत के लिए यह मुकाबला उतार-चढ़ाव भरा रहा। कई मौकों पर टीम पिछड़ते हुए भी नजर आई लेकिन पांच खिलाड़ी ऐसे रहे जिन्होंने हर बार उसकी वापसी कराई।ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने मैच में ऑलराउंड प्रदर्शन किया। उन्होंने सबसे पहले गेंदबाजी में इंग्लैंड के बल्लेबाजों को परेशान किया और फिर बल्लेबाजी में एक महत्वपूर्ण पारी खेली। हार्दिक ने सात ओवर की गेंदबाजी में 24 रन देकर चार विकेट लिए। उन्होंने इस दौरान तीन मेडेन भी डाले। बल्लेबाजी में भी उन्होंने 55 गेंदों में 71 रन की पारी खेली। हार्दिक ने अपनी पारी में 10 चौके लगाए। उन्होंने पंत के साथ पांचवें विकेट के लिए 133 रनों की साझेदारी की।भारत के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने अपना पहला वनडे शतक लगाया। उन्होंने 113 गेंदों में 125 रन की नाबाद और मैच जिताऊ पारी खेली। पंत ने मैच की शुरुआत में अपनी छवि के उलट धीरे-धीरे पारी को आगे बढ़ाया लेकिन बाद में उन्होंने आक्रामक बल्लेबाजी की। पंत ने अपनी पारी में 16 चौके और दो छक्के लगाए। पंत ने सबसे पहले हार्दिक के साथ शतकीय साझेदारी की और उसके बाद उन्होंने जडेजा के साथ भी 40 गेंदों में 56 रन की अटूट साझेदारी की। इस साझेदारी में 48 रन अकेले पंत ने बनाए।भारतीय स्पिनर युजवेंद्र चहल ने एक बार फिर से अपनी फिरकी का जादू दिखाया। उन्होंने 9.5 ओवर की गेंदबाजी में 60 रन देकर तीन विकेट झटके। चहल ने इंग्लैंड के निचले क्रम को ज्यादा रन नहीं बनाने दिया और जल्दी ही पवेलियन का रास्ता दिखा दिया। उन्होंने इंग्लैंड के आखिरी तीनों विकेट खुद लिए।भारत की जीत में ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा का योगदान भी अहम रहा। उन्होंने फील्डिंग में बटलर और लिविंगस्टोन के दो जबरदस्त कैच पकड़े और इंग्लैंड को बड़े स्कोर तक पहुंचने से रोका। इसके अलावा उन्होंने गेंदबाजी में भी मोईन अली का एक बड़ा विकेट अपने नाम किया। बल्लेबाजी में भी उन्होंने पंत के साथ एक अहम साझेदारी निभाई।जसप्रीत बुमराह की गैरमौजूदगी में पहली बार सीरीज खेलने उतरे मोहम्मद सिराज ने अपने पहले ही ओवर में अंग्रेजों की कमर तोड़ दी। उन्होंने बेयरस्टो और जो रूट को एक ही ओवर में बिना खाता खोले पवेलियन की राह दिखा दी। सिराज के ये इन दो विकेटों नें इंग्लैंड को बैकफुट पर धकेल दिया।

नेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटाVastu Shastra: इस दिशा में आईना लगाने से चमकेगी आपके भाग्य की रेखा, छप्पर फाड़ कर होगी धन वर्षा******Highlights हम अपने घर को बहुत अच्छी तरह से सजाकर रखते हैं, लेकिन चीजें सही दिशा और स्थान पर नहीं होने से वास्तु दोष पैदा हो जाता है और परेशानियां आने लगती हैं। घर की दीवारों में लगाए जाने वाले इस आईने का संबंध हमारे सुख सौभाग्य और समृद्धि से जुड़ा होता है। वास्तु के अनुसार यदि घर के भीतर सही दिशा में आईना लगा हो तो वह आपकी खुशियों का माध्यम हो सकता है, जबकि गलत दिशा में आईना आपके दुर्भाग्य और तमाम तरह के कष्टों का बड़ा कारण बन सकता है।ऐसे में चलिए आपको बताते हैं कि घर में किस तरह का आईना होना चाहिए और उसको किस दिशा में लगाना चाहिए।वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर के अंदर आईना सही दिशा में लगाना बहुत जरूरी है। बता दें कि घर में पूर्व या उत्तर दिशा की दीवार पर आईना लगाना सबसे अच्छा माना जाता है। मान्यता है कि सही दिशा में आईना लगा होने पर आर्थिक स्थिति में सुधार होता है। और माँ लक्ष्मी की कृपा आप पर हमेशा बनी रहती है। इसके अलावा समाज में मान-सम्मान भी बढ़ता है।बता दें कि वास्तु शास्त्र में घर के अंदर लगाए जाने वाले मिरर का आकार चौकोर होना चाहिए। इसके अलावा आपको इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि जो आईना आपके घर में लगा हो उसमें आपका चेहरा साफनजर आना चाहिए। आईना गंदा नहीं होना चाहिए और उसमें धुंधला नहीं दिखना चाहिए।वास्तु के अनुसार बेडरूम के भीतर कभी भी पश्चिम या दक्षिण दिशा की दीवार पर आईना नहीं लगाना चाहिए। दरअसल, बेडरूम में मिरर लगाने से बचना चाहिए। वास्तु के अनुसार बेडरूम में लगे हुए आईने में यदि आपके बेड का प्रतिबिंब बनता है तो उसके कारण आपके जीवन में कई तकलीफें आती हैं।।यदि जगह की कमी के चलते बेडरूम में आईना लगाना आपकी मजबूरी हो तो उसके लिए कवर या परदा बनवा लें। आईने को प्रयोग करने के बाद उसे ढक दें।बाथरूम में जब भी आईना लगाएं इस बात का पूरा ख्याल रखें कि वह दरवाजे के ठीक सामने न हो।घर में नुकीले आकार वाला आईना नहीं लगाना चाहिए। वास्तु के अनुसार टूटा या चटका हुआ आईना रखना भी अशुभ होता है। साथ ही चटके हुए या फिर धुंधले आईने का इस्तेमाल भी नहीं करना चाहिए और न ही उसे घर में रखना चाहिए।टूटा हुआ आईना घर में रखने से नकारात्मक ऊर्जा पैदा होता है।नेलॉन्चकिया666रुपएमेंनयाप्लानअबअनलिमिटेडकॉलिंगकेसाथपाएरोजाना2GBडेटाचीनी लोन एप पर ED की बड़ी कार्रवाई, Paytm और रेजरपे जैसे पेमेंट गेटवे में जमा पैसों पर लगाई रोक******Highlightsचीनी निवेशकों द्वारा नियंत्रित इंस्टैंट लोन एप्स पर प्रवर्तन निदेशालय यानि ED का शिकंजा और भी कस गया है। प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने कुछ पेमेंट सर्विस प्लेटफॉर्म के पास जमा 46 करोड़ रुपये की राशि के लेनदेन पर रोक लगा दी है। आज हुई कार्रवाई में ईडी ने पेमेंट गेटवे जैसे एजबज, रेजरपे, कैशफ्री और पेटीएम के ऑनलाइन खातों में जमा कारोबारी इकाइयों की 46.67 करोड़ रुपये की राशि के लेनदेन पर रोक लगा दी है।आज हुई कार्रवाई के तार चीनी व्यक्तियों के ‘नियंत्रण’ वाले ऐप के जरिये इंस्टेंट लोन देने वाली कंपनियों से जुड़े हैं। ईडी वित्तीय अनियमितताओं से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में जांच कर रही है। ईडी ने इस सप्ताह इन प्लेटफॉर्म के खिलाफ देश भर में छापेमारी की कार्रवाई की थी।इससे पहले, इस महीने की शुरुआत में रेजरपे, पेटीएम और कैशफ्री के बेंगलुरु स्थित परिसरों पर छापे मारे गए थे और उनके खातों में जमा 17 करोड़ रुपये जब्त करने के आदेश दिए थे। हाल की कार्रवाई 14 सितंबर को की गई जिसमें आरोपियों के दिल्ली, मुंबई, गाजियाबाद, लखनऊ और गया स्थित परिसरों पर छापेमारी की गई थी।ईडी ने बयान में कहा कि ‘एचपीजेड’ नाम के ऐप आधारित टोकन और संबंधित इकाइयों के खिलाफ जांच के सिलसिले में बैंकों और पेमेंट प्लेटफॉर्म के दिल्ली, गुरुग्राम, मुंबई, पुणे, चेन्नई, हैदराबाद, जयपुर, जोधपुर, बेंगलुरु स्थित 16 परिसरों पर भी तलाशी ली गई थी। इस मामले में प्राथमिकी अक्टूबर, 2021 में नगालैंड में कोहिमा पुलिस की साइबर अपराध शाखा ने दर्ज की थी। एजेंसी ने कहा, ‘‘तलाशी के दौरान अपराध में संलिप्तता दर्शाने वाले कई दस्तावेज मिले जिन्हें जब्त कर लिया गया।कैशफ्री पेमेंट्स के प्रवक्ता ने कहा कि वे ईडी के अभियानों में पूरा सहयोग दे रहे हैं और जांच वाले दिन कुछ ही घंटों के भीतर मांगी गई आवश्यक जानकारी दे दी गई। पेटीएम ने कहा कि रोक जिस कोष पर लगाई गई है वह कंपनी का नहीं है। पेटीएम कहा, ‘‘जिन इकाइयों की जांच की जा रही है वे स्वतंत्र रूप से कारोबार करती हैं।’’

हाल का ध्यान

लिंक