वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > होंगकियाओ जिला > मूलपाठ

अंडमान निकोबार में 10 कोरोना पॉजिटिव मरीज हुए ठीक, दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज कार्यक्रम में हुए थे शामिल

2022-10-01 00:20:52 होंगकियाओ जिला

अंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलझारखंड: आपसी विवाद के बाद 6 नाबालिगों ने 10 साल की बच्ची से किया गैंगरेप******Highlightsझारखंड के खूंटी जिले के तोरपा प्रखंड में एक शादी समारोह में छोटे से आपसी विवाद के बाद आधा दर्जन नाबालिगों ने सबक सिखाने के लिए योजनाबद्ध ढंग से 10 साल की एक मासूम बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। इसकी सूचना मिलने के बाद पुलिस ने उन सभी आरोपियों को बालसुधार गृह भेज दिया है।पुलिस सूत्रों ने बताया कि इस घटना की जानकारी शुक्रवार को तब हुई जब पंचायत में मामला न सलटने पर पीड़ित लड़की की मां ने तपकरा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई। खूंटी के तपकरा थाने के प्रभारी सत्यजीत कुमार ने बताया कि थाने में प्राथमिकी दर्ज होने के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए शुक्रवार को ही पांच नाबालिग आरोपियों को पकड़ लिया जबकि एक आरोपी को आज पकड़ा जा सका। उन्होंने बताया कि आरोपी और पीड़ित सभी आदिवासी समुदाय से हैं।थाना प्रभारी ने बताया कि बुधवार को पड़ोसी गांव में एक शादी थी। इसमें दस वर्षीय पीड़िता भी शामिल होने गयी थी। उसी दौरान किसी बात को लेकर लड़की से बारात में ही आये कुछ लड़कों की कहासुनी हो गयी। कुमार ने बताया कि कहासुनी के बाद रात में लड़की जब अकेले अपने गांव लौट रही थी तभी योजनानुसार विवाद में शामिल सभी छह नाबालिग लड़के, उसे पकड़कर जबरदस्ती सुनसान स्थान पर ले गए और उसके साथ कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म किया और मौके से फरार हो गये।हादसे के बाद पीड़िता किसी प्रकार अपने गांव पहुंची और घर पहुंचकर उसने पूरे मामले की जानकारी अपने परिजनों को दी। घटना के बाद गांव में गुरुवार को पंचायत बुलाकर मामले को सुलझाने की कोशिश की गई लेकिन बात नहीं बनने पर तपकरा थाने में शुक्रवार को प्राथमिकी दर्ज करायी गयी। सत्यजीत ने बताया कि कल घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने पांच नाबालिग आरोपियों को पकड़ लिया लेकिन छठे आरोपी को आज पकड़ा गया है। उन्होंने बताया कि सभी आरोपियों की उम्र नौ से 15 साल के बीच है और सभी स्कूल में पढ़ते हैं। उन्होंने बताया कि पकड़े गये गए सभी बच्चों को बाल सुधार गृह भेज दिया गया है।

अंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलटाटा नेक्‍सन 3 साल के लिए बनी आईपीएल की ऑफिशियल पार्टनर, दर्शक भी जीत सकेंगे कार****** अगले महीने से शुरू हो रहे इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2018 के साथ अब नया नाम जुड़ गया है। टाटा मोटर्स की एसयूवी टाटा नेक्‍सन आईपीएल की ऑफिशियल पार्टनर बन गई है। यह पहली बार है जब टाटा की कोई कार इस बड़े स्‍पोर्टिंग ईवेंट की साझेदार बनी है। कंपनी द्वारा इसकी जानकारी देते हुए बताया गया है कि टूर्नामेंट में सबसे ज्‍यादा रन बनाने वाले बल्‍लेबाज को नेक्‍सन प्रदान की जाएगी। वहीं दर्शकों के पास भी कार जीतने का मौका होगा। टाटा मोटर्स के पैसेंजर व्‍हीकल बिजनेस के प्रमुख मयंक पारीख ने बतायाकि टाटा नेक्सन इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का अगले तीन साल तक आधिकारिक साझेदार होगा। आईपीएल के 11वें संस्करण की शुरुआत सात अप्रैल से हो रही है। इस मौके पर मौजूद आईपीएल के चैयरमेन राजीव शुक्ला ने कहा कि हम टाटा नेक्सन को आईपीएल का आधिकारिक साझेदार नियुक्त कर काफी खुश हैं।टाटा मोटर्स इसी के साथ दर्शकों के लिए भी खास ऑफर लेकर आई है। यह ऑफर मैदान में मौजूद दर्शकों के लिए है। कंपनी ने इसे टाटा नेक्‍सन फैन कैच नाम दिया है। इसके तहत यदि दर्शक बल्‍लेबाज के बैट से निकले छक्‍के को सबसे ज्‍यादा बार एक हाथ से कैच करता है। तो उसे 1 लाख रुपए का इनाम मिलेगा। वहीं यदि वह दर्शक सबसे ज्‍यादा बार कैच लेता है तो उसे नेक्‍सन जीतने का मौका मिल सकता है।अंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलRailway Recruitment 2020: युवाओं के लिए रेलवे में निकली 2000 से ज्यादा नई नौकरियां, 14 फरवरी से शुरू होंगे आवेदन******युवाओं के लिए रेलवे में नौकरी पाने का बड़ा मौका सामने आया है। दरअसल पूर्वी रेलवे ने अपरेंटिस के पद के लिए भर्ती अधिसूचना जारी की है। इसके तहत कुल 2792 पद भरे जाएंगे। इच्छुक और योग्य उम्मीदवार रेलवे का आधिकारिक वेबसाइट rrcer.com पर जाकर अप्लाई कर सकते हैं। उम्मीदवार अपरेंटिस पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन 14 फरवरी 2020 से कर पाएंगे। आवेदन जमा करने की अतिंम तिथि 3 मार्च 2020 है। इस नौकरी से जुड़ी बाकी की जानकारी के लिए उम्मीदवार रेलवे की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर प्राप्त कर सकते हैं।पात्र उम्मीदवार 14 फरवरी से 13 मार्च 2020 तक पूर्वी रेलवे अपरेंटिस भर्ती 2020 के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

अंडमान निकोबार में 10 कोरोना पॉजिटिव मरीज हुए ठीक, दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज कार्यक्रम में हुए थे शामिल

अंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलझारखंड में कांग्रेस को खड़ा करने में इस नेता की है अहम भूमिका, चुनाव से पहले ही कर दी थी CM के नाम की घोषणा******झारखंड में कांग्रेस को दोबारा खड़ा करने का पूरा श्रेय आर.पी.एन. सिंह को जाता है। सिंह ने सोमवार को कहा है कि यदि विधान सभा चुनावों में कांग्रेस महागठबंधन को बहुमत मिलता है तो हेमंत सोरेन झारखंड के अगले मुख्‍यमंत्री होंगे।झारखंड कांग्रेस प्रभारी ने कहा कि इसको लेकर कोई शंका नहीं है। हेमंत सोरेन ही मुख्‍यमंत्री होंगे। हमनें झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) के साथ गठबंधन करने से पहले ही यह आश्‍वासन दिया था कि मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ही बनेंगे। सिंह ने कहा कि अंतिम दो चरणों में एनआरसी और नागरिकता संशोधन कानून के विरोध का हमें पूरा फायदा मिला है।यूपीए सरकार में केंद्र मंत्री रहे सिंह ने कहा कि पीएम मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और उप्र के मुख्‍यमंत्री आदित्‍य योगीनाथ ने अपनी पूरी जान फूंकी लेकिन यह देखना रोमांचकारी होगा कि अंतिम दो चरणों में जिन सीटों पर वोटिंग हुई, वहां अंतिम परिणाम कैसे सामने आते हैं।राज्‍य में त्रिशंकु विधान सभा बनने पर क्‍या कांग्रेस जेवीएम के बाबू लाल मरांडी या एजेएसयू के सुदेश महतो से समर्थन मांगेगी के सवाल पर सिंह ने कहा कि अभी इस पर कुछ भी बोलना जल्‍दबाजी होगा।कांग्रेस का सभी विपक्षी दलों को एक साथ मिलकर भाजपा के खिलाफ चुनाव लड़ने की रणनीति सफल होती हुई दिखाई दे रही है। झारखंड में आने वाले परिणामों का क्‍या संदेश होगा, इस सवाल पर सिंह ने कहा कि इसका संदेश साफ होगा कि भाजपा को देश में बढ़ती बेरोजगारी, किसानों की समस्‍याओं और आर्थिक मंदी की कोई चिंता नहीं है।अंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलकेजरीवाल ने बीजेपी को दी चुनौती, 'MCD चुनाव समय पर कराओ और जीत कर दिखाओ, राजनीति छोड़ दूंगा'******Highlights दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज सीधे-सीधे बीजेपी को चुनौती देते हुए कहा कि वह एमसीडी के चुनाव समय पर करा के और जीत कर दिखाए तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा। उन्होंने कहा कि भाजपा का दिल्ली नगर निगम के चुनाव टालना शहीदों का अपमान है जिन्होंने अंग्रेजों को देश से भगाकर देश में जनतंत्र स्थापित करने के लिए कुरबानियाँ दीं थीं। आज ये हार के डर से दिल्ली नगर निगम के चुनाव टाल रहे हैं, कल ये राज्यों और देश के चुनाव टाल देंगे।केजरीवाल ने कहा-'भाजपा MCD के चुनाव टाल रही है कि दिल्ली के तीनों निगम एक कर रहे है। क्या इस वजह से चुनाव टल सकते हैं? कल ये गुजरात हार रहे होंगे तो क्या ये कह कर टाल सकते हैं कि गुजरात और महाराष्ट्र को एक कर रहे हैं? क्या इसी तरह का कोई बहाना बना कर लोक सभा चुनाव टाले जा सकते हैं?'दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा-भाजपा अपने आप को दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी कहती है। कमाल है। दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी एक छोटी सी आम आदमी पार्टी से घबरा के भाग गयी? हिम्मत है तो MCD के चुनाव टाइम पे करवा के और जीत कर दिखाओ, हम राजनीति छोड़ देंगे।अंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलहार्ले-डेविडसन ने दुनिया भर से 2.5 लाख मोटरसाइकिलों को किया रिकॉल, ब्रेक फेल होने की आशंका****** अमेरिकी मोटर साइकिल कंपनी ने ब्रेक फेल की शिकायतों के बाद स्वैच्छिक रूप से दुनिया भर से अपनी 251,000 से ज्यादा मोटरसाइकिलों को वापस लेने का फैसला किया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, इसमें एंटी-लॉक ब्रेक से सुसज्जित 2008 से 2011 के मॉडल सीवीओ टूरिंग और वीएसआरसी बाइक शामिल हैं। मिल्वौकी, विस्कॉन्सन स्थित हार्ले-डेविडसन के मुख्यालय की ओर से कहा गया कि रिकॉल का फैसला लेने से कंपनी को 2.94 करोड़ डॉलर का भारी नुकसान होगा। करीब 175,000 प्रभावित मोटरसाइकिलें अमेरिका में बिकी हैं। समस्या एंटी-लॉक ब्रेक सिस्टम से संबंधित है, जो बिना किसी चेतावनी के बिगड़ जाती है और फेल हो जाती है।जुलाई 2016 में अमेरिकी राष्ट्रीय यातायात सुरक्षा प्रशासन ने तीन दुर्घटनाओं और दो घायल होने की शिकायतों सहित 43 शिकायतें मिलने के बाद, ब्रेक को लेकर जांच शुरू की थी। समस्या कथित रूप से ब्रेक फ्लूइड के चलते थी, जिसे कुछ मोटरसाइकिल मालिक नहीं हटाते हैं, जबकि हर दो साल पर ऐसा करना जरूरी होता है।कंपनी के मुताबिक, फ्लूइड नमी से दूषित हो सकते हैं और एंटी-लॉक ब्रेक सिस्टम के एक्ट्यूएटर वाल्व को खराब कर सकते हैं। एनएचटीएसए ने पिछले महीने कंपनी से कहा कि सुरक्षा के कारण मोटरसाइकिलों की वापसी जरूरी है और सुरक्षा मामले को लेकर चालकों को शिक्षित करने के हार्ले के एक अभियान शुरू करने के प्रस्ताव को खारिज कर दिया और ब्रेक में लगाए जाने वाले तरल पदार्थ नियमित समय पर बदलने की महत्ता को रेखांकित किया।कंपनी मोटरसाइकिल मालिकों को सूचित करेगी कि डीलर्स 12 फरवरी से मुफ्त में ब्रेक में लगाया जाने वाला तरल पदार्थ उपलब्‍ध कराएंगे।

अंडमान निकोबार में 10 कोरोना पॉजिटिव मरीज हुए ठीक, दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज कार्यक्रम में हुए थे शामिल

अंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलMeghalaya: ‘लिविंग रूट ब्रिज’ यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों की संभावित सूची में शामिल******Highlights मेघालय में लोगों और प्रकृति के बीच सामाजिक-सांस्कृतिक, सामाजिक एवं वानस्पतिक संबंधों को उजागर करते 70 से अधिक गांवों में पाए जाने वाले ‘लिविंग रूट ब्रिज’ को यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों की संभावित सूची में शामिल किया गया है। मुख्यमंत्री कोनराड के संगमा ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट किया, 'यह बताते हुए खुशी हो रही है कि 'जिंगकिएंग जेरी लिविंग रूट ब्रिज कल्चरल लैंडस्केप्स ऑफ मेघालय’ को यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल की संभावित सूची में शामिल किया गया है।' उन्होंने कहा, ‘मैं इस यात्रा में समुदाय के सभी सदस्यों और हितधारकों को बधाई देता हूं।’ग्रामीणों ने लगभग 10 से 15 वर्षों की अवधि में जलाशयों के दोनों किनारों पर ‘फिकस इलास्टिका' पेड़ की जड़ों से ‘लिविंग रूट ब्रिज’ को विकसित किया। पेड़ की जड़ों से इन पुलों का निर्माण किया जाता है। वर्तमान में राज्य के 72 गांवों में फैले लगभग 100 ज्ञात ‘लिविंग रूट ब्रिज’ हैं ।भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार प्रो. के. विजय राघवन ने कहा कि मेघालय के ‘लिविंग रूट ब्रिज’ जो लोगों और प्रकृति के बीच सामाजिक-सांस्कृतिक, सामाजिक और वानस्पतिक संबंधों को उजागर करते हैं, यूनेस्को के विश्व धरोहर स्थल में शामिल किए जाने के योग्य हैं। पिछले साल यहां रूट-ब्रिज पर एक राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया गया था जहां वैज्ञानिकों ने ऑर्किड, उभयचर और स्तनधारियों की अनूठी प्रजातियों पर अपने निष्कर्ष प्रस्तुत किए जो इन पुलों पर पाए जा सकते हैं। इनपुट-भाषाअंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलरिलायंस इंडस्ट्रीज दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा ब्रांड बनी, एप्पल टॉप पर******नई दिल्ली। उद्योगपति मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्री ‘फ्यूचरब्रांड सूचकांक 2020’ में एप्पल के बाद दुनिया का दूसरा सबसे बड़ाब्रांड बन गई है। रिलायंस इंडस्ट्रीज रिफाइनरी, खुदरा और दूरसंचार क्षेत्र में काम करने वाली प्रमुख कंपनी है। ब्रांड कंसल्टिंग और मैनेजमेंट कंपनी फ्यूचरब्रांड ने 2020 की सूची को जारी करते हुए कहा, ‘‘ब्रांड की दौड़ में रिलायंस इंडस्ट्री हर पैमाने पर खरी उतरी है।’’ रिपोर्ट में रिलायंस के बारे में कहा गया है कि यह भारत की सबसे अधिक लाभ कमाने वाली कंपनियों में से एक हैं। कंपनी की मजबूत साख है और वह ‘नैतिक रूप से काम करती है।’ इसी के साथ कंपनी ‘इनोवेटिव प्रोडक्ट’, ‘ग्राहकों को बेहतर अनुभव’ और ‘ग्रोथ’ से जुड़ी है। लोगों का कंपनी के साथ एक ‘मजबूत भावनात्मक’ रिश्ता है।फ्यूचरब्रांड पिछले छह साल से यह सूचकांक पेश कर रही है। उसने कहा कि रिलायंस की सफलता का श्रेय अंबानी को दिया जाना चाहिए। उन्होंने कंपनी को भारतीयों के लिए ’एक मेगास्टोर’ की तरह ‘वन स्टॉप’ दुकान के तौर पर नयी पहचान दी है। रपट में कहा गया है, ‘‘ आज कंपनी ऊर्जा, पेट्रोरसायन, कपड़ा, प्राकृतिक संसाधन, खुदरा और दूरसंचार क्षेत्र में काम करती है। गूगल और फेसबुक ने उसमें हिस्सेदारी खरीदी है। हमें उम्मीद है कि अगले सूचकांक में कंपनी शीर्ष पर होगी। इस सूची में एप्पल सबसे शीर्ष पर है। जबकि सैमसंग तीसरे स्थान, एनवीडिया चौथे, मोताई पांचवे, नाइकी छठे, माइक्रोसॉफ्ट सातवें, एएसएमएल आठवें, पेपाल नवें और नेटफ्लिक्स दसवें स्थान पर है।

अंडमान निकोबार में 10 कोरोना पॉजिटिव मरीज हुए ठीक, दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज कार्यक्रम में हुए थे शामिल

अंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलPrisoners Release: सरकार का बड़ा फैसला, 60 साल से अधिक उम्र के कैदियों की रिहाई जल्द******Highlights सरकार 'आजादी का अमृत महोत्सव' के तहत 50 साल से अधिक उम्र की उन महिला एवं ट्रांसजेंडर दोषियों की सजा कम करने की योजना बना रही है, जिनका व्यवहार अच्छा है। सरकार 60 वर्ष से अधिक उम्र के उन पुरुष कैदियों और दिव्यांग बंदियों को भी इस योजना का लाभ देगी, जिन्होंने अपनी आधी से अधिक सजा पूरी कर ली है। जो गरीब या निर्धन कैदी सजा पूरी कर चुके हैं, लेकिन धन के अभाव में जुर्माने न भर पाने के कारण अब भी जेल में हैं, उन्हें भी जुर्माने से छूट का लाभ दिया जाएगा। गृह मंत्रालय ने बताया कि यह योजना उन कैदियों पर लागू नहीं होगी, जिन्हें मौत या आजीवान कारावास की सजा दी गई है, या जिन पर बलात्कार, आतंकवाद, दहेज हत्या और धन शोधन के आरोप लगाए गए हैं।जेलों में क्षमता से अधिक कैदीवर्ष 2020 के एक आधिकारिक अनुमान के अनुसार, भारत के जेलों में क्षमता से अधिक कैदी हैं। देश के कारागारों में 4.03 लाख कैदियों को रखने क्षमता है, जबकि इस समय कारागारों में लगभग 4.78 लाख कैदी हैं, जिनमें करीब एक लाख महिलाएं हैं। गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा है कि इन पात्रता मानदंडों को पूरा करने वाले कैदियों को तीन चरणों में 15 अगस्त, 2022, 26 जनवरी, 2023 और 15 अगस्त, 2023 को रिहा किया जाएगा।अच्छा व्यवहार करने वालों को मिलेगी छूटमंत्रालय ने कहा है कि 50 साल या उससे अधिक आयु की महिला एवं ट्रांसजेंडर बंदियों, 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के पुरुष कैदियों, 70 प्रतिशत या उससे अधिक अक्षमता वाले दिव्यांगों को स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ के तहत चलाई जा रही योजना के तहत रिहा किया जा सकता है, बशर्ते वे आधी सजा काट चुके हों और उनका व्यवहार अच्छा हो। इसमें कहा गया है कि वरिष्ठ असैन्य और पुलिस अधिकारियों की राज्य स्तरीय जांच समिति द्वारा गहन जांच किए जाने के बाद कैदियों को रिहा करने पर विचार किया जाना चाहिए। मंत्रालय ने कहा कि अपनी आधी सजा काट चुके जिन व्यक्तियों ने 18 वर्ष से 21 वर्ष तक की उम्र के दौरान अपराध किया है और उनके खिलाफ कोई अन्य आपराधिक मामला नहीं है, उन्हें भी विशेष छूट के लिए विचार किया जाएगा।

अंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलNational Herald Case ED Raids : नेशनल हेराल्ड दफ्तर पर ED के छापे, हाल में राहुल और सोनिया से हुई थी पूछताछ******Highlights प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने आज दिल्ली स्थिति नेशनल हेराल्ड हाउस में छापे की कार्रवाई की। जानकारी के मुताबिक ईडी की टीम दस्तावेजों की तलाशी के क्रम में यहां छापे की कार्रवाई कर रही है। इससे पहले ईडी ने नेशनल हेराल्ड केस (National Herald Case) में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी से पूछताछ की थी।जानकारी के मुताबिक इस मामले में कई अहम लोगों के यहां भी ईडी छापे की कार्रवाई कर सकती है। फिलहाल इस मामले में दिल्ली, लखनऊ, कोलकाता में12 ठिकानों पर ईडी की छापे की कार्रवाई चल रही है।बताया जाता है कि नेशनल हेराल्ड और उससे जुड़े दफ्तरों पर ED के छापे की कार्रवाई चल रही है। ED नेशनल हेराल्ड और उससे जुड़ी कंपनियों के अकाउंट्स खंगाल रही है।क्या है नेशनल हेराल्ड केस?नेशनल हेराल्ड अखबार को साल 1938 में पंडित जवाहर लाल नेहरू ने शुरू किया था। इस न्यूज पेपर को चलाने का जिम्मा एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (AJL) नाम की कंपनी के पास था। शुरुआत से इस कंपनी में कांग्रेस और गांधी परिवार के लोग हावी रहे। करीब 70 साल बाद 2008 में घाटे की वजह से इस न्यूज पेपर को बंद करना पड़ा तब कांग्रेस ने AJL को पार्टी फंड से बिना ब्याज का 90 करोड़ रुपये का लोन दिया। फिर सोनिया और राहुल गांधी ने 'यंग इंडियन' नाम से नई कंपनी बनाई। यंग इंडियन को एसोसिएटेड जर्नल्स को दिए लोन के बदले में कंपनी की 99 फीसदी हिस्सेदारी मिल गई। यंग इंडियन कंपनी में सोनिया और राहुल गांधी की 38-38 फीसदी की हिस्सेदारी है वहीं बाकी का शेयर मोतीलाल बोरा और आस्कर फर्नांडिस के पास था।जानें क्यों शुरू हुई ED की जांचजिस नेशनल हेराल्ड केस की वजह से राहुल गांधी और सोनिया गांधी को ED के सवालों का सामना करना पड़ा, उसकी शुरुआत 10 साल पहले 2012 में हुई थी जब सुब्रमण्यम स्वामी ने इस मामले में स दर्ज कराया था। स्वामी ने आरोप लगाया था कि यंग इंडियन प्राइवेट लिमिटेड ने 90.25 करोड़ रुपये की वसूली के अधिकार हासिल करने के लिए सिर्फ 50 लाख रुपये का भुगतान किया था, जो एजेएल पर कांग्रेस का बकाया था।अंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलDraupadi Murmu Love Story: कॉलेज में कैसे हुआ था प्यार, पिता ने रिश्ते को किया था इनकार, रोचक है द्रौपदी मुर्मू की प्रेम कहानी******Highlights द्रौपदी मुर्मू भारत की पहली आदिवासी और दूसरी महिला राष्ट्रपति बन गई हैं। ओडिशा के रायरंगपुर से मर्मू ने भारतीय जनता पार्टी के साथ राजनीति की सीढ़ी पर पहला पहला कदम रखा था। विपक्षी उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को हराकर द्रौपदी मुर्मू देश की पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति बन गई हैं। द्रौपदी मुर्मू जतनी ही चमक दमक से दूर रही हैं, उतनी ही रोचक उनकी प्रेम कहानी है।द्रौपदी मुर्मू की ने अपनी प्राथमिक शिक्षा गांव से ही पूरी की। इसके बाद साल 1969 से 1973 तक वह आदिवासी आवासीय स्कूल में पढ़ीं। फिर स्नातक करने के लिए उन्होंने भुवनेश्वर के रामा देवी वुमंस कॉलेज में एडमिशन लिया। बता दें कि मुर्मू अपने गांव की पहली लड़की थीं, जो ग्रेजुएशन की पढ़ाई करने के लिए भुवनेश्वर तक पहुंची। कॉलेज में ही पढ़ाई के दौरान वह श्याम चरण मुर्मू से मिलीं। दोनों की मुलाकातें बढ़ी और फिर दोनों एक दूसरे को पसंद करने लगे।जब द्रौपदी और श्याम एक दूसरे को पसंद करने लगे थे तो बारी थी इस रिश्ते को नया नाम देने की। साल 1980 में परिवार की रजामंदी के लिए श्याम चरण शादी का प्रस्ताव लेकर द्रौपदी के घर पहुंचे थे। श्याम चरण के कुछ रिश्तेदार द्रौपदी के गांव में ही रहते थे। ऐसे में अपनी बात रखने के लिए श्याम चरण अपने चाचा और रिश्तेदारों को लेकर द्रौपदी के घर हाथ मांगने पहुंच गए थे। लेकिन द्रौपदी के पिता बिरंची नारायण टुडू ने इस रिश्ते के लिए साफ इंकार कर दिया था। लेकिन श्याम चरण ने हार नहीं मानी। वह अपने सच्चे प्यार को शादी में बदलने का इरादा कर चुके थे। वहां द्रौपदी ने भी घर वालों को कह दिया था कि वह श्याम चरण से ही शादी करेंगी। फिर श्याम चरण ने तीन दिन तक द्रौपदी के गांव में ही डेरा डाल लिया था। आखिरकार द्रौपदी के पिता को इस रिश्ते के लिए हां कहनी ही पड़ी।शादी के लिए द्रौपदी के पिता ने थक-हारकर हां कह दी थी। अब श्याम चरण और द्रौपदी के घरवालों ने दहेज को लेकर चर्चा शुरू की। जब दोनों की शादी हुई तो श्याम चरण के घर से द्रौपदी को एक गाय, एक बैल और 16 जोड़ी कपड़े दिए गए थे। दरअसल द्रौपदी जिस संथाल समुदाय से आती हैं, उसमें लड़की के घरवालों को लड़के की तरफ से दहेज दिया जाता है। बताया जाता है कि द्रौपदी और श्याम की शादी में लाल-पीले देसी मुर्गे का भोज हुआ था। तब लगभग हर जगह शादी में यही बना करता था।द्रौपदी मुर्मू का जन्म 20 जून 1958 को ओडिशा के मयूरभंज जिले के उपरबेड़ा गांव में हुआ था। मुर्मू संथाल आदिवासी परिवार से आती हैं। उनके पिता का नाम बिरंची नारायण टुडू था। द्रौपदी मुर्मू की शादी श्याम चरण मुर्मू से हुई थी। श्याम मुर्मू से शादी के बाद दोनों के चार बच्चे हुए। इनमें दो बेटे और दो बेटियां थीं। साल 1984 में मुर्मू की एक बेटी की मौत हो गई। इसके बाद साल 2009 में एक और 2013 में दूसरे बेटे की अलग-अलग कारणों से मौत हो गई। कुछ साल बाद 2014 में मुर्मू के पति श्याम चरण मुर्मू की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी। द्रौपदी मुर्मू के परिवार में अब सिर्फ एक बेटी है।

अंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलमिलिंद सोमन 54 साल की उम्र में यूं रखते हैं खुद को फिट, ढलती उम्र में यंग दिखने के लिए फॉलो करें ये टिप्स******मॉडल-अभिनेता और फिटनेस लवर अपनी उम्र के अर्धशतक में हैं, लेकिन वह फिटनेस के मामले 30 के लगते हैं। वह कहते हैं कि लगातार सक्रिय रहना, हाइड्रेट रखना और अपनी देखभाल करना बढ़ती उम्र से लड़ने के प्रमुख तत्व हैं। मिलिंद ने कुछ ऐसे टिप्स साझा किए जो खान-पान में मामूली बदलाव और जीवनशैली में कुछ बदलाव लाने के बारे में है।मुझे वर्कआउट करना और दौड़ना पसंद है। इस आदत ने मेरे शरीर को सक्रिय और फिट रखने में मदद की है। बहुत से लोग सोचते हैं कि उम्र बढ़ने से आपकी फिटनेस और सहनशीलता कम होती है, लेकिन मेरे मामले में ये उलटा है। मैंने 40 की उम्र में दौड़ना शुरू किया था। यकीन रखिए, ऐसा करके आप कभी भी खुद को चुनौती देने के लिए बहुत बूढ़े नहीं होंगे। एक बार जब आप अपने शरीर का सम्मान करना शुरू कर देते हैं, और इसे नियमित रूप से स्वस्थ रखने की दिशा में काम करते हैं, तो इससे मिलने वाले परिणाम आपको विस्मित कर देंगे। इसकी शुरूआत करने का एक ही तरीका है, एक कदम से शुरू करना।मैराथन दौड़ना या सिक्स पैक बनाना आवश्यक नहीं है! वो व्यायाम करें जिनका आप आनंद ले सकते हैं, जो आपकी मूल मांसपेशियों की शक्ति, संयुक्त लचीलेपन और कार्डियो वैस्कुलर सहनशीलता को बनाए रखने में आपकी मदद करते हैं।सुनिश्चित करें कि आपके शरीर को पर्याप्त पानी मिलता है जो त्वचा के संतुलन को बहाल करने में मदद करता है और गर्मी से लड़ता है। प्राकृतिक मॉइस्चराइजर का उपयोग आपकी त्वचा को हाइड्रेट करने के लिए अच्छा हो सकता है। शरीर और त्वचा को हाइड्रेट करने के लिए हर दिन पर्याप्त पानी, ताजे फल और सब्जियों का सेवन करना सुनिश्चित करें।खुद की देखभाल करना और स्वस्थ, सक्रिय रहना सबसे महत्वपूर्ण है। हर दिन अपने लिए समय जरूर निकालें। बिना डर के जिंदगी को पूर्ण रूप में जीने के लिए आगे बढ़ते रहें।बादाम एक ऐसी चीज है जिसे मैं हर दिन खाता हूं। वे प्रोटीन और ऊर्जा का एक समृद्ध स्रोत हैं, और सेल और मांसपेशियों की रिकवरी के बाद की गतिविधि में योगदान करता है। इसके अलावा बादाम में संतृप्त गुण होते हैं। मैं अपने दिन की शुरुआत मुट्ठी भर बादाम से करता हूं। आप नाश्ते में, नाश्ते के हिस्से के रूप में या नाश्ते और भोजन के बीच कभी भी कर सकते हैं।अंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलBigg Boss 13 Highlights 29th October: मिड वीक एविक्शन का शिकार हुए सिद्धार्थ डे****** में आज मिड वीक एलिमिनेशन हुआ। बिग बॉस के घर से सिद्धार्थ डे बाहर हो गए। माहिरा और सिद्धार्थ में फैसला होना था और फैसला माहिरा के हक में गया और सिद्धार्थ कम वोट की वजह से बाहर हो गए। आइए आपको हम देते हैं आज के बिग बॉस की हाईलाइट्स।

अंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलNumerology: इस अंक वाले लोग आज रहें बचकर, हो सकता भारी नुकसान******आपका ना सिर्फ आपके भविष्य और स्वभाव को उजागर करता है बल्कि अगर आप ताउम्र स्वस्थ और हेल्दी रहना चाहते हैं तो भी यह मूलांक आपके लिए मददगार साबित होगा है। आप मूलांक ज्वारा ये आसानी से जान सकते है कि आज आपका दिन कैसा बीतेगा।मूलांक का अर्थ है आपके जन्म की तारीख। यानि यदि आपका जन्म 2 मार्च को हुआ है तो आपका मूलांक 2 होगा। मूलांक हमारे स्वभाव, प्रकृति, गुण,दोष आदि के बारे बताता है। हमारे लिए जीवन में क्या उपयोगी है और क्या अनुपयोगी, यह मूलांक से ही जाना जाता है। यह आपके मित्र और शत्रुओं के बारे में भी बताता है।आपके करियर, जीवनसाथी, कार्यक्षेत्र और भाग्योदय की भी जानकारी देता है। मूलांक 1 से 9 तक माने जाते हैं। जिन लोगों का जन्म 9 से अधिक संख्या वाली तारीख को हुआ है वे अपने जन्मदिनांक को आपस में जोड़कर मूलांक पा सकते हैं। जैसे जिनका जन्म 11 तारीख को हुआ है उनका मूलांक 2 होगा। (1+1=2)। इसी तरह अन्य मूलांक आपस में जोड़कर निकाले जा सकते हैं। मूलांक आपके जीवन में बहुत अधिक प्रभाव डालते है। जानिए ज्योतिषचार्य इंदु प्रकाश से कि आपके मूलांक के अनुसार कैसा बीतेगा आपका दिन। पढ़ाई लिखाई में आपकी रुचि बढ़ेगी। फ्यूचर प्लानिंग में व्यस्त रहेंगे।मुश्किलों से न घबराएं।कार्यस्थल पर माहौल अच्छा बना रहेगा। आज आप मौजमस्ती के मूड में रहेंगे।बच्चों की सेहत की चिंता रहेगी। बिजनेस में नए अवसर मिलेंगे।आज आपके नए दोस्त बनेंगे।आय के नए स्रोत खुलेंगे।अंडमाननिकोबारमें10कोरोनापॉजिटिवमरीजहुएठीकदिल्लीकेनिजामुद्दीनमरकजकार्यक्रममेंहुएथेशामिलएक अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया शुक्रवार को 4 पैसा कमजोर होकर 64.22 पर खुला******हफ्ते के आखिरी कारोबारी सत्र में भारतीय रुपए की शुरुआत कमजोरी के साथ हुई है। शुक्रवार को एक अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया 4 पैसा कमजोर होकर 64.22 पर खुला है। जबकि, गुरुवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 3 पैसे की मामूली गिरावट के साथ 64.18 के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं, बुधवार के कारोबार में डॉलर के मुकाबले रुपया 6 पैसे की बढ़त के साथ 64.15 के स्तर पर बंद हुआ था। डॉलर के मुकाबले रुपए में बढ़त घरेलू मार्केट में विदेशी निवेशकों का निवेश बढ़ने से देखने को मिला है। पिछले कुछ समय से इक्विटी और डेट मार्केट में विदेशी निवेशकों का निवेश बढ़ रहा है, जिसका फायदा घरेलू करंसी को मिल रहा है। प्रथमेश ने कहा कि चुनावों में बीजेपी की जीत से विदेशी निवेशकों को इकनॉमी में सुधार प्रक्रिया के तेज होने की उम्मीद बनी गई है, जिसकी वजह से फ्लो बढ़ा है। इसके साथ ही डॉलर में कमजोरी की वजह से भी रुपए में बढ़त है। प्रथमेश ने मुताबिक डॉलर के मुकाबले रुपए में मौजूदा मजबूती को देखते हुए माना जा सकता है कि रुपया बढ़त के साथ 63.3 के स्तर तक जाएगा।रुपए में दो दिनों से जारी तेजी गुरुवार को थम गई। इंपोटर्सऔर बैंकों की डॉलर डिमांड से रुपया तीन पैसे की मामूली गिरावट के साथ 64.18 रुपए प्रति डॉलर पर बंद हुआ। आपको बता दें किपिछले दो दिनों में रुपया 9 पैसे मजबूत हुआ है।अमेरिकी सेंट्रल बैंक फेडरल रिजर्व की दो दिवसीय बैठक बुधवार देर रात को खत्म हुई। इस बैठक में ब्याज दरें नहीं बढ़ाने का फैसला लिया गया है। हालांकि, एक्सपर्ट्स मान रहे है जून में ब्याज दरें बढ़ने की सभावना बढ़ गई है। इसीलिए इंटरनेशनल मार्केट में डॉलर 6 हफ्ते की ऊंचाई पर पहुंच गया है।अमेरिकी फेडरल रिजर्व के द्वारा ब्याज दरों की वृद्धि करने के समय को लेकर अनिश्चितताओं के बीच पूरे दिन डालर-रपया विनिमय दर में सीमित दायरे में घट बढ़ चलती रही।अन्तरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में रपया 64.19 पर कमजोर खुला। बुधवार को बंद भाव 64.15 रपये प्रति डॉलर था। कारोबार के दौरान 64.19 से 64.24 रपये प्रति डॉलर के दायरे में घट बढ़ के बाद अंत में यह तीन पैसे अथवा 0.05 प्रतिशत की हानि दर्शाता 64.18 रपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ।

हाल का ध्यान

लिंक