नोएडा से भाजपा उम्मीदवार पंकज सिंह कोरोना संक्रमित, खुद ट्वीट कर दी जानकारी

2022-09-30 22:51:12 शिज़ू तुजिया स्वायत्त काउंटी

नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीभारतीय महिला हॉकी टीम 23 फरवरी को जर्मनी दौरे पर होगी रवाना******नई दिल्ली| भारतीय महिला हॉकी टीम चार मैचों की सीरीज के लिए मंगलवार को जर्मनी दौरे पर रवाना होगी। भारतीय टीम हाल में अर्जेटीना दौरे से लौटी थी, जहां उसने सात मैच खेले थे। 18 सदस्यीय टीम के साथ सात सपोर्ट स्टाफ भी जर्मनी दौरे पर जाएंगे। हॉकी इंडिया ने एक बयान में कहा कि अर्जेटीना से लौटने के बाद टीम बेंगलुरू के साई सेंटर में अभ्यास कर रही थी।भारतीय महिला हॉकी टीम जर्मनी दौरे पर अपना पहला मैच वर्ल्ड नंबर-3 जर्मनी के साथ 27 फरवरी को खेलेगी। इसके बाद दूसरा मैच 28 फरवरी को और फिर एक दिन के ब्रेक के बाद तीसरा मैच खेला जाएगा। दौरे का चौथा और अंतिम मैच चार मार्च को खेला जाएगा।भारतीय महिला हॉकी टीम की कोच शुअर्ड मरिन ने कहा, " हम दुनिया में एक और शीर्ष टीम के खिलाफ खेलने के लिए कम समय में दौरा करने के लिए खुद को सौभाग्य मानते हैं। टोक्यो ओलंपिक के लिए जर्मनी एक पसंदीदा जगह होगा और उनके खिलाफ हमारे स्तर का परीक्षण करने से वास्तव में तैयारियों के लिए हमें मदद मिलेगी। इस दौरे को सुनिश्चित करने के लिए हॉकी इंडिया और साई ने बेहतरीन काम किया और मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं।"भारतीय महिला टीम की गोलकीपर सविता ने कहा, " लगातार दौरा, टोक्यो ओलंपिक 2021 के लिए हमारी तैयारियों के लिहाज से शीर्ष स्थान पर रहने वाली टीमों के खिलाफ खेलने में फायदेमंद होगा। यह टीम के लिए विभिन्न संरचनाओं और विभिन्न खिलाड़ियों को खुद को आजमाने का एक और अवसर होगा। हम जर्मनी जैसी शीर्ष टीम के खिलाफ इन मैचों को खेलने के लिए उत्सुक हैं। मेरा मानना है कि यह न केवल अनुभव के मामले में टीम के लिए एक समृद्ध अनुभव होगा बल्कि इससे हमारी फिटनेस स्तर का भी चता चलेगा क्योंकि हम अर्जेंटीना के लंबे दौरे से आ रहे हैं।"सविता (उपकप्तान), रजनीदीप ग्रेस एक्का, गुरजीत कौर, उदिता, निशानिक्की प्रधान, मोनिका, नेहा, लिलिमा मिंज, सुशीला चानू पुखरामबाम, सलिमा टेटे, नवजोत कौररानी (कप्तान), लालरेमसियामी, नवनीत कौर, राजविन्दर कौर, शर्मिला देवी।

नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीअब हम दुनिया की पांचवीं बड़ी अर्थव्यवस्था: वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण******अब हम दुनिया की पांचवीं बड़ी अर्थव्यवस्था: वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण लोकसभा में मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का दूसरा बजट पेश करते हुए बताया कि भारत अब दुनिया की पांचवीं बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई है। उन्होंने कहा कि 2014-19 में भारत का एफडीआई बढ़कर 284 बिलियन अमेरिकी डॉलर पर पहुंच गया है और केंद्र सरकार का ऋण घटकर मार्च 2019 में जीडीपी के 48.7% पर आ गया है। वित्त मंत्री ने शनिवार को वित्त वर्ष 2020-21 का बजट पेश करते हुए कहा कि 2014-19 के दौरान औसत वृद्धि दर 7.4 प्रतिशत से अधिक रही। इस दौरान औसत मुद्रास्फीति 4.5 प्रतिशत रही। सीतारमण ने अपने बजट भाषण कई कल्याण योजनाओं मसलन सस्ता घर, प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (डीबीटी) और आयुष्मान भारत का जिक्र किया।भारत फ्रांस और यूनाइडेट किंगडम (यूके) को पीछे छोड़कर पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना गई। अगले 15 सालों तक भारत, जापान और जर्मनी के बीच तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बने रहने के लिए लड़ाई होगी।नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीभारतीय महिला हॉकी टीम 23 फरवरी को जर्मनी दौरे पर होगी रवाना******नई दिल्ली| भारतीय महिला हॉकी टीम चार मैचों की सीरीज के लिए मंगलवार को जर्मनी दौरे पर रवाना होगी। भारतीय टीम हाल में अर्जेटीना दौरे से लौटी थी, जहां उसने सात मैच खेले थे। 18 सदस्यीय टीम के साथ सात सपोर्ट स्टाफ भी जर्मनी दौरे पर जाएंगे। हॉकी इंडिया ने एक बयान में कहा कि अर्जेटीना से लौटने के बाद टीम बेंगलुरू के साई सेंटर में अभ्यास कर रही थी।भारतीय महिला हॉकी टीम जर्मनी दौरे पर अपना पहला मैच वर्ल्ड नंबर-3 जर्मनी के साथ 27 फरवरी को खेलेगी। इसके बाद दूसरा मैच 28 फरवरी को और फिर एक दिन के ब्रेक के बाद तीसरा मैच खेला जाएगा। दौरे का चौथा और अंतिम मैच चार मार्च को खेला जाएगा।भारतीय महिला हॉकी टीम की कोच शुअर्ड मरिन ने कहा, " हम दुनिया में एक और शीर्ष टीम के खिलाफ खेलने के लिए कम समय में दौरा करने के लिए खुद को सौभाग्य मानते हैं। टोक्यो ओलंपिक के लिए जर्मनी एक पसंदीदा जगह होगा और उनके खिलाफ हमारे स्तर का परीक्षण करने से वास्तव में तैयारियों के लिए हमें मदद मिलेगी। इस दौरे को सुनिश्चित करने के लिए हॉकी इंडिया और साई ने बेहतरीन काम किया और मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं।"भारतीय महिला टीम की गोलकीपर सविता ने कहा, " लगातार दौरा, टोक्यो ओलंपिक 2021 के लिए हमारी तैयारियों के लिहाज से शीर्ष स्थान पर रहने वाली टीमों के खिलाफ खेलने में फायदेमंद होगा। यह टीम के लिए विभिन्न संरचनाओं और विभिन्न खिलाड़ियों को खुद को आजमाने का एक और अवसर होगा। हम जर्मनी जैसी शीर्ष टीम के खिलाफ इन मैचों को खेलने के लिए उत्सुक हैं। मेरा मानना है कि यह न केवल अनुभव के मामले में टीम के लिए एक समृद्ध अनुभव होगा बल्कि इससे हमारी फिटनेस स्तर का भी चता चलेगा क्योंकि हम अर्जेंटीना के लंबे दौरे से आ रहे हैं।"सविता (उपकप्तान), रजनीदीप ग्रेस एक्का, गुरजीत कौर, उदिता, निशानिक्की प्रधान, मोनिका, नेहा, लिलिमा मिंज, सुशीला चानू पुखरामबाम, सलिमा टेटे, नवजोत कौररानी (कप्तान), लालरेमसियामी, नवनीत कौर, राजविन्दर कौर, शर्मिला देवी।

नोएडा से भाजपा उम्मीदवार पंकज सिंह कोरोना संक्रमित, खुद ट्वीट कर दी जानकारी

नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीजम्मू कश्मीर बीजेपी अध्यक्ष रवींद्र रैना ने उमर अब्दुल्ला को बताया 'रत्न', उमर ने जवाब में दिया ये रिएक्शन******Highlightsट्विटर पर एक वीडियो खूब चर्चा में है। इस वीडियो में एक दूसरे के धुर विरोधी माने जाने वाले नेता को अपने प्रतिद्वंदी की तारीफ करते देखा जा सकता है। दरअसल, इस वीडियो में जम्मू कश्मीर भाजपा के अध्यक्ष रवींद्र रैना कहते सुने जा सकते हैं कि उमर अब्दुल्ला केंद्र शासित प्रदेश के शीर्ष नेताओं में ‘रत्न’की तरह हैं। अब इस वीडियो की प्रतिक्रिया में उमर अब्दुल्ला का बयान आया है। नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने शुक्रवार को कहा कि राजनीतिक विरोधी दुश्मन नहीं होते हैं और सियासत में विभाजन और नफरत नहीं होती।वीडियो ऐसा है कि इसे देख कर तो कई लोग नेशनल कॉन्फ्रेंस और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के बीच कोई गुप्त डील होने की ओर इशारा कर रहे हैं। रैना ने कहा, ‘‘जब मैं विधानसभा सदस्य बना तो उमर भी वहां थे। हमने देखा कि एक व्यक्ति के रूप में उमर अब्दुल्ला जम्मू कश्मीर के शीर्ष नेताओं में रत्न की तरह हैं। इसलिए हम मित्र भी हैं।’’ उन्होंने कहा कि जब वह कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे तो सबसे पहले अब्दुल्ला ने उन्हें फोन कर हालचाल पूछा था।नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता ने ट्वीट के जवाब में कहा कि नेता लोग राजनीतिक रूप से असहमति रखते हैं लेकिन व्यक्तिगत रूप से एक दूसरे से नफरत नहीं करते। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘राजनीति में विभाजन और नफरत ही होती है, ऐसा क्यों माना जाता है? यह बात कहां लिखी है कि राजनीतिक असहमति के लिए हमें एक दूसरे से व्यक्तिगत रूप से घृणा करनी होगी? मेरे राजनीतिक विरोधी हैं, मेरे दुश्मन नहीं हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं रवींद्र के अच्छे शब्दों के लिए आभारी हूं।’’नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीDelhi: 200 करोड़ की ठगी करने वाले सुकेश चंद्रशेखर को लेकर बड़ा खुलासा, तिहाड़ जेल से बाहर भिजवाता था मैसेज******Highlights200 करोड़ की ठगी करने वाले सुकेश चंद्रशेखर के नए कारनामे सामने आएहैं। उसने दिल्ली की तिहाड़ जेल की सुरक्षा व्यवस्था को ठेंगा दिखाते हुए अपने मैसेज बाहर भिजवाए हैं। उसे नर्सिंग स्टाफ के जरिए खुद के मैसेज जेल से बाहर भिजवाते हुए पकड़ा गया है। गौरतलब है कि उस पर आरोप हैं कि वह दिल्ली की तिहाड़ जेल में रहा और आवाज बदलकर गृह मंत्रालय का अफसर बना और फिर फोन पर 200 करोड़ रुपए की ठगी की।दरअसल सीसीटीवी रिकार्डिंग चेक करने के दौरान अधिकारियों ने पाया है कि जेल के अस्पताल में कॉन्ट्रेक्ट पर काम करने आई एक नर्सिंग स्टाफ से सुकेश बात कर रहा है और उसे अपना एक लेटर दे रहा है। जो लेटर उसने नर्सिंग स्टाफ को दिया, उसे बाहर किसी को पहुंचाया जाना था।नर्सिंग स्टाफ नहीं दे पाया संतोषजनक जवाबइस बारे में जब नर्सिंग स्टाफ से पुछताछ हुई तो संतोषजनक जवाब नहीं मिला। फिलहाल तिहाड़ के अधिकारियों ने इसकी जांच के लिए दिल्ली पुलिस से संपर्क किया है जो पूरे मामले की जांच कर रही है।फिलहाल सुकेश चंद्रशेखर तिहाड़ की जेल नंबर 3 में मौजूद है और कभी भूख हड़ताल तो कभी सुरक्षा व्यवस्था से खिलवाड़ करके तिहाड़ अधिकारियों के नाक में दम करता रहता है। बता दें कि सुकेश को तिहाड़ में सेंद लगाने में तिहाड़ के भृष्ट अधिकारियों ने मदद की होगी, जिसकी वजह से उसने जेल में बैठकर करोड़ों की ठगी की और इसमें तिहाड़ के अधिकारियों ने उसका साथ दिया। बाद में उन पर मुकदमें भी हुए और जेल भी हुई।पत्नी से मिलने के लिए सुकेश ने की थी भूख हड़तालजेल में बंद अपराधी सुकेश चंद्रशेखर जेल अधिकारियों के विरोध में तिहाड़ जेल में दो बार भूख हड़ताल कर चुका है। ठग चाहता था कि जेल अधिकारी उसके लिए 'कैदी मीटिंग' के नियमों में ढील दें क्योंकि वह अपनी पत्नी से महीने में दो बार से ज्यादा मिलना चाहता है। उसने दो बार विरोध किया और बाद में 10 दिनों के लिए और फिर नौ दिनों के लिए भूख हड़ताल पर चला गया।करोड़पति बनने के सपने देखता था सुकेशकर्नाटक के बेंगलुरु में एक मध्यमवर्गीय परिवार में जन्मा सुकेश हमेशा अपने जीवन में करोड़पति बनने का सपना देखता था और अपने सपने को साकार करने के लिए उसने ठगी के जरिए पैसा कमाने की ठानी। उसने 17 साल की उम्र से लोगों को ठगना शुरू कर दिया था। 2007 में उसने नौकरी दिलाने के बहाने करीब 100 लोगों से 75 करोड़ रुपये ठगे थे। उस समय उसने खुद को एक बड़े नौकरशाह के रूप में पेश किया। कई सालों के बाद उसने राजनेता टीटीवी दिनाकरण को 50 करोड़ रुपए का चूना भी लगाया।नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीKiren Rijiju On Pending Cases: लंबित मामलों पर बोले कानून मंत्री किरण रिजिजू, कहा- 50 मामलों का निपटारा होता तो 100 और दायर हो जाते हैं******Highlightsकानून और न्याय मंत्री किरण रिजिजू ने लंबित मामलों की संख्या बढ़ने को लेकर बयान दिया है। दरअसल लंबित मामलों की संख्या पांच करोड़ के करीब पहुंच चुकी है। ऐसे में शनिवार को रिजिजू ने कहा कि अगर कोई न्यायाधीश 50 मामलों का निपटारा करता है, तो 100 नए मामले दायर हो जाते हैं, क्योंकि लोग अब अधिक जागरुक हैं और वे विवादों के निपटारे के लिए अदालतों में पहुंच रहे हैं। रिजिजू ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की उपस्थिति में ये भी कहा कि सशस्त्र बल न्यायाधिकरण के कामकाज पर एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार अदालतों में लंबित मामलों को कम करने के लिए टेक्नालॉजी का इस्तेमाल कर रही है।बता दें कि इससे पहले रिजिजू ने संसद के मानसून सत्र में एक प्रश्न के उत्तर में कहा था कि देशभर की अदालतों में 4.83 करोड़ से अधिक मामले लंबित हैं। निचली अदालतों में चार करोड़ से अधिक और उच्चतम न्यायालय में 72,000 से अधिक मामले लंबित हैं।मध्यस्थता पर प्रस्तावित कानून से मिलेगी मददमंत्री ने कहा कि मध्यस्थता पर प्रस्तावित कानून से अदालतों में मुकदमों की संख्या कम करने में मदद मिलेगी। भारत और अन्य देशों में लंबित मामलों की कोई तुलना नहीं की जानी चाहिए क्योंकि हमारी समस्याएं अलग हैं।उन्होंने कहा कि कुछ देश ऐसे भी हैं जिनकी आबादी पांच करोड़ भी नहीं है जबकि भारत में लंबित मामलों की संख्या पांच करोड़ के करीब है। उन्होंने आश्वासन दिया कि कानून मंत्रालय जल्द न्याय देने में सशस्त्र बल न्यायाधिकरण की हर संभव मदद करेगा।

नोएडा से भाजपा उम्मीदवार पंकज सिंह कोरोना संक्रमित, खुद ट्वीट कर दी जानकारी

नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीTula monthly horoscope September 2022: सितंबर में तुला राशि वालों का सोया भाग्य खुलेगा, होगी मां लक्ष्मी की कृपा******Highlights नया महीना शुरू होने जा रहा है और सितंबर का महीना नए रंग रूप के साथ नई सौगात लेकर आने वाला है। जहां नई सौगात हो वहां चुनौतियां भी होती हैं। तुला राशि वालों के लिए सितंबर का महीना कैसा होगा और किन उपायों से वो इसे बेहतर कर सकते हैं, इन सभी सवालों के जवाब आपको मिलेंगे लेकिन पहले जानते हैं तुला राशि किन लोगों की होती है। जिनका जन्म 23 सितंबर से 23 अक्टूबर के बीच होता है उनकी तुला राशि होती है। तुला राशि के लोगों के नाम का पहला अक्षर रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू या ते से शुरू होता है। तुला राशि का स्वामी शुक्र होता है। मशहूर ज्योतिषी चिराग बेजान दारुवाला से जानते हैं तुला राशि वालों के लिए सितंबर का महीना कैसा होगा।तुला राशि वालों के लिए सितंबर का महीना बहुत ही अच्छा होने वाला है। इस दौरान प्रेम संबंध रोमांटिक रहेंगे और आपका मन प्रसन्न रहेगा। कार्यक्षेत्र में अवसर धीरे-धीरे उत्पन्न होंगे और सफलता प्राप्त होगी। वहीं आपके जीवन में धन वृद्धि के शुभ संयोग भी बन रहे हैं। आपकी सेहत में धीरे-धीरे सुधार होगा। हालांकि परिवार में कोई युवा व्यक्ति तनाव बढ़ा सकता है।महीने के अंतिम दिनों में आपकी स्थिति में सुधार होगा और आपका मन खुश रहेगा। इस राशि के जातकों के लिए यह महीना बहुत ही शुभ है। एक ओर करियर के नए अवसर शुरू होंगे। वहीं दूसरी ओर काम का दबाव भी बढ़ेगा। इस महीने आपके मान-सम्मान में वृद्धि होगी और मित्र से संबंधित समाचार खुशियां लेकर आएंगे।इस महीने बड़ों का आशीर्वाद लें और योग के लिए समय दें तो आपके लिए ये महीना उत्तम हो जाएगा।नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीUP Election 2022 : सहारनपुर सीट से एसपी के आशु मलिक आगे, जगपाल सिंह पीछे******उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के लिए वोटों की गिनती जारी है। सहारनपुर विधानसभा सीट के लिए भी वोटों की गिनती चल रही है। सहारनपुर विधानसभा सीट पर दूसरे चरण में 14 फरवरी को वोटिंग हुई थी। ताजा रुझानों के मुताबिक इस सीट पर समाजवादी पार्टी के आशु मलिक आगे चल रहे हैं। वहीं बीजेपी के जगपाल सिंह पीछे चल रहे हैं।वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में इस सीट से कांग्रेस प्रत्याशी मसूद अख्तर ने जीत हासिल की थी। मसूद अख्तर को कुल 87,689 वोट मिले थे। वहीं बीएसपी उम्मीदवार जगपाल सिंह 75,365 वोट मिले थे और वह दूसरे स्थान पर रहे थे। वहीं बीजेपी उम्मीदवार मनोज चौधरी को 58,752 वोट मिले थे और वह तीसरे स्थान पर रहे थे।आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा की 403 सीटों के लिए कुल सात चरणों में चुनाव संपन्न हुए । पहले चरण का चुनाव 10 फरवरी को संपन्न हुआ। दूसरे चरण में 14 फरवरी को वोट डाले गए । तीसरे चरण का चुनाव 20 फरवरी, चौथे चरण का चुनाव 23 फरवरी, पांचवें चरण का चुनाव 27 फरवरी, छठे चरण का चुनाव 3 मार्च और सातवें एवं अंतिम चरण का चुनाव 7 मार्च को संपन्न हुआ।

नोएडा से भाजपा उम्मीदवार पंकज सिंह कोरोना संक्रमित, खुद ट्वीट कर दी जानकारी

नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीइंटरनेशनल डे ऑफ हैप्पीनेस: दोस्तों, करीबियों और रिश्तेदारों को ये मैसेज भेजकर बांटे खुशियां******20 मार्च को सेलिब्रेट किया जाता है। इस दिन को नजरिए में बदलाव के मकसद से सेलिब्रेट किया जाता है, जिसका श्रेय समाज सेवी जेमी इलियन को जाता है। उन्होंने दुनिया को बताया कि सिर्फ आर्थिक विकास ही नहीं, बल्कि लोगों की खुशहाली भी बेहद जरूरी है।हैप्पीनेस डे के लिए हर साल कोई ना कोई थीम रहती है। इस बार की थीम है-संयुक्त राष्ट्र साल 2013 से इस दिन को सेलिब्रेट कर रहा है, ताकि दुनिया भर में मौजूद लोगों की खुशी के महत्व को जाहिर किया जा सके। ये दिवस याद दिलाता है कि लोगों को किसी भी परिस्थिति में खुश रहना चाहिए। साल 2012 में संयुक्त राष्ट्र की आम सभा ने अपने प्रस्ताव के तहत 20 मार्च को मनाने का ऐलान किया था।ये प्रस्ताव समाज सेवी, कार्यकर्ता और संयुक्त राष्ट्र के विशेष सलाहकार रहे जेमी इलियन ने रखा था। उन्होंने ही इसकी अवधारणा और रूपरेखा तैयार की थी।खबरों के मुताबिक, जेमी इलियन को इस प्रस्ताव को रखने के दौरान संयुक्त राष्ट्र के तत्कालीन मुखिया बान की मून का भी समर्थन मिला था। फिर यूएन के सभी देशों ने इसे स्वीकार किया था।

नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीमेरी स्पीड, दक्षता मुझे 40 का महसूस कराती हैं: आशा भोसले******दिग्गज गायिका आशा भोसले 88 वर्ष की हैं, लेकिन उनका कहना है कि वह खुद को 40 का महसूस करती हैं। पाश्र्व गायिका कहती हैं कि वह अपनी उम्र से करीब आधी महसूस इसलिए करती हैं, क्योंकि, वह गति और दक्षता में भरोसा करती हैं। गायिका ने कहा, "मुझे लगता है कि यह मेरी गति और दक्षता है। मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहती हूं और इसे तेजी के साथ करना चाहती हूं। उदाहरण के लिए मैं वास्तव में तेजी से खाना बनाती हूं। अन्य लोग रसोई से बाहर निकल जाते हैं (हंसते हुए), क्योंकि वे मेरी गति के साथ मेल नहीं खा पाते हैं। वैसे मजाक छोड़ दें, तो मैं अपने संगीत के प्रति ईमानदारी का सम्मान करती हूं। ईमानदारी मेरा एक अभिन्न अंग है। इसने मुझे पीड़ा भी पहुंचाई है, लेकिन मेरे 87 वर्षों में मैं हमेशा से ईमानदार रही हूं कि मुझे काम और जीवन, दोनों में क्या करना है।"इस साल अपने जन्मदिन के बाद उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था, "मैंने अपना 87वां साल पूरा कर लिया है और अपने 88वें पड़ाव में आ गई हूं, लेकिन मुझे अब भी मैं 40 की लगती हूं! मुझे आशा है कि मेरी तरह आप सब भी जीवन के बारे में सकारात्मक महसूस करेंगे।"इस साल उनका जन्मदिन महामारी के कारण करीबी परिवार के साथ मना। इसपर उन्होंने कहा, "इस कोविड-19 स्थिति के मद्देनजर मैंने हेयरस्टाइलिस्ट, मेकअप आर्टिस्ट और डिजाइनर के तौर पर खुद का वीडियो शूट किया है। मैंने इसका लुत्फ उठाया है। मैंने बहुत से व्यंजन बनाए हैं। मैंने अपना जन्मदिन अपने पोते जनाई और रंजाई और अपने बेटे आनंद और बहू अनुजा के साथ बिताया। मुझे यह बहुत पसंद आया।"उन्होंने आगे कहा, "परिवार से घिरा होना अच्छा लगता है। आम तौर पर हर कोई अपने जीवन में व्यस्त रहता है। लेकिन अब, हम सब एक साथ हैं। जनाई ने मेरा पसंदीदा खाना ऑर्डर किया। हर पल ईश्वर की ओर से मिला उपहार है। मैं बहुत आभारी हूं। मैं आने वाले सालों के लिए भी स्वस्थ्य बने रहना चाहती हूं।"नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीBihar: मोकामा के बाहुबली विधायक अनंत सिंह को 10 साल की जेल, जानें किस मामले में हुई सजा******Highlights बिहार के मोकामा से विधायक अनंत सिंह (Anant Singh) को 10 साल की जेल की सजा सुनाई गई है। उन्हें ये सजा पटना में एमपी-एमएलए कोर्ट द्वारा AK-47 केस में सुनाई गई है। गौरतलब है कि अनंत सिंह को 14 जून को ही आर्म्स एक्ट के इस मामले में दोषी ठहराया था। दरअसल पटना की MP-MLA कोर्ट ने 14 जून को मोकामा (Mokama)के बाहुबली आरजेडी विधायक अनंत सिंह (Anant Singh) को AK-47 और हैंड ग्रेनेड बरामदगी मामले में दोषी करार दिया था और इस मामले में उनकी सजा का ऐलान 21 जून को होना था।पुलिस ने आरजेडी (RJD) विधायक अनंत सिंह (Anant Singh) के पटना के बाढ़ प्रखंड के लदमागांव स्थित पैतृक आवास पर 2019 में छापेमारी की थी और एके-47 राइफल, हैंड ग्रेनेड और कारतूस बरामद किया था। सांसदों और विधायकों के मामलों की सुनवाई के लिए गठित विशेष अदालत के जज त्रिलोकी दुबे ने सोमवार को बहस पूरी होने के बाद मंगलवार तक के लिए अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। इसके बाद आज सजा का ऐलान किया गया।अनंत सिंह के गांव में साल 2019 में पड़ा था छापाविधायक अनंत सिंह (Anant Singh) के लदमा स्थित घर से साल 2019 में एके-47 राइफल और हैंड ग्रेनेड बरामद किया गया था।हालांकि अनंत ने इस मामले को राजनीतिक साजिश बताया था। उनका कहना था कि इस घर में बीते 14 साल से ताला लगा है तो वहां AK-47 कैसे आ गया? अनंत ने कहा था कि उन्हें फंसाने के लिए ये सब किया जा रहा है। वहीं इस मामले में पुलिस का कहना था कि उन्हें सूचना मिली है कि लदमा स्थित उनके घर में कुछ अवैध हथियार और विस्फोटक छिपाकर रखे गए हैं। जिसके बाद पुलिस ने छापेमारी की और हथियार और हैंड ग्रेनेड बरामद किए।बता दें कि अनंत सिंह को बिहार का बाहुबली नेता माना जाता है। उन्हें यहां की जनता छोटे सरकार कहकर संबोधित करती है। अनंत सिंह के अलावा AK-47 मामले में उनके केयरटेकर को भी 10 साल की सजा सुनाई गई है।

नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीडॉलर के मुकाबले अब तक के सबसे निचले स्‍तर 73.77 पर पहुंचा रुपया, 44 पैसे की बड़ी गिरावट******Rupee aginst dollar डॉलर के मुकाबले रुपए की कमजोरी थमने का नाम नहीं ले रही है। बुधवार को 73 रुपए का स्‍तर तोड़ने के बाद गुरुवार को एक बार फिर रुपए ने अपना न्‍यूनतम स्‍तर छुआ। आज अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया गिरकर 73.77 के रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच गया।आयातकों की ओर से डॉलर की सतत मांग और कच्चे तेल की ऊंची कीमतों के कारण रुपया पर दबाव रहा।बुधवार को रुपया 43 पैसे गिरकर 73.34 के रिकॉर्ड निचले स्तर पर बंद हुआ था। वहीं दूसरी ओर भारत सरकार भी रुपए की कमजोरी को थामने की कोशिश कर रही है। कल ही सरकार ने ऑयल मार्केटिंग कंपनियों को विदेशी बाजार से 10 बिलियन डॉलर तक कर्ज लेने की छूट दे दी है। जिससे कि उनकी कार्यशील पूंजी की मांग पूरी की जा सके।नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीअब भारत में जल्द मिलेगा गूगल पिक्सल का ये धांसू फोन, कंपनी ने इसे लेकर दी बड़ी जानकारी******भारत में अपने फ्लैगशिप पिक्सल 3 को लॉन्च करने के वर्षो बाद गूगल ने पुष्टि की है कि वह अपनी नेक्स जेनेरेशन फोन पिक्सल 7 सीरीज को भारत में लाने के लिए पूरी तरह तैयार है। पिक्सल 7 और पिक्सल 7 प्रो फ्लिपकार्ट पर उपलब्ध होंगे, जिसे आप ऑनलाइन ऑर्डर कर सकते हैं।कंपनी ने ट्वीट करते लिखा, "हमारी दिल की धड़कनें तेज हैं क्योंकि इंतजार लगभग खत्म हो गया है! पिक्सल 7 प्रो और 7, जल्द ही भारत आ रहे हैं।"2018 में पिक्सल 3 सीरीज के बाद, गूगल ने भारत में मेनलाइन पिक्सल फोन का उत्पादन बंद कर दिया था। पिक्सल 4, पिक्सल 5 और पिक्सल 6 को देश में कभी पेश नहीं किया गया।हालांकि, कंपनी ने कुछ ए-सीरीज मॉडल जैसे कि पिक्सल 3ए, पिक्सल 4ए और हाल ही में पिक्सल 6ए देश में जारी किए। हाल ही में आई एक रिपोर्ट में कहा गया है कि पिक्सल 7 6.3-इंच डिस्प्ले के साथ होगा, जिसका मतलब है कि यह पिक्सल 6 पर उपलब्ध 6.4-इंच की स्क्रीन से थोड़ा छोटा होगा। 6 अक्टूबर को कंपनी इस सीरीज की लॉन्चिंग करेगी। एक टिपस्टर के अनुसार, नया चिपसेट उसी सीपीयू का उपयोग करेगा जो मूल टेंसर के रूप में होगा।नए पिक्सल स्मार्टफोन की खबरों के बीच टेक दिग्गज गूगल ने संकेत दिया है कि उसका मौजूदा फ्लैगशिप पिक्सल 5, पिक्सल 4ए 5जी के साथ बंद कर दिया जाएगा। द वर्ज के अनुसार, दोनों वर्तमान में गूगल के ऑनलाइन स्टोर पर बिक चुके हैं, और अन्य खुदरा विक्रेताओं पर शेष स्टॉक लंबे समय तक चलने की संभावना नहीं है।कंपनी के प्रवक्ता ने टेक वेबसाइट को बताया, हमारे मौजूदा पूवार्नुमानों के साथ, हम उम्मीद करते हैं कि पिक्सल 4 ए 5जी के लॉन्च के बाद आने वाले हफ्तों में अमेरिका में गूगल स्टोर पिक्सल 4ए ( 5जी) और पिक्सल 5 को बेच देगा। प्रवक्ता ने कहा, ये उत्पाद कुछ भागीदारों के माध्यम से उपलब्ध रहेंगे, जबकि आपूर्ति खत्म हो जाएगी।रिपोर्ट के अनुसार, यह बहुत आश्चर्यजनक नहीं है कि 4ए5जीको बंद किया जा रहा है, क्योंकि 5ए 5जी काफी प्रत्यक्ष उत्तराधिकारी लगता है। हालांकि, यह देखना थोड़ा असामान्य है कि पिक्सल 6 के आने से पहले पिक्सल 5 को अच्छी तरह से बंद कर दिया गया है। हाल ही में, गूगल ने घोषणा की कि उसने अगली पीढ़ी के पिक्सल 6 स्मार्टफोन को पावर देने के लिए अपनी कस्टम-निर्मित चिप विकसित की है जो इस साल के अंत में बाजार में आएगी।

नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीShare Market में लगातार दूसरे कारोबारी सत्र में रही तेजी, Sensex 465 अंक चढ़ा, निफ्टी 17,500 अंक के पार******Highlightsमें सोमवार को लगातार दूसरे कारोबारी सत्र में तेजी रही और बीएसई सेंसेक्स 465 अंक से अधिक चढ़ गया। वैश्विक बाजार में सकारात्मक रुख के साथ एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी लि.तथा रिलायंस इंडस्ट्रीज में तेजी के साथ बाजार में मजबूती आई। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 465.14 अंक यानी 0.80 प्रतिशत की बढ़त के साथ 58,853.07 अंक पर बंद हुआ। दिन में कारोबार के दौरान यह 546.97 अंक तक चढ़ गया था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 127.60 अंक यानी 0.73 प्रतिशत की तेजी के साथ 17,525.10 अंक पर बंद हुआ।सेंसेक्स के शेयरों में महिंद्रा एंड महिंद्रा को सर्वाधिक लाभ रहा। कंपनी के शेयर में 3.13 प्रतिशत की तेजी आई। इसके अलावा बजाज फिनसर्व, एनटीपीसी, एक्सिस बैंक, एचडीएफसी बैंक, लार्सन एंड टुब्रो, एचडीएफसी, डॉ.रेड्डीज, इंडसइंड बैंक और रिलायंस इंडस्ट्रीज में भी प्रमुख रूप से तेजी रही। दूसरी तरफ, नुकसान में रहने वाले शेयरों में भारतीय स्टेट बैंक, अल्ट्राटेक सीमेंट, नेस्ले, विप्रो और पावरग्रिड शामिल हैं। एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, चीन का शंघाई कंपोजिट और जापान का निक्की लाभ में रहे जबकि हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहा। यूरोप के प्रमुख बाजारों में दोपहर के कारोबार में तेजी का रुख रहा। अमेरिकी बाजार शुक्रवार को नुकसान में थे।इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.68 प्रतिशत की गिरावट के साथ 94.32 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध लिवाल रहे। उन्होंने शुक्रवार को 1,605.81 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘मुख्य रूप से विदेशी संस्थागत निवेशकों की सतत लिवाली और तेल के दाम में नरमी से बाजार में तेजी रही। आज की बढ़त में प्रमुख कंपनियों के शेयरों का उल्लेखनीय योगदान रहा। सार्वजनिक क्षेत्र के एक बैंक का वित्तीय नतीजा उम्मीदों के अनुरूप नहीं रहा है। इससे बैंक शेयर दबाव में रहे।’’अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में सोमवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 40 पैसे की गिरावट के साथ 79.64 (अस्थायी) पर बंद हुआ। निवेशकों की जोखिम उठाने की धारणा कमजोर होने के बीच रुपया नीचे आया। बाजार सूत्रों ने कहा कि कच्चे तेल की वैश्विक कीमतों में कमी आने तथा घरेलू शेयर बाजार में तेजी के साथ रुपये की विनिमय दर में गिरावट पर कुछ अंकुश लगा। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 79.50 के स्तर पर कमजोर खुला। कारोबार के दौरान 79.45 से 79.65 रुपये के दायरे में रहने के बाद अंत में 40 पैसे टूटकर 79.64 प्रति डॉलर पर बंद हुआ। रुपया शुक्रवार को 79.24 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था।नोएडासेभाजपाउम्मीदवारपंकजसिंहकोरोनासंक्रमितखुदट्वीटकरदीजानकारीAryan khan Drug Case: मुंबई NCB जोनल डायरेक्टर समीर वानखड़े ने लिखा पत्र, कमिश्नर हेमन्त नागराले से की अपील******नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने दो दिन अनन्या पांडे से पूछताछ की और सोमवार को फिर से उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया गया है। इसके साथ ही सहित सभी 20 आरोपियों के बैंक डिटेल्स की जांच जारी हैं। ड्रग्स खरीदने के लिए आरोपी नंबर 1 आर्यन खान ने कभी पैसे अपने अकाउंट से दिए है या नहीं इसकी जांच एनसीबी कर रही है।अनन्या से पूछताछ में कुछ अहम सुराग हाथ लगे हैं, अगर जरूरत पड़ी तो कुछ नए चैट्स हाई कोर्ट में सुनवाई के दौरान जज को दिखायेंगे। इस केस से जुड़े 5 से 7 नए ड्रग्स पेडलर्स की डिटेल्स हमारे हाथ लगी है ,अन्य राज्यों से ड्रग्स महाराष्ट्र में आने के सबूत हाथ लगे हैं।

हाल का ध्यान

लिंक