वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > लाउदी > मूलपाठ

डिजिटल ट्रांसफर के जरिए केंद्र ने बचाए 90000 करोड़ रुपए, 440 सरकारी योजनाओं के लाभान्वितों को डिजिटल तरीके से दिए पैसे

2022-10-04 17:08:21 लाउदी

डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेAsia Cup 2022 Points Table : भारत नहीं, ये टीम है नंबर वन पर काबिज******Highlightsएशिया कप 2022 के मैचों के दौरान लगाातर अंक तालिका भी बदल रही है। टीम इंडिया ने अपने दूसरे मैच में हांगकांग को हरा दिया है, इसके साथ ही प्वाइंट्स टेबल में फिर से बदलाव हो गया है। लेकिन आपको जानकर ताज्जुब होगा कि भारतीय टीम अपने दोनों मैच जीतकर भी प्वाइंट्स टेबल में नंबर एक पर नहीं है। हालांकि अच्छी बात ये है कि भारत ने सुपर 4 में प्रवेश कर लिया है और अब उसका अगला मुकाबला चार सितंबर को इसी दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम पर खेला जाना है।एशिया कप की छह टीमें में से भारत और अफगानिस्तान ने अपने दोनों मैच जीतकर सुपर 4 में एंट्री की है। भारतीय टीम ने जहां पाकिस्तान और हांगकांग को हराया है, वहीं अफगानिस्तान ने श्रीलंका और बांग्लादेश को हराया है। सुपर 4 में अभी दो जगह और खाली हैं, लेकिन दावेदार चार हैं। अभी तक कोई भी टीम एशिया कप के इस साल के सीजन से बाहर नहीं हुई है, लेकिन इतना पक्का है कि आज एक टीम बाहर हो जाएगी। आज बांग्लादेश और श्रीलंका की टीमें आमने सामने होंगी, जो भी टीम जीतेगी, वो सुपर चार में जाएगी और जो टीम हारेगी, वो बाहर हो जाएगी। इसी तरह से पाकिस्तान और हांगकांग का मैच होेगा, ये भी नॉकआउट मैच होगा, जिसमें जो भी टीम हारेगी वो बाहर हो जाएगी और जीतने वाली टीम सुपर 4 में चली जाएगी, यानी अब हरएक मैच काफी खास और अहम होने वाला हैै।इस बीच अगर एशिया कप 2022 की प्वाइंट्स टेबल पर नजर डालें तो पता चलता है कि अपने दोनों मैच जीतने वाली अफगानिस्तान की टीम नंबर वन पर काबिज है, वहीं टीम इंडिया भी अपने दोनों मैच जीतने के बाद नंबर दो पर है। दोनों टीमों ने अपने दोनों मैच जीते हैं, लेकिन नेट रन रेट अफगानिस्तान का बेहतर है, इसलिए वो नंबर वन है। अफगानिस्तान का नेट रन रेट प्लस 2.467 है, वहीं भारत का नेट रन रेट प्लस 1.096 है। भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ करीब मैच जीता था, वहीं हांगकांग से आसानी से तो मैच जीता, लेकिन भारत ने हांगकांग के पूरे विकेट नहीं गिरा पाए और टीम ने पूरे 20 ओवर बल्लेबाजी की, वहीं अफगानिस्तान ने अपने दोनों मैच बड़ी आसानी से जीते थे। हालांकि इसका असर टीम इंडिया पर नहीं पड़ेगा और सुपर 4 के जब मुकाबले शुरू होंगे जो नए सिरे से सारी कवायद की जाएगी।

डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेkoffee with karan 6: करण के चैट शो में भाई हर्षवर्धन और बहन रिया के साथ नजर आएंगी सोनम कपूर******इन दिनों करण जौहर के चैट शो में जितने भी सितारे आ रहे हैं उनके बारे में काफी दिलचस्प बातें जानने को मिल रही हैं। 'कॉफी विद करन' के सीजन 6 में इस बार अपने भाई-बहन रिया और हर्षवर्धन के साथ नजर आने वाली हैं। इस एपिसोड में कपूरफैमिलीके कई राज पता लगने वाले हैं। सोनम कपूर पिछले एक महीने से यूके में अपने पति के साथ थीं। जहांसे वह फोटोजशेयर करतीरहतीथीं।एक महीने यूके में रहने के बाद सोनम वापिस मुंबई आ चुकी हैं।सोनम के मुंबई आने का बाद उन्होंने 'कॉफी विद करन' की शूटिंग की है। हर्षवर्धन ने कॉफी विद करन के सेट से एक फोटो शेयर की है। जिसमें रिया, सोनम, हर्षवर्धन और करण जौहर हैं।सोनमकपूर पहले भी करण जौहर के चैट शो में आ चुकी हैं लेकिन रिया और हर्षवर्धन का यह डेब्यू शो होने वाला है। यह एपिसोड अभी से काफी दिलचस्प लग रहा है। सोनम कपूर इससे पहले कॉफी विद करन में दीपिका पादुकोण, अनिल कपूर और करीना कपूर खान के साथ नजर आ चुकी हैं।इससे पहले कपूर खानदार से अर्जुन कपूर और जाह्नवी कपूर भी इसी सीजन कॉफी विद करन का हिस्सा बन चुके हैं। वो एपिसोड भी काफी मजेदार रहा था। उस एपिसोड में अर्जुन और जाह्नवी ने फैमिली और पर्सनल सभी से जुड़ी बातें की।इसके साथ ही सोमन कपूर फिल्म एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा में नजर आने वाली हैं। फिल्म में सोनम के साथ अनिल कपूर, जूही चावला और राजकुमार राव नजर आने वाले हैं। यह फिल्म 1 फरवरी को रिलीज होने वाली है।डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेकरवा चौथ 2018: आज सुहागिनें रखेंगी अपनी पति की लंबी आयु के लिए ये व्रत, जानें कब निकलेगा चांद , शुभ मुहूर्त और पूजा विधि******कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को का व्रत किया जाता है। इस बार करवा चौथ आज यानि27अक्टूबर, शनिवार को पड़ रहा है। करवा चौथ (Karva Chauth) के बारे में पूर्ण निवरण वामन पुराण में दिया गया है। दशहरा के साथ ही त्यौहारों का सीजन शुरु हो गया है। नवरात्र, दशहरा के बाद अब करवा चौथ, धनतेरस, दीवाली जैसे बड़े त्यौहार पड़ रहे है। जिसे लेकर हर कोई उत्साहित है।विवाहित महिलाएं इस दिन अपने पति की दीर्घायु एवं स्वास्थ्य की कामना करने के साथ-साथ कुंवारी कन्याएं भी इस दिन मनचाहा वर पाने के लिए चंद्रमा को अर्घ्य अर्पित कर व्रत को पूरा करती हैं। इस व्रत में रात में शिव, पार्वती, स्वामी कार्तिकेय, गणेश और चंद्रमा के तस्वीरों और सुहाग की वस्तुओं की पूजा का विधान है। इस दिन निर्जला व्रत रखकर चंद्रमा के दर्शन और अर्घ्य अर्पण कर भोजन ग्रहण करना चाहिए। जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि के बारें में।चतुर्थी तिथि प्रारंभ: 27 अक्‍टूबर की शाम 06 बजकर 37 मिनट।चतुर्थी तिथि समाप्‍त: 28 अक्‍टूबर की शाम 04 बजकर 54 मिनट।पूजा का शुभ मुहूर्त: 27 अक्‍टूबर की शाम 05 बजकर 48 मिनट से शाम 07 बजकर 04 मिनट तक।कुल अवधि: 1 घंटे 16 मिनट।करवा चौथ के दिन सरगी का बहुत अधिक महत्‍व है। इस दिन व्रत करने वाली महिलाएं और लड़कियां सूर्योदय से पहले उठकर स्‍नान करने के बाद सरगी खाती हैं। सरगी सास तैयार करती हैं। इस सरगी में सूखे मेवे, नारियल, फल और मिठाई खाई जाती है। अगर सास नहीं है तो घर का कोई बड़ा भी अपनी बहू के लिए सरगी बना सकता है। जो लड़कियां शादी से पहले करवा चौथ का व्रत रख रही हैं उसके ससुराल वाले एक शाम पहले उसे सरगी दे आते हैं। सरगी सुबह सूरज उगने से पहले खाई जाती है ताकि दिन भर ऊर्जा बनी रहे।करवाचौथ पर महिलाएं चंद्रमा की पूजा करती हैं। इस दिन महिलाएं बिना चंद्रमा के पूजा संपन्न कर अपने पति के हाथ से पानी पीकर अपना व्रत खोलती हैं। कहा जाता है कि चांद देखे बिना व्रत अधूरा रहता है। जबतक चांद की पूजा के कोई महिला न कुछ भी खा सकती हैं और न पानी पी सकती हैं।चंद्रमा की पूजा के दौरान महिलाओं को एक घेरा बनाकर बैठती हैं और फिर एक महिला 7 बार फेरी लगाकर एक-दूसरे से थाली बदलती हैं। इस फेरी के दौरान गीत गाएं जाते हैं। महिलाएं अपने सुहाग की लंबी आयु की कामना करती जाती हैं और थाली को 7 बार फेरती जाती है।

डिजिटल ट्रांसफर के जरिए केंद्र ने बचाए 90000 करोड़ रुपए, 440 सरकारी योजनाओं के लाभान्वितों को डिजिटल तरीके से दिए पैसे

डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेपेपर लीक मामला: हाई कोर्ट ने CBSE से पूछा, कब होगा 10वीं के मैथ का रीटेस्ट****** ने सोमवार को से सवाल किया कि यदि वह की दोबारा परीक्षा करवाना चाहता है, तो उसकी योजना क्या है। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश गीता मित्तल और जस्टिस सी. हरि शंकर की पीठ ने याचिका पर सुनवाई करते हुए CBSE से कहा कि वह 10 वीं की गणित की संभावित पुन: परीक्षा कराने की योजना से उसे अवगत कराए। CBSE ने अदालत को सूचित किया था कि वह नये सिरे से परीक्षा की तिथि घोषित करने से पहले लीक की गंभीरता और व्यापकता का आंकलन कर रहा है।अदालत ने CBSE की 12वीं के अर्थशास्त्र और 10वीं के गणित का प्रश्नपत्र लीक होने के मामले की जांच अदालत की निगरानी में कराने की मांग करने वाली याचिका पर CBSE और केंद्र से जवाब भी मांगा है। संक्षिप्त सुनवाई के दौरान पीठ ने CBSE से पूछा कि वह कैसे पुन: परीक्षा के लिए जुलाई तक इंतजार कर सकता है और विद्यार्थियों को यूं अधर में लटकाए रह सकता है। अदालत ने कहा कि इससे ना सिर्फ विद्यार्थियों का शैक्षणिक वर्ष बर्बाद होगा बल्कि यह ‘उनके सिर पर नंगी तलवार लटकते रहने जैसा है।’ CBSE ने कहा कि उसने 10वीं की गणित की पुन: परीक्षा करवाने पर अभी तक फैसला नहीं लिया है। वह अभी आंकलन कर रही है कि पर्चा पूरे देश में लीक हुआ था या सिर्फ दिल्ली और हरियाणा में। अदालत ने दलीलें सुनने के बाद CBSE से कहा कि वह इस संबंध में फैसला करे और 16 अप्रैल तक उसे सूचित करे।पीठ ने कहा कि 10वीं कक्षा भी विद्यार्थियों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि उनके परीक्षा परिणाम से ही तय होता है कि 11वीं और 12वीं में वह किस विषय की पढ़ाई करेंगे। CBSE ने 12वीं की अर्थशास्त्र की पुन: परीक्षा 25 अप्रैल को कराने की घोषणा कर दी है। अदालत के समक्ष सोमवार को एक जनहित याचिका दायर की गई थी। पीठ उसी पर सुनवाई कर रही थी। गैर सरकारी संगठन सोशल ज्यूरिस्ट की ओर से दायर याचिका में 10वीं की गणित की पुन: परीक्षा जुलाई की बजाए अप्रैल में करवाने की भी मांग की गई है। इसके अलावा अधिवक्ता अशोक अग्रवाल की ओर से दायर याचिका में अनुरोध किया गया है कि अर्थशास्त्र और गणित की पुन: परीक्षाओं में बच्चों की उत्तर पुस्तिकाओं की जांच में नरमी बरती जाए।डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेकेरल में कोरोना वायरस संक्रमण के 11,669 नए मामले, 58 और लोगों की मौत******केरल में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण से 58 और मरीजों की मौत हो गई तथा महामारी के 11,699 नए मामले सामने आए। इसके साथ ही कुल मामले बढ़कर 46,41,614 हो गए और मृतकों की संख्या 24,661 पर पहुंच गई। एक आधिकारिक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया कि पिछले एक दिन में 17,763 लोग ठीक हो गए। राज्य में अब तक कोविड-19 से पीड़ित होने के बाद 44,59,193 लोग ठीक हो चुके हैं और अभी 1,57,158 मरीज उपचाराधीन हैं। पिछले 24 घंटे में 80,372 नमूनों की जांच की गई।वहीं, ने कहा कि वह तीन दिन बाद केंद्र सरकार की उस अपील पर सुनवाई करेगा जो कोविशील्ड की पहली खुराक के चार सप्ताह बाद ही दूसरी खुराक लेने की अनुमति देने के विरुद्ध दायर की गई थी। हाईकोर्ट के एकल न्यायाधीश की पीठ ने वैक्सीन की पहली खुराक के चार सप्ताह बाद दूसरी खुराक लेने के इच्छुक लोगों को इसकी अनुमति दी थी। हालांकि, केंद्र सरकार के दिशा निर्देशों के अनुसार पहली खुराक के 84 दिन बाद दूसरी खुराक लेने का सुझाव दिया गया है।मुख्य न्यायाधीश एस मणिकुमार और न्यायमूर्ति शाजी पी चाली ने इस मामले में कोई अंतरिम आदेश नहीं दिया और मामले की अगली सुनवाई के लिए 30 सितंबर की तारीख तय की। केंद्र सरकार ने तीन सितंबर को न्यायमूर्ति पी बी सुरेश कुमार की एकल पीठ के आदेश को चुनौती दी है। एकल पीठ ने यह आदेश किटेक्स गारमेंट्स लिमिटेड की याचिका पर दिया था। इस याचिका में अनुरोध किया गया था कि कम्पनी के कर्मचारियों को वैक्सीन की पहली खुराक के बाद 84 दिन तक रुकने की बजाय पहले ही दूसरी खुराक लेने की अनुमति दी जाये।किटेक्स ने यह भी कहा था कि उसने अपने पांच हजार से ज्यादा कर्मचारियों को कोविड वैक्सीन की पहली खुराक दी और दूसरी खुराक के लिए प्रबंध किया जिसमें लगभग 93 लाख रुपये का खर्च आया लेकिन प्रतिबंध के कारण कर्मचारियों को दूसरी खुराक नहीं लग सकी। केंद्र सरकार ने अपनी अपील में कहा है कि अगर एकल न्यायाधीश के आदेश को रद्द नहीं किया गया तो देश में वैक्सीनेशन नीति पटरी से उतर सकती है और कोविड-19 से मुकाबला करने की केंद्र सरकार की रणनीति का क्रियान्वयन ठीक प्रकार से नहीं हो सकेगा।डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेबिग बॉस 13 ग्रैंड फिनाले: रश्मि देसाई हुईं बाहर, टॉप 3 में पहुंचे सिद्धार्थ शुक्ला-आसिम रियाज और शहनाज******पॉपुलर रिएलिटी शो अंतिम पड़ाव पर है। थोड़ी ही देर में इस सीजन का विनर अनाउंस किया जाएगा। टॉप 5 में सिद्धार्थ शुक्ला, आसिम रियाज, शहनाज गिल, रश्मि देसाई और आरती सिंह थे, लेकिन कम वोट मिलने के कारण आरती इस रेस से बाहर हो गई हैं। इसके बाद रश्मि देसाई भी बाहर निकल गईं। ऐसे में सिद्धार्थ, आसिम और शहनाज टॉप 3 में अपनी जगह बनाने में कामयाब हुए हैं। अब ये देखना दिलचस्प होगा कि इनमें से कौन विनर होगा।रश्मि देसाई ने मंच पर आकर कहा कि 'मुझे पता नहीं था कि मैं इतना आगे तक जाऊंगी।' सलमान खान के पूछने पर रश्मि ने बताया कि टॉप 2 में सिद्धार्थ और आसिम पहुंचेंगे। रश्मि ने आसिम को विनर बताया।जाने-माने डायरेक्टर और प्रोड्यूसर रोहित शेट्टी घर के अंदर आए और रश्मि देसाई को लेकर बाहर निकल गए। रोहित के साथ 'खतरों के खिलाड़ी 10' की टीम भी मंच पर पहुंची। सलमान खान ने उनके साथ खूब मस्ती की।रश्मि से पहले आरती सिंह की मां घर के अंदर आई थीं और अपनी बेटी को बाहर लेकर गई थीं। सलमान खान ने आरती की काफी तारीफ की और कहा कि उन्होंने स्ट्रॉन्ग गेम खेला। सलमान के पूछने पर आरती ने बताया कि वो चाहती हैं कि सिद्धार्थ शो जीते।बता दें कि इससे पहले पारस छाबड़ा ने शो से क्विट कर लिया था। उन्होंने 10 लाख रुपये का बैग लेकर बाहर जाना उचित समझा।

डिजिटल ट्रांसफर के जरिए केंद्र ने बचाए 90000 करोड़ रुपए, 440 सरकारी योजनाओं के लाभान्वितों को डिजिटल तरीके से दिए पैसे

डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेThe Sky Is Pink Box Office Collection Day 3: प्रियंका चोपड़ा की फिल्म 'द स्काई इज पिंक' ने तीसरे दिन कमाए इतने करोड़****** एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा और एक्टर फरहान अख्तर की फिल्म ' सिनेमाघरों में रिलीज हो चुकी है। लेकिन पहले दिन खास कमाई नहीं कर पाई। लगभग 3 साल बाद बॉलीवुड में वापसी करने वाली प्रियंका चोपड़ा और फरहान अख्तर की जोड़ी ज्यादा कमाल नहीं दिखा पा रही है। सच्ची घटना पर आधारित यह फिल्म दर्शकों के दिलों को तो छू रही है लेकिन बॉक्स ऑफिस में अच्छी कमाई नहीं कर पा रही हैं। वहीं ऋतिक रोशन और टाइगर श्रॉफ की फिल्म 'वॉर' इस फिल्म को कड़ी टक्कर द रही है।जहां स्काई इंज पिंक ने पहले दिन 2.5 करोड़ रुपये की कमाई की थी। वहीं दूसरे दिन 4 करोड़ की कमाई कर पाई। बॉक्स ऑफिस इंडिया वेबसाइट के अनुसार इस फिल्म ने रविवार को 4 करोड़ की कमाई की है। जिसके साथ ही इस इस फिल्म ने 10.50 करोड़ की कमाई की है।शोनाली बोस द्वारा निर्देशित यह फिल्म में प्रियंका का जादू नहीं चल पा रहा है। इस फिल्म से पहले प्रियंका आखिरी बार बॉलीवुड में 'बाजीरॉव मस्तानी' में नजर आईं थी। इस फिल्म में रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण भी लीड रोल में थे।डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेBawaal: वरुण धवन और जान्हवी कपूर 7 अप्रैल, 2023 को करेंगे 'बवाल'******Highlightsवरुण धवन की एक नई फिल्म का ऐलान हुआ है, इस फिल्म में पहली बार वो जान्हवी कपूर के साथ काम करेंगे। दंगल के निर्देशक नितेश तिवारी की फिल्म बवाल में वरुण धवन और जान्हवी कपूर को देखने के लिए फैंस काफी उत्साहित हैं। फिल्म 7 अप्रैल, 2023 को सिनेमाघरों में रिलीज होगी, फिल्म का निर्माण साजिद नाडियाडवाला करेंगे।जान्हवी कपूर के साथ अपनी अगली फिल्म बवाल की घोषणा करते हुए, वरुण धवन ने लिखा, “अब होगा BAWAAL! जान्हवी कपूर के साथ अपनी फिल्म का ऐलान करने के लिए बहुत उत्साहित और आभारी हूं, 7 अप्रैल 2023। गुड फ्राइडे पर आपको सिनेमाघरों में देखने का इंतजार नहीं कर सकता। ”दूसरी ओर, जान्हवी कपूर ने अपनी पोस्ट को कैप्शन दिया, दो बेहतरीन, साजिद नाडियाडवाला और नितेश तिवारी के साथ हाथ मिलाते हुए मैं अपनी वरुण धवन के साथ BAWAAL की घोषणा करते हुए बहुत आभारी और खुश हूं, 7 अप्रैल 2023 को सिनेमाघरों में मिलते हैं।"बोनी कपूर ने भी ट्विटर पर फिल्म की अनाउंसमेंट शेयर की है।जाह्नवी कपूर गुड लक जेरी नाम की फिल्म में भी नजर आएंगी। सिद्धार्थ सेनगुप्ता द्वारा निर्देशित, यह 2018 की तमिल फिल्म कोलामावु कोकिला की हिंदी रीमेक है। फिल्म में दीपक डोबरियाल, मीता वशिष्ठ, नीरज सूद और सुशांत सिंह भी हैं। जान्हवी दोस्ताना 2 में लक्ष्य लालवानी के साथ और मिस्टर एंड मिसेज माही में राजकुमार राव के साथ नजर आएंगी। शरण शर्मा द्वारा निर्देशित, स्पोर्ट्स ड्रामा 7 अक्टूबर, 2022 को सिनेमाघरों में हिट होने के लिए तैयार है।दूसरी ओर, वरुण धवन अगली फिल्म भेड़िया में कृति सेनन के साथ दिखाई देंगे। इस हॉरर कॉमेडी का निर्देशन अमर कौशिक ने किया है। उनके पाइपलाइन में कियारा आडवाणी, अनिल कपूर और नीतू कपूर के साथ जग जुग जीयो भी है।

डिजिटल ट्रांसफर के जरिए केंद्र ने बचाए 90000 करोड़ रुपए, 440 सरकारी योजनाओं के लाभान्वितों को डिजिटल तरीके से दिए पैसे

डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेWorld Hand Hygiene Day 2020: हेमा मालिनी, अमृता राव ने हाथों की स्वच्छता को लेकर फैलाई जागरूकता******वर्ल्ड हैंड वॉश डे पर अभिनेत्री हेमा मालिनी और अमृता राव हाथ की स्वच्छता के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए एक साथ आ गई हैं। अमृता ने कहा,"कोविड-19 वायरस को रोकने के लिए हाथ की स्वच्छता सबसे जरूरी और प्राथमिक उपाय है। कई लोग अभी भी सोचते हैं कि कोरोनोवायरस सर्दी और खांसी की तरह एक वायरल है। वे अपनी नाक और मुंह को अच्छी तरह से ढंकते हैं लेकिन वे अपने हाथों को साफ करने के बारे में बिल्कुल भी संवेदनशील नहीं हैं।"उन्होंने कहा, "इस समय लोगों में जागरूकता पैदा करना, उन्हें शिक्षित करना और उन्हें यह याद दिलाना कि हाथ को साफ रखने की अहमियत समझाने रहना बेहद महत्वपूर्ण है।"5 मई को विश्व हाथ स्वच्छता दिवस मनाने के लिए द एसोसिएटेड चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ऑफ इंडिया द्वारा की गई पहल के लिए ये दोनों अभिनेत्रियां एकजुट हो गई हैं।अमृता ने आगे कहा, "हाथ धोने को अपनी दैनिक आदत बनाना महत्वपूर्ण है। इस वायरस से बचने में साबुन से हाथ धोना इतना महत्वपूर्ण है कि किसी भी वैक्सीन या चिकित्सा हस्तक्षेप के बिना इस वायरस से बचा जा सकता है। मुझे खुशी होगी अगर मेरा यह प्रयास कई लोगों के जीवन में परिवर्तन लाने में सफल हो।"

डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेV-Guard इंडस्‍ट्रीज के प्रवर्तक के चितिलापिल्‍ली ने बेचे 90 करोड़ रुपये के शेयर, सामाजिक कार्य में करेंगे खर्च******V-Guard Industries promoter Chittilappilly sells shares worth Rs 90 cr to fund social causesइलेक्ट्रिकल उपकरण बनाने वाली वी-गार्ड इंडस्‍ट्रीज (V-Guard Industries) के प्रवर्तक और मानद चेयरमैन के. चितिलापिल्ली ने कंपनी में अपने 40 लाख शेयर 90 करोड़ रुपये में बेचे हैं। इस राशि का इस्‍तेमाल सामाजिक कार्यों में किया जाएगा। के चितिलापिल्‍ली ने 1977 में अपने पिता से एक लाख रुपये उधार लेकर इस कंपनी की शुरुआत लघु उद्योग इकाई के रूप में की थी। कंपनी का आईपीओ 2008 में 82 रुपये पर आया था। शुक्रवार को बीएसई पर कंपनी का शेयर 2.10 प्रतिशत की तेजी के साथ 233.80 रुपये पर बंद हुआ। चितिलापिल्‍ली ने को उपलब्‍ध कराई गई जानकारी में कहा कि सामाजिक कार्यों के लिए अपनी प्रतिबद्धता को पूरा करने के लिए धन जुटाने हेतु 17 फरवरी, 2021 को वी-गार्ड इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड के 40 लाख शेयरों की बिक्री की गई है।चितिलापिल्‍ली के मुताबिक, के चितिलापिल्‍ली फाउंडेशन (केसीएफ) की स्‍थापना धर्मार्थ और परोपकारी गतिविधियों के लिए की गई है और इसके तहत चितिलापिल्ली स्‍क्‍वायर नाम से एक परियोजना शुरू करने का निर्णय लिया गया है। उन्‍होंने कहा कि इस परियोजना का काम चल रहा है और शेयर बिक्री से प्राप्‍त राशि का इस्‍तेमाल इस परियोजना में किया जाएगा।केसीएफ पिछले कई वर्षों से उद्यमशीलता विकास के क्षेत्र में कार्य कर रही है। 17 फरवरी को वी-गार्ड इंडस्‍ट्रीज के 40 लाख शेयरों की बिक्री 225.15 रुपये प्रति शेयर के आधार पर की गई। इससे लगभग 90 करोड़ रुपये की राशि प्राप्‍त हुई।चितिलापिल्‍ली ने कहा कि धन की कमी का सामना कर रहे उद्यमियों की मदद के लिए उन्‍हें सस्‍ती दर पर ऋण उपलब्‍ध कराने के लिए उन्‍होंने के चितिलापिल्‍ली कैपिटल प्रा. लि. नाम से एक कंपनी बनाई है, जिसने एनबीएफसी के रूप में रजिस्‍ट्रेशन के लिए आरबीआई के पास आवेदन जमा कराया है। उन्‍होंने कहा कि शेयर बिक्री से प्राप्‍त राशि का कुछ हिस्‍सा इस कंपनी को भी दिया जाएगा।डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेजम्‍मू-कश्‍मीर से विशेष दर्जा छिनने के बाद सेंसेक्‍स 418 अंक गिरा, 37000 से नीचे हुआ बंद******Sensex tanks over 418 points amid Kashmir uncertainty बाजार में एक और हफ्ते की शुरुआत बड़ी गिरावट के साथ हुई है। और निफ्टी दोनों ही लाल निशान में बंद हुए है। कमजोर वैश्विक कारणों और जम्‍मू-कश्‍मीर में राजनीतिक अस्थिरिता के बीच बैंकिंग, फाइनेंस और मेटल स्‍टॉक्‍स में भारी बिकवाली के कारण बीएसई सेंसेक्‍स 418 अंक टूटकर 36,699.84 अंक पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 5 महीने के निचले स्तर यानि 11900 के नीचे बंद हुआ। आज के कारोबार में निफ्टी के 50 में से 39 शेयरों, सेंसेक्स के 30 में से 22 शेयरों और बैंक निफ्टी के 12 में से 10 शेयरों गिरावट देखने को मिली। बजट के बाद अब तक बाजार की चाल पर नजर डालें तो बजट बाद अब तक निफ्टी 948 अंक, सेंसेक्स 2813 अंक, बैंक निफ्टी 3827 अंक और मिडकैप 2040 अंक फिसला है।मिड और स्मॉल कैप शेयरों में भी भारी गिरावट देखने को मिली। बीएसई का मिड कैप इंडेक्स 1.26 फीसदी और स्मॉल कैप इंडेक्स 1.69 फीसदी टूटकर बंद हुआ है। तेल-गैस शेयरों में भी दबाव रहा। बीएसई का ऑयल एंड गैस इंडेक्स करीब 2 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ।बैंकिंग शेयरों ने भी आज लाल निशान में कारोबार किया। निफ्टी का पीएसयू बैंक इंडेक्स 1.73 फीसदी और प्राइवेट बैंक इंडेक्स 1.88 फीसदी टूटकर बंद हुए है। वहीं बैंक निफ्टी 1.97 फीसदी गिरकर 27648 के स्तर पर बंद हुआ है।आईटी सेक्टर को छोड़कर आज सभी सेक्टोरेल इंडेक्स लाल निशान में बंद हुए है। निफ्टी का आईटी इंडेक्स 0.63 फीसदी की बढ़त के साथ बंद हुआ है। वहीं निफ्टी का ऑटो इंडेक्स 1.29 फीसदी, मेटल इंडेक्स 1.78 फीसदी, फार्मा इंडेक्स 0.77 फीसदी, रियल्टी इंडेक्स 1.79 फीसदी, एफएमसीजी इंडेक्स 0.53 फीसदी और फाइनेशियल सर्विसेस इंडेक्स 1.37 फीसदी टूटकर बंद हुए है।कारोबार के अंत में बीएसई का 30 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेसेंक्स 418.38 अंक यानि 1.13 फीसदी गिरकर 36,699.84 के स्तर पर बंद हुआ है। वहीं एनएसई का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 134.75 अंक यानि 1.23 फीसदी की कमजोरी के साथ करीब 10862.60 के स्तर पर बंद हुआ है।

डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेBig Challenge: विनिवेश लक्ष्‍य पूरा करने के लिए सरकार को 5 महीने में जुटाने होंगे 56,900 करोड़ रुपए******सरकार ने चालू वित्‍त वर्ष के दौरान सरकारी कंपनियों में विनिवेश के जरिये 69,500 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्‍य रखा है। पहले सात माह निकल चुके हैं और सरकार अभी तक चार कंपनियों में हिस्‍सेदारी बेचकर केवल 12,600 करोड़ रुपए ही जुटा पाई है। विनिवेश लक्ष्‍य हासिल करने के लिए सरकार के पास अब केवल पांच माह का समय बचा है। इन पांच माह में सरकार को 56,900 करोड़ रुपए और जुटाने हैं, जो कि एक बड़ी चुनौती है।सरकार ने चालू वित्त वर्ष में विनिवेश से 69,500 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखा है। इसमें से 41,000 करोड़ रुपए सार्वजनिक उपक्रमों में अल्पांश हिस्सेदारी बेचने से और 28,500 करोड़ रुपए रणनीतिक हिस्सेदारी बिक्री से जुटाने की योजना है।बाजार के आंकड़ों के मुताबिक चालू वित्‍त वर्ष की पहली छमाही में शेयर बाजार से कुल 17,550 करोड़ रुपए की राशि जुटाई गई है। इसमें से 12,600 करोड़ रुपए की राशि सरकार ने चार कंपनियों पीएफसी, आरईसी, आईओसी और ड्रेजिंग कॉर्प में हिस्‍सेदारी बेचकर जुटाई है, जबकि शेष 4,950 करोड़ रुपए की राशि निजी क्षेत्र की कंपनियों ने आईपीओ के जरिये जुटाई गई है।वित्त मंत्री अरुण जेटली ने चालू वित्त वर्ष में विनिवेश के लक्ष्य में चुनौती की बात स्वीकार की है। उन्‍होंने कहा कि विनिवेश लक्ष्‍य में कमी रहने पर भी राजकोषीय घाटे को कम करने के लक्ष्य पर असर नहीं पड़ेगा। जेटली ने कहा कि राजकोषीय घाटे को जीडीपी के 3.9 फीसदी तक सीमित रखने के लक्ष्‍य को हासिल करने में कोई कठिनाई नहीं होगी। उन्‍होंने कहा कि विनिवेश की चुनौती मुख्‍यरूप से वैश्विक समस्‍याओं के कारण है।मोदी सरकार ने विनिवेश लक्ष्‍य हासिल करने के लिए नाल्‍को, एनएमडीसी, ऑइल इंडिया लिमिटेड, एनटीपीसी, भेल, ओएनजीसी और कोल इंडिया में अतिरिक्‍त 10 फीसदी हिस्‍सेदारी बिक्री को अपनी मंजूरी पहले ही दे दी है।डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेपनामा ने बनाई आयात में भेदभाव करने वाले 20 देशों की सूची, जानें कौन-कौन है शामिल****** के विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को आदान-प्रदान की दिशा में पहला कदम बढ़ा दिया। इसी कड़ी में पनामा ने में भेदभाव करने वाले 20 देशों की सूची प्रकाशित की है। पनामा के व्यापार मंत्री अगस्तो अरोसिमाना ने कहा कि सूची का प्रकाशन हमारे देश की विदेश नीति में बहुत ही अनोखा कदम है।समाचार एजेंसी एफे ने मंत्री के हवाले से कहा, ‘विश्व स्तर पर पनामा के हितों की रक्षा करना हमारी जिम्मेदारी है। जब हमने 2016 में प्रतिरोध कानून पारित किया था, तब हमने इस कदम की उम्मीद की थी लेकिन हम स्पष्ट रूप से पूर्व प्रयासों को खत्म करना चाहते थे।’ सूची में ब्राजील, चिली, कोलंबिया, ईक्वाडोर, अल साल्वाडोर, पेरू, उरुग्वे, वेनेजुएला, क्रोएशिया, स्लोवेनिया, एस्टोनिया, फ्रांस, ग्रीस, लिथुआनिया, पोलैंड, पुर्तगाल, कैमरून, जॉर्जिया, रूस और सर्बिया शामिल हैं।अप्रैल 2016 में ने पनामा को टैक्स हेवन्स की सूची में शामिल किया था। सितंबर 2016 में, पनामा कांग्रेस ने प्रतिरोध कानून पारित किया था, जो प्रवासी, आर्थिक और शुल्क उपायों का समर्थन करता है। इन उपायों का प्रयोग सरकार दूसरे देशों के खिलाफ जवाबी कार्रवाई करने के लिए कर सकती है।

डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेमशहूर संगीतकार खैय्याम का 92 साल की उम्र में निधन, 'हीर-रांझा' से की थी फिल्मी करियर की शुरुआत******बॉलीवुड के मशहूर और दिग्गजसंगीतकार खय्याम का 92साल की उम्र में निधन हो गया। खय्याम लंबे वक्त से बीमार चल रहे थे और मुंबई के सुजॉ़य हॉस्पिटल में 8 अगस्त से एडमिट थे। सोमवार की शाम से ही उनकी हालत नाजुक हो गई थी और डॉक्टर्स उनकी निगरानी कर रहे थे, रात के करीब साढ़े 9 बज खय्याम इस दुनिया से हमेशा के लिए रुख्सत हो गए। कार्डियक अरेस्ट उनकी मौत की वजह बना।जैसे ही उनके निधन की खबर सामने आई बॉलीवुड में शोक की लहर दौड़ गई। बता दें, खय्याम का पूरा नाम मोहम्मद जहूर खय्याम हाशमी था, लेकिन बॉलीवुड में उन्हें खय्याम नाम से जाना गया।खैय्याम ने 'कभी कभी' और 'उमराव जान' जैसी फिल्मों में दिये संगीत के लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड भी अपने नाम किया। साल 1947 में खैय्याम ने फिल्मी करियर की शुरुआत की। पहली बार खैय्याम ने फिल्म 'हीर रांझा' के लिए संगीत दिया। लेकिन उन्हें उपलब्धि मोहम्मद रफ़ी के गाने 'अकेले में वह घबराते तो होंगे' से मिली। फिल्म 'शोला और शबनम' ने उन्हें काफी लोकप्रिय बना दिया।साल 2011 में खय्याम को पद्मभूषण से भी सम्मानित किया गया था।खय्याम ने 'कभी कभी मेरे दिल में खयाल आया है', 'मैं पल दो पल का शायर हूं' जैसे गानों की धुनें बनाकर इन गानों को अमर कर दिया। इसके अलावा उन्होंने फुटपाथ, गुल बहार, फिर सुबह होगी, शगुन, आखिरी खत, त्रिशूल, नूरी, थोड़ी सी बेवफाई, चंबल की कसम, खानदान और रजिया सुल्तान जैसी सुपरहिट फिल्मों के गानों को भी संगीत से संवारा था। आज वो हमारे बीच नहीं हैं लेकिन उनके संगीत सदियों तक लोगों के जेहन में अमर रहेंगे।डिजिटलट्रांसफरकेजरिएकेंद्रनेबचाए90000करोड़रुपए440सरकारीयोजनाओंकेलाभान्वितोंकोडिजिटलतरीकेसेदिएपैसेजुलाई में जियो ने जोड़े 32 लाख नए सब्सक्राइबर, कुल संख्या 40 करोड़ के पार******जुलाई में जियो के सब्सक्राइबर बढ़ेनई दिल्ली। जुलाई के महीने में नए सब्सक्राइबर को जोड़ने में सबसे आगे रिलायंस जियो रही। ट्राई द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक रिलायंस जियो ने महीने के दौरान 35.54 लाख नए सब्सक्राइबर को अपने साथ जोड़ा है। इस बढ़त के साथ ही जियो के कुल सब्सक्राइबर की संख्या 40 करोड़ के पार पहुंच गई है।इसके साथ ही जुलाई के दौरान भारती एयरटेल ने भी 32.6 लाख नए सब्सक्राइबर जोड़े हैं। हालांकि दूसरी तरफ वोडाफोन आइडिया से सब्सक्राइबर का हटना जुलाई में भी जारी रहा, महीने के दौरान वीआई ने 37.26 लाख सब्सक्राइबर गंवा दिये। इस आधार पर जुलाई के दौरान 34.72 लाख नए सब्सक्राइबर जुड़े हैं। माना जा रहा है कि लॉकडाउन के बाद एक बार फिर लोगों के शहरों की तरफ लौटने से सब्सक्राइबर की संख्य़ा में बढ़त दर्ज हुई है।31 जुलाई 2020 तक वायरलैस सब्सक्राइबर के आधार पर मार्केट में सबसे बड़ी हिस्सेदारी रिलायंस जियो की रही, बाजार के 35 फीसदी हिस्से में जियो का कब्जा है। वहीं भारती एयरटेल के पास 27.96 फीसदी और वोडाफोन आइडिया के पास 26.34 फीसदी हिस्सा है। बीएसएनल के पास 10.37 फीसदी हिस्सेदारी है। इस हिसाब से देश वायरलैस सब्सक्राइबर के आधार पर 89.3 फीसदी बाजार पर निजी कंपनियों और 10.67 फीसदी हिस्से पर सरकारी कंपनियों का कब्जा है। कुल सब्सक्राइबर की बात करें तो भारती एयरटेल के पास करीब 32 करोड़, वोडाफोन आइडिया के पास 30.1 करोड़ और बीएसएनएल के पास करीब 12 करोड़ सब्सक्राइबर हैं।ट्राई के आंकड़ो के मुताबिक जुलाई के अंत तक देश में कुल वायरलैस सब्सक्राइबर 114 करोड़ हैं। वहीं वायरलाइन सब्सक्राइबर 1.9 करोड़ हैं। इसमें से भी शहरी इलाकों में करीब 62 करोड़ वायरलैस सब्सक्राइबर और ग्रामीण इलाकों में 52.3 करोड़ सब्सक्राइबर हैं। वहीं देश में 68.5 वायरलैस ब्रॉडबैंड सब्सक्राइबर हैं।

हाल का ध्यान

लिंक