वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > यंताई का शहर > मूलपाठ

Ye Public Hai Sab Jaanti Hai: Banda Sadar सीट पर दोबारा खिल पाएगा BJP का कमल? देखें Video

2022-10-04 18:51:26 यंताई का शहर

सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंडाडा जलालपुर बवाल: पुलिस ने रोका तो स्वामी टोल प्लाजा पर ही करने लगे हनुमान चालीसा का पाठ****** स्वामी दिनेश आनंद भारती में भगवानपुर के डाडा जलालपुर गांव पहुंचे लेकिन प्रशासन ने आगे बढ़ने की इजाजत नहीं दी। उन्हें टोल प्लाजा पर ही रोक दिया गया। भारती उसी जगह हनुमान चालीसा का पाठ करने पर अड़े हैं जहां पिछले दिनों बवाल हुआ था। भारी संख्या में ग्रामीणों को अपने साथ लेकर तहसील की ओर बढ़ते स्वामी दिनेश आनंद भारती को पुलिस ने समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं माने। उन्होंने हनुमान चालीसा का पाठ टोल प्लाजा पर ही शुरू कर दिया।भगवानपुर के डाडा जलालपुर में ग्रामीणों की भारी भीड़ जुटी। पुलिस के समझाने पर स्वामी दिनेश आनंद भारती नहीं माने। वहा डाडा जलालपुर गांव से तीन-चार ट्रैक्टर ट्राॉलियों और बाइक सवार युवकों को लेकर पहुंचे। भगवानपुर टोल प्लाजा पर भारी भीड़ के साथ पहुंचे स्वामी दिनेश आनंद ने लोगों को संबोधित करते हुए आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की। इसके बाद कांग्रेस विधायक ममता राकेश का पुतला फूंका।भगवानपुर तहसील पहुंचकर का पाठ करने का कार्यक्रम तय किया गया था, लेकिन भारी पुलिस फोर्स होने के चलते स्वामी टोल प्लाजा पर ही बैठ गए। यहीं पर उन्होंने हनुमान चालीसा का पाठ शुरू कर दिया। इस दौरान मौके पर पहुंचे सीओ ने स्वामी दिनेश आनंद से बातचीत की और एक सप्ताह के भीतर आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। स्वामी दिनेश आनंद ने कहा कि अगर सात दिन के भीतर कड़ी कार्रवाई नहीं की गई तो बड़ा आंदोलन शुरू होगा।

सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंICC Rankings : नई रैंकिंग में भारी फेरबदल, जानिए भारतीय खिलाड़ियों का हाल******Highlightsभारत के लगभग सभी क्रिकेटर इस वक्त आईपीएल में खेलते हुए नजर आ रहे हैं। भारत को करीब दो महीने तक कोई भी अंतरराष्ट्रीय सीरीज नहीं खेलनी है। वहीं टेस्ट से भी अभी टीम इंडिया की दूरी रहेगी, लेकिन इस बीच आईसीसी की ओर से नई टेस्ट रैंकिंग जारी कर दी गई है। इस रैंकिंग में भारी फेरबदल देखने के लिए मिले हैं। भारतीय खिलाड़ी भी इधर उधर खिसके हैं। भारतीय कप्तान रोहित शर्मा और पूर्व कप्तान विराट कोहली को नई रैंकिंग में नुकसान हुआ है और वे नीचे आ गए हैं।भारतीय कप्तान रोहित शर्मा और विराट कोहली आईसीसी की ओर से जारी की गई नई टेस्ट रैंकिंग में एक-एक पायदान खिसककर आठवें और 10वें स्थान पर पहुंच गए हैं। रोहित शर्मा बल्लेबाजी लिस्ट में अब भी टॉप रैंकिंग पर काबिज भारतीय हैं, उनके 754 अंक हैं और एक स्थान फिसलकर आठवें स्थान पर हैं। वहीं विराट कोहली के 742 रेटिंग अंक हैं और वह 10वें स्थान पर खिसक गए हैं। रविंद्र जडेजा ने आलराउंडर सूची में अपना टॉप का स्थान बरकरार रखा है जबकि रविचंद्रन अश्विन वेस्टइंडीज के जेसन होल्डर को हटाकर दूसरे स्थान पर पहुंच गए हैं।अश्विन और तेज गेंदबाजी के अगुआ जसप्रीत बुमराह गेंदबाजों की सूची में क्रमश: अपने दूसरे और चौथे स्थान पर बने हुए है। वनडे रैंकिंग में विराट कोहली ने अपना दूसरा स्थान कायम रखा है और रोहित शर्मा एक पायदान के फायदे से चौथे स्थान पर पहुंच गए हैं। गेंदबाजों में टॉप 10 में केवल एक भारतीय जसप्रीत बुमराह छठे स्थान पर काबिज हैं।(Bhasha inputs)सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंदिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन पर ED की बड़ी कार्रवाई, संपत्तियां हुईं जब्त******प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मंगलवार को कहा कि उसने धन शोधन की जांच के सिलसिले में दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन के परिवार और उनकी कंपनियों की 4.81 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्तियां कुर्क कीं। जैन (57) अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार में स्वास्थ्य, बिजली, गृह, लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी), उद्योग, शहरी विकास, बाढ़, सिंचाई और जल मंत्री हैं।ईडी ने 2018 में शकूर बस्ती से आम आदमी पार्टी (आप) विधायक से मामले के सिलसिले में पूछताछ की थी। ईडी ने एक बयान में कहा कि उसने संपत्तियों की कुर्की के लिए धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत एक अस्थायी आदेश जारी किया है।लगभग 4.81 करोड़ रुपये मूल्य की अचल संपत्तियां ‘अकिंचन डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड, इंडो मेटल इंपेक्स प्राइवेट लिमिटेड, पर्यास इंफोसोल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड, मंगलायतन प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड, जेजे आइडियल एस्टेट प्राइवेट लिमिटेड, वैभव जैन की पत्नी स्वाति जैन, अजीत प्रसाद जैन की पत्नी सुशीला जैन और सुनील जैन की पत्नी इंदु जैन से संबंधित हैं।’ईडी ने कहा, ‘इन राशि का उपयोग जमीन की खरीद या दिल्ली और उसके आसपास कृषि भूमि की खरीद के वास्ते लिये गए ऋण की अदायगी के लिए किया गया था।’’ अधिकारियों के अनुसार कुर्की आदेश में नामित व्यक्ति जैन के सहयोगी और परिवार के सदस्य हैं। ‘आप’ के नेता के खिलाफ धनशोधन का ईडी का मामला अगस्त 2017 में केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो बीआई द्वारा उनके और अन्य के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति रखने के आरोप में दर्ज प्राथमिकी से जुड़ा है।सीबीआई ने दावा किया है कि जैन ने 2018 से पहले के पांच वर्षों में दिल्ली में उनके द्वारा नियंत्रित कंपनियों के नाम पर 200 बीघा कृषि भूमि खरीदी और कई करोड़ रुपये के ‘‘काले धन का शोधन’’ किया। यह आरोप लगाया गया था कि जैन ने पूर्व में इन कंपनियों को या तो निदेशकों में से एक के रूप में या इन कंपनियों के एक तिहाई शेयरों को अपने नाम पर या अपने परिवार के सदस्यों या अन्य लोगों के नाम पर लिया था।सीबीआई ने कहा था कि 2010-16 के बीच दिल्ली के औचंडी, बवाना, कराला और मोहम्मद माजवी गांवों में 200 बीघा जमीन खरीदने के लिए धन का कथित तौर पर इस्तेमाल किया गया था। आयकर विभाग ने भी इन लेन-देन की जांच की थी और जैन से कथित रूप से जुड़ी ‘बेनामी संपत्ति’ को कुर्क करने का आदेश जारी किया था।

Ye Public Hai Sab Jaanti Hai: Banda Sadar सीट पर दोबारा खिल पाएगा BJP का कमल? देखें Video

सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंमशहूर एक्टर और स्क्रिप्ट राइटर शिव सुब्रमण्यम का निधन, दो महीने पहले हुई थी बेटे की मौत******एक्टर और स्क्रिप्ट राइटर शिव सुब्रमण्यम का रविवार रात निधन हो गया। अपने शानदार करियर के दौरान, उन्हें परिंदा के लिए सर्वश्रेष्ठ स्क्रीन राइटिंग और हज़ारों ख्वाहिशें ऐसी के लिए बेस्ट स्टोरी के फिल्मफेयर अवॉर्डसे सम्मानित किया गया था। साल 1989 से हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में चर्चा में आए शिव सुब्रमण्यम ने अपने पूरे करियर में फिल्मों और टीवी शो में काम किया।विधु विनोद चोपड़ा की तरफ से डायरेक्ट की गई परिंदामें जैकी श्रॉफ, अनिल कपूर, माधुरी दीक्षित, नाना पाटेकर और अनुपम खेर शामिल थे, जिसकी स्क्रिप्ट शिव सुब्रमण्यम ने लिखी थी।शिव सुब्रमण्यम के निधन किस वजह से हुआ इस बारे में कुछ पुष्टि नहीं हो पाई है। फिल्ममेकर बीना सरवर और निर्देशक हंसल मेहता सहित अन्य लोगों ने उनके निधन के बारे में ट्विटर पर प्रतिक्रिया दी है।उनके निधन की खबर से दुखी फिल्ममेकर बीना सरवर ने शोक जताया है। उन्होंने ट्विटर पर एक्टर को श्रद्धांजलि दी और बताया कि दो महीने पहले ही उनके बेटे जहान की ब्रेन ट्यूमर के कारण मौत हो गई थी।शिव सुब्रमण्यम ने अपने करियर में कई टीवी सीरियल्स में भी काम किया था। उन्होंने कलर्स पर टीवी शो मुक्ति बंधन में बिजनेस मिस्टर आईएम विरानी की भूमिका भी निभाई। उनकी कुछ सबसे हालिया भूमिकाएं मीनाक्षी सुंदरेश्वर और नेल पॉलिश में हैं। अभिनेता ने रॉकी हैंडसम, उंगली, कामिनी, 1942: ए लव स्टोरी और 2 स्टेट्स जैसी फिल्मों में भी अभिनय किया।सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंWomen T20 Challenge: स्मृति मंधाना और हरमनप्रीत कौर की टीमों के बीच होगी पहली जंग, जानिए मैच से जुड़ी सभी बातें******Highlightsपुरुषों का आईपीएल (IPL) अपने अंतिम चरण में पहुंच चुका है। इसी बीच सोमवार 23 मई 2022 से महिला टी20 चैलेंज (Women T20 Challenge) की शुरुआत होने जा रही है। पहले मुकाबले में आमने-सामने होंगी स्मृति मंधाना की अगुआई वाली ट्रेलब्लेजर्स (Trailblazers) और हरमनप्रीत कौर की अगुआई वाली सुपरनोवाज (Supernovas)। इस टूर्नामेंट के सभी मुकाबले पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन (MCA) स्टेडियम में खेले जाएंगे।इस टूर्नामेंट में तीन टीमें, सुपरनोवाज (Supernovas), ट्रेलब्लेजर्स (Trailblazers) और वेलोसिटी (Velocity) शामिल होंगी। यही तीनों टीमें अभी तक पिछले तीन वुमेंस टी20 चैलेंज के सीजनों में हिस्सा लेती आई हैं। हालांकि वेलोसिटी 2019 से जुड़ी थी। इस बार के टूर्नामेंट में तीन लीग और एक फाइनल मैच समेत कुल चार मैच पुणे के एमसीए स्टेडियम में आयोजित होंगे।23 मई को पहला मैच ट्रेलब्लेजर्स और सुपरनोवाज से बीच खेला जाएगा, जबकि 24 मई को दूसरा मैच सुपरनोवाज और दीप्ति शर्मा की अगुआई वाली वेलोसिटी के बीच होगा। तीसरा मैच 26 को वेलोसिटी और ट्रेलब्लेजर्स के बीच खेला जाएगा। फाइनल मैच 28 मई को खेला जाएगा। 24 तारीख को होने वाला मैच दोपहर साढ़े 3 बजे से शुरू होगा, जबकि बाकी सभी मैच शाम साढ़े 7 बजे से खेले जाएंगे।महिला टी20 चैलेंज के मुकाबले आप स्टार स्पोर्ट्स 1 पर अंग्रेजी, स्टार स्पोर्ट्स 3 पर हिंदी समेत विभिन्न भाषाों में स्टार स्पोर्ट्स के विभिन्न चैनलों पर देख सकते हैं। इसके अलावा लाइव स्ट्रीमिंग आपको डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर भी देखने को मिलेगी। साथ ही मैच से जुड़े अन्य सभी अपडेट्स के लिए आप पर भी जुड़े रह सकते हैं।महिलाओं का आईपीएल कह जाने वाले इस टूर्नामेंट का खिताब तीन में से दो बार (2018, 2019) हरमनप्रीत कौर की अगुआई वाली सुपरनोवाज ने अपने नाम किया है। जबकि 2020 के पिछले सीजन में स्मृति मंधाना की अगुआई वाली ट्रेलब्लेजर्स ने सुपरनोवाज को हराकर बाजी मारी थी। देखना होगा कि इस बार तीनों टीमों का स्क्वॉड किस प्रकार होता है। पिछले सत्र के हिसाब से, सुपरनोवाज की कमान हरमनप्रीत कौर, ट्रेलब्लेजर्स की स्मृति मंधाना और वेलोसिटी की मिताली राज के हाथों में थी।सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंUp Assembly election: बहराइच विधानसभा चुनाव 2022: क्या फिर 2017 की जीत को दोहरा पाएगी बीजेपी?******बहराइच विधानसभा सीट उत्तर प्रदेश की महत्वपूर्ण विधानसभा सीट है, जहां 2017 में भारतीय जनता पार्टी ने जीत दर्ज की थी। इस बार मुख्य मुकाबला भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी अनुपमा जायसवाल और समाजवादी पार्टी के नेता यासिर शाह के बीच होगा। इससे पहले 1993 से लेकर 2017 तक इस विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी का वर्चस्व रहा है। लेकिन 2017 में अनुपमा जायसवाल ने सपा प्रत्याशी को हराकर उलटफेर किया था। इस जीत के बाद इस बर फिर अनुपमा जायसवाल पर बीजेपी ने विश्वास दिखाया है।बहराइच विधानसभा सीट उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में आती है। 2017 में बहराइच में कुल 41.00 प्रतिशत वोट पड़े। 2017 में भारतीय जनता पार्टी से अनुपमा जयसवाल ने समाजवादी पार्टी के रुबाब सैयदा को 6702 वोटों के मार्जिन से हराया था। सपा की रुबाब सैयदा दूसरे स्थान पर रही थीं। उन्हें 80,777 वोट प्राप्त हुए थे। यह कुल मतों का 37.86% था।बहराइच विधानसभा सीट बहराइच के अंतर्गत आती है। इस संसदीय क्षेत्र से सांसद हैं अक्षयवर लाल गौड़, जो भारतीय जनता पार्टी से हैं। उन्होंने समाजवादी पार्टीके Shabbir Balmiki को 128752 से हराया था। यहां मतदान रविवार, 27 फरवरी 2022 को होगा। मतगणना गुरुवार, 10 मार्च 2022 को होगी।

Ye Public Hai Sab Jaanti Hai: Banda Sadar सीट पर दोबारा खिल पाएगा BJP का कमल? देखें Video

सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंडाडा जलालपुर बवाल: पुलिस ने रोका तो स्वामी टोल प्लाजा पर ही करने लगे हनुमान चालीसा का पाठ****** स्वामी दिनेश आनंद भारती में भगवानपुर के डाडा जलालपुर गांव पहुंचे लेकिन प्रशासन ने आगे बढ़ने की इजाजत नहीं दी। उन्हें टोल प्लाजा पर ही रोक दिया गया। भारती उसी जगह हनुमान चालीसा का पाठ करने पर अड़े हैं जहां पिछले दिनों बवाल हुआ था। भारी संख्या में ग्रामीणों को अपने साथ लेकर तहसील की ओर बढ़ते स्वामी दिनेश आनंद भारती को पुलिस ने समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं माने। उन्होंने हनुमान चालीसा का पाठ टोल प्लाजा पर ही शुरू कर दिया।भगवानपुर के डाडा जलालपुर में ग्रामीणों की भारी भीड़ जुटी। पुलिस के समझाने पर स्वामी दिनेश आनंद भारती नहीं माने। वहा डाडा जलालपुर गांव से तीन-चार ट्रैक्टर ट्राॉलियों और बाइक सवार युवकों को लेकर पहुंचे। भगवानपुर टोल प्लाजा पर भारी भीड़ के साथ पहुंचे स्वामी दिनेश आनंद ने लोगों को संबोधित करते हुए आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की। इसके बाद कांग्रेस विधायक ममता राकेश का पुतला फूंका।भगवानपुर तहसील पहुंचकर का पाठ करने का कार्यक्रम तय किया गया था, लेकिन भारी पुलिस फोर्स होने के चलते स्वामी टोल प्लाजा पर ही बैठ गए। यहीं पर उन्होंने हनुमान चालीसा का पाठ शुरू कर दिया। इस दौरान मौके पर पहुंचे सीओ ने स्वामी दिनेश आनंद से बातचीत की और एक सप्ताह के भीतर आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। स्वामी दिनेश आनंद ने कहा कि अगर सात दिन के भीतर कड़ी कार्रवाई नहीं की गई तो बड़ा आंदोलन शुरू होगा।सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंInternational Police Expo: अत्याधुनिक हथियारों के साथ फेशियल रिकॉग्निशन टेक्नोलॉजी की हुई प्रदर्शनी, चेहरे से ही हो जाएगी आरोपी की पहचान******Highlights दिल्ली के प्रगति मैदान में दो दिवसीय पुलिस एक्सपो का आयोजन हुआ। यह एक्सपो एशिया का सबसे बड़ा अंतराष्ट्रीय पुलिस एक्सपो है। यहां 350 से ज्यादा डिफेंस उपकरण बनाने वाली कंपनियां अपने अत्याधुनिक हथियारों और तकनीकों का प्रदर्शन कर रही है। इस अंतराष्ट्रीय एक्सपो में 3000 से ज्यादा पुलिस पर्सनल और डिफेंस पर्सनल शामिल हो रहे हैं।एक्सपो में फेशियल रिकॉग्निशन टेक्नोलॉजी रही चर्चा का विषयएडवांस्ड फेस रिकॉग्निशन सिस्टम से देश भर में अपराधिक मामलों की हिस्ट्री रखने वाले अपराधियों की पहचान बहुत ही आसानी से कर लेगा। अगर सिस्टम में एक बार किसी का भी रिकॉर्ड दर्ज हो जाए तो केवल 40 प्रतिशत चेहरा दिखने पर भी ये रिकॉग्निशन सिस्टम उसकी पहचान कर लेगा। Amtron कंपनी का ये सिस्टम इसलिए भी चर्चा में है क्योंकि कोरोना काल के बाद से मास्क के जरिए भी अपराधी अपनी पहचान छुपाते आए है, ऐसे में अब अपराधियों को पकड़ना आसान हो जाएगा, अगर ये सिस्टम और इसका कैमरा कही भी लगे होंगे तो अपराधी को आसानी से पकड़ा जा सकेगा, ये अपराधी की पहचान किसी भी एंगल से कर सकता है, पहचान करने के बाद डाटा में उसका नाम, उसकी औसत उम्र के साथ दिखाएगा।कड़कड़ाती ठंडी में भी गर्मी का एहसास करवाएगी यह जैकेटसीमा पर जवानों को कड़कड़ाती ठंड से राहत देने के लिए बेहतर जैकेट भी इस बार प्रदर्शित किए गए है जो जवानों को –20 डिग्री और –50 डिग्री में भी गर्म महसूस कराएंगे, साथ ही एंटी ड्रोन सिस्टम भी एक्सपो में आकर्षण का केंद्र बना रहा जो दूसरे ड्रोन्स को कंट्रोल कर लैंड करवाएगा।एक्सपो में अत्याधुनिक हथियार मौजूदप्रगती मैदान में आयोजित हुए एक्सपो में यूके, यूएस, इजराइल, जर्मनी और फ्रांस जैसे कई देशों ने भाग लिया। इस प्रदर्शनी में इन देशों ने अपने-अपने अत्याधुनिक हथियार की प्रदर्शनी भी लगाई जिसमें स्नाइपर गन, 10 राउंड पिस्टल, बॉम्ब मोर्टार, ड्रोन और एंटी ड्रोन सिस्टम, नाइट विजन गन से लेकर एडवांस्ड बुलेट प्रूफ जैकेट तक सभी यहां प्रदर्शित किए गए।

Ye Public Hai Sab Jaanti Hai: Banda Sadar सीट पर दोबारा खिल पाएगा BJP का कमल? देखें Video

सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंलॉन्‍च हुआ Honor 8 Lite स्मार्टफोन, 4GB रैम और 64GB इंटरनल स्‍टोरेज से लैस इस हैंडसेट की कीमत है 17,999 रुपए****** Huawei टर्मिनल ने अपने Honor ब्रांड का नया स्मार्टफोन Honor 8 Lite भारत में लॉन्च कर दिया है। इस स्मार्टफोन की कीमत 17,999 रुपए है। यह फोन 12 मई से देशभर में बिक्री के लिए उपलब्ध होगा। Honor 8 Lite अभी ब्लैक कलर में उपलब्ध होगा लेकिन इस महीने के बाद इसका ब्लू कलर वैरिएंट भी उपलब्‍ध होगा। Honor 8 Lite में ईएमयूआई 3.0 है जो एंड्रॉयड 7.0 नूगा पर आधारित है। इस स्मार्टफोन को सबसे पहले फरवरी में फिनलैंड में लॉन्च किया गया था। Honor 8 Lite स्मार्टफोन, हॉनर 8 का लोअर वैरिएंट है। फिनलैंड में इसकी कीमत 269 यूरो (लगभग 19,600 रुपये) तय की गई थी।अगले महीने से Jio शुरू करेगी ब्रॉडबैंड सर्विस, 3 महीने तक फ्री मिलेगा 100Mbps स्‍पीड के साथ 100GB डाटाHonor 8 Lite स्पेसिफिकेशन की बात करें तो इसमें 5.2 इंच का फुल-एचडी (1080×1920 पिक्सेल) डिसप्‍ले है जिसपर 2.5D कर्व्ड ग्लास की प्रोटेक्शन मौज़ूद है। इसमें कंपनी ने अपने किरिन 655 ऑक्टा-कोर CPU के साथ 4GB रैम दिया है। इस हैंडसेट की इनबिल्ट स्टोरेज 64GB है और माइक्रोएसडी कार्ड के जरिए 128GB तक बढ़ाया जा सकता है।Amazon पर शुरू हुई बड़े डिस्काउंट वाली महासेल, ऐसे मिलेंगे सबसे बेस्ट ऑफरHonor 8 Lite में 12MP का रियर कैमरा दिया गया है जो एफ/2.2 अपर्चर और ऑटोफोकस से लैस है। इसके सेल्फी कैमरे का सेंसर 8MP का है। इसकी बैटरी 3000 mAh की है। फोन में वॉल्यूम रॉकर और पावर बटन दांयीं साइड हैं। जबकि बांयीं तरफ एक हाइब्रिड डुअल-सिम ट्रे है। यूजर दो नैनो सिम या एक नैनो सिम और एक माइक्रोएसडी कार्ड का विकल्प चुन सकते हैं।

सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंBigg Boss 9: सलमान खान के शो को मिला विजेता******बिग बॉस सीजन 8 के विजेता रह चुके गौतम गुलाटी ने शो की एक्स-प्रतिभागी रोशेल राव, मंदना करीमी और किशवर मर्चेंट के साथ एक हॉट परफोर्मेंस दी।सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंBudget 2021: एन्युटी से मिलने वाली पेंशन पर भी मिलना चाहिए इनकम टैक्स छूट का लाभ******राजीव बजाज, चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्‍टर, बजाज कैपिटलवित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश किए जाने वाले बजट 2021 को सभी के द्वारा और ज्‍यादा खासतौर पर वरिष्‍ठ नागरिकों के द्वारा उत्‍सुकता से देखा जाएगा। पिछले कुछ सालों में ब्‍याज दर परिदृश्‍य नीचे की ओर खिसकते रहे हैं और इसने निवेशकों खासतौर पर सेवा-निवृत्‍त लोगों की नियमित आय जरूरतों को प्रभावित किया है। 2021 में महंगाई जल्‍दी ही कम होती नहीं दिख रही है जिससे रहन-सहन का खर्च महंगा हो सकता है। बढ़ते मेडिकल खर्च और हैल्‍थ एंव के लिए उच्‍चतम प्रीमियम चुकाने के बाद, वरिष्‍ठ नागरिकों की एन्‍युटी आय पर कर लगाए जाने से उनके पास घरेलू जरूरतों को पूरा करने के लिए सीमित धन ही बच पाएगा। वरिष्‍ठ नागरिक अपने घरेलू खर्चों को पूरा करने में मदद के लिए कुछ आयकर राहत या मौजूदा कर प्रोत्‍साहनों में बढ़ोत्‍तरी की उम्‍मीद कर सकते हैं।एक बड़ी राहत जो वरिष्‍ठ नागरिकों को मिल सकती है वह है वर्ष में उनके हाथ में आने वाली पेंशन को कर-मुक्‍त बनाना। जबकि 2-3 दशकों की अपनी पूरी आय अवधि में उन्‍होने अपनी आय पर कर चुकाया है और इसलिए यह उचित है कि उनकी आय को सेवा-निवृत्ति अवधि के सालों के दौरान करों से राहत दी जाए। एन्‍युटी या नियमित पेंशन को कई स्‍कीमों के जरिये प्राप्‍त किया जाता है जैसे इमिडिएट एन्‍युटी स्‍कीम, एनपीएस, प्रधान मंत्री व्‍यय वंदना योजना (पीएमवीवीवाई) या यहां तक कि सुपरएनुऐशन (सेवानिवृत्ति) के बाद भी पेंशन मिलती है। सेवा-निवृत्ति के लिए बचत करने में एनपीएस एक लोकप्रिय निवेश विकल्‍प है। जबकि 60 वर्ष की उम्र में परिवर्तित हिस्‍सा कर-मुक्‍त है, उसके बाद प्राप्‍त होने वाली मासिक एन्‍युटी निवेशकों के हाथों में कर-योग्‍य है। यहां तक कि सीनियर सिटीजन्‍स सेविंग्‍स स्‍कीम से प्राप्‍त होने वाला ब्‍याज भी कर-योग्‍य है जिसे वरिष्‍ठ नागरिक कर-मुक्‍त बनाया जाना चाहते हैं।प्राप्‍त होने वाली पेंशन की राशि को व्‍यक्ति की आय में जोड़ा जाता है और उस पर आयकर तालिका के अनुसार कर लगाया जाता है। 60 और 80 के बीच की उम्र वाले वरिष्‍ठ नागरिक होने की स्थिति में 3 लाख रुपये तक की आय कर-मुक्‍त है, जबकि 80 वर्ष से अधिक उम्र वालों के लिए 5 लाख रुपये तक की आय कर-मुक्‍त है।एक उदाहरण की मदद से दर्शाने के लिए यदि करदाता ने अपने 60वें जन्‍मदिन पर 50 लाख रुपये का एक एनपीएस कोष जमा किया है, तो वह उस का 60% यानि कर छूट वाले हिस्‍से के तौर पर 30 लाख रुपये वापस ले सकता है। अब बाकि बची 20 लाख रुपये की राशि पर यदि करदाता 6% की दर पर वार्षिक रिटर्न वाली एक एन्‍युटी लेता है, तो उसकी वार्षिक एन्‍युटी आमदनी 1.20 लाख या दस हजार रुपये प्रति महीना होगी। वर्तमान कर प्रावधान के तहत, यह एन्‍युटी आमदनी पूरी तरह से कर-योग्‍य है और यदि वरिष्‍ठ नागरिक करदाता 30% कर वर्ग में आता है, तो उसकी कुल एन्‍युटी आमदनी केवल 7 हजार रुपये प्रति महीना होगी। इसे कर-मुक्‍त बनाते हुए सरकार प्रति महीना 3000 रुपये तक की अतिरिक्‍त खर्च राशि दे सकती है, जो वरिष्‍ठ नागरिकोंके लिए एक बड़ी राहत होगी।सरकार वरिष्‍ठ नागरिकों के लिए एक नई कर-मुक्‍त पेंशन स्‍कीम भी ला सकती है। ऐसी कर-मुक्‍त एन्‍युटी स्‍कीम लाने से सेवा-निवृत्‍त लोगों को कर देने के बारे में चिंता किए बिना एन्‍युटी स्‍ट्रीम/ धारा का आनंद लेने में मदद मिलेगी। सरकार उस सीमा तक एक कट-ऑफ भी प्रदान कर सकती है, जहां तक मौजूदा स्‍कीमों से प्राप्‍त पेंशन को कर-मुक्‍त किया जा सकता है।एक अन्‍य बड़ी राहत ये है कि वरिष्‍ठ नागरिकों सहित करदाता ये देख रहे हैं कि सरकार उपकर या अधिभार के रूप में कोई नया कर ना लेकर आए। कोई भी नया कर नियमित आय जरूरतों को पूरा करने के लिए मिलने वाली आय को कम कर सकता है। यदि व्‍यक्तियों के पास ज्‍यादा पैसा बचता है तो उन्‍हे शेष राशि को निवेश करने और खर्च करने के लिए प्रोत्‍साहन मिलेगा। लंबे समय के लिए अर्थव्‍यवस्‍था को बढ़ावा देने के लिए व्‍यक्तिगत निवेश और उपभोक्‍ता खर्च दोनो ही महत्‍वपूर्ण हैं।

सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंSupertech Twin Tower: सुपरटेक के ‘ट्विन टॉवर’ ढहने के 2 दिन पहले Supreme Court का बड़ा फैसला, सुनकर झूम उठेंगे ग्राहक******दिल्ली से सटे नोएडा में सबसे विवादित और चर्चित इमारत सुपरटेक ट्विन-टॉवर’ को 28 अगस्त रविवार को ढहाया जाएगा। इससे दो दिन पहले सर्वोच्च न्यायालय ने ट्विन-टॉवर’ के खरीदारों को बहुत बड़ी राहत दी है। उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को कहा कि सुपरटेक के 40 मंजिला ‘ट्विन-टॉवर’ के घर खरीदारों को उनकी पूरी धनराशि वापस दी जाएगी।न्यायालय ने नोएडा के सेक्टर 93ए के एमराल्ड कोर्ट प्रोजेक्ट में स्थित इन ‘ट्विन-टॉवर’ को गिराने का आदेश दिया है और इस भवन को 28 अगस्त को तोड़ा जाना है। शीर्ष अदालत ने दिवाला प्रक्रिया का सामना कर रही फर्म के अंतरिम समाधान पेशेवर (आईआरपी) को शीर्ष अदालत की रजिस्ट्री में एक करोड़ रुपये जमा करने को भी कहा।न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति ए एस बोपन्ना और न्यायमूर्ति जे बी पारदीवाला की पीठ ने कहा कि ‘ट्विन-टॉवर’ के घर खरीदारों को उनके द्वारा जमा किया गया पूरा धन वापस मिलेगा। हालांकि, फिलहाल उन्हें एक करोड़ रुपये में से भुगतान किया जाएगा, जिसे 30 सितंबर तक आईआरपी द्वारा जमा किया जाएगा।न्यायालय के पिछले साल के आदेश के अनुसार घर खरीदारों को उनका पैसा वापस किया जाना है। इस आदेश के तहत धनवापस करने की मांग करने वाली कई अवमानना ​​​​याचिकाओं पर इस समय सुनवाई चल रही है। पीठ ने कहा कि वह यह सुनिश्चित करेगी कि ट्विन-टॉवरों के घर खरीदारों को अदालत के 31 अगस्त 2021 के आदेश के अनुसार उनका पूरा धन वापस मिले।सुप्रीम कोर्ट की बैंच ने कहा, ‘‘इस बीच, यह सुनिश्चित करने के लिए कि इस अदालत के फैसले के तहत घर खरीदारों को उनकी बकाया राशि का कुछ रिफंड मिले, हम आईआरपी को इस अदालत की रजिस्ट्री में 30 सितंबर तक एक करोड़ रुपये की राशि जमा करने का निर्देश देते हैं।’’न्यायालय ने कहा कि न्याय मित्र गौरव अग्रवाल अक्टूबर के पहले सप्ताह में आईआरपी के साथ बैठेंगे और संयुक्त रूप से घर खरीदारों की बकाया राशि पर काम करेंगे। अग्रवाल सुनवाई की अगली तारीख से पहले इस संबंध में पूरा विवरण जमा करेंगे, ताकि कुछ राशि वापस लौटाई जा सके।सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंMSME में 15 हजार से कम वेतन वालों को EPFO में मिल सकता है लाभ, सरकार कर सकती है घोषणा******सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम या MSME को मिलने वाले पैकेज को लेकर भी कयास लगाए जा रहे हैं।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जबसे देश में अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज का ऐलान किया है, तभी से इस बात की चर्चा है कि किस सेक्टर को क्या मिलने जा रहा है। जहां तक बात सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम या MSME की है, तो इसे मिलने वाले पैकेज को लेकर भी कयास लगाए जा रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक,कुछ दिन पहले पीएम की समीक्षा बैठक में MSME मंत्रालय ने कुछ सुझाव दिए थे, और माना जा रहा है कि इनमे से कुछ आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की घोषणा का हिस्सा हो सकते हैं।सूत्रों के मुताबिक, MSME मंत्रालय के द्वारा जो प्रेजेंटेशन दिया गया था, उसमें निम्नलिखित बिंदुओं पर बात की गई थी। में जितनी भी रजिस्टर्ड कंपनियां हैं उन्हें पंद्रह से बीस प्रतिशत ज्यादा लोन दिया जाएगा। इसमें उन्हें ज्यादा फायदा मिलेगा जिन्होंने पिछले सालों में इनकम टैक्स दिया हो। वर्तमान में चल रहे लोन पर एक साल के लिए मॉनेटोरियम दिया जा सकता है।MSME सेक्टर की कंपनियों की बकाये राशि का भुगतान 45 दिनों में किया जा सकता है। यानी कि 50 लाख तक की 15 दिनो में, 50 लाख से 5 करोड़ तक की 30 दिन में और 5 करोड़ से ऊपर की राशि का 45 दिन में भुगतान का करने का एलान हो सकता है। अभी सरकार MSME सेक्टर में काम करने वाले उन कर्मचारियों के, जिनकी सैलरी 15 हजार रुपये तक है, EPFO अकॉउंट में कुछ एक्स्ट्रा राशि दे सकती है।\ MSME सेक्टर में अगर कम्पनी लोन लेती है तो उसमें सरकार मदद कर सकती है और लोन के भुगतान में भी मदद कर सकती है।सरकार MSME सेक्टर के अच्छे उद्यमों में इन्वेस्ट भी कर सकती है।ESIC के पास अभी करीब 30 हजार करोड़ रुपये का फंड है। इस फंड का इस्तेमाल MSME कंपनियों के कर्मचारियों के हित में इस्तेमाल करने का ऐलान हो सकता है।

सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंशेयर बाजार में पांच दिन की गिरावट थमी, सेंसेक्स 574 अंक चढ़कर 57 हजार के पार बंद******bseHighlights शेयर बाजारों में पिछले पांच कारोबारी सत्रों से जारी गिरावट पर बुधवार को विराम लगा और बीएसई सेंसेक्स 574.35 अंक उछलकर बंद हुआ। रिलायंस इंडस्ट्रीज, इन्फोसिस, टीसीएस, एचडीएफसी लि.तथा एचडीएफसी बैंक में लिवाली से बाजार में तेजी लौटी। वैश्विक स्तर पर सकारात्मक रुख से भी बाजार को मजबूती मिली है। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 574.35 अंक यानी 1.02 प्रतिशत की बढ़त के साथ 57,037.50 अंक पर बंद हुआ।कारोबार के दौरान सूचकांक एक समय 753.36 अंक यानी 1.33 प्रतिशत चढ़ गया था। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 177.90 अंक यानी 1.05 प्रतिशत की बढ़त के साथ 17,136.55 अंक पर बंद हुआ। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, एचडएफसी लि.और एचडीएफसी बैंक के शेयरों में निचले स्तर पर लिवाली हुई, जिसका बाजार पर सकारात्मक असर पड़ा। विदेशी निवेशक पैसा निकाल रहे हैं, जबकि बाजार को घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) से मदद मिल रही है। इससे कुछ हद तक संतुलन बन रहा है। सेंसेक्स के तीस शेयरों में से अल्ट्राटेक सीमेंट, मारुति, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एशियन पेंट्स, टीसीएस, हिंदुस्तान यूनिलीवर लि., भारती एयरटेल, एचडीएफसी और डॉ.रेड्डीज प्रमुख रूप से लाभ में रहे।इसके उलट नुकसान में रहने वाले शेयरों में बजाज फाइनेंस , आईसीआईसीआई बैंक, बजाज फिनसर्व, टाटा स्टील और आईटीसी शामिल हैं। इससे पहले, दोनों मानक सूचकांक बीएसई सेंसेक्स और एनएसई निफ्टीमें लगातार पांच कारोबारी सत्रों में गिरावट दर्ज की गयी थी। एशिया के अन्य बाजारों में हांगकांग का हैंगसेंग, दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और चीन का शंघाई कंपोजिट नुकसान में रहे, जबकि जापान का निक्की फायदे में रहा। यूरोप के प्रमुख बाजारों में दोपहर के कारोबार में तेजी का रुख था। अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.89 प्रतिशत लाभ के साथ 108.2 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को 5,871.69 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे।सीटपरदोबाराखिलपाएगाBJPकाकमलदेखेंइनेलो को जबरदस्त झटका, उपाध्यक्ष अशोक अरोड़ा के साथ कई नेताओं ने पार्टी छोड़ी****** हरियाणा में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले इंडियन नेशनल लोकदल () को तगड़ा झटका देते हुए पार्टी के उपाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने अपने समर्थकों के साथ संगठन की प्राथमिक सदस्यता से त्यागपत्र दे दिया है। अरोड़ा का राजनीतिक करियर 35 वर्षों का है और वह 20 साल से अधिक समय तक इनेलो की हरियाणा इकाई के अध्यक्ष रहे।‘पंजाबी धर्मशाला’ में यहां समर्थकों और सहयोगियों के साथ बैठक के बाद उन्होंने पार्टी छोड़ने की घोषणा की। कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए अरोड़ा ने कहा कि वह भारी दिल से पार्टी छोड़ रहे हैं क्योंकि पार्टी के संरक्षक ने उन्हें अपने बेटों की तरह प्यार और सम्मान दिया। उन्होंने बताया कि राजनीतिक परिस्थितियों ने उन्हें यह निर्णय करने पर मजबूर किया है।उन्होंने यह भी कहा, ‘‘मौजूदा राजनीतिक परिदृश्य में क्षेत्रीय राजनीतिक दलों की बहुत अधिक भूमिका नहीं है, इसलिए राष्ट्रीय पार्टी में जाना समय की जरूरत है।’’ अरोड़ा ने कहा कि वह चौटाला से मिल कर पार्टी छोड़ने के लिए उनसे क्षमा याचना करेंगे और अपने भविष्य के राजनीतिक करियर के लिए उनसे आशीर्वाद लेंगे।ऐसी खबरें हैं कि अरोड़ा कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं। हालांकि, जब उनसे इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि सभी पहलुओं का मूल्यांकन करने के बाद ही वह निर्णय करेंगे। उन्होंने कहा कि वह उन नेताओं की तरह नहीं हैं जो पहले चौटाला और फिर कुलदीप बिश्नोई और भूपेंद्र सिंह हुड्डा जैसे कांग्रेस नेताओं के साथ बने रहे और अंतत: भाजपा में शामिल हो गए।राजनीतिक जानकारों के अनुसार अगर अरोड़ा भाजपा के अलावा किसी भी पार्टी में शामिल होते हैं, तो यह न केवल कुरुक्षेत्र जिले के विधानसभा क्षेत्रों के परिणाम को प्रभावित करेगा, बल्कि राज्य के कई विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों में भी इसका असर दिखेगा क्योंकि उन्हें पंजाबी समुदाय का एक कद्दावर नेता माना जाता है।

हाल का ध्यान

लिंक