वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > लाइबिन सिटी > मूलपाठ

Livpure ने 70% वॉटर रिकवरी वाला दुनिया का पहला RO वॉटर प्यूरीफायर लॉन्च किया

2022-10-04 09:49:30 लाइबिन सिटी

ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियास्त्री हो या पुरुष कभी भी नहीं करना चाहिए ये 5 काम, मां लक्ष्मी कर देगी आपका त्याग******हिंदू धर्म में गरुड़ पुराण का विशेष महत्व है। 18 महापुराणों में से एक इस पुराण में स्वर्ग, नर्क, पाप-पुण्य, मृत्यु के बारे में बताया गया है। इसके अलावा इसमें कई ऐसी नीतियां बताई गई है जो आपके जीवन की हर मुश्किल से दूर रखने में मदद करती है। गरुड़ पुराण में एक ओर जहां मौत का रहस्य बताया है वहीं दूसरी ओर जीवन के रहस्य छिपे हुए है। इसर पुराण में खई ऐसी बीतें बताई गई जिनका पालन करके आप एक अच्छा जीवन पा सकते हैं।में ऐसी ही कुछ बातें बताई गई है। जिनके अनुसार आपके द्वारा किए गए कुछ कार्यों से मां लक्ष्मी अप्रसन्न हो जाती है। हर कोई चाहता है कि इसके घर पर कभी भी धन की कमी न हो। मां लक्ष्मी की कृपा हमेशा बनी रहे। जिससे की आपके घर में हमेशा सुख-शांति बनीं रहे। इसीलिए मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए विभिन्न तरीके के उपाय अपनाते हैं।कुचैलिनं दन्तमलोपधारिणं ब्रह्वाशिनं निष्ठुरवाक्यभाषिणम्।सूर्योदये ह्यस्तमयेपि शायिनं विमुञ्चति श्रीरपि चक्रपाणिम्।।अर्थ- मैले वस्त्र पहनने वाले, दांत गंदे रखने वाले, ज्यादा खाने वाले, निष्ठुर बोलने वाले और सूर्योदय एवं सूर्यास्त के समय सोने वाले स्वयं विष्णु भगवान हो तब भी उन्हें भी देवी लक्ष्मी त्याग देती हैं।गरुड़ पुराण के अनुसार कोई व्यक्ति गंदे कपड़े पहनता हैं तो मां लक्ष्मी उसका त्याग कर देती हैं। अगर आपने गंदे कपड़े पहने तो आपको कोई पसंद नहीं करेगा। हर कोई आपसे दूर बना लेगा। जिससे आपके प्यापार, नौकरी आदि पर बुरा असर पड़ सकता है। इसके उलट अगर आप साफ-सुथरे कपड़े पहनेंगे तो लोग आपसे लोग दूर नहीं भागेंगे। इसके साथ ही आपका समाज में मान-सम्मान बढ़ेगा।जिन लोगों के दांत गंदे होते हैं मां लक्ष्मी उनके साथ कभी नहीं रहती हैं। दांत गंदे का मतलब है आपका स्वास्थ्य और स्वभाव। जो लोग अपने दांत साफ नहीं रख पाते हैं वह दांतों संबंधी किसी न किसी बीमारी से घिरे रहते है। इतना ही नहीं गंदे दांत वाले लोग आलसी स्वभाव के होते है। जिसके कारण कोई भी व्यक्ति इन्हें जिम्मेदारी वाला काम देने से बचता है।जो लोग जरुरत से ज्यादा भोजन करते हैं तो आगे चलकर उन्होंने मोटापा सहित कई खतरनाक बीमारियों का सामना करना पड़ता है। इतना ही नहीं ज्यादा खाने से शरीर में आलस्य आता है। इसके साथ ही यह लोग परिश्रम के बजाय भाग्य पर भरोसा करते हैं। जबकि मां लक्ष्मी ऐसे लोगों के साथ रहना पसंद करती हैं जो लोग कठिन परिश्रम करते हैं।जो लोग बिना किसी बात के छोटी से छोटी बात पर दूसरे के ऊपर चिल्लाते हैं, अपशब्द कहते है। जो लोग अपने से छोटे लोगों से प्यार और बड़ों का आदर नहीं करते हैं। ऐसे लोगों से मां लक्ष्मी हमेशा अप्रसन्न रहती हैं। इसलिए कहा जाता है कि सबसे अच्छी से बात करें और मधुर वाणी का इस्तेमाल करे।गरुड़ पुराण के अनुसार सूर्योदय और सूर्यास्त का समय भगवान को याद करने और व्यायाम के लिए निश्चित किया गया हैं। जहां सुबह उठकर एक्सरसाइज करने के ढेरों लाभ है। क्योंकि सुबह के समय वातावरण में ज्यादा ऑक्सीजन होती हैं जो आपके लंग्स के लिए काफी फायदेमंद है। वहीं सूर्यास्त के समय भगवाव को स्मरण करना चाहिए। इससे मन शांत होने के साथ-साथ शरीर में पॉजिटिव एनर्जी का प्रवाह बढ़ जाता है। जो लोग सूर्योदय एवं सूर्यास्त के समय सोते रहते हैं। वह आलसी कहलाते हैं। आलसी स्वभाव के लोगों के पास मां लक्ष्मी कभी नहीं रहती हैं।

ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियाOperation Blue Star: ऑपरेशन ब्लूस्टार की बरसी पर लगे 'खालिस्तान जिंदाबाद' के नारे, चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात******Highlightsऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी के मौके पर पंजाब के अमृतसर में भारी संख्या में पुलिस और जवान तैनात किए गए हैं। अमृतसर में कट्टरपंथी संगठनों ने आज बंद का भी आह्वान किया है, लेकिन सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद होने की वजह से कोई अनहोनी नहीं हुई। आज का प्रदर्शन शांतिपूर्ण तरीके से खत्म हुआ है। हालांकि इस दौरान कुछ लोगों ने खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए।श्री अकाल तख्त साहिब जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने आज बरसी के मौके पर बयान दिया है। उन्होंने कहा, 'हम अपने लोगों को खुलेआम शस्त्रों की ट्रेनिंग देंगे। बाकी लोग छुपकर ट्रेनिंग देते हैं, इस बात को कहने में मुझे कोई हर्ज नहीं है।'जत्थेदार हरप्रीत सिंह ने ये भी कहा, 'उस समय रशिया ने भारत का साथ दिया, जब 1984 और ऑपरेशन ब्लूस्टार (Operation Blue Star) का साथ दिया। वो भी आज खत्म हो गया है। आज हर गांव में चर्च और मस्जिद बन रही है। हमें अपने धर्म का प्रचार करना है, नहीं तो हम धर्म से दूर हो जाएंगे।'सोमवार को ऑपरेशन ब्लू स्टार (Operation Blue Star) की बरसी पर कई लोग अमृतसर में स्वर्ण मंदिर के बाहर जमा हुए और खालिस्तान के समर्थन में नारेबाजी की। हालांकि पुलिस फोर्स की तैनाती की वजह से कोई अनहोनी नहीं हुई। इस दौरान कई लोगों के हाथों में जरनैल भिंडरावाले के पोस्टर, बैनर और तस्वीरें भी नजर आईं।क्या है ऑपरेशन ब्लू स्टारजून का महीना सिख समुदाय को बड़े जख्मों की याद दिलाता है। इसी महीने में स्वर्ण मंदिर में सेना का ऑपरेशन ब्लूस्टार (Operation Blue Star) चलाया गया था। सेना ने जून 1984 में स्वर्ण मंदिर परिसर से आतंकियों को बाहर निकालने के लिए 'ऑपरेशन ब्लूस्टार' चलाया था। इस दौरान भीषण गोलीबारी हुई थी और अकाल तख्त को भारी नुकसान हुआ था। ये एक ऐसा मौका था, जब हरमंदिर साहिब में गुरु ग्रंथ साहिब का पाठ नहीं हो पाया था।1 जून से 8 जून 1984 के बीच चलाए गए इस ऑपरेशन में कई जानें गई थीं। इस दौरान स्वर्ण मंदिर का कुछ हिस्सा भी क्षतिग्रस्त हुआ था। ऑपरेशन ब्लूस्टार के बाद ही तत्कालीन पीएम इंदिरा गांधी की उनके सिख अंगरक्षकों ने हत्या कर दी थी, जिसके बाद देश में दंगे भड़क गए थे। इन दंगों में लगभग 3,000 सिख मारे गए थे।ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियाजब पिता को खोने के दुख के बावजूद बल्लेबाजी को उतरे थे 17 साल के कोहली******Highlightsकर्नाटक के खिलाफ 2006 में दिल्ली के रणजी ट्रॉफी मैच के तीसरे दिन जब पुनीत बिष्ट ड्रेसिंग रूम में पहुंचे तो कमरे में सन्नाटा पसरा था। एक कोने में 17 साल का विराट कोहली बैठा था, जिसकी आंखें रोने से लाल थी। पुनीत बिष्ट यह देखकर सकते में आ गए, लेकिन उन्हें अहसास हो गया कि इस लड़के के भीतर कोई तूफान उमड़ रहा है। कोहली के पिता प्रेम का कुछ घंटे पहले ही ब्रेन स्ट्रोक के कारण निधन हुआ था। कोहली और बिष्ट नाबाद बल्लेबाज थे, लेकिन विराट कोहली पर मानों दुखों का पहाड़ टूट पड़ा था।एक समय दिल्ली के विकेटकीपर रहे बिष्ट अब मेघालय के लिए खेलते हैं। उन्होंने उस घटना को याद करते हुए कहा कि आज तक मैं सोचता हूं कि उसके भीतर ऐसे समय में मैदान पर उतरने की हिम्मत कहां से आई। हम सब स्तब्ध थे और वह बल्लेबाजी के लिए तैयार हो रहा था। उन्होंने विराट कोहली के सौवें टेस्ट से पहले उस घटना को याद करते हुए कहा कि उसके पिता का अंतिम संस्कार भी नहीं हुआ था और वह इसलिए आ गया कि वह नहीं चाहता था कि टीम को एक बल्लेबाज की कमी खले, क्योंकि मैच में दिल्ली की हालत खराब थी। करीब 16 साल पहले की वह घटना आज भी बिष्ट को याद है और यह भी कि कप्तान मिथुन मन्हास और तत्कालीन कोच चेतन चौहान ने विराट को घर लौटने की सलाह दी थी। उन्होंने कहा कि उस समय चेतन सर हमारे कोच थे। चेतन सर और मिथुन भाई दोनों ने विराट को घर लौटने को कहा था क्योंकि उन्हें लगा कि इतनी कम उम्र में उसके लिए इस सदमे को झेलना आसान नहीं होगा।पुनीत विष्ट ने कहा कि टीम में सभी की यही राय थी कि उसे अपने घर परिवार के पास लौट जाना चाहिए। लेकिन विराट कोहली अलग मिट्टी के बने हैं। बिष्ट ने करीब एक दशक तक दिल्ली के लिए खेलने के बाद 96 प्रथम श्रेणी मैचों में 4378 रन बनाए हैं। इसके बावजूद युवा विराट कोहली के साथ 152 रन की वह साझेदारी उन्हें सबसे यादगार लगती है। बिष्ट ने उस मैच में 156 और कोहली ने 90 रन बनाए थे। उन्होंने कहा कि विराट ने अपने दुख को भुलाकर जबर्दस्त दृढता दिखाई। उसने कुछ शानदार शॉट्स खेले और मैदान पर हमारी बहुत कम बातचीत हुई। वह आकर इतना ही कहता था कि लंबा खेलना है, आउट नहीं होना है। मुझे समझ नहीं आ रहा था कि क्या कहूं। मेरा दिल कहता था कि उसके सिर पर हाथ रखकर उसे तसल्ली दूं लेकिन दिमाग कहता था कि नहीं, हमें टीम को जिताने पर फोकस करना है।बिष्ट ने कहा कि इतने साल बाद भी विराट उसी 17 साल के लड़के जैसा है। उसमें कोई बदलाव नहीं आया है। बंगाल के विकेटकीपर श्रीवत्स गोस्वामी ने भी भारत के लिए अंडर 19 क्रिकेट खेलने के दिनों को याद करते हुए कहा कि हम बंगाल से थे और विराट दिल्ली से। उसकी ऊर्जा और आक्रामकता गजब की थी। उसके साथ रहते हुए कोई भी पल उबाऊ नहीं होता था।

Livpure ने 70% वॉटर रिकवरी वाला दुनिया का पहला RO वॉटर प्यूरीफायर लॉन्च किया

ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियाराशिफल 15 जनवरी 2018: सूर्य उत्तराषाढ़ा नक्षत्र में, इन राशियों के लिए होगा फायदेमंद******: मांगलिक कार्य और नए कार्यों का आयोजन करने के लिए अत्यंत शुभ दिन है। संतानों का शुभ समाचार मिलेगा। दांपत्यजीवन में सुख और संतोष की भावना अनुभव करेंगे। मित्र मंडल तथा बुजुर्गवर्ग की तरफ से तथा नौकरी-व्यवसाय में चौतरफा लाभ की प्राप्ति होगी।: गणेशजी के आशीर्वाद से आपके हरेक कार्य सफलतापूर्वक सफल होंगे। नौकरी और व्यवसाय में पदोन्नति और वृद्धि होगी। व्यापारियों के रुके हुए पैसे मिलेंगे। पिता तथा बुजुर्गवर्ग से लाभ होगा। आर्थिक लाभ और परिवार में आनंद रहेगा। सरकार की तरफ से लाभ प्राप्त कर सकते हैं। सार्वजनिक मान-सम्मान में वृद्धि और गृहस्थजीवन में सुख-शांति बनी रहेगी।ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियाYGF chapter 2: 6 महीने की बेटी के पिता केजीएफ स्टार यश बनने जा रहे हैं दूसरी बार पिता, नन्हीं आर्या ने किया अनाउंस******हाल ही में अपनी 6 महीने की बेटी आर्या का नाम अनाउंस करने वाले केजीएफ स्टार यश और उनकी पत्नी राधिका पंडित ने अपने फैंस को एक सरप्राइज से चौंका दिया। दोनों एक बार फिर से माता-पिता बनने वाले हैं। यश ने सोशल मीडिया पर अपनी बेटी आर्या की तस्वीरों के साथ बड़े ही मजेदार तरीके से इस बात की घोषणा की।वीडियो में प्यारी आर्या कई सारे पोज देती दिख रही है, उसकी तस्वीरों के साथ टेक्स्ट लिखे हुए हैं, जिससे इस बात की जानकारी दी गई कि वो बड़ी बहन बनने वाली है। वीडियो में लिखा है- सभी को हेलो। मैं आर्या, और आप सब विश्वास नहीं करेंगे जो मैंने अभी सुना। वो कह रहे हैं कि मेरे डैड के पास स्पीड है लेकिन ये? एक मिनट रुकिए, ये बहुत जल्दी नहीं है? या बहुत देर हो गई ये घोषणा करने में? लेकिन मैं बहुत खुश हूं और मुझे पूरा भरोसा है कि आप भी बहुत खुश होंगे। मेरे माता-पिता दूसरे बच्चे को ला रहे हैं। रुको... इसका मतलब मुझे अपने खिलौने शेयर करने पड़ेंगे? चलो कोई बात नहीं... स्वैग से करेंगे उसका स्वागत। - आर्या यश।केजीएफ- चैप्टर वन में नजर आ चुके एक्टर यश ने हाल ही में अपनी बेटी के नामकरण का वीडियो शेयर किया था। यश और राधिका पिछले साल दिसंबर में ही माता-पिता बने हैं।ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियाCorona Cases: 24 घंटे में 8 हजार 13 नए केस, 119 मरीजों की हुई मौत******देश में कोरोना की रफ्तार थमती नज़र आ रही है। अब कोरोना के दैनिक मामले 10 हजार से भी कम हो गए हैं। आज यानी 28 फरवरी को बीते 24 घंटे में 8 हजार 13 नए मामलों की पुष्टि हुई है। इस दौरान 16 हजार 765 लोग ठीक हुए हैं और 119 मरीजों की मौत हुई है। अभी देश में 1 लाख 2 हजार 601 एक्टिव मरीज हैं और पॉजिटिविटी रेट 1.11 प्रतिशत पहुंच गई है।कोरोना से देश में अब तक 5 लाख 13 हजार 843 मरीजों की मौत हो चुकी है। रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 10,273 नए मामले सामने आए थे। उपचाराधीन मरीजों की संख्या गिरकर 1,11,472 हो गई थी। देश में कोविड-19 के दैनिक मामले लगातार 21 दिन से एक लाख से कम बने हुए हैं। देश में अभी 1,11,472 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है और यह संख्या कुल मामलों का 0.26 प्रतिशत है।उल्लेखनीय है कि देश में सात अगस्त, 2020 को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त, 2020 को 30 लाख और पांच सितंबर, 2020 को 40 लाख से अधिक हो गई थी। संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर, 2020 को 50 लाख, 28 सितंबर, 2020 को 60 लाख, 11 अक्टूबर, 2020 को 70 लाख, 29 अक्टूबर ,2020 को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। देश में 19 दिसंबर, 2020 को ये मामले एक करोड़ के पार हो गए थे। पिछले साल चार मई को संक्रमितों की संख्या दो करोड़ के पार और 23 जून, 2021 को तीन करोड़ के पार पहुंच गई थी। इस साल 26 जनवरी को मामले चार करोड़ के पार पहुंच गए।

Livpure ने 70% वॉटर रिकवरी वाला दुनिया का पहला RO वॉटर प्यूरीफायर लॉन्च किया

ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियाIND vs AUS: अक्षर की फिरकी के आगे क्यों नहीं टिक पाए कंगारू, गेंदबाज ने खुद खोला बड़ा राज******Highlightsटीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को तीन मैचों की टी20 सीरीज के दूसरे मुकाबले में 6 विकेट से मात दी। इसी के साथ टीम इंडिया ने सीरीज में 1-1 की बराबरी भी कर ली है। दूसरे टी20 में टीम की जीत के हीरो स्टार ऑलराउंडर अक्षर पटेल रहे। अक्षर ने 8 ओवर के छोटे से मैच में शानदार गेंदबाजी की थी। इस मैच की जीत के बाद अक्षर ने एक बड़ा बयान भी दिया।भारत के कप्तान रोहित शर्मा की 20 गेंदों में 46 रन की नाबाद पारी के अलावा, बाएं हाथ के स्पिनर अक्षर पटेल ने दूसरे टी 20 मैच के दौरान शानदार भूमिका निभाई, जहां गेंदबाज ने मैच का रुख बदल दिया। पटेल ने अपने दो ओवर में केवल 13 रन दिए, जिसमें एक पॉवरप्ले के दौरान फेंका था। उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज टिम डेविड और ग्लेन मैक्सवैल का विकेट झटका। साथ ही अगले बल्लेबाज मैथ्यू वेड को चार गेंदे डॉट फेंकी। पटेल ने लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को बीसीसीआई द्वारा अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में कहा, "हम काफी देर से ड्रेसिंग रूम में इंतजार कर रहे थे। लेकिन फिर भी, हम योजनाओं पर चर्चा कर रहे थे और खेल के बारे में बात कर रहे थे कि मैच सिर्फ 8 ओवर का है, उसी में टीम को कुछ अलग करके दिखाना होगा।"पटेल ने अपनी विचार प्रक्रिया के बारे में बताया जब मैच को 8 ओवरों के लिए कर दिया गया, "मैं गेंद को सरल रखने की कोशिश कर रहा था, लेकिन यह नहीं सोचता कि बल्लेबाज मुझे कहां मारने की कोशिश करेगा। इसलिए एक गेंदबाज के रूप में, मेरे लिए अपनी लाइन और लेंथ के साथ-साथ अपनी योजना पर टिके रहना बहुत महत्वपूर्ण था।" चोटिल रवींद्र जडेजा के बदले अक्षर पटेल को जगह दी गई। भारतीय टीम में आने के बाद पटेल आस्ट्रेलिया के खिलाफ दोनों मैचों में अपने गेंदबाजी स्पैल से प्रभावशाली रहे हैं। मोहाली में भी पटेल ने एक अद्भुत चमत्कार दिखाया था, जहां उन्होंने 17 रन देकर 3 विकेट झटके थे।पटेल ने आगे बताया, "हम बैठक में बात करते रहते हैं और आगे की प्लानिंग करते हैं। मैंने मोहाली में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेला, जहां मैंने परिस्थितियों को भाप लिया था और जानता था कि किस प्रकार की गेंदें अच्छा काम करेंगी। इससे पहले कि मैं उस दिन अपनी पहली गेंद फेंकता, यह तथ्य कि हमने पहले बल्लेबाजी की, हम जानते थे कि पिच कैसा व्यवहार करती है, गेंदबाजों के लिए कोई वास्तविक मदद नहीं है।" भारत की शुक्रवार के मैच में जीत के साथ, तीन मैचों की सीरीज अब 1-1 की बराबरी पर है, जिसमें अंतिम मैच रविवार को हैदराबाद में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला जाएगा।ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियासैन्य अभ्यास के लिए F-22 लड़ाकू विमान दक्षिण कोरिया भेजेगा अमेरिका******अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने शुक्रवार को कहा कि दिसंबर में दक्षिण कोरिया के साथ होने वाले संयुक्त सैन्य अभ्यास के मद्देनजर अमेरिका छह एफ-22 रैप्टर लड़ाकू विमान सियोल भेजेगा। प्रवक्ता ने समाचार एजेंसी एफे को बताया कि विमान दक्षिण कोरिया-अमेरिका के संयुक्त वायु सेना 'सर्तक इकाई' के अभ्यास के हिस्से के रूप में चार दिसंबर से आठ दिसंबर के बीच उड़ान भरेगा। दक्षिण कोरियाई मीडिया के मुताबिक, ऐसा पहली बार होगा जब अमेरिका एक ही समय में छह एफ-22 रैप्टर लड़ाकू विमान तैनात करेगा। वह (अमेरिका) पहले ही एक दशक में पहली बार इस महीने की शुरुआत में उत्तर कोरियाई जल क्षेत्र के पास तीन परमाणु संपन्न विमान वाहक पोत तैनात कर चुका है।एफ-22 जेट लड़ाकू विमान रडार के तहत उम्दा तरीके से हमलों को अंजाम देने में सक्षम हैं, जो अभ्यास के लिए जापानी द्वीप ओकिनावा के केडेना वायु सेनाअड्डे से रवाना होंगे और अभ्यास के दौरान दक्षिण कोरिया में अमेरिकी सैन्यअड्डे पर रहेंगे। कोरियाई प्रायद्वीप में इन छह लड़ाकू विमानों की तैनाती अमेरिका और दक्षिण कोरिया के बीच हुए एक समझौते का हिस्सा है। यह उत्तर कोरिया पर परामणु कार्यक्रम छोड़ने का दबाव बनाने की एक रणनीति है।

Livpure ने 70% वॉटर रिकवरी वाला दुनिया का पहला RO वॉटर प्यूरीफायर लॉन्च किया

ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियाAsia Cup 2022 IND vs AFG T20I Live Streaming: भारत-अफगानिस्तान के बीच सुपर 4 का आखिरी मुकाबला, जानिए कब, कहां और कैसे देखें ये मैच******Highlights एशिया कप 2022 के सुपर 4 स्टेज के आखिरी मैच में भारत का मुकाबला अफगानिस्तान से होगा। भारत ग्रुप ए के दोनों मुकाबले जीतकर इस राउंड में पहुंचा तो अफगानिस्तान ने भी यहां पहुंचने के लिए ग्रुप बी के अपने दोनों मुकाबले जीते। शान के साथ सुपर 4 में पहुंचने वाली भारतीय टीम इस राउंड में एक अदद जीत के लिए तरस गई। उसे पहले मैच में पाकिस्तान के हाथों 5 विकेट से शिकस्त का सामना करना पड़ा और दूसरे मैच में उसे श्रीलंका ने 6 विकेट से हराया। यानी ये मैच भारत के लिए एशिया कप के इस राउंड में पहली जीत हासिल करने का अंतिम मौका है। जाहिर है अगले मैच में टीम इंडिया जीत दर्ज करने के लिए पूरा जोर लगाएगी जो इसे हाईवोल्टेज मुकाबला बना सकती है।भारत और अफगानिस्तान के बीच एशिया कप के सुपर 4 राउंड का आखिरी मैच 8 सितंबर को खेला जाएगा।एशिया कप का ये मैच यूएई के शहर दुबई के दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला जाएगा।एशिया कप 2022 के सुपर 4 राउंड का ये मुकाबला भारतीय समय के मुताबिक शाम साढ़े सात बजे शुरू होगा जबकि इस मुकाबले का टॉस शाम सात बजे होगा।भारत और अफगानिस्तान के बीच एशिया कप के इस नैच को भारत में स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क पर देखा जा सकता है। ये मैच हिंदी अंग्रेजी के अलावा कुछ अन्य क्षेत्रीय भाषाओं में भी उपलब्ध होगा।भारत और अफगानिस्तान के बीच होने वाले इस मैच की लाइव स्ट्रीमिंग डिज्नी+ हॉटस्टार पर होगी जहां एशिया कप के इस मुकाबले को भारत में ऑनलाइन देखा जा सकता है।इसके अलावा अन्य सभी ताजा अपडेट्स और स्कोरकार्ड के लिए आप के साथ भी जुड़े रह सकते हैं।रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल, विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत, दीपक हुड्डा, दिनेश कार्तिक, हार्दिक पंड्या, अक्षर पटेल, आर अश्विन, युजवेंद्र चहल, रवि बिश्नोई, भुवनेश्वर कुमार, अर्शदीप सिंह, दीपक चाहर।स्टैंडबाय: श्रेयस अय्यर। मोहम्मद नबी (कप्तान), नजीबुल्लाह जादरान (उप-कप्तान), अफसर जजई (विकेटकीपर), अजमतुल्लाह ओमरजई, फरीद अहमद मलिक, फजल हक फारूकी, हशमतुल्लाह शाहिदी, हजरतुल्लाह जजई, इब्राहिम जदरान, करीम जनत, मुजीब उर रहमान, नवीन उल हक , नूर अहमद, रहमानुल्ला गुरबाज (विकेटकीपर), राशिद खान, समीउल्लाह शिनवारी और उस्मान गनी।

ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियाDelhi: दिल्ली में इस तारीख से नहीं घुस पाएंगे ये वाहन, प्रदूषण को लेकर केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला******Highlights राष्ट्रीय राजधानी में सर्दियों की दस्तक के साथ ही हर साल प्रदूषण का तांडव शुरू हो जाता है। यही कारण है कि इस साल दिल्ली सरकार कई महीनों पहले से ही अलर्ट मोड पर है। दरअसल, केजरीवाल सरकार ने आने वाले सर्दियों के मौसम में प्रदूषण बढ़ने की आशंका को देखते हुए राजधानी में मध्यम और भारी वाहनों के प्रवेश पर रोक लगा दी है। राज्य सरकार ने इन वाहनों पर ये रोक 1 अक्टूबर 2022 से 28 फरवरी 2023 तक के लिए लगाई है।दिल्ली सरकार ने राजधानी में प्रदूषण को रोकने के लिए न सिर्फ मध्यम और भारी वाहनों के आने पर तो रोक लगाई ही है साथ ही बसों को लेकर भी बड़ा कदम उठाया है। दिल्ली सरकार ने वायु प्रदूषण पर नियंत्रण पाने के लिए हरियाणा सरकार से अपील की है कि 1 अक्टूबर 2022 से राजधानी में केवल बीएस -6 के अनुपालन वाली बसों को ही प्रवेश दिया जाएगा। एनजीटी (राष्ट्रीय हरित अधिकरण) पहले ही निर्देश जारी कर बता चुका है कि, दिल्ली-एनसीआर में 10 साल से ज्यादा पुराने डीजल वाहनों को चलने की अनुमति नहीं है।ऐसे में दिल्ली परिवहन विभाग के विशेष आयुक्त ओपी मिश्रा ने पत्र में हरियाणा सरकार को लिखा है कि पहले ही राजधानी में सार्वजनिक परिवहन को पूरी तरह से सीएनजी में कर दिया गया है। वहीं दूसरे राज्यों से दिल्ली में आने वाली बसों में डीजल का इस्तेमाल अभी तक जारी है। ऐसे में दिल्ली सरकार हरियाणा से सहयोग की उम्मीद करते हुए एक अक्टूबर से दिल्ली में सिर्फ बीएस-6 बसों को ही अनुमति देने की बात कही है।दिल्ली सरकार ने वायु प्रदूषण के साथ-साथ ध्वनि प्रदूषण पर भी नकेल कसने को लेकर सख्त कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। इसके लिए केजरीवाल सरकार ने खास प्रस्ताव पेश किया है। इस प्रस्ताव के तहत नागरिक निकायों के अधिकारियों और थानाध्यक्षों को खास जिम्मेदारी दी गई है ताकि वे ध्वनि प्रदूषण का उल्लंघन करने वालों पर सख्त कार्रवाई एक्शन ले सकें। इतना ही नहीं प्रस्ताव के मुताबिक दिल्ली पर्यावरण विभाग ने ध्वनि प्रदूषण नियमों की अनदेखी करने वालों पर थाना प्रभारी (एसएचओ) को मुकदमा चलाने तक की जिम्मेदारी दी है।ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियाDGCA Guidelines to All Airports: पक्षियों के विमानों से टक्कर को लेकर DGCA सख्त, जारी किए ये दिशा-निर्देश******Highlightsदेशभर में एयरपोर्ट्स पर पक्षियों और अन्य जीवों के विमानों से टकराने की घटनाएं रोकने के लिए नागर विमानन महानिदेशालय (DGCA) ने आज शनिवार को दिशा-निर्देश जारी कर नियमित गश्त और किसी भी तरह की वन्यजीव गतिविधि पर पायलटों को सूचना देने को कहा।पिछले कुछ हफ्तों में विमानों से पक्षियों के टकराने की कई घटनाएं सामने आई हैं। गत 04 अगस्त को भी गोफर्स्ट एयरलाइन के विमान ने चंडीगढ़ के लिए उड़ान भरी थी, लेकिन एक पक्षी से टकराने के बाद उसे अहमदाबाद एयरपोर्ट पर लौटना पड़ा था। इसके पहले गत 19 जून को पटना से दिल्ली के लिए उड़ान भरने के बाद स्पाइसजेट के विमान के इंजन में आग लग गई थी और 184 यात्रियों को लेकर उड़े विमान को कुछ ही मिनट बाद आपात स्थिति में उतारा गया। दरअसल, विमान से किसी पक्षी के टकराने से इंजन में खामी आ गई थी।डीजीसीए (DGCA) ने शनिवार को जारी अपने परिपत्र में कहा कि सभी एयरपोर्ट संचालकों से कमियों का पता लगाने के लिए उनके वन्यजीव जोखिम प्रबंधन कार्यक्रम की समीक्षा करने का अनुरोध किया गया है। किसी भी एयरपोर्ट में और उसके आस-पास के क्षेत्र में सख्ती से इस दिशा-निर्देश पर अमल करने को कहा गया है। डीजीसीए ने एयरपोर्ट संचालकों से वन्यजीव जोखिम का आकलन करने को कहा है। इसके अलावा नियमित गश्त करने को भी कहा गया है।वहीं, बीते दिनों डीजीसीए के प्रमुख अरुण कुमार ने कहा था कि हाल के हफ्तों में घरेलू विमानन कंपनियों को जिन तकनीकी दिक्कतों का सामना करना पड़ा है, उनमें से कोई भी गड़बड़ी ऐसी नहीं थी जिससे बड़ा खतरा पैदा होता। उन्होंने कहा कि यहां तक कि भारत आने वाली विदेशी एयरलाइंस को भी 16 दिन में 15 बार तकनीकी गड़बड़ी का सामना करना पड़ा है।डीजीसीए के प्रमुख ने एक इंटरव्यू में कहा, "भारत का नागर विमानन क्षेत्र पूरी तरह सुरक्षित है और यहां अंतरराष्ट्रीय नागर विमानन संगठन (आईसीएओ) की ओर से निर्धारित सभी प्रोटोकॉल का पालन किया जाता है। हाल के सप्ताहों में भारतीय एयरलाइन कंपनियों को कई बार तकनीकी गड़बड़ी की समस्या से जूझना पड़ा है और डीजीसीए ने स्पाइसजेट को अपनी उड़ानों में कटौती का भी निर्देश दिया है।नागर विमानन महानिदेशक कुमार ने जोर देकर कहा कि घबराने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि जिन घटनाओं की रिपोर्ट या चर्चा हो रही है उनमें से किसी के भी बड़ा जोखिम या खतरा बनने की संभावना नहीं है। कुमार ने कहा, "सामने आने वाली गड़बड़ियां नियमित प्रकार की समस्याएं हैं और सभी एयरलाइंस या विमानों के बेड़े को इनसे जूझना पड़ता है। पिछले 16 दिन में भारत आने वाली विदेशी एयरलाइंस को 15 मौकों पर इस तरह की समस्या का सामना करना पड़ा है।" हालांकि, एयरलाइंस को जिस तरह की तकनीकी दिक्कतें आई हैं उनपर डीजीसीए प्रमुख ने विस्तार से चर्चा नहीं की।

ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियाशिल्पा शेट्टी के बेटे वियान ने टाइगर श्रॉफ को दिखाए अपने डांस मूव्स, शेयर किया पोस्ट******, और इन दिनों अपनी आने वाली फिल्म '2' के प्रमोशन में बिजी हैं। फिल्म का प्रमोशन करने के लिए हाल ही में 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2' की टीम डांस रिएलिटी शो सुपर डांसर चैप्टर 3 के सेट पर गए थे। जहां टाइगर का एक फैन उनसे मिलने के लिए आया था।टाइगर का यह फैन कोई और नहीं बल्कि शिल्पा शेट्टी कुंद्रा का बेटा वियान राज कुंद्रा है। शिल्पा शेट्टी ने बताया- उनका बेटा टाइगर श्रॉफ का बहुत बड़ा फैन है। इसके साथ ही वियान ने टाइगर को डांस करके भी दिखाया। वियान को डांस करता देख टाइगर ने उन्हें चियर भी किया।शिल्पा ने टाइगर और वियान के साथ फोटो सोशल मीडिया पर शेयर भी की है। शिल्पा शेट्टी ने फोटो शेयर करते हुए लिखा- यह बहुत ही अच्छा दिन था। टाइगर श्रॉफ, अनन्या पांडे और तारा सुतारिया के साथ सुपरडांसर का एपिसोड शूट किया। मेरा बेटा वियान राज कुंद्रा अपने आइडल टाइगर को स्कूल बंक करके मिलने आचया था और अपने मूव्स दिखाए। मेरा दिल गर्व से बड़ा हो गया। अब मैं माता-पिता के फीलिंग महसूस कर सकती हूं कि बच्चों को परफार्म करता देख कैसा महसूस होता है।स्टूडेंट ऑफ द ईयर 2 10 मई को रिलीज होने जा रही है। इस फिल्म से तारा सुतारिया और अनन्या पांडे बॉलीवुड में कदम रखने जा रही हैं। फिल्म का ट्रेलर और कुछ गाने रिलीज हो चुके हैं। लोगों को यह काफी पसंद भी आ रहे हैं।ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियाUP News: 80 हजार का बिजली बिल आया तो युवक चढ़ गया हाईटेंशन लाईन पर, पुलिस ने बड़ी मुश्किलों से उतारा******Highlights गर्मियों में बिजली की खपत एकाएक बढ़ जाती है। जब बिजली की खपत बढ़ेगी तो जाहिर है कि बिल भी बढ़ेगा। लेकिन कई बार ऐसा होता है कि बिजली का बिल इतना आ जाता है कि जिसे देखकर उपभोक्ता को ही करंट लग जाता है। ऐसा ही बिजली बिल के ज्यादा आने से एक व्यक्ति को करंट लग गया। मतलब कि वो भौचक्का रहा गया कि इतना बिल कैसे आ सकता है? इसके बाद जो उसने किया वह बहुत ही खतरनाक और चौंकाने वाला है। व्यक्ति गांव के पास से गुजर रही हाईटेंशन बिजली आपूर्ति लाइन पर ही बैठ गया।मामला उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले के सराय अकील थाना क्षेत्र के नंदा का पुरा गांव का है। यहां रविवार दोपहर को एक अजीबोगरीब घटना में एक व्यक्ति हाईटेंशन बिजली आपूर्ति लाइन के टावर पर चढ़ गया। जब ग्रामीणों ने हाईटेंशन बिजली आपूर्ति लाइन पर बैठे व्यक्ति को देखा तो उनके बीच अफरातफरी मच गई। गांव वालों ने उसे बचाने के लिए स्थानीय पुलिस को सूचना दी। जिसके बाद पुलिस ने जाल फेंककर उसे पकड़ा और 5 घंटे की मेहनत के बाद नीचे उतारा। दरअसल नंदा का पुरा निवासी अशोक निषाद अपने बढ़ते बिजली बिल से परेशान था, जिसके बाद वह हाईटेंशन बिजली आपूर्ति लाइन टावर पर चढ़ गया।जानकारी होने पर, बिजली विभाग के अधिकारियों के साथ वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और निषाद को उनकी शिकायतों पर गौर करने के आश्वासन के साथ नीचे उतरने के लिए मनाने के कई प्रयास किए। निषाद की पत्नी मोना देवी ने दावा किया कि उनके पति बिजली के बढ़ते बिल को देखकर तनाव में थे। उन्होंने कहा कि हमें 80,700 रुपये का बिजली बिल मिलने के बाद पिछले दो दिनों से निषाद ने खाना तक ठीक से नहीं खाया। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि घर का बिजली कनेक्शन भी काट दिया गया और कोई भी अधिकारी उनकी याचिका सुनने को तैयार नहीं है। उसने दावा किया कि जब वह घर से बाहर गई थी तो उसका पति हाई टेंशन पावर लाइन टावर पर चढ़ गया था। उसने पुलिस को यह भी बताया कि उसने भी घटना स्थल पर पहुंचने के बाद उसे नीचे उतरने के लिए मनाने की कई कोशिश की।अतिरिक्त एसपी (कौशांबी) समर बहादुर ने जानकारी देते हुए कहा कि व्यक्ति को हाई टेंशन पावर लाइन से बचाने के प्रयास जारी थे। उसे 5 घंटे की मशक्त के बाद नीचे उतारा गया। कहा जा रहा है कि बिजली का बिल देखकर युवक तनाव में आ गया था। जिसके बाद वह हाईटेंशन पावर लाइन पर चढ़ गया। युवक के नीचे आने के बाद पुलिस उसे साथ ले गई और मामले की आगे जांच कर रही है।

ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियामुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह पर 25 हजार का जुर्माना, जांच आयोग के सामने नहीं हुए पेश******हाईकोर्ट के एक रिटायर्ड जज की अध्यक्षता वाले जांच आयोग ने मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त परमबीर सिंह पर उसके समक्ष पेश न होने के लिए 25,000 रुपये का जुर्माना लगाया है। महाराष्ट्र सरकार ने इस साल मार्च में सिंह द्वारा राज्य के तत्कालीन गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ लगाए भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच के लिए न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) कैलाश उत्तमचंद चांदीवाल के एक सदस्यीय आयोग का गठन किया था।सरकार के एक वकील ने बृहस्पतिवार को बताया कि सिंह के बुधवार को आयोग के समक्ष पेश न होने पर उन पर 25,000 रुपये का जुर्माना लगाया गया। पिछली सुनवाई के दौरान जांच आयोग ने सिंह को उसके समक्ष पेश होने के लिए ‘‘आखिरी मौका’’ दिया था। यह दूसरी बार है जब सिंह पर जुर्माना लगाया गया है। जून में आयोग ने वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी को सम्मन भेजे जाने के बावजूद उसके समक्ष पेश न होने के लिए 5,000 रुपये का जुर्माना भरने को कहा था। यह धनराशि मुख्यमंत्री के कोविड-19 राहत कोष में जमा की जानी है।मुंबई पुलिस आयुक्त पद से हटाए जाने और मार्च में होम गार्ड्स में तबादला किए जाने के कुछ दिनों बाद सिंह ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लिखे एक पत्र में दावा किया कि देशमुख पुलिस अधिकारियों से मुंबई में रेस्त्रां तथा बार मालिकों से पैसा लेने के लिए कहते थे। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता देशमुख ने आरोपों से इनकार किया है। केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो और प्रवर्तन निदेशालय वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी द्वारा देशमुख के खिलाफ लगाए गए आरोपों की जांच कर रहे हैं।ने70वॉटररिकवरीवालादुनियाकापहलाROवॉटरप्यूरीफायरलॉन्चकियाICC U19 WC 2022: डिफेंडिंग चैंपियन बांग्लादेश के साथ अफगानिस्तान ने भी क्वार्टर फाइनल में बनाई जगह******Highlightsगत चैंपियन बांग्लादेश ने वर्षा से प्रभावित करो या मरो के मुकाबले में शनिवार को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) को डकवर्थ-लुईस पद्धति के तहत नौ विकेट से हराकर अंडर-19 विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में जगह पक्की की। बांग्लादेश के गेंदबाजों ने यूएई को सिर्फ 148 रन पर ढेर कर दिया। गत चैंपियन टीम ने इसके बाद 61 गेंद शेष रहते लक्ष्य हासिल कर लिया।टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरे यूएई ने तीन ओवर के भीतर ही दो विकेट गंवा दिए। ध्रुव पराशर और कप्तान आलिशान शराफु ने इसके बाद तीसरे विकेट के लिए 44 रन जोड़कर पारी को संभाला। पुण्य मेहरा ने इसके बाद 43 रन की पारी खेली लेकिन उन्हें दूसरे छोर से उम्दा जोड़ीदार नहीं मिला। टीम ने अंतिम सात विकेट 98 रन जोड़कर गंवाए।बांग्लादेश की ओर से रिपोन मंडल सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने 31 रन देकर तीन विकेट चटकाए। लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश ने पहले विकेट के लिए 86 रन जोड़कर अच्छी शुरुआत की। महफिजुल इस्लाम (नाबाद 64) और इफ्तेखार हुसैन (37) की सलामी जोड़ी ने जब 45 रन जोड़े तो बारिश के कारण खेल रोकना पड़ा।खेल दोबारा शुरू होने पर बांग्लादेश को 107 रन का लक्ष्य मिला। महफिजुल ने अर्धशतक पूरा किया लेकिन इफ्तेखार पवेलियन लौट गए। महफिजुल ने प्रंतीक नवरोज नाबिल (नाबाद 05) के साथ मिलकर टीम को लक्ष्य तक पहुंचाया जिससे टीम ने नाकआउट में जगह बनाई। बांग्लादेश की भिड़ंत क्वार्टर फाइनल में 29 जनवरी को भारत से होगी जहां वह पिछले टूर्नामेंट के फाइनल के प्रदर्शन को दोहराने की कोशिश करेगा।दूसरी तरफ अफगानिस्तान ने ग्रुप सी में जिम्बाब्वे को 109 रन से हराकर अंतिम आठ में प्रवेश किया जहां उसका सामना श्रीलंका से होगा। अफगानिस्तान की ओर से कप्तान सुलेमान सफी ने 118 गेंद में 14 चौकों और तीन छक्कों की मदद से 111 रन की पारी खेली जिससे टीम ने छह विकेट पर 261 रन बनाए। सफी पारी की अंतिम गेंद पर आउट हुए।सलामी बल्लेबाज नंगेयालिया खरोते ने भी 45 गेंद में आठ चौकों और एक छक्के की मदद से 50 रन बनाए। जिंबाब्वे की ओर से एलेक्स फलाओ ने 54 रन देकर तीन विकेट चटकाए। इसके जवाब में जिंबाब्वे की टीम स्पिनर नंगेयालिया (30 रन पर चार विकेट) की फिरकी के जादू के सामने 36.4 ओवर में 152 रन पर ढेर हो गई। जिंबाब्वे की ओर से सलामी बल्लेबाज मैथ्यूज वेल्च (53) और विकेटकीपर रोगन वोलहटर (नाबाद 28) ही टिककर बल्लेबाजी कर पाए। इन दोनों के अलावा ब्रायन बेनेट (14) ही दोहरे अंक हो छू पाए।

हाल का ध्यान

लिंक