वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > लुओहे > मूलपाठ

मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस के 11 नए मामले, ‘सीरोप्रीवैलेंस’ सूची में सबसे ऊपर

2022-10-04 16:53:33 लुओहे

मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपरलेक्सस ने लॉन्‍च किया हाइब्रिड इलेक्ट्रिक कार ईएस 300 एच का नया वर्जन, कीमत है 59.13 लाख रुपए******Lexus Es 300h जापान की कार कंपनी टोयोटा की लक्जरी वाहन इकाई लेक्सस ने सोमवार को अपनी हाइब्रिड कार का नया संस्करण भारतीय बाजार में पेश किया है। देशभर में इस वाहन की एक्‍स-शोरूम कीमत 59.13 लाख रुपए है। सातवीं पीढ़ी की ईएस 300 एच में 2.5 लीटर का पेट्रोल इंजन तथा लेक्सस की चौथी पीढ़ी की हाइब्रिड प्रणाली लगी है। लेक्सस इंडिया के अध्यक्ष पी बी वेणुगोपाल ने कहा कि हमारे देश को प्रदूषण की समस्या से जूझना पड़ रहा है। हमारा मानना है कि हाइब्रिड इलेक्ट्रिक वाहन इसका समाधान हैं। कंपनी का दावा है कि यह वाहन प्रति लीटर 22.37 किलोमीटर दौड़ेगा।इस वाहन में दस एयरबैग और अन्य सुरक्षा फीचर्स जैसे कि स्टैबिलिटी कंट्रोल, हिल स्टार्ट एसिस्ट, एंटी थेफ्ट प्रणाली आदि दिए गए हैं। लेक्सस पिछले साल मार्च में भारतीय बाजार में उतरी थी। वेणुगोपाल ने कहा कि अब कंपनी की मौजूदगी आठ शहरों में है। यह देश के 80 प्रतिशत लक्जरी कार बाजार में मौजूद है।

मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपरYasin Malik: अपहरण-हत्याएं, आतंकियों के लिए पैसे जुटाए... पढ़ें यासीन मलिक के गुनाहों का 'काला चिट्ठा'******Highlights आतंकी फंडिंग मामले में दोषी ठहराए गए कश्मीरी अलगाववादी नेता (Yasin Malik) ने बुधवार को NIA की एक कोर्ट से कहा कि अगर खुफिया एजेंसियां आतंकवाद से जुड़ी किसी भी गतिविधि को साबित करती हैं, तो वह फांसी को स्वीकार कर लेंगे। विशेष एनआईए जज प्रवीण सिंह के समक्ष सुनवाई के दौरान मलिक ने कहा, "मैं किसी से भीख नहीं मांगूंगा। मामला इस कोर्ट के समक्ष है और मैं इस पर फैसला करने के लिए कोर्ट पर छोड़ता हूं।" उन्होंने कहा, "अगर मैं 28 साल में किसी आतंकवादी गतिविधि या हिंसा में शामिल रहा हूं, अगर भारतीय जांच एजेंसियां यह साबित कर दें, तो मैं राजनीति से संन्यास ले लूंगा। मैं फांसी को स्वीकार करूंगा.. मैंने सात प्रधानमंत्रियों के साथ काम किया है।"राष्ट्रीय जांच एजेंसी () ने सुनवाई के दौरान कोर्ट को बताया कि घाटी से कश्मीरी पंडितों के पलायन के लिए आरोपी जिम्मेदार है। केंद्रीय जांच एजेंसी ने मलिक के लिए मौत की सजा के लिए भी तर्क दिया। दूसरी ओर, कोर्ट द्वारा नियुक्त न्याय मित्र ने मामले में न्यूनतम सजा के रूप में आजीवन कारावास की मांग की। मामले में अपराधों की सजा का इंतजार कर रहा मलिक को कड़ी सुरक्षा के बीच पटियाला हाउस कोर्ट के विशेष एनआईए न्यायाधीश के समक्ष पेश किया गया।कोर्ट ने बुधवार की सुनवाई से पहले एनआईए अधिकारियों को टेरर फंडिंग मामले में उसकी वित्तीय स्थिति का आकलन करने का भी निर्देश दिया था। अभियुक्त को अधिकतम मृत्युदंड की सजा का सामना करना पड़ सकता है, जबकि न्यूनतम सजा उन मामलों में आजीवन कारावास हो सकती है, जिनमें वह शामिल है।यासीन मलिक पर देश के खिलाफ युद्ध छेड़ने, गैरकानूनी गतिविधियों में शामिल होने और कश्मीर में शांति को भंग करने, टेरर फंडिंग में शामिल होने के आरोप हैं। उसने इस मामले में अपना गुनाह कबूल कर लिया था। सुनवाई की आखिरी तारीख को उसने कोर्ट को बताया कि वह धारा 16 (आतंकवादी कृत्य), 17 (आतंकवादी कृत्यों के लिए धन जुटाना), 18 (आतंकवादी कृत्य की साजिश) और धारा 20 (आतंकवादी गिरोह या संगठन का सदस्य होना) तथा भारतीय दंड संहिता की धारा 120-बी (आपराधिक षडयंत्र) और 124-ए (राजद्रोह) के तहत अपराधी है।इसके अलावा यासीन पर 1990 में एयरफोर्स के 4 जवानों की हत्या का आरोप है, जिसे उसने स्वीकारा था। उस पर मुफ्ती मोहम्मद सईद की बेटी रूबिया सईद के अपहरण का भी आरोप है।वर्तमान मामला विभिन्न आतंकवादी संगठनों लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी), हिज्बुल-मुजाहिदीन (एचएम), जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (JKLF) और जैश-ए-मोहम्मद (JAM) से संबंधित है। इसने जम्मू-कश्मीर की स्थिति को बिगाड़ने के लिए आतंकवादी और अलगाववादी गतिविधियों को अंजाम दिया।मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपरअरमान मलिक का रोमांटिक इंग्लिश गाना 'YOU' हुआ रिलीज******Highlightsबॉलीवुड सिंगर अरमान मलिक का नया रोमांटिक सिंगल 'यू' रिलीज हो गया है। ये गाना पेरिस की पृष्ठभूमि पर सेट है। अपने करियर का सबसे रोमांटिक गाना बताते हुए, गायक ने इसे उन लोगों को समर्पित किया है जो शर्म से प्यार का इजहार नहीं कर पाते है।अरमान मलिक ने इंस्टाग्राम पर वीडियो शेयर करके इस बात की जानकारी दी। इसके साथ ही उन्होंने प्रोडक्टन और राइटर्स को धन्यवाद कहा।और एम्मा डेक्लर्क का 'यू' एक ऐसी दुनिया में खिलते युवा प्रेम को दर्शाता है जो बहुत ही भावुकता से भरा है।अरमान कहते है कि यह मेरे लिए रोमांचक है कि मैं श्रोताओं के लिए ऐसा गाना ला पाया हूं।यह गाना अरमान के करियर के सबसे महत्वाकांक्षी गीतों में से एक है।अरिस्टा रिकॉर्डस (सोनी म्यूजिक यूएसए) द्वारा प्रस्तुत और अरमान मलिक द्वारा गाया गया, 'यू' यूट्यूब और सभी स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है।

मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस के 11 नए मामले, ‘सीरोप्रीवैलेंस’ सूची में सबसे ऊपर

मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपरBengal SSC Scam: पार्थ चटर्जी के कैबिनेट से बाहर होने के बाद जांच में आएगी तेजी, होंगे नए खुलासे!******Highlights बंगाल शिक्षक भर्ती घोटाला (Bengal Teacher Recruitment Scam) मामले में गिरफ्तार को पश्चिम बंगाल कैबिनेट से बाहर कर दिया गया है, वहीं दूसरी ओर प्रवर्तन निदेशालय (ED) के अधिकारी एक के बाद एक नए सबूत जुटाते जा रहे हैं। ईडी अधिकारियों का अब मानना है कि यह राजनेता राज्य में शिक्षकों की भर्ती के लिए घोटाले में शामिल अन्य लोगों की भूमिका के बारे में खुलासा करना शुरू कर देंगे। उनकी सहयोगी अर्पिता मुखर्जी ने पहले ही मामले में बात करना शुरू कर दिया है और पूछताछ करने वाले अधिकारियों को बताया है कि पार्थ चटर्जी द्वारा उनके साथ केवल एक बैंक (जमाकर्ता) के रूप में व्यवहार किया गया था, ताकि वे कुछ एहसान के बदले कैश और अन्य कीमती सामान अपने पास रख सकें।ईडी के एक सूत्र ने कहा, हम अब चटर्जी और मुखर्जी द्वारा बनाई गई मुखौटा (फर्जी) कंपनियों के स्वामित्व वाली संपत्ति की तलाश कर रहे हैं। घरों और फ्लैटों के अलावा, हमें बंटाला लेदर कॉम्प्लेक्स क्षेत्र में जमीन की जानकारी मिली है, जिसे कथित तौर पर शेल कंपनियों में से एक, इच्छी एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड द्वारा खरीदा गया था। इस जमीन का मूल्यांकन 20 करोड़ रुपये से ऊपर है। यह बेलियाघाटा में एक परिवार से खरीदी गई थी। संपत्ति का मूल्यांकन अकेले 50-60 करोड़ रुपये से ज्यादा हो सकता है।लेकिन, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो को पार्थ चटर्जी को उनके मंत्री पद से मुक्त करने में लगभग छह दिन क्यों लगे? बुधवार को उत्तरपारा, हुगली में मेट्रो कोच निर्माण इकाई के उद्घाटन समारोह में उनके संबोधन के 24 घंटे बाद उनका फैसला आया, जहां उन्होंने कोलकाता में 21 जुलाई की शहीद दिवस रैली के दौरान छापे मारने की ईडी की रणनीति पर सवाल उठाया था। बुधवार के घटनाक्रम के दौरान, ममता ने एक बहादुर मोर्चा अपनाए रखा और यहां तक कि भविष्यवाणी की कि भाजपा के नेतृत्व वाला एनडीए 2024 के संसदीय चुनावों में हार जाएगा। उन्होंने कोई संकेत नहीं दिया कि पार्थ चटर्जी के खिलाफ कोई कार्रवाई होगी।तृणमूल कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता और विधायक ने कहा, वह बहुत दबाव में हैं। ममता बनर्जी को पता चल चुका है कि सीक्रेट अब बाहर आ चुका है और आम आदमी अब यह नहीं मानता है कि तृणमूल कांग्रेस को पार्थ चटर्जी के बारे में कोई जानकारी नहीं है। आदर्श रूप से, जिस क्षण चटर्जी को गिरफ्तार किया गया था, उन्हें पद मुक्त कर देना चाहिए था। लेकिन, वह जानती थीं कि वह बात करना शुरू कर देंगे और अन्य शीर्ष नेता सवालों के घेरे में आ जाएंगे। वह चटर्जी को बाहर करने से पहले सामंजस्य बैठा रही हैं। उनका अगला कदम यह कहना होगा कि अगर पार्टी के महासचिव सहित कोई भी भ्रष्ट है तो उसे कैसे बख्शा जाएगा। आखिर पार्टी में कुछ ऐसे भी हैं, जो भ्रष्ट नहीं हैं और हम इसका समर्थन नहीं करते हैं।सूत्रों के अनुसार, ममता इस बात को न तो समझती हैं और न ही मना करती हैं कि ED ने इस बार अपना होमवर्क कर लिया है। एजेंसी जानती है कि पार्थ चटर्जी भले ही कितने ही बड़े नेता क्यों न हों, पार्टी में दूसरों की जानकारी के बिना खुद से यह संपत्ति अर्जित नहीं कर सकते थे। दूसरे नेताओं पर पहले से ही नजर रखी जा रही है। सूत्र ने कहा, हमारे पास हर जगह आंखें और कान हैं। यह सिर्फ हिमशैल का सिरा (जितना दिख रहा है, उससे कहीं अधिक) है। पीएमएलए के तहत और भी बड़ी मछलियां (बड़ी हस्तियां) पकड़ी जानी हैं।ममता बनर्जी 67 साल की हैं और उन्हें पता है कि उम्र बढ़ रही है। तृणमूल कांग्रेस, भारत में किसी भी अन्य क्षेत्रीय दल की तरह, एक ऐसा चेहरा सामने नहीं ला पाई है जो पांच से सात साल बाद सत्ता संभाल सके। उन्होंने अपने भतीजे अभिषेक बनर्जी को तैयार किया है लेकिन उनका अभी भी एक राष्ट्रीय नेता के रूप में उभरना बाकी है। अभिषेक के समर्थक बदलाव के साथ नए चेहरों के साथ नए मंत्रिमंडल की भी मांग कर रहे हैं। लेकिन ममता डरी हुई हैं। आखिरकार, यह तृणमूल नहीं है जिसे लोग वोट देते हैं, वह ममता बनर्जी हैं। कोई आश्चर्य नहीं, उन्होंने राज्य में 2021 के विधानसभा चुनावों से पहले वोटर्स से कहा कि उन्हें यह सोचना चाहिए कि हर सीट पर ममता बनर्जी लड़ रही हैं। पार्टी आज संकट के दौर से गुजर रही है और अगले कुछ दिन बेहद महत्वपूर्ण होंगे।मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपरहीरा नहीं पहन सकते तो पहनिए जरकन, बरसेगा पैसा और घर आएगी संपन्नता******Highlightsज्योतिष शास्त्र में रत्नों का बहुत अधिक महत्व है। जिंदगी में आने वाली कई समस्याओं से निजात दिलाने में रत्न काफी मदद करते हैं।के अनुसार, हीरे को सभी रत्नों का राजा माना जाता है। इस रत्न को पहनने से मनुष्य को शुभ फलों की प्राप्ति होती है। अगर व्यक्ति ने विधि-विधान के साथ हीरे रत्न को धारण किया है तो उसे सुख-समृद्धि और ऐश्वर्य की जरूर प्राप्ति होगी। हीरा रत्न काफी महंगा आता है जिसके कारण हर कोई इसे धारण नहीं कर सकता है। ऐसे में आप चाहे तो हीरे का उपरत्न जरकन पहन सकते हैं। इससे भी हीरे को पहनने के बराबर ही लाभ मिलेगा।ज्योतिषों के अनुसार जरकन कई रंग केहोते हैं।हर एक जरकन का स्वामी अलग-अलग ग्रह है। आप चाहे तो हीरे की जगह सफेद रंग का जरकन पहन सकते हैं। जानिए किन लोगों को जरकन पहनना चाहिए और किन्हें नहीं।जरकन रत्न शुक्रवार के दिन धारण करना शुभ माना जाता है। इस रत्न को चांदी की अंगूठी में लगवाकर पहन सकते हैं। जरकन धारण करने से पहले एक कटोरी में दूध और थोड़ा सा गंगाजल डालकर इसमें अंगूठी डाल दें। इसके बाद धूप या अगरबत्ती जलाकर शुक्र ग्रह के इस मंत्र का 108 बार जाप करें- द्रां द्रीं द्रौं स: शुक्राय नम:। इसके बाद अंगूठी को धारण कर लें।मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपरबिहार चुनाव: डेप्युटी सीएम सुशील कुमार मोदी को हुआ कोरोना, पटना एम्स में भर्ती******भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी है। इससे पहले बुधवार को बीजेपी के प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं।सुशील मोदी ने गुरुवार को स्वयं ट्वीट कर बताया कि पॉजिटिव आने के बाद वे पटना के एम्स में भर्ती हो गए हैं। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ''जांच में स्थिति सामान्य पाई गई है और मैं बहुत जल्द ही चुनाव प्रचार के लिए मैदान में भी लौटूंगा।''बता दें कि सुशील मोदी इन दिनों विधानसभा चुनाव को लेकर सक्रिय थे और लगातार चुनाव प्रचार में जुड़े हुए थे। इस क्रम में उन्होंने विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में कई जनसभाओं को भी संबोधित किया था। उनकी रोजाना औसतन 5 से 7 जनसभाएं हो रही थीं। चुनाव प्रचार से पहले भी बीजेपी के सीनियर नेता मोदी बिहार के विभिन्न जिलों में रैली कर चुक हैं।तीन दिन पहले बिहार विधानसभा चुनाव के लिए अररिया जिले के फारबिसगंज में शाहनवाज हुसैन के साथ सुशील मोदी ने रैली की थी। इससे पहले भाजपा के प्रवक्ता और स्टार प्रचारक शाहनवाज हुसैन भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए।बिहार विधानसभा चुनाव के लिए पहले चरण का मतदान 28 अक्टूबर को होना है। ऐसे में शाहनवाज और मोदी को कोरोना संक्रमित होने के बाद भाजपा प्रचार अभियान के लिए एक झटका माना जा रहा है।

मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस के 11 नए मामले, ‘सीरोप्रीवैलेंस’ सूची में सबसे ऊपर

मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपरमहाराष्ट्र के दो और मंत्री अगले 15 दिनों में देंगे इस्तीफा, BJP ने किया दावा****** भाजपा की महाराष्ट्र ईकाई के प्रमुख चंद्रकांत पाटिल ने बृहस्पतिवार को दावा किया कि राज्य के दो और मंत्रियों को 15 दिनों में इस्तीफा देना पड़ेगा और राज्य में‘‘राष्ट्रपति शासन लागू करने के लिहाज से उपयुक्त स्थिति’’ है। उन्होंने यह टिप्पणी तब की जब एक दिन पहले निलंबित पुलिसकर्मी ने एक पत्र में दावा किया कि राज्य के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख ने मुंबई पुलिस में उनकी सेवा जारी रखने के लिए दो करोड़ रुपये मांगे थे और एक अन्य मंत्री अनिल परब ने उनसे ठेकेदारों से पैसा इकट्ठा करने के लिए कहा था।राकांपा के वरिष्ठ नेता देशमुख ने सोमवार को गृह मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। बंबई उच्च न्यायालय ने मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह द्वारा उनके खिलाफ लगाए भ्रष्टाचार के आरोपों की सीबीआई जांच का आदेश दिया है। शिवसेना नेता परब ने आरोपों को खारिज कर दिया है। पाटिल ने बृहस्पतिवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में किसी का नाम लिए बगैर दावा किया, ‘‘आने वाले 15 दिनों में राज्य के दो मंत्रियों को इस्तीफा देना पड़ेगा। कुछ लोग इन मंत्रियों के खिलाफ अदालत में जाएंगे और फिर उन्हें इस्तीफा देना पड़ेगा।’’पाटिल ने कहा कि ऐसा हो सकता है कि अनिल देशमुख के खिलाफ आरोपों की जांच में परिवहन मंत्री अनिल परब के खिलाफ लगे आरोप भी शामिल कर लिए जाए। भाजपा नेता ने कहा, ‘‘महाराष्ट्र राष्ट्रपति शासन लगाने के लिहाज से उपयुक्त है।’’ उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी यह मांग नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में जो चल रहा है उससे विशेषज्ञ यह बता सकते हैं कि राष्ट्रपति शासन लगाने के लिए और क्या चाहिए। उन्होंने पूछा, ‘‘अगर आप हर चीज के लिए केंद्र को जिम्मेदार ठहराना चाहते हैं तो राज्य का प्रशासन केंद्र सरकार के हाथ में क्यों नहीं दे देते।’’पाटिल ने आरोप लगाया कि अनिल देशमुख एक ‘‘पाखंडी’’ है क्योंकि वह बंबई उच्च न्यायालय की सीबीआई जांच के आदेश के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में गए हैं। उन्होंने कहा, ‘‘इस्तीफा पत्र में देशमुख ने कहा कि वह स्वतंत्र एवं निष्पक्ष जांच के लिए इस्तीफा दे रहे हैं और अगले दिन वह जांच के खिलाफ उच्चतम न्यायालय का रुख करते हैं।’’ भाजपा नेता ने कहा कि महाराष्ट्र में एमवीए (महा विकास आघाड़ी) सरकार ने राज्य के बजट सत्र के दौरान आक्रामक तरीके से वाजे का बचाव किया। उन्होंने कहा, ‘‘अब आपको उन पर विश्वास नहीं है।’’ पाटिल ने आरोप लगाया कि एमवीए सरकार ‘‘संगठित अपराध’’ में शामिल है। उन्होंने दावा किया, ‘‘अगर दस्तावेजी सबूत आए तो महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण कानून (मकोका) के प्रावधान लागू होंगे।’’नागपुर में पत्रकारों से बातचीत में वरिष्ठ भाजपा नेता देवेंद्र फडनवीस ने कहा कि वाजे ने अपने पत्र में जो दावे किए हैं वे गंभीर हैं और इस पर विचार-विमर्श करने की जरूरत है। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘जो चीजें हो रही है वे महाराष्ट्र और राज्य पुलिस की प्रतिष्ठा के लिए अच्छी नहीं है। सीबीआई या अन्य किसी सक्षम प्राधिकरण को पत्र में कही बातों की जांच करनी चाहिए और सच सामने लाना चाहिए।’’मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपरAmit Shah Meeting on Target Killing: कश्मीर में टारगेट किलिंग के बढ़ते मामलों पर आज गृहमंत्री अमित शाह लेंगे बैठक, हो सकता है बड़ा फैसला, पढ़िए डिटेल******Highlights जम्मू कश्मीर में लगातार टारगेट किलिंग की घटनाएं हो रही हैं। घाटी में हालात बिगड़ते दिख रहे हैं। बीते 26 दिन में 10 लोगों की हत्या आतंकी कर चुके हैं। आतंकियों द्वारा की जा रही टारगेट किलिंग के खिलाफ कश्मीरी पंडितों ने सामूहिक पलायन की बात कही है। इन्हीं हालातों के बीच केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह आज जम्मू-कश्मीर के हालात की समीक्षा करेंगे। इस बैठक में घाटी में लगातार बढ़ते टारगेट किलिंग पर बड़ा फैसला लिया जा सकता है।एक पखवाड़े में दूसरी बार शाह ले रहे हैं अहम बैठकएक पखवाड़े के भीतर शाह की ओर से जम्मू-कश्मीर पर बुलाई गई यह दूसरी उच्च स्तरीय सुरक्षा समीक्षा बैठक होगी। ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि केंद्र सरकार कश्मीर के हालात को लेकर काफी चिंतित है। एक दिन पहले ही कश्मीर में दो मजदूरों को आतंकियों ने गोली मार दी थी। जिसमें बिहार के एक मजदूर की मौत हो गई, जबकि पंजाब का रहने वाले दूसरे शख्स की हालत गंभीर है।बैठक में सभी एजेंसियों के शीर्ष अधिकारी होंगे शामिलआधिकारिक सूत्रों ने कहा कि बैठक में उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे, केंद्र शासित प्रदेश के अर्धसैनिक बलों, खुफिया एजेंसियों, पुलिस और नागरिक प्रशासन के शीर्ष अधिकारी शामिल होंगे। बैठक में यह सुनिश्चित करने के लिए सभी व्यवस्थाओं पर चर्चा होगी कि ऐसी घटनाएं दोबारा न हों और 30 जून से शुरू होने वाली वार्षिक अमरनाथ यात्रा से पहले घाटी में सुरक्षा स्थिति को अच्छी तरह से नियंत्रण में लाया जाए।टारगेट किलिंग पर बड़ा फैसला संभवसूत्रों ने कहा कि उपराज्यपाल जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा स्थिति और लक्षित हत्याओं को रोकने के लिए उठाए जा रहे कदमों पर गृह मंत्री को विस्तृत जानकारी देंगे। इसमें अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा का खाका भी खींचा जा सकता है। इतना ही नहीं, कश्मीर घाटी में सुरक्षा के हालात को और मजबूत करने पर भी बात हो सकती है। इस हाईलेवल बैठक में सभी एजेंसियों के टॉप अधिकारी हिस्सा लेने वाले हैं।टारगेट किलिंग के बीच कश्मीरी पंडितों ने किया पलायन का ऐलानउधर, कश्मीर में एक के बाद एक टारगेट किलिंग की घटनाओं ने वहां रह रहे हिंदुओं में दहशत है। गुरुवार सुबह कुलगाम में बैंक मैनेजर की हत्या के बाद शाम को बडगाम में दो मजदूरों को गोली मारी गई। इनमें से एक की मौत हो गई। इस बीच कश्मीरी पंडितों ने सामूहिक पलायन का ऐलान कर दिया है। इसके लिए उन्होंने शुक्रवार 3 जून की तारीख तय की है। दूसरी ओर श्रीनगर एयरपोर्ट प्रशासन ने हवाई अड्डे पर पलायन के लिए जुटी भीड़ की खबर का खंडन किया है।

मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस के 11 नए मामले, ‘सीरोप्रीवैलेंस’ सूची में सबसे ऊपर

मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपरSmall Worders: कम खर्च में बेहतरीन एंटरटेनमेंट का मजा, ये हैं 12000 रुपए से सस्‍ते LED TV****** आज के समय में जब आपके टीवी पर सैकड़ों एंटरटेनमेंट और न्‍यूज चैनल और हजारों प्रोग्राम और फिल्‍में आ रही हों। ऐसे में परिवार के सभी सदस्‍यों के बीच एक ही प्रोग्राम पर सहमति बन पाना बेहद मुश्किल है। गर्मीकी छुट्टियों में जब पूरा परिवार एक साथ जमा हो तो अपने पसंदीदा प्रोग्राम के लिए रिमोट की खींचातानी आम बात है। ऐसे में भले ही आपके पास 32 या 40 इंच का LED टीवी हो लेकिन फिर भी घर में दूसरा टीवी होना बेहद ही जरूरी है। लेकिन हर आम आदमी के लिए लिए जरूरी नहीं कि वह घर के लिए 20 या 25 हजार रुपए खर्च कर बड़ा LED टीवी ले। वहीं वे स्‍टूडेंट जो बाहर आकर पढ़ रह हैं उन्‍हें भी कम कीमत वाले टीवी की तलाश रहती है। यही ध्‍यान में रखते हुए इंडिया टीवी पैसा की टीम आपके लिए लेकर आई हैं ऐसे LED टीवी जो कि 12000 रुपए से कम कीमत में बाजार में उपलब्‍ध हैं।ऑनिडा 22 इंच फुल एचडी LED LEO22HMSAR टेलिविजन का रेजोल्यूशन 1920 x 1080 पिक्सल है। इसमें एक यूएसबी पोर्ट है। इस एलईडी टीवी की डायमेंशन्स 428 mm x 619 mm x 140 mm है।ऑनलाइन कीमत- 11,490 रुपएसैमसंग 22 इंच फुल एचडी एलईडी टीवी का रेजोल्यूशन 1920 x 1080 पिक्सल है। इस टीवी में दो एचडीएमआई और 2 यूएसबी पोर्ट हैं। इसके डायमेंशन 513.1 mm x 366.5 mm x 169.6 mm है। इसके अन्य फीचर्स की बात की जाए तो टीवी में स्पोर्ट्स मोड, ऑटो चैनल सर्च, डेटा ट्रांस्फर, क्लॉक, स्लीप टाइमर जैसे विकल्प भी हैं।ऑनलाइन कीमत- 11,499 रुपएफिलिप्स 22 इंच फुल एचडी इलईडी डिस्प्ले टीवी का रेजोल्यूशन 1920 x 1080 पिक्सल है। टीवी में एक एचडीएमआई और एक यूएसबी है। टीवी का 120Hz का मोशन रेट है। इसका डायमेंशन 517 mm x 366 mm x 191 mm है।ऑनलाइन कीमत- 11,990 रुपएपैनासॉनिक 22 इंच फुल एचडी एलईडी डिस्प्ले टीवी का रेजोल्यूशन 1920 x 1080 पिक्सल है। इसका 100Hz बैकलाइट मोशन रिफ्रैश रेट है। टीवी में एक एचडीएमआई और एक यूएसबी पोर्ट है।40 inch Led under 30,000ऑनलाइन कीमत- 9,999 रुपएसैंसुई 22 इंच के फुल एचडी एलईडी टीवी का रेजोल्यूशन 1920 x 1080 पिक्सल है। इसका डायमेंशन 90 mm x 329 mm x 521 mm और वजन 3 किलोग्राम है। इसमें एक एचडीएमआई और एक यूएसबी पोर्ट है। इस टीवी में दो स्पीकर्स हैं।ये हैं 20,000 रुपए से सस्‍ते 32 इंच फुल HD LEDकहां मिल रहे हैं सस्‍ते एसी, कूलर, टीवी, फ्रिज, जानने के लिए यहां क्लिक करें…

मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपर#ChunavManch: अमित शाह ने कहा, सरदार पटेल पर मजाक जनता बर्दाश्त नहीं करेगी, हार्दिक बोले- छाती ठोककर BJP को हराएंगे******बीजेपी अध्यक्ष ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर करारा हमला बोलते हुए उन्हें अगाह किया कि वे अपने चुनाव प्रचार में सरदार वल्लभ भाई पटेल की विरासत का उपयोग नहीं करें। इंडिया टीवी के कॉन्क्लेव चुनाव मंच में रजत शर्मा के सवालों का जवाब देते हुए यहां अमित शाह ने आरोप लगाया कि सरदार पटेल को कांग्रेस ने उनके जीवनकाल में अपमानित किया, उन्हें प्रधानमंत्री बनने नहीं दिया और उनकी अंतिम यात्रा में मंत्रियों को शामिल होने की अनुमति नहीं दी।अमित शाह ने कहा, 'सरदार पटेल का इतना अपमान किसी ने नहीं किया जितना नेहरू-गांधी कांग्रेस ने किया। इन लोगों ने सरदार पटेल को पीएम बनने से रोका, मंत्रियों को उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने की अनुमति तक नहीं दी, 1991 तक उन्हें भारत रत्न नहीं दिया गया। यहां तक कि सरदार सरोवर डैम परियोजना को इसलिए रोके रखा कि इसमें सरदार पटेल का नाम जुड़ा था। यह वास्तव में ईर्ष्या से भरा हुआ कदम था।' ()पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता का कहना है कि अगर आरक्षण प्यार मिलेगा तो ठीक है वर्ना हम छीन लेंगे। वहीं बीजेपी के संदर्भ में हार्दिक पटेल ने कहा कि हम दम लगाकर और छाती ठोककर बीजेपी को हराएंगे। हार्दिक पटेल इंडिया टीवी के मेगा कॉन्क्लेव में सवालों के जवाब दे रहे थे।एक सवाल के जवाब में हार्दिक पटेल ने कहा कि आरक्षण का आधार आर्थिक होना चाहिए। उन्होंने कहा कि उनकी लड़ाई किसी दल विशेष के खिलाफ नहीं है। उनकी लड़ाई सिस्टम के खिलाफ है। हार्दिक पटेल ने कहा कि आज बीजेपी की सरकार है तो लोग कहते हैं कि ये कांग्रेस से मिला हुआ है वहीं अगर प्रदेश में कांग्रेस की सरकार होती तो हमपर बीजेपी से मिले होने का आरोप लगाया जाता। हार्दिक पटेल ने कहा कि न तो वे कांग्रेस के गुलाम हैं और न ही बीजेपी के। ()गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपानी ने कहा कि विकास कंग्रेस के लिए मज़ाक हो लेकिन हमारे लिए नही है। उन्होंने कहा कि ''कांग्रेस विकास शब्द का नाम सुनकर पागल हो जाती है।'' कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए रुपाणी ने कहा कि वह गुजरात में जनता से झूठ बोल रहे हैं। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी बचकानी बातें कर रहे हैं।उन्होंने कहा कि दरअसल कांग्रेस मोदी के नेतृत्व में हुए विकास से डर रही है और मोदी को जानबूझकर निशाना बना रही है। कांग्रेस हर चुनाव में जीत की आशा लेकर उतरती है लेकिन निराशा ही हाथ लगती है। ()शंकर सिंह वाघेला का दावा है कि उन्होंने कभी भी मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहा और उन्होंने कांग्रेस आला कमान से कहा था कि वह चुनाव में 90 से ज़्यादा सीटें जितवा सकते हैं लेकिन उनकी नहीं सुनी गई। उन्होंने कहा, ''मैंनेकांग्रेस को दिया ही है, लिया कुछ नही।''उन्होंने कहा कि बिना होमवर्क के गुजरात में बीजेपी को हराना बहुत मुश्किल है। उन्होंने कहा कि चुनाव के लिए पहले से तैयारी करनी पड़ती है जो कांग्रेस ने नहीं की हालंकि उन्होंने पार्टी आलाकमान को इस बारे में 9 महीने तक समझाया। उन्होंने कहा कि आज किसी भी पार्टी में डेमोक्रेसी नहीं है। ()गुजरात के डिप्टी सीएम ने साफ किया कि की याद में बनाई जा रही विशाल प्रतिमा ‘90 प्रतिशत मेड इन इंडिया’ होगी। पटेल ने कहा, ‘सरदार सरोवर बांध के पास स्थापित होने जा रही सरदार पटेल की सबसे ऊंची प्रतिमा भारतीय कंपनी लार्सन ऐंड टूब्रो द्वारा बनाई जा रही है। हम चीन से केवल कुछ भागों का आयात कर रहे हैं। प्रतिमा का 90 प्रतिशत हिस्सा भारत में बनाया जा रहा है।’नितिन पटेल ने कहा, यूपीए सरकार ने अपने 10 वर्ष के शासनकाल में गुजरात के साथ ‘अन्याय’ किया, और नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बनने के बाद ही इसका अंत हुआ। उन्होंने कहा, ‘मोदीजी ने शुद्ध देशी घी में निर्मित प्रामाणिक व्यंजनों से गुजरात के लोगों की सेवा की है।’ ()मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपरचीन ने दिया दुनिया को धोखा? अमेरिका के आरोपों का ड्रैगन ने कुछ यूं दिया जवाब******ChinaHighlightsक्या वास्तव में चीन ने दुनिया को 20 साल धोखा दिया है। अमेरिका द्वारा चीन पर विश्व व्यापार संगठन की प्रतिबद्धताओं का उल्लंघन करने के आरोपों का चीन ने जवाब दिया है। चीन ने अमेरिका के इस आरोप को खारिज कर दिया कि वह (चीन) अपने बाजार खोलने की प्रतिबद्धताओं को पूरा करने में विफल रहा है। गौरतलब है कि दोनों देशों के बीच शिकायतों का नया सिलसिला ऐसे वक्त में शुरू हुआ है, जब कंपनियां व्यापार युद्ध की समाप्ति के लिए दोनों सरकारों के बीच फिर से बातचीत शुरू होने का इंतजार कर रही हैं।चीन के वाणिज्य मंत्रालय ने बाइडन प्रशासन के उस बयान की आलोचना भी की, जिसमें कहा गया था कि अमेरिका चीनी व्यापार रणनीति से निपटने के लिए नए तरीके विकसित कर रहा है। वाणिज्य मंत्रालय के प्रवक्ता गाओ फेंग ने कहा, ‘‘यह शिकायत पूरी तरह तथ्यों के विपरीत है।’’अमेरिका ने बुधवार को चीन पर डब्ल्यूटीओ के प्रति अपनी मुक्त व्यापार प्रतिबद्धताओं को पूरा करने में विफल रहने का आरोप लगाते हुए कहा था कि वह चीन के आक्रामक व्यापार व्यवहार से निपटने के लिए नए तरीकों की तलाश कर रहा है। अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि कार्यालय ने बुधवार को डब्ल्यूटीओ नियमों के साथ चीन के अनुपालन पर अपनी वार्षिक रिपोर्ट में कहा कि चीन अपने वादों को पूरा नहीं कर रहा है।अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि कैथरीन ताई ने कहा, ‘‘चीन ने इसके बजाय अर्थव्यवस्था और व्यापार के लिए अपने सरकारी नेतृत्व वाले गैर-बाजार नजरिये को बरकरार रखा है और इसे आगे बढ़ाया है।’’गाओ ने कहा कि अमेरिका को संरक्षणवाद और नई रणनीति के नाम पर धमकाने के बजाय अपने व्यापार साधनों को विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) के नियमों के अनुरूप बनाना चाहिए।

मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपरJammu Kashmir: पुलवामा के द्रबगाम में मुठभेड़, मारे गए तीन आतंकी, सभी लश्कर-ए-तैयबा के सदस्य******Highlightsजम्मू-कश्मीर में पुलवामा के द्रबगाम इलाके में पुलिस और सुरक्षाबलों की सयुंक्त टीम और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में 2 और आंतकी मारे गए। अब तक कुल 3 आंतकियों मारे गए हैं। आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि- ''मारे गए तीनों आतंकवादी स्थानीय हैं, जो आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा से जुड़े हैं। उनमें से एक की पहचान जुनैद शीरगोजरी के रूप में हुई है, जो 13 मई को शहीद हुए रियाज अहमद की हत्या में शामिल था।'' आतंकियों के पास से हथियार और गोला-बारूद सहित आपत्तिजनक सामान बरामद हुए हैं।शनिवार को कुलगाम और पुलवामा जिले में सुरक्षाबलों ने 2 अलग-अलग मुठभेड़ों में 2 आतंकियों को ढेर कर दिया था। पुलिस के प्रवक्ता ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि कुलगाम के खांदीपोरा इलाके में एक आतंकवादी के छिपे होने की पुख्ता सूचना के आधार पर सुरक्षाबलों ने एक सर्च ऑपरेशन चलाया। सुरक्षाबल सर्च ऑपरेशन चला ही रहा था कि इसी दौरान छिपे हुए आतंकवादी ने उनके ऊपर अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी। प्रवक्ता ने बताया कि इसके जवाब में सुरक्षा बलों की गोलीबारी में आतंकवादी मारा गया। इस एनकाउंटर में एक सैनिक भी घायल हुआ है।पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि मुठभेड़ में मारे गए आतंकी की पहचान प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन के सदस्य रसिक अहमद गनी के रूप में हुई। रसिक अहमद कुलगाम का रहने वाला था और उसका शव मुठभेड़ स्थल से बरामद किया गया। मारा गया आतंकवादी पुलिस और अन्य सुरक्षा बलों पर हमले समेत कई आतंकवादी घटनाओं को अंजाम देने के अपराध के मामलों में शामिल था।मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपरपाकिस्तान में ईसाई बच्ची को पहले किया किडनैप, फिर धर्मपरिवर्तन के बाद जबरन निकाह******पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के ऊपर अत्याचार कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है। बीबीसी की एक खबर के मुताबिक, पाकिस्तान में 12 साल की एक ईसाई बच्ची का न सिर्फ अपहरण किया गया, बल्कि उसका धर्मपरिवर्तन कराकर जबरन निकाह भी कर दिया गया। रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में हर साल ईसाई, हिंदू और सिख धर्म से ताल्लुक रखने वाली सैकड़ों लड़कियों और महिलाओं के साथ इसी तरह का अत्याचार होता है, और प्रशासन भी इन घटनाओं से आंखें मूंदे रहता है। बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले साल 25 जून को इस ईसाई बच्ची का अपहरण हुआ था।बच्ची ने बताया कि वह 25 जून 2020 को फैसलाबाद स्थित अपने घर में अपने दादा, तीन भाइयों और दो बहनों के साथ घर पर थी कि तभी किसी ने दरवाजे पर दस्तक दी। लड़की ने बताया कि उसे अच्छी तरह याद है कि उसके दादा दरवाजे को खोलने के लिए गए और अचानक 3 लोग घर में घुस आए। उन्होंने फराह को उठाया और वैन में डालकर वहां से चलते बने। सिर्फ इतना ही नहीं, जाते-जाते उन्होंने परिवार को धमकाने के अंदाज में कहा कि यदि उन लोगों ने अपनी बच्ची को वापस पाने की कोशिश भी की तो उन्हें पछताना पड़ेगा।बच्ची के पिता रिपोर्ट दर्ज करवाने के लिए पास के पुलिस स्टेशन गए, लेकिन वहां से भी कोई मदद नहीं मिली। तीन महीने तक थाने के चक्कर काटने के बाद रिपोर्ट दर्ज तो हुई, लेकिन कार्रवाई के नाम पर कुछ नहीं हुआ। इस दौरान वह लगभग 100 किलोमीटर दूर हाफिजाबाद पहुंच चुकी थी, जहां उसके साथ किया गया, जंजीरों में जकड़ा गया और गुलामों की तरह किया गया। अपने साथ हुए अत्याचारों को याद करके वह बच्ची सिहर उठती है। उसने कहा, मुझे रस्सियों और जंजीरों से बांधकर रखा जाता था और बहुत ज्यादा काम करवाया जाता था।लगभग 8 महीने तक जहन्नुम की सारी यातनाएं के बाद फरवरी 2016 में यह बच्ची किसी तरह वहां से आजाद हुई। इस मामले में अदालत की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण रही। डिस्ट्रिक्ट ऐंड सेशंस कोर्ट ने पहले बच्ची को महिलाओं एवं बच्चों के शेल्टर में भेज दिया और मामले की जांच चलती रही। काफी उतार-चढ़ाव के बाद आखिरकार अदालत ने बच्ची की शादी को नाजायज ठहरा दिया, और बच्ची एक बार फिर अपने परिवार के साथ मिल पाई।

मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपरपेट्रोल की बेस कीमत है 31.82 रुपये और डीजल की 33.46 रुपये प्रति लीटर, जानिए कितना देते हैं आप टैक्‍स और कमीशन******Petrol base price Rs 31.82 and diesel base price is Rs 33.46 per litreपेट्रोल और डीजल की वास्‍तविक कीमत इतनी कम है कि आप इसे देखकर शायद खुश हो जाएंगे। लेकिन इस वास्‍तविक कीमत पर एक्‍साइज ड्यूटी, वैट और डीजल कमीशन व ट्रांसपोर्टेशन लागत को जोड़कर जो खुदरा मूल्‍य सामने आता है, उसने इस समय जनता को ही नहीं बल्कि सरकारों को भी परेशान कर रखा है। देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन ने खुद यह बताया है कि दिल्‍ली में पेट्रोल की बेस कीमत 31.82 रुपये प्रति लीटर और डीजल की बेस प्राइस 33.46 रुपये प्रति लीटर है। जबकि दिल्‍ली में सोमवार को 90.58 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 80.97 रुपये है। पेट्रोल और डीजल के दाम में सोमवार को लगातार दूसरे दिन स्थिरता बनी रही। इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल का भाव सोमवार को बिना किसी बदलाव के क्रमश: 90.58 रुपये, 91.78 रुपये, 97 रुपये और 92.59 रुपये प्रति लीटर बना रहा। डीजल की कीमतें भी दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में क्रमश: 80.97 रुपये, 84.56 रुपये, 88.06 रुपये और 85.98 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर बनी रही।अमेरिका में कच्चे तेल की सप्लाई में सुधार की रफ्तार सुस्त होने के चलते दाम में फिर तेजी आई है। अमेरिका में ठंड बढ़ने के कारण तेल की आपूर्ति को लेकर चिंता पैदा हो गई थी, जिससे कीमतों में जोरदार उछाल आया था। जानकार बताते हैं कि वैश्विक बाजार में तेल के दाम बढ़ने से पेट्रोल और डीजल की महंगाई से राहत मिलने के आसार कम हैं।अपने देशवासियों को महंगे ईंधन से राहत दिलाने के लिए दुनिया के तीसरे सबसे बड़े तेल उपभोक्ता देश भारत ने बुधवार को सऊदी अरब और अन्य वैश्विक तेल उत्पादकों से कच्चे तेल के उत्पादन में कटौती का स्तर कम करने की अपील की है। भारत ने कहा है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल महंगा होने से आर्थिक पुनरुद्धार और मांग प्रभावित हो रही है। पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा कि अगले कुछ महीनों तक तेल कीमतों के बजाए मांग में पुनरुद्धार को प्राथमिकता दी जानी चाहिए। सऊदी अरब के फरवरी और मार्च में स्वेच्छा से 10 लाख बैरल प्रतिदिन की कटौती की घोषणा के बाद से अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल के दाम में तेजी आ रही है।पेट्रोल के दाम 100 रुपये के ऊपर निकलने के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पिछली सरकारों ने देश के ऊर्जा आयात पर निर्भरता में कमी पर ध्यान दिया होता तो मध्यम वर्ग पर इतना बोझ नहीं बढ़ता। प्रधानमंत्री ने कहा कि क्या हमारे देश जैसा एक विविधतापूर्ण और प्रतिभावना देश ऊर्जा आयात पर इतना निर्भर रह सकता है?प्रधानमंत्री ने कहा कि ऊर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर होने के साथ स्वच्छ और हरित स्रोतों पर काम करने की हम सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार मध्यम वर्ग पर पड़ रहे बोझ को लेलकर चिंतित है। इसीलिए भारत अब पेट्रोल में एथनॉल मिश्रण पर जोर दे रही है। इससे किसानों के साथ-साथ ग्राहकों को भी लाभ होगा। सरकार ने 2025 तक पेट्रोल में एथनॉल मिश्रण 20 प्रतिशत करने का लक्ष्य रखा है जो फिलहाल 8.5 प्रतिशत है। : :मध्यप्रदेशमेंकोरोनावायरसके11नएमामलेसीरोप्रीवैलेंससूचीमेंसबसेऊपरPetrol Diesel Price Today 14 March 2020: दिल्ली में 70 रुपए प्रति लीटर से नीचे आए पेट्रोल के दाम, जानिए नए रेट******Today Petrol-Diesel price पेट्रोल और डीजल के दाम (Petrol Diesel Price Today 14 March 2020) में आज यानि शनिवार को लगातार तीसरे दिन गिरावट दर्ज की गई है। मार्च के 13 दिनों में अब तक पेट्रोल 1 रुपए 84 पैसे प्रति लीटर और डीजल 1 रुपए 72 पैसे प्रति लीटर तक सस्ता हुआ है। तेल कंपनियों ने पेट्रोल के दाम दिल्ली, कोलकाता, मुंबई में 13 पैसे जबकि चेन्नई में 14 पैसे प्रति लीटर घटे हैं। वहीं डीजल की कीमत दिल्ली, कोलकाता और मुंबई में 16 पैसे जबकि मुंबई और चेन्नई में 17 पैसे घट गई है। बात करें 2020 में पेट्रोल-डीजल के दाम की तो 1 जनवरी 2020 के बाद से अब तक पेट्रोल के दाम में कुल 5 रुपए 27 पैसे और डीजल के दाम में 5 रुपए 38 पैसे प्रति लीटर की कटौती की गई है। इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में शनिवार को (Petrol Price Today 14 March 2020) घटकर क्रमश: 69.87 रुपए, 72.57 रुपए, 75.57 रुपए और 72.57 रुपए प्रति लीटर हो गया है। चारों महानगरों में डीजल की कीमत भी घटकर क्रमश: 62.58 रुपए, 64.91 रुपए, 65.51 रुपए और 66.02 रुपए प्रति लीटर हो गई है।उधर, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में लगातार नरमी बनी हुई है, जिससे आने वाले दिनों में पेट्रोल और डीजल के दाम में और गिरावट आने की संभावना बनी हुई है। साथ ही कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण पेट्रोल के दाम अपने 13 महीने और 9 महीनेके निचले स्तर पर आ गए हैं।सभी ऑयल मार्केटिंग कंपनियों IOC, BPCL और HPCL के पेट्रोल-डीजल के दाम हर दिन घटते-बढ़ते रहते हैं। पेट्रोल-डीजल का नया दाम रोज सुबह 6 बजे से लागू हो जाता है। इनकी कीमत में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन सब कुछ जोड़ने के बादल इसकी कीमत लगभग दोगुनी हो जाती है। एक क्लिक में यहां अपने चेक करें।आप अपने शहर के रोजाना एसएमएस के जरिए भी चेक कर सकते है। इंडियन ऑयल (IOC) के उपभोक्ता RSP<डीलर कोड> लिखकर 9224992249 नंबर पर व एचपीसीएल (HPCL) के उपभोक्ता HPPRICE <डीलर कोड> लिखकर 9222201122 नंबर पर भेज सकते हैं। बीपीसीएल (BPCL) उपभोक्ता RSP<डीलर कोड> लिखकर 9223112222 नंबर पर भेज सकते हैं।

हाल का ध्यान

लिंक