वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > शेडोंग प्रांत > मूलपाठ

UP Election 2022: शिवपाल बोले, 'एग्जिट पोल्स में दिखाई जा रही तस्वीर भ्रामक'

2022-09-30 23:46:52 शेडोंग प्रांत

शिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामक"ब्रिस्बेन टेस्ट मैच में भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज

शिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामकसैयद मुश्ताक अली ट्रॉफीशिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामक(Syed Mushtaq Ali Trophy) खेली जा रही और इस टूर्नामेंट में कई बल्लेबाजों के बल्ले से शानदार प्रदर्शन देखने को मिला है।

UP Election 2022: शिवपाल बोले, 'एग्जिट पोल्स में दिखाई जा रही तस्वीर भ्रामक'

शिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामकयह भी पढ़े :शिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामक4 खिलाड़ी जिनके नाम सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में सबसे तेज शतक दर्ज हैशिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामकसैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में कई घरेलू क्रिकेट के प्रतिभावान खिलाड़ी तथा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत के लिए खेल चुके खिलाड़ी भी अपनी-अपनी घरेलू टीम के लिए खेल रहे हैं। इस टूर्नामेंट के इतिहास को उठाकर देखा जाए तो इस सीजन से पहले केवल दो बार ही खिलाड़ी 99 रन के व्यक्तिगत स्कोर पर नाबाद रहे हैं लेकिन इस सीजन कुछ ही मैचों में हमें यह दो बार बार देखने को मिल चुका है।

UP Election 2022: शिवपाल बोले, 'एग्जिट पोल्स में दिखाई जा रही तस्वीर भ्रामक'

शिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामकबड़ौदा के कप्तान केदार देवधर का बल्ला इस टूर्नामेंट में खूब चलता है और वह इस टूर्नामेंट में 2000 रन पूरे करने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं।इस सीजन महाराष्ट्र के खिलाफ हुए मुकाबले में देवधर ने 71 गेंदों में नाबाद 99 रन की पारी खेली।अपनी इस पारी में देवधर ने 11 चौके और 4 छक्के लगाए थे।शिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामककर्नाटक के युवा ओपनिंग बल्लेबाज

UP Election 2022: शिवपाल बोले, 'एग्जिट पोल्स में दिखाई जा रही तस्वीर भ्रामक'

शिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामकदेवदत्त पडीक्कल

शिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामकभी इस सीजन त्रिपुरा के खिलाफ खेले गए मुकाबले में 99 रन के व्यक्तिगत स्कोर पर नाबाद रहे।पडीक्कल इस टूर्नामेंट में ऐसा करने वाले तीसरे बल्लेबाज हैं और इस सीजन के पहले बल्लेबाज। पडीक्कल ने 67 गेंदों में नाबाद 99 रन की पारी खेली और अपनी पारी में 9 चौके और एक छक्का लगाया।"शिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामक"भारतीय

शिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामकटीम (Indian Team) अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आने के बाद छाप छोड़ने में कामयाब रही और जल्दी ही वनडे वर्ल्ड कप का ताज भी भारतीय टीम ने अपने सिर पर रखा था। खिलाड़ियों की लगन और मेहनत के कारण ही ऐसा संभव हो पाया था और समय के साथ भारतीय टीम ने कई शानदार उपलब्धियां हासिल की है और विश्व क्रिकेट में अपने नाम का डंका भी बजाया है। सफलता के पीछे एक कप्तान का हाथ जरुर होता है और कई कप्तानों ने मिलकर भारतीय टीम को नई बुलंदियों तक पहुँचाया है। इसमें किसी एक कप्तान का ना लेना भी उचित नहीं होगा। हर कप्तान ने अपने समय में बेहतरीन काम करते हुए टीम को आगे पहुँचाने का काम किया है।शिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामकभारतीय टीम के कुछ कप्तान ऐसे हैं जिनका नाम सबसे आगे लिया जाता है और उनका योगदान भी बेहतरीन है। कपिल देव की कप्तानी में सबसे पहले भारतीय टीम ने वर्ल्ड कप जीता था। इसके बाद

शिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामकमहेंद्र सिंह धोनीशिवपालबोलेएग्जिटपोल्समेंदिखाईजारहीतस्वीरभ्रामककी कप्तानी में टी20 वर्ल्ड कप, चैम्पियंस ट्रॉफी और वनडे वर्ल्ड कप जीता लेकिन

हाल का ध्यान

लिंक