वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > वानजाउ शहर > मूलपाठ

Europe Gas Crisis भीषण गर्मी के बीच यूरोप में मचेगी त्राहि-त्राहि, रुसी कंपनी गैजप्रोम ने 80 प्रतिशत घटाई सप्लाई

2022-10-04 03:36:03 वानजाउ शहर

भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाईBigg Boss: Salman Khan के शो पर शिरकत करेंगे Sajid Khan, यौन उत्पीड़न के आरोपों पर देंगे सफाई?******Highlights: छोटे पर्दे का सबसे कॉन्ट्रोवर्शियल शो बिग बॉस (Bigg Boss) हर साल लगभग 2-3 महीने के लिए ऑडियंस को जमकर एंटरटेन करता है। ड्रामा, कॉन्ट्रोवर्सी, तमाशा, लड़ाई-झगड़े और गहरे राज़ ये सभी चीज़ें फैंस को हर साल इस शो का इंतज़ार करने पर मजबूर करती हैं। इसी बीच बिग बॉस 16 (Bigg Boss 16) को लेकर भी लोगों के बीच गज़ब का बज़ बना हुआ है। वहीं मेकर्स भी हर बार की तरह इस बार भी शो को हिट बनाने के लिए हर तरीका आज़मा रहे हैं।सलमान खान (Salman Khan) के शो को लेकर तरह-तरह की खबरें सामने आ रही हैं। शो के कंटेस्टेंट्स को लेकर तो शो की थीम को लेकर रोज़ाना नई-नई अपडेट मिल रही है। लेटेस्ट खबरों की मानें तो शो में बतौर कंटेस्टेंट्स साजिद खान (Sajid Khan) शिरकत करने जा रहे हैं। हालांकि ये खबर कितनी सही है और कितनी गलत इस बात का साफ होना अभी बाकि है।लेकिन माना जा रहा है कि साजिद खान बिग बॉस 16 का हिस्सा बन सकते हैं। शो के मेकर्स ने साजिद को शामिल करने के लिए कॉन्टैक्ट किया है। अगर साजिद इस शो का हिस्सा हुए तो दर्शकों को काफी मजा आने वाला है। दरअसल, साजिद के नाम के साथ कई कॉन्ट्रोवर्सी जुड़ी हुई है। साजिद का बिग बॉस 16 में आना शो की टीआरपी के लिए बेहतर साबित हो सकता है। माना जा रहा है शो पर आकर साजिद अपने उपर लगे इल्जामों पर खुलकर बात करेंगे और अपने हिस्से की सफाई भी पेश करेंगे।बता दें- साजिद पर साल 2018 में मी टू मूवमेंट के दौरान आरोप लगे थे। साजिद पर मंदाना करीमी, सलोनी चोपड़ा, रैशेल व्हाइट समेत कई महिलाओं ने हरासमेंट का आरोप लगाया था। इन आरोपों के चलते साजिद पर फिल्म असोसिएशन ने बैन लगा दिया था। हालांकि उन्होंने हमेशा ही इन आरोपों से इंकार किया था।

भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाई'AAP को मिल रहे जनसमर्थन को देख गुजरात के स्कूल का किया दौरा', सिसोदिया का शाह पर कटाक्ष****** दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की आलोचना करते हुए कहा कि उन्होंने पहली बार गुजरात के एक सरकारी स्कूल का दौरा इसलिए किया, क्योंकि लोगों ने प्रदेश के दौरे के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का समर्थन करना शुरू किया। प्रदेश के साबरकांठा जिले के तलोद में एक जनसभा को संबोधित करते हुए दिल्ली के शिक्षा मंत्री ने कहा कि जब केजरीवाल ने गुजरात का दौरा करना शुरू किया, तो लोगों ने ध्यान देना शुरू किया कि अगर दिल्ली और पंजाब में अच्छे स्कूल, मोहल्ला क्लीनिक और मुफ्त बिजली हो सकती है, तो गुजरात में ऐसा क्यों नहीं हो सकता है, जहां बीजेपी 27 साल से सत्ता में है।सिसोदिया ने कहा, "अपने जीवकाल में पहली बार अमित शाहजी सरकारी स्कूल में गए हैं। 27 साल की राजनीति के दौरान आपने कभी अमित शाहजी की सरकारी स्कूल के दौरे की तस्वीर देखी है। जब यहां के लोगों ने दिल्ली की तरह यहां भी स्कूल की मांग करनी शुरू कर दी और कहा कि वे केजरीवाल का समर्थन करेंगे, अमित शाह तस्वीर के लिए और यह कहने के लिए सरकारी स्कूल में गए कि उन्होंने भी स्कूल बनवाया है।"सिसोदिया ने कहा कि शाह ने हमेशा केजरीवाल का यह कहकर मजाक बनाया है कि वह 'मुफ्त रेवड़ी' बांट रहे हैं। अहमदाबाद नगर निगम (एएमसी) ने हाल ही में चार स्मार्ट स्कूलों की स्थापना की थी, जिसका उद्घाटन करने के लिए अमित शाह उन स्कूलों में गए थे। आम आदमी पार्टी नेता इसी का हवाला दे रहे थे।गौरतलब है कि इस साल के आखिर में गुजरात में विधानसभा चुनाव होने हैं। इसे लेकर आम आदमी पार्टी (AAP) गुजरात में चुनाव प्रचार में जुटी है। इसे लेकर 'आप' के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल लगातार गुजरात दौरे पर जा रहे हैं। बीते दिन वो एक दिवसीय दौरे पर वडोदरा पहुंचे थे। इस दौरान अरविंद केजरीवाल ने देश में अंग्रेजों से विरासत में मिली शिक्षा के स्थान पर भारतीय या स्वदेशी शिक्षा प्रणाली का आह्वान किया।उन्होंने कहा कि भारत को दुनिया भर के छात्रों के लिए एक गंतव्य बनना चाहिए, जैसे नालंदा विश्वविद्यालय प्राचीन काल में था। कार्यक्रम में एक प्रतिभागी की ओर से यह पूछे जाने पर कि क्या राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) की ओर से तैयार की गई पाठ्य पुस्तकों को बदल दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, "न केवल एनसीईआरटी की किताबें बल्कि पूरी सामग्री को बदलने की जरुरत है। अंग्रेजों की शिक्षा प्रणाली को खत्म करके देश में भारतीय शिक्षा प्रणाली शुरू करने की जरुरत है।"भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाईजो रूट और बाबर आजम निकल गए आगे, विराट कोहली पिछड़े, जानिए सारे आंकड़े******Highlightsटीम इंडिया के पूर्व कप्तान विराट कोहली एक बार फिर नाकाम साबित हुए। विराट कोहली लंबे समय बाद टेस्ट मैच खेलने के लिए मैदान में उतरे थे। हालांकि इंग्लैंड के खिलाफ खेले जा रहे टेस्ट मैच में विराट कोहली को शुरुआत तो अच्छी मिली, लेकिन जैसे ही लगता कि अब वे रंग में आने वाले हैं, वैसे ही आउट होकर पवेलियन लौट गए। साल 2020 पूरा बीत गया और उसके बाद साल 2021 भी निकल गया और अब तो साल 2022 भी आधा हो गया है, लेकिन विराट कोहली के बल्ले से शतक का सूखा है कि खत्म ही नहीं हो रहा। पिछले दो साल से जब से विराट कोहली का बल्ला खामोश है, वहीं इंग्लैंड के पूर्व कप्तान जो रूट और पाकिस्तान के कप्तान बा​​बर आजम लगातार शतक पर शतक ठोक रहे हैं। इन दो साल में ये दोनों खिलाड़ी विराट कोहली से बहुत आगे निकल गए हैं।साल 2019 की बात करें जब विराट कोहली ने अपना आखिरी इंटरनेशनल शतक लगाया था। विराट कोहली ने साल 2019 में कुल सात अंतरराष्ट्रीय शतक लगाए थे। वहीं उस साल जो रूट ने पांच शतक ठोके थे। बाबर आजम की बात करें तो उन्होंने साल 2019 में छह शतक लगाए थे। यानी उस साल दोनों खिलाड़ी शतकों के मामले में विराट कोहली इन दोनों से आगे थे। इसके बाद आया साल 2020 जब से सब कुछ बदल गया। विराट कोहली के नाम इस साल एक भी शतक नहीं था, वहीं जो रूट ने भी शतक नहीं लगाया था, लेकिन बाबर आजम दो शतक लगाने में कामयाब हो गए थे। ये वो साल था, जब कोरोना वायरस की वजह से कुछ महीनों के लिए पूरी दुनिया में क्रिकेट रोक दिया गया था। यानी मैच भी काफी कम हुए थे। इसके बाद साल 2021 आया। विराट कोहली इस साल भी एक भी शतक नहीं लगा पाए, लेकिन जो रूट ने एक के बाद एक छह शतक ठोक दिए। जो रूट का बल्ला उस साल आग सा उगल रहा था। वहीं बाबर आजम ने 2021 में तीन शतक लगाए थे। अब बात इस साल की करें तो इस साल की विराट कोहली के नाम शून्य शतक हैं। वहीं जो रूट और बाबर आजम चार चार शतक लगा चुके हैं। हालांकि अभी इस साल करीब छह महीने बाकी हैं, इसमें भी बहुत क्रिकेट खेल जाना बाकी है। ऐसे में देखना होगा कि जब साल खत्म होगा तो विराट कोहली शतक लगा सकेंगे या नहीं। वहीं बाबर आजम और जो रूट कहां पहुंचते हैं।टीम इंडिया को इसी दौरे पर अभी इंग्लैंड के साथ ही तीन टी20 और तीन वन डे मैच खेलने हैं। टी20 इंटरनेशनल में तो विराट कोहली का कोई शतक है ही नहीं, लेकिन वन डे में एक बार फिर उम्मीद होगी कि विराट कोहली शतक लगाएं। इसके बाद भारतीय टीम को वेस्टइंडीज के दौरे पर जाना है, वहां भी लिमिटेड ओवर की सीरीज खेली जाएगी। देखना होगा कि 24 नवंबर 2019 के बाद से कितने दिन और लगेंगे, जब विराट का अगला इंटरनेशनल शतक आता है। आने वाली कुछ सीरीज और दौरे टीम इंडिया और इसके पूर्व कप्तान विराट कोहली के लिए बहुत अहम होने वाले हैं।

Europe Gas Crisis भीषण गर्मी के बीच यूरोप में मचेगी त्राहि-त्राहि, रुसी कंपनी गैजप्रोम ने 80 प्रतिशत घटाई सप्लाई

भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाईभारत में 6 माह के दौरान बिके 1.41 करोड़ वाहन, घरेलू बिक्री 6.88 प्रतिशत बढ़ी******car saleपेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों के बावजूद भारतीय ऑटोमोबाइल इंडस्‍ट्री की बिक्री पर कोई असर नहीं पड़ा है। चालू वित्‍त वर्ष की पहली छमाही अप्रैल-सितंबर 2018 में ऑटोमोबाइल इंडस्‍ट्री के सभी सेक्‍टर्स की संयुक्‍त घरेलू बिक्री 14,155,758 वाहनों की रही है। पिछले साल की समान अवधि की तुलना में इसमें 10.95 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। वित्‍त वर्ष 2017-18 के पहले छह माह के दौरान देश में 12,756,611 वाहनों की बिक्री हुई थी। वाहन विनिर्माता कंपनियों के संगठन सियाम ने शुक्रवार को बताया कि चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में घरेलू बिक्री, जिसमें यात्री कार, यूटीलिटी वाहन और वैन शामिल होती हैं, 6.88 प्रतिशत बढ़कर 17,44,305 इकाई रही। पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में ये बिक्री 16,32,006 इकाई रही थी।11 लाख से ज्‍यादा बिकीं कारकारों की घरेलू बिक्री भी इस दौरान 6.8 प्रतिशत बढ़कर 11,69,497 इकाई रही। पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में ये बिक्री 10,95,077 इकाई रही थी।समीक्षावधि में दोपहिया वाहनों की बिक्री 10.07 प्रतिशत बढ़कर 1,15,69,770 इकाई रही। वहीं इस दौरान वाणिज्यिक वाहनों की कुल बिक्री 37.82 प्रतिशत बढ़कर 4,87,316 इकाई रही।सितंबर में पीवी की बिक्री घटीसितंबर महीने में यात्री वाहनों की बिक्री में गिरावट देखी गई। यह 5.61 प्रतिशत गिरकर 2,92,658 इकाई रही, जो सितंबर 2017 में 3,10,041 इकाई थी।इस दौरान कारों की घरेलू बिक्री 5.57 प्रतिशत घटकर 1,91,124 इकाई रही, जो सितंबर 2017 में 2,08,742 इकाई थी। पिछले महीने मोटरसाइकिल की बिक्री 7.04 प्रतिशत बढ़ी। यह 13,60,415 इकाई रही।सितंबर 2017 में यह आंकड़ा 12,70,885 इकाई का था।सियाम के आंकड़ों के अनुसार सितंबर में दोपहिया वाहनों की कुल बिक्री 4.12 प्रतिशत बढ़कर 21,26,484 इकाई रही। पिछले साल सितंबर में यह आंकड़ा 20,42,297 इकाई था।वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री सितंबर में 24.14 प्रतिशत बढ़कर 95,867 इकाई रही।सभी श्रेणियों में वाहन की बिक्री सितंबर में 3.72 प्रतिशत बढ़कर 25,84,096 इकाई रही, जो सितंबर 2017 में 24,91,425 इकाई थी।भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाईHeavy Rain in Karnataka: कर्नाटक के बेंगलुरु में हुई तेज बारिश, शहर के कई इलाके पानी में डूबे******Highlightsकर्नाटक के बेंगलुरू में हुई तेज बारिश के चलते शहर के कई इलाकों में जलभराव हो गया है। सड़कें पूरी तरह से पानी में डूब चुकी हैं। लोगों के घरों में भी पानी पहुंच गया। लोगों को कही आने-जाने में के लिए भी काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। आप तस्वीरों में देख सकते हैं कैसे घरेलू सामान सड़कों पर भरे पानी में गोते लगा रहे हैं। घर के दरवाजे तक पानी भरा हुआ है। ये तस्वीरें शहर के कोरमंगला की हैं। ऑटो और स्कूटर या बाइक से सवारी करते समय भी लोग काफी परेशान हो रहे हैं।सितंबर में भी मॉनसून सक्रीयदेश में कई स्थानों पर सितंबर महीना शुरू होने के बाद भी मॉनसून पूरी तरह सक्रिय है। हालत यह है कि राजस्थान, एमपी, सहित उत्तराखंड से लेकर दक्षिण भारत में केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु तक बारिश ने हाहाकार मचा रखा है। दक्षिण भारत में वैसे तो नवंबर और दिसंबर महीने में ज्यादा बारिश होती है। लेकिन इस बार मॉनसूनी सीजन में भी खूब बारिश हो रही है। केरल, तमिलनाडु और कर्नाटक में बारिश का दौर फिलहाल 6 सितंबर तक जारी रहेगा।मौसम विभाग ने पहले ही बताया थादो दिन पहले भारतीय मौसम विभाग ने बताया था कि देश में मानसून के सक्रिय रहने से अगले 4 दिनों के दौरान उत्तर पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों और मध्य भारत में बारिश होने की संभावना है। पूर्वोत्तर के राज्य अरुणाचल प्रदेश और असम व मेघालय में भी गरज के साथ बिजली गिरने और तेज वर्षा की चेतावनी दी गई थी।भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाईNonVeg in MidDay Meal: लक्षद्वीप के स्कूलों के मिड-डे मील में परोसा जायेगा नॉनवेज, कोर्ट के आदेश के बाद लिया गया फैसला******Highlights केंद्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप के प्रशासन ने स्कूल अधिकारियों को सुप्रीम कोर्ट के हाल में आए आदेश पर अमल करने का निर्देश दिया है। आदेश के तहत स्कूली छात्रों को मिड-डे मील में फिर से चिकन और अन्य मांस की डिश मिलेंगी।लक्षद्वीप शिक्षा निदेशालय ने शुक्रवार को एक आदेश कहा कि, "सभी स्कूलों के हेडमास्टर्स को शीर्ष अदालत के 2 मई के आदेश का पालन करने के लिए आदेशित किया जाता है, जिसमें बच्चों को पहले की तरह मांस, चिकन, मछली और अंडे सहित मिड-डे मील परोसने का निर्देश दिया गया था। निदेशालय ने अपने आदेश में स्कूलों के संदर्भ के लिए शीर्ष अदालत के निर्देश के प्रासंगिक अंश भी संलग्न किए हैं, जिनमें कहा गया है, "लक्षद्वीप के स्कूली छात्रों को अगले आदेश तक पहले की तरह मांस, चिकन, मछली और अंडा और अन्य वस्तुओं समेत भोजन परोसा जाए। इसपर अमल करते हुए पुरानी व्यवस्था जारी रहनी चाहिए।"सुप्रीम कोर्ट ने डेयरी फार्म को बंद करने और स्कूली बच्चों के मध्याह्न भोजन से मांस उत्पादों को हटाने के लक्षद्वीप प्रशासन के फैसले को चुनौती देने वाली एक याचिका पर सुनवाई करते हुए केरल उच्च न्यायालय के आदेश को बरकरार रखने का निर्देश दिया था। केरल उच्च न्यायालय ने डेयरी फार्म को बंद करने और स्कूली बच्चों के मिड-डे मील से मांस उत्पादों को हटाने के लक्षद्वीप प्रशासन के आदेशों के अमल पर 22 जून, 2021 को रोक लगा दी थी।

Europe Gas Crisis भीषण गर्मी के बीच यूरोप में मचेगी त्राहि-त्राहि, रुसी कंपनी गैजप्रोम ने 80 प्रतिशत घटाई सप्लाई

भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाईBig News for India: विदेशीमुद्रा भंडार पहुंचा रिकॉर्ड ऊंचाई के करीब, 56.3 करोड़ डॉलर बढ़कर हुआ 590.028 अरब डॉलर******Big News for India Forex reserves near record high, jump USD 563 mn to USD 590.028 bnदेश का विदेशी मुद्रा भंडार 14 मई, 2021 को समाप्त सप्ताह में 56.3 करोड़ डॉलर बढ़कर 590.028 अरब डॉलर हो गया। रिजर्व बैंक के शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार 29 अप्रैल 2021 को समाप्त हुए सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 590.185 अरब डॉलर के सर्वकालिक उच्च स्तर पर था। सात मई 2021 को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्राभंडार 1.444 अरब डॉलर बढ़कर 589.465 अरब डॉलर हो गया था। गत 14 मई 2021 को समाप्त सप्ताह मेंमें वृद्धि मुख्य तौर पर विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियां बढ़ने से हुई। रिजर्व बैंक के साप्ताहिक तौर पर जारी आंकड़ों के अनुसार, विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियां सप्ताह के दौरान 37.7 करोड़ डॉलर बढ़कर 546.87 अरब डॉलर हो गईं। विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियां डॉलर में व्यक्त की जाती हैं। इसमें डॉलर के अलावा यूरो, पाउंड और येन में अंकित सम्पत्तियां भी शामिल हैं। विदेशी मुद्रा परिसम्पत्ति सकल विदेशी मुद्रा भंडार का बड़ा हिस्सा हैं।आलोच्य सप्ताह के दौरान स्वर्ण भंडार 17.4 करोड़ डॉलर बढ़कर 36.654 अरब डॉलर हो गया। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) में विशेष निकासी अधिकार (एसडीआर) 20 लाख डॉलर बढ़कर 1.506 अरब डॉलर हो गया। वहीं, आईएमएफ के पास देश का आरक्षित भंडार एक करोड़ डॉलर बढ़कर 4.999 अरब डॉलर हो गया।पंजाब एंड सिंध बैंक को मार्च 2021 में समाप्त हुई तिमाही में 160.79 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ। सरकारी बैंक ने शनिवार को नियामकीय सूचना में बताया कि उसे वित्त वर्ष 2019-20 की जनवरी-मार्च तिमाही में 236.30 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था। वित्‍त वर्ष 2020-21 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में भी उसे 2,375.53 करोड़ रुपये का भारी भरकम शुद्ध घाटा हुआ था। पूरे वित्तीय वर्ष 2020-21 में बैंक को 2,732.90 करोड़ का शुद्ध घाटा हुआ, जो वित्तीय वर्ष 2019-20 में हुए 990.80 करोड़ रुपए के शुद्घ घाटे से कहीं ज्यादा है।वित्‍त वर्ष 2020-21 की अंतिम तिमाही में बैंक की कुल आय वित्‍त वर्ष 2019-20 की इसी तिमाही के 8,826.92 करोड़ रुपये से 10.7 प्रतिशत गिरकर 7,876.72 करोड़ रुपये हो गई। बैंक की गैर निष्पादित संपत्तियां (एपीए) मार्च 2021 तिमाही में 13.76 प्रतिशत के ऊंचे स्तर पर बनी रही। मार्च 2020 तिमाही में एनपीए का स्तर 14.18 प्रतिशत था। मूल्य के लिहाज से वित्‍त वर्ष 2020-21 की समाप्ति पर यह 9,334 करोड़ रुपये था जबकि एक साल पहले यह 8,874.57 करोड़ रुपये था।भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाईपेट्रोल 1.23 रुपए और डीजल 89 पैसे हुआ महंगा, बिना सब्सिडी वाला गैस सिलेंडर 78.50 रुपए सस्‍ता****** ऑयल कंपनियों ने आम आदमी को महंगाई का बड़ा झटका दिया है। देश भर में बुधवार आधी रात से पेट्रोल–डीजल के दामों में बढ़ोत्‍तरी कर दी गई है। पेट्रोल के दाम प्रति लीटर 1. 23 रुपए बढ़ गए हैं। वहीं डीजल प्रति लीटर 89 पैसे महंगा हो गया है। इसके साथ ही, दिल्ली में पेट्रोल के दाम मौजूदा 65.93 रुपए से बढ़कर 66.91 रुपए हो गए हैं। डीजल के लिए आम आदमी को प्रति लीटर 55.94 रुपए प्रति लीटर खर्च करने होंगे। वहीं दूसरी ओर बिना सब्सिडी वाला गैस सिलेंडर 78.5 रुपए सस्‍ता हो गया है। लेकिन सब्सिडी वाला गैस सिलेंडर 3.88 रुपए महंगा हो गया है।मोदी के कार्यकाल में निवेशक हुए मालामाल, ऐसे 5 हजार रुपए लगाकर कमाए 3 लाखइससे पहले पेट्रोलियम कंपनियों ने 15 मई को कीमतों की पाक्षिक समीक्षा में पेट्रोल के दाम में प्रति लीटर 2.16 रुपए और डीजल की कीमत में प्रति लीटर 2.10 रुपए की कटौती की थी। विशेषज्ञों के अनुसार कीमतों में यह बदलाव अन्‍तरराष्‍ट्रीय बाजारों में कच्‍चे तेल की कीमतों में बढ़ोत्‍तरी को देखते हुए किया गया है।रैनसमवेयर अटैक के डर से बंद हुए सैकड़ों ATMs, आरबीआई ने सॉफ्टवयर अपडेट करने का दिया निर्देशरसोई गैस की कीमतों में भी बढ़ोतरी की गई है। सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर में 3.88 रुपए की वृद्धि की गई है जबकि गैर-सब्सिडी वाले सिलेंडर के दाम 78.50 रुपए कम किए गए हैं। इंडियन ऑयल से प्राप्त जानकारी के अनुसार दिल्ली में सब्सिडी वाला सिलेंडर एक जून से 3.88 रुपए महंगा होकर 446.65 रुपए का मिलेगा। पहले इसकी कीमत 442.77 रुपए थी। कंपनी के अनुसार गैर-सब्सिडी वाला सिलेंडर 78.50 रुपए सस्ता होकर दिल्ली में 552.50 रुपए का मिलेगा। सावधान! पेट्रोल भरवाते समय कभी नहीं करनी चाहिए ये गलतियां, हो सकता हैं बड़ा नुकसान

Europe Gas Crisis भीषण गर्मी के बीच यूरोप में मचेगी त्राहि-त्राहि, रुसी कंपनी गैजप्रोम ने 80 प्रतिशत घटाई सप्लाई

भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाईIND vs NZ 1st Test: न्यूजीलैंड पर भारत का दबदबा, जीत से 9 विकेट दूर टीम इंडिया******भारत और न्यूजीलैंड के बीच कानपुर में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन का खेल समाप्त हो चुका है। दिन के अंत में न्यूजीलैंड ने एक विकेट के नुकसान पर 4 रन बनाए। आखिरी दिन भारत को जीत के लिए 9 विकेट और न्यूजीलैंड को 280 रनों की दरकार होगी। विल यंग के रूप में भारत को एकमात्र विकेट आर अश्विन ने दिलाया।इससे पहले श्रेयस अय्यर और रिद्धिमान साहा के अर्धशतक से भारत ने विषम परिस्थितियों से उबरकर पहले क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन रविवार को यहां दूसरी पारी सात विकेट पर 234 रन पर घोषित करके न्यूजीलैंड को 284 रन का लक्ष्य दिया। न्यूजीलैंड ने लक्ष्य का पीछा करते हुए सलामी बल्लेबाज विल यंग (02) का विकेट गंवाकर एक विकेट पर चार रन बनाए। टीम को अंतिम दिन जीत के लिए 280 रन और बनाने होंगे। दिन का खेल खत्म होने पर सलामी बल्लेबाज टॉम लैथम दो रन बनाकर खेल रहे थे जबकि रात्रि प्रहरी विलियम समरविले ने खाता नहीं खोला है।पदार्पण टेस्ट की पहली पारी में शतक जड़ने के बाद अय्यर (125 गेंद में 65 रन, आठ चौके, एक छक्का) ने दूसरी पारी में भी बेहद दबाव के बीच अर्धशतक जड़ा और यह उपलब्धि हासिल करने वाले पहले भारतीय बने। उन्होंने रविचंद्रन अश्विन (32) के साथ छठे विकेट के लिए 52 जबकि साहा (नाबाद 61, 126 गेंद, चार चौके,एक छक्का) के साथ सातवें विकेट के लिए 64 रन की साझेदारी की। साहा ने अक्षर पटेल (नाबाद 28) के साथ आठवें विकेट के लिए 67 रन की अटूट साझेदारी भी की। न्यूजीलैंड की ओर से काइल जैमीसन ने 40 जबकि टिम साउथी ने 75 रन देकर तीन-तीन विकेट चटकाए। टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में भारतीय सरजमीं पर विदेशी टीम ने कभी इतने बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत दर्ज नहीं की है। रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के नाम है जिसने 1987 में नयी दिल्ली में 276 रन का लक्ष्य हासिल किया था।न्यूजीलैंड ने पारी के तीसरे ओवर में यंग का विकेट गंवा दिया जिन्हें रविचंद्रन अश्विन (तीन रन पर एक विकेट) ने पगबाधा किया। यंग ने डीआरएस लेने का फैसला किया लेकिन तब तक 15 सेकेंड की समय सीमा खत्म हो चुकी थी और उन्हें पवेलियन लौटना पड़ा। रीप्ले में दिखा कि अगर वह समय पर डीआरएस लेने का फैसला करते को मैदानी अंपायर को अपना फैसला बदलना पड़ा क्योंकि गेंद स्टंप से नहीं टकरा रही थी। इससे पहले सुबह के सत्र में कार्यवाहक कप्तान अजिंक्य रहाणे (04) और कार्यवाहक उप कप्तान चेतेश्वर पुजारा (22) ने एक बार फिर निराश किया जिससे भारत 51 रन पर पांच विकेट गंवाकर संकट में था। अय्यर ने हालांकि पहले अश्विन और फिर साहा के साथ अर्धशतकीय साझेदारी करके भारत को संभाला। उन्होंने आफ स्पिनर समरविले पर छक्का जड़ा लेकिन उनका सर्वश्रेष्ठ शॉट बायें हाथ के स्पिनर एजाज पटेल पर लॉफ्टेड ड्राइव से चौका बटोरना रहा। अय्यर चाय के विश्राम से पहले की साउथी की अंतिम गेंद पर विकेटकीपर टॉम ब्लंडेल को कैच दे बैठे।साउथी की लेग साइड से बाहर जाती गेंद उनके ग्लव्स को चूमती हुई विकेटकीपर के हाथों में चली गई। पिच पर खेलना असंभव नहीं है लेकिन माना जा रहा है कि भारतीय स्पिनर स्कोर का बचाव करने में सक्षम हो सकते हैं क्योंकि भले ही गेंद काफी टर्न नहीं हो रही हो लेकिन उम्मीद है कि काफी गेंद नीची रहेंगी। चौथी सुबह भारतीय बल्लेबाजों को साउथी ने अपनी स्विंग से सबसे अधिक परेशान किया। उन्हें साथी तेज गेंदबाज जैमीसन का अच्छा साथ मिला। जैमीसन ने पुजारा की पसलियों को निशाना बनाया। निर्जीव पिच पर जैमीसन की उछाल लेती गेंद पुजारा के ग्लव्स को छूकर ब्लंडेल के दस्तानों में समा गई। मैदानी अंपायर ने उन्हें नॉटआउट दिया लेकिन डीआरएस लेने पर पुजारा को वापस लौटना पड़ा। खराब फॉर्म से जूझ रहे रहाणे एक चौके की मदद से 15 गेंद में चार रन बनाने के बाद एजाज की गेंद पर पगबाधा हो गए।सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल (17) ने पहले घंटे में न्यूजीलैंड के गेंदबाजों का डटकर सामना किया लेकिन साउथी ने आउटस्विंग होती गेंद पर उन्हें दूसरी स्लिप में टॉम लैथम के हाथों कैच करा दिया। साउथी ने इसी ओवर में रविंद्र जडेजा (00) को पगबाधा करके भारत को पांचवां झटका दिया। अश्विन इसके बाद अय्यर का साथ देने उतरे और उन्होंने साउथी पर सीधा चौका जड़ने के अलावा कुछ आकर्षक शॉट खेलकर टीम पर बने दबाव को कुछ कम किया। दोनों ने भारत का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया लेकिन इसके बाद अश्विन जैमीसन की उछाल लेती गेंद को विकेट पर खेल गए।साहा सात रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब समरविले की गेंद पर मिड विकेट पर हेनरी निकोल्स ने उनका कैच टपकाया और गेंद चार रन के लिए चली गई। साहा ने अगली गेंद पर भारतीय पारी का पहला छक्का जड़ा। अय्यर ने भी इसके बाद हाथ खोलते हुए एजाज पर छक्का मारा। उन्होंने एजाज की गेंद पर एक रन के साथ 109 गेंद में अर्धशतक पूरा किया।अय्यर ने बायें हाथ के स्पिनर एजाज पर दो चौके मारने के बाद साउथी पर भी चौका जड़ा लेकिन अगली गेंद पर विकेट के पीछे कैच दे बैठे। इस बीच समरविले की ही गेंद पर साहा को दूसरा जीवनदान भी मिला। चाय के बाद साहा और अक्षर पटेल ने टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया। साहा ने समरविले की गेंद पर दो रन के साथ 115 गेंद में छठा अर्धशतक पूरा किया।

भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाईबाइडेन ने पलटा ट्रंप का फैसला, पाकिस्तान को 45 करोड़ डॉलर की सहायता को दी मंजूरी, F-16 विमानों में होंगे इस्तेमाल******Highlights अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के फैसले को पलटते हुए पाकिस्तान को एफ-16 लड़ाकू विमान के बेड़े के रखरखाव के लिए 45 करोड़ डॉलर की वित्तीय सहायता को मंजूरी दी है। पाकिस्तान को यह वित्तीय मदद इसलिए दी जा रही है ताकि वह वर्तमान और भविष्य में आतंकवाद रोधी खतरों से निपट सकें। पिछले चार वर्षों में इस्लामाबाद को दी जा रही यह सबसे बड़ी सुरक्षा सहायता है। गौरतलब है कि ट्रंप प्रशासन ने 2018 में आतंकवादी सगठनों अफगान तालिबान और हक्कानी नेटवर्क पर कार्रवाई करने में नाकाम रहने पर उसे दी जाने वाली करीब दो अरब डॉलर की वित्तीय सहायता निलंबित कर दी थी।अमेरिकी संसद को दी एक अधिसूचना में विदेश मंत्रालय ने कहा कि उसने पाकिस्तान को एफ-16 लड़ाकू विमानों के रखरखाव के लिए संभावित विदेश सैन्य बिक्री (एफएमएस) को मंजूरी देने का निर्णय लिया है। मंत्रालय ने दलील दी कि इससे इस्लामाबाद को वर्तमान और भविष्य में आतंकवाद के खतरों से निपटने की क्षमता बनाए रखने में मदद मिलेगी। विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘अमेरिकी सरकार ने कांग्रेस को प्रस्तावित विदेशी सैन्य बिक्री की सूचना दी है ताकि पाकिस्तान की वायु सेना के एफ-16 कार्यक्रम को बनाए रखा जा सके। पाकिस्तान एक महत्वपूर्ण आतंकवादी रोधी सहयोगी है।’उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान का एफ-16 कार्यक्रम अमेरिका-पाकिस्तान वृहद द्विपक्षीय संबंधों का एक अहम हिस्सा है। इससे पाकिस्तान अपने एफ-16 बेड़े को बनाए रखते हुए वर्तमान और भविष्य में आतंकवाद रोधी खतरों से निपटने में सक्षम होगा। एफ-16 बेड़े से पाकिस्तान को आतंकवाद रोधी अभियान में सहयोग मिलेगा और हम पाकिस्तान से सभी आतंकवादी समूहों के खिलाफ निरंतर कार्रवाई करने की उम्मीद करते हैं।’अमेरिका की इस नरमी के पीछे पाकिस्तान द्वारा हाल में की गई मदद को भी माना जा रहा है। अफगानिस्तान में अल-कायदा प्रमुख अल-जवाहिरी को मारने के लिए अमेरिका ने जिस ड्रोन का इस्तेमाल किया है, वह पाकिस्तान के वायु क्षेत्र से होकर ही गुजरा था। जबकि इससे पिछली इमरान खान की सरकार ने अफगानिस्तान में किसी भी तरह के अमेरिकी सैन्य ऑपरेशन के लिए अमेरिका द्वारा उसके वायु क्षेत्र को मंजूरी नहीं दी थी। बाद में उन्होंने अमेरिका पर उनकी सरकार को हटाने के लिए साजिश रचने तक आरोप भी लगाए। जिससे अमेरिका और पाकिस्तान के रिश्तों में तनाव आ गया था। लेकिन शहबाज शरीफ की सरकार अमेरिका के साथ रिश्ते बेहतक करने की पूरी कोशिश कर रही है, ताकि देश के लोगों की दो वक्त की रोटी के लिए अमेरिका से मदद मिलती रहे।भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाईShukra Gochar: शुक्र का मेष राशि में गोचर इन 3 राशियों को नहीं दे रहा शुभ संकेत******सभी 9 ग्रह एक निश्चित समय पर एक राशि से दूसरी राशि में गोचर करते हैं, इन ग्रहों के राशि परिवर्तन से सभी राशियों पर अलग-अलग प्रभाव पड़ता है। 23 मई को रात 08.39 बजे शुक्र मीन राशि से निकल कर मेष राशि में प्रवेश कर चुके हैं। ज्योतिष शास्त्र में शुक्र को भौतिक सुख, विलासिता पूर्ण जीवन, रोमांस, ग्लैमर आदि का कारक ग्रह माना जाता है। शुक्र को रचनात्मकता और रोमांस का ग्रह माना जाता है। यह जातक के जीवन विलासिता की स्थिति लेकर आता है। यह जातक के जीवन में प्रेम संबंधों को प्रभावित करता है। शुक्र को विवाह के लिए प्रमुख ग्रहों में से एक माना जाता है। लेकिन शुक्र के मेष राशि में प्रवेश करने से तीन राशियों पर अच्छा प्रभाव नहीं पड़ेगा, एस्ट्रो फ्रेंड चिराग बेजान दारूवाला से जानते हैं वो तीन राशियां कौन सी हैं।राशि चक्र के बारहवें भाव में शुक्र के गोचर का अशुभ प्रभाव व्यक्ति के स्वास्थ्य में समस्या पैदा कर सकता है। यात्रा करने से देश को लाभ होगा। घुमना अधिक महंगा पड़ शकता है । परिवार और दोस्तों से अच्छी खबर मिलने की बेहतर संभावना है। यदि आप अपना घर या वाहन बेचने की सोच रहे हैं तो समय अनुकूल है। कोर्ट के मामले का निपटाना ही समझदारी है।शुक्र के अष्टम भाव में गोचर के मिले-जुले परिणाम होंगे। अपने लोगों को नीचा दिखाने की कोशिश करेंगे। पक्षों के बीच विवादों और अदालत से संबंधित अन्य मामलों को सुलझाया जाना चाहिए। पैतृक संपत्ति बेचने से बचें। नहीं तो आर्थिक नुकसान होने की संभावना है। किसी को ऋण के रूप में अधिक धन उधार न दें, क्योंकि या तो आप धन खो देंगे या यह समय पर प्राप्त नहीं होगा। इन सबके बावजूद नौकरी की प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।राशि के छठे भाव में गोचर करते समय शुक्र को कई उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ेगा। यदि आप घर या वाहन के लिए बड़ा ऋण लेना चाहते हैं तो यह समय ठीक नहीं है। आपके शत्रु आपको शर्मिंदा करने का कोई मौका नहीं छोड़ेंगे। अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें। विदेशी नागरिकता या सेवा भी सफल होगी। परीक्षा में उच्च अंक प्राप्त करने के लिए, छात्रों को अधिक मेहनत करने की आवश्यकता होगी।

भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाईPakistan News: पाकिस्तानी पीएम और उनके बेटे पर गिरी गाज, मनी लॉन्ड्रिंग केस में कोर्ट ने किया तलब******Highlights पाकिस्तान की एक स्पेशल कोर्ट ने मनी लॉन्ड्रिंग केस में पाकिस्तानी पीएम शहबाज शरीफ और उनके बेटे हमजा शहबाज को तलब किया है। कोर्ट ने उन्हें 16 अरब रूपये के मनी लॉन्ड्रिंग मामले में उन पर आरोप तय करने के लिए शनिवार को उन्हें सात सितंबर के लिए तलब किया । संघीय जांच एजेंसी (FIA) ने शहबाज (70), उनके बेटों --हमजा (47) और सुलेमान (40) के विरूद्ध भ्रष्टाचार एवं धनशोधन रोकथाम अधिनियम(Prevention of Corruption and Money Laundering Act) की विभिन्न धाराओं के तहत नवंबर 2020 में मामला दर्ज किया था।लाहौर की एक स्पेशल कोर्ट इस मामले की सुनवाई कर रही है और वह पहले ही पिता एवं पुत्र को गिरफ्तारी पूर्व जमानत दे चुकी है। कोर्ट में शहबाज और हमजा सुनवाई के दौरान गैरहाजिर थे। उनके वकीलों ने एक महीने की छूट देने का अनुरोध किया। शहबाज के वकील अमजद परवेज ने अदालत से कहा कि उनके मुवक्किल की तबियत ठीक नहीं है और उन्हें यात्रा नहीं करने की सलाह दी गई है। हमजा के वकील राव औरंगजेब ने कहा कि उनके मुवक्किल को गंभीर पीठदर्द है और उन्हें आराम की जरूरत है। FIA के वकील फारूक बाजवा ने छूट पर आपत्ति नहीं जताई। तब अदालत ने छूट दे दी।बाजवा ने अदालत से कहा कि एजेंसी ने पीएम के दूसरे बेटे सुलेमा के 19 बैंक खातों का रिकार्ड प्राप्त कर लिया है जबकि अन्य सात के रिकार्ड प्राप्त किए जाने हैं। दोनों पक्षों को सुनने के बाद अदालत ने सात सितंबर तक के लिए मामले की सुनवाई स्थगित कर दी। उस दिन के लिए अदालत ने शहबाज और हमजा पर आरोप तय करने के सिलसिले में तलब किया है। अदालत को सौंपी गई FIA की रिपोर्ट के मुताबिक जांच टीम ने शहबाज परिवार के 28 बेनामी खातों का ‘पता ’ लगाया है। इनके माध्यम से 2008-18 के दौरान 16.3 अरब रूपये का मनी लॉन्ड्रिंग की गई।भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाईPakistan में क्यों इन्वेस्ट करना चाहता है गूगल, सामने आई बड़ी वजह******पाकिस्तान में ने 2021 में 35 करोड़ डॉलर की फंडिंग जुटाई है, जो कि इकोसिस्टम की तुलना में एक छोटी राशि है, लेकिन 2020 में जुटाई गई राशि से पांच गुना है। गूगल ने कहा कि वह टेक की इस अगली लहर को 'गूगल फॉर स्टार्टअप्स एक्सेलेरेटर' (दक्षिण पूर्व एशिया और पाकिस्तान) के साथ पोषित करेगा, विशेष रूप से वे जो ई-कॉमर्स, वित्त, स्वास्थ्य सेवा, एसएमई-केंद्रित बी2बी समाधानों, शिक्षा, कृषि और रसद पर केंद्रित हैं।गूगल इंडोनेशिया, मलेशिया, पाकिस्तान, फिलीपींस, सिंगापुर, थाईलैंड या वियतनाम में स्थित 10 से 15 स्टार्टअप की तलाश कर रहा है, जो सीड या सीरीज ए चरण में हैं। एक्सेलेरेटर इन स्टार्टअप्स को गूगल मेंटर्स, नए संपर्को का एक नेटवर्क प्रदान करके उनकी यात्रा में मदद करने के लिए और सबसे अत्याधुनिक तकनीक प्रदान करेगा।इच्छुक स्टार्टअप्स को 7 अक्टूबर तक आवेदन करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। पाकिस्तान में 3,700 से अधिक स्टार्टअप जैसे डीलकार्ट, डीबैंक, टैग, बाजार और जुगनू व अन्य हैं। पिछले कुछ वर्षो में पूरे दक्षिण पूर्व एशिया और पाकिस्तान में स्टार्टअप लगातार बढ़ रहे हैं और क्षेत्रों की सबसे अधिक चुनौतियों का सामना कर रहे हैं। कृषि से लेकर स्वास्थ्य सेवा तक ये स्टार्टअप अपने फोकस के क्षेत्र से निपटने के लिए डिजिटल समाधान तैयार कर रहे हैं।अकेले दक्षिण पूर्व एशिया में मार्च 2020 से अब तक 8 करोड़ नए उपयोगकर्ता ऑनलाइन आए हैं, जिससे विभिन्न उद्योगों में डिजिटल प्रोडक्ट्स और सेवाओं को विकसित करने वाले स्टार्टअप के लिए गतिविधि को बढ़ावा मिला है। गूगल ने कहा, "हमने देखा है कि विकास दक्षिण पूर्व एशिया और पाकिस्तान दोनों में नई ऊंचाइयों पर पहुंच गया है।"इस तेजी के पीछे एक कारण यह है कि पाकिस्तान और दक्षिण पूर्व एशिया दोनों में एक संपन्न युवा आबादी है। दक्षिण पूर्व एशिया की आधी से अधिक आबादी 30 साल से कम उम्र की है। पाकिस्तान में भी औसत उम्र सिर्फ 22 साल है। कंपनी ने कहा, "ये युवा तकनीक-प्रेमी होते हैं, उद्यमिता में रुचि रखते हैं और वैश्विक रुझानों के अनुरूप होते हैं।"थाईलैंड 4.0, इंडोनेशिया के 1,000 स्टार्टअप, सिंगापुर के स्टार्टअप एसजी संस्थापक, साथ ही साथ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री युवा कार्यक्रम जैसी सरकार द्वारा संचालित पहल, इच्छुक संस्थापकों को अपने स्टार्टअप को जमीन पर उतारने में मदद करना जारी रखेंगे।

भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाईCoronavirus impact: गो एयर के कर्मचारी तीन मई तक बिना वेतन के रहेंगे अवकाश पर******GoAir employees to go on leave without pay till lockdown ends on May 3 विमानन कंपनी गो एयर के 5,500 कर्मचारियों में से ज्यादातर तीन मई तक बिना वेतन के अवकाश पर रहेंगे। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये जारी ‘लॉकडाउन’ की अवधि बढ़ाये जाने के कारण कंपनी के सभी विमान खड़े हैं। वाडिया समूह के स्वामित्व वाली एयरलाइन ने इससे पहले, मार्च में अपने कर्मचारियों से बारी-बारी से बिना वेतन के अवकाश पर जाने को कहा था। साथ ही उनके वेतन में कटौती की घोषणा की थी। ने शनिवार को अपने र्कचारियों को भेजे पत्र में कहा, 'लॉकडाउन (बंद) को अब तीन मई तक के लिये बढ़ा दिया गया है। इसके साथ ही विमानों की उड़ानें नहीं हो रही हैं। इसीलिए हम बाध्य होकर आपसे आग्रह करते हैं कि आप तीन मई तक बिना वेतन के अवकाश पर रहें।'सरकार ने की मियाद बढ़ाकर तीन मई तक कर दी है। इससे पहले 25 मार्च से 14 अप्रैल तक के लिये बंद की घोषणा की गयी थी। ज्यादातर एयरलाइन ने 15 अप्रैल से उड़ान सेवा शुरू करने की योजना बनायी थी। उन्हें उम्मीद थी कि 15 अप्रैल से बंद को हटा लिया जाएगा। एयरलाइन ने कहा, 'इसीलिए हमें बिना वेतन के अवकाश की अवधि बढ़ानी पड़ रही है।' एक अधिकारी ने कहा कि 5,500 कर्मचारियों में से करीब 10 प्रतिशत पहले की तरह काम करते रहेंगे। हालांकि, इस दौरान उन्हें आंशिक वेतन ही मिलेगा। ये वे कर्मचारी हैं जिनकी कुछ कार्यों के लिये उपस्थिति जरूरी है। गो एयर के अनुसार हमें उम्मीद है कि चार मई से उड़ान की अनुमति होगी और हम चरणबद्ध तरीके से काम शुरू कर सकेंगे।भीषणगर्मीकेबीचयूरोपमेंमचेगीत्राहित्राहिरुसीकंपनीगैजप्रोमने80प्रतिशतघटाईसप्लाई'तूफान' के बॉक्सर 'अजीज अली' बनने के लिए फरहान अख्तर को लगे 18 महीने, 3 तस्वीरों में देखें लंबा सफर******फरहान अख्तर की फिल्म 'तूफान' डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज होते ही सुर्खियों में हैं। इस फिल्म में ना केवल फरहान अख्तर के अभिनय की तारीफ हो रही है बल्कि फिजीक की भी जमकर तारीफ की जा रही है। लेकिन क्या आपको पता है फरहान अख्तर ने 'तूफान' फिल्म के अलीज अली बनने के लिए 18 महीनों की कड़ी मेहनत की। अपने इसी मेहनत को फरहान अख्तर ने एक ही फ्रेम में तीन अलग-अलग तस्वीरों और कुछ शब्दों के साथ बयां करने की कोशिश की है।फरहान अख्तर ने अपनी कड़ी मेहनत को शब्दों में बयां करते हुए लिखा- 'बहुत सारे आकार और शेप तूफान के अज्जू ऊर्फ अजीज के। बहुत शानदार सफर रहा। 18 महीनों की कड़ी मेहनत, पसीने की हर बूंद, मांसपेशियों में दर्द और शरीर का वजन कम और ज्यादा होना। इसके पीछे के सितारे - समीर जौरा, ड्रू नील और आनंद कुमार।'फरहान अख्तर के इस गजब के ट्रांसफॉर्मेशन पर सेलेब्रिटीज भी जमकर तारीफ कर रहे हैं। अभिनेता ऋतिक रोशन ने इस तस्वीर पर कमेंट करते हुए लिखा- 'मैन 69 से 85..ये आश्चर्यजनक है।' इसके अलावा करण टैकर और वीजे अनुषा ने भी कमेंट किया। वीजे अनुषा ने कमेंट करते हुए लिखा- 'वाउ।' वहीं फरहान अख्तर की गर्लफ्रेंड शिबानी दांडेकर ने कमेंट किया- 'इन तीनों से प्यार है'। इसके साथ ही दिल वाला इमोजी भी बनाया।आपको बता दें, फरहान अख्तर की फिल्म तूफान 16 जुलाई को डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज हुई है। राकेश ओमप्रकाश द्वारा निर्देशित ये फिल्म डोंगरी के एक गुंडे अजीज अली (फरहान अख्तर) के बारे में है, जो एक बॉक्सर के रूप में सफलता पाता है, और केवल एक गलती से सबकुछ खो देता है। फिल्म ड्रामा पैदा करती है, क्योंकि अजीज सभी बाधाओं के खिलाफ वापसी करने की कोशिश करता है। फिल्म में फरहान की प्रेमिका की भूमिका में मृणाल ठाकुर और अजीज के कोच के रूप में परेश रावल हैं। इसके अलावा सुप्रिया पाठक कपूर, हुसैन दलाल, डॉ. मोहन अगाशे, दर्शन कुमार और विजय राज हैं।

हाल का ध्यान

लिंक