वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > वुहु > मूलपाठ

Ankita Bhandari Murder Case: भारी ग़म और गुस्से के बीच हुआ अंकिता भंडारी का अंतिम संस्कार, CM के आश्वासन के बाद माने प्रदर्शनकारी

2022-09-30 22:04:58 वुहु

भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारीराहुल गांधी ने भी एक दिन पूर्व अध्यक्ष हो जाना है, किसी MLA का बेटा नहीं बनेगा चेयरमैन- नवजोत सिंह सिद्धू******Highlightsपंजाब में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में सभी राजनीतिक दल अपनी-अपनी तैयारियों में जुट गए हैं। पंजाब में कांग्रेस में सियासी घमासान जारी है। फिलहाल पार्टी ने चरणजीत सिंह चन्नी के नाम पर ही मुहर लगाई है। अगर सूबे में कांग्रेस की सरकार बनती है तो मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ही बनेंगे।इस बीच पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में सिद्धू राहुल गांधी और पार्टी कार्यकर्ताओं को लेकर कुछ ऐसा कहते हैं जो चर्चा का विषय बना हुआ है। सिद्धू कहते हैं, 'अगर पंजाब कांग्रेस का प्रधान रहा और मैं अगर अपनी मां का बेटा हूं तो किसी विधायक के बेटे को चैयरमैन नहीं बनाया जाएगा।'नवजोत सिंह सिद्धू आगे कहते हैं, 'अब सिर्फ किसी कार्यकर्ता के बेटे को ही चेयरमैन बनाया जाएगा। अब पार्टी के 4 हजार कार्यकर्ता ही चेयरमैन बनेंगे। इतिहास गवाह है उसी दिन इस्तीफा दे दूंगा। अगर किसी आगे की लाइन में खड़े टाई वाले को पद दिया। बहुत हो गया। मुझे एक दिन पूर्व मंत्री कहेंगे, राहुल जी माफ करना एक दिन आपको भी पूर्व अध्यक्ष कहा जाएगा। लेकिन ये कार्यकर्ता कभी पूर्व नहीं होगा।'चरणजीत सिंह चन्नी के नाम की घोषणा के बाद विपक्षी दलों की भी प्रतिक्रिया आ रही है। बिक्रम मजीठिया ने कहा, कांग्रेस ने भ्रष्टाचार के आरोपी को सीएम कैंडिडेट बनाया है। कांग्रेस ने उनका रास्ता दिखा दिया है। अमृतसर की जनता को किसी गप्पू की जरूरत नहीं है।

भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारीGyanvapi Survey Report: ज्ञानवापी में त्रिशूल, डमरू, नाग और पान... इंडिया टीवी के हाथ लगी सर्वे रिपोर्ट******Highlights ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में हुए सर्वे की रिपोर्ट इंडिया टीवी के हाथ लगी है। कोर्ट कमिश्नर विशाल सिंह की सर्वे रिपोर्ट में दीवार पर त्रिशूल के खुदे हुए चिन्ह के बारे में जिक्र किया गया। साथ ही इस रिपोर्ट में त्रिशूल की आकृतियों के बारे में भी बताया गया है, जिन्हें पेंट से ढकने की कोशिश की गई। कोर्ट कमिश्नर विशाल सिंह की इस सर्वे रिपोर्ट में लिखा है कि दीवार पर त्रिशूल आदि साफ दिखाई दे रहे हैं। मस्जिद के पहले गेट के पास उत्तर दिशा में वादी के अधिवक्ता ने तीन डमरू के चिन्ह दिखाई देने की बात कही है, जिसे प्रतिवादी के वकील ने गलग बताया।इस रिपोर्ट में वादी पक्ष द्वारा प्रवेश द्वार से आगे पूर्वी दिशा की दीवाल पर लगभग 20 फीट ऊपर त्रिशूल के निशान की बात कही गई है। इससे आगे लगभग 7 फीट की ऊंचाई पर दिखाई पड़ रहे त्रिशूल के निशान और मुख्य गुम्बद के दाहिने तरफ भी बने ताखा के अंदर त्रिशूल खुदा हुआ मिला और उसकी भी फोटोग्राफी करायी गई।इस रिपोर्ट में आगे लिखा है कि मस्जिद के स्टोर रूम के बाहर की दीवाल पर भी स्वास्तिक के कई निशान कायम हैं और स्टोर रूम मस्जिद के दक्षिण-पश्चिम कोने पर करीब 8x10 फीट का, जिसके दरवाजे में सिर्फ भुन्नासी लाक लगा हुआ है। ज्ञानवापी परिसर की इस सर्वे रिपोर्ट के पांचवे पन्ने में मस्जिद के अंदर पश्चिमी दीवाल में हाथी के सूड़नुमा आकृति के चिन्ह दिखने के बारे में लिखा है।विशाल सिंह की रिपोर्ट में लिखा है कि दक्षिण दिशा में तीसरे गुम्बद के अंदर जाने पर एक पत्थर पाया गया जिसे गुम्बद के अंदर उतरने के लिए प्रयोग किए जाने का अनुमान लगाया गया। इस तीसरे गुम्बद में भी 2.5 फीट चौड़ी दीवाल, 3 फीट की गैलरी और 2.5 फीट ऊंचा और लगभग 21 फीट बेस की व्यास की शिखर नुमा शंकुकार स्ट्रक्चर मिला। इस पत्थर पर फूल, पत्ती और कमल की कलाकृतियां दिखाई दीं।पश्चिमी दीवाल के बाहर पश्चिम दिशा की तरफ उभरे हुए आर्क विश्वेशर मंडप के भाग हैं। वीडियोग्राफी कराते हुए दो बड़े खंभो का भी जिक्र किया गया है। वादी पक्ष द्वारा इसे उत्तर में भैरव और और दक्षिण में गणेश मंदिर की दीवारें बताई गईं।रिपोर्ट में लिखा है कि पश्चिमी दीवाल विवादित स्थल पर हाथी के सूड़ की टूटी हुई कलाकृतियां और दीवाल के पत्थरों पर स्वास्तिक, त्रिशूल और पान के चिन्ह और उसकी कलाकृतियां बहुत अधिक मात्रा में खुदी हुई हैं। इसके साथ घंटियां जैसी कलाकृतियां भी खुदी हैं।इसमें लिखा है कि तहखाने में 4-4 खम्भे पुराने तरीके के थे, जिनकी ऊंचाई लगभग 8-8 पीट थी और नीचे से लेकर ऊपर तक घंटी, कलश फूल की आकृति पिलर के चारों तरफ बनी थी।भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारीमहाराष्ट्र: अहमदनगर के जवाहर नवोदय विद्यालय में कोरोना विस्फोट, 28 स्टूडेंट्स समेत 31 कोरोना पॉजिटिव******Highlightsमहाराष्ट्र के जिले में जवाहर नवोदय विद्यालय के 28 और छात्रों तथा तीन कर्मचारियों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है जिसके बाद पिछले एक सप्ताह में इस संस्थान में ऐसे मामलों की संख्या बढ़कर 82 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। अधिकारी के अनुसार, संक्रमित छात्रों में से अधिकतर में कोई लक्षण नहीं हैं और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उनकी हालत स्थिर बताई गई है।अहमदनगर जिले के पारनेर तहसील के स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रकाश लालगे ने कहा, “हमने कुछ छात्रों के नमूने फिर से जांच के लिए भेजे थे जिनकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी, क्योंकि उनमें (कोरोना वायरस संक्रमण) के लक्षण थे। पिछली रात, 19 छात्रों के नमूनों की जांच में संक्रमण की पुष्टि हुई तथा आज 12 और नमूनों की जांच में संक्रमण पाया गया (इनमें से तीन कर्मचारियों के थे और अब कुल नए मामले 31 हो गए हैं।)”अहमदनगर के जिलाधिकारी राजेंद्र भोसले ने रविवार शाम को कहा कि स्कूल के परिसर को ‘निषिद्ध क्षेत्र’ घोषित कर दिया गया है।(इनपुट- एजेंसी)

Ankita Bhandari Murder Case: भारी ग़म और गुस्से के बीच हुआ अंकिता भंडारी का अंतिम संस्कार, CM के आश्वासन के बाद माने प्रदर्शनकारी

भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारीUP elections 2022: मतगणना के दौरान गड़बड़ी को रोकने को लिए EVM पर नजर रखेंगे सपा, बसपा और RLD के कार्यकर्ता****** (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से स्ट्रांग रूम में निगरानी रखने को कहा है, जहां ईवीएम रखी गई हैं। कार्यकर्ताओं से कहा गया है कि खास तौर पर यह भी सुनिश्चित किया जाए कि 10 मार्च को मतगणना के दौरान कोई छेड़छाड़ न हो। इस संबंध में समाजवादी पार्टी के सांसद प्रो. रामगोपाल यादव ने पार्टी अध्यक्ष को पत्र लिखा है और सभी उम्मीदवारों को भी इसकी कॉपी भेजकर कहा है कि वे यह सुनिश्चित करें कि उनके प्रतिनिधि सभी मतगणना टेबल पर मौजूद रहें, ताकि किसी भी प्रकार का संभावित अनुचित व्यवहार न हो सके।उन्होंने आगे कहा कि मतगणना के दौरान डाक मतपत्रों पर नजर रखी जानी चाहिए। बसपा ने मतगणना से पहले इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों की निगरानी के लिए एक प्रणाली भी स्थापित की है, जिसमें दावा किया गया है कि वे प्रतिद्वंद्वियों पर भरोसा नहीं करते, क्योंकि वे उनके साथ छेड़छाड़ कर सकते हैं।पार्टी के एक पदाधिकारी ने कहा, "सभी उम्मीदवारों और सेक्टर प्रभारियों से कहा गया है कि वे स्ट्रांग रूम के बाहर निगरानी रखें जहां ईवीएम रखी गई हैं और उन्हें अपने क्षेत्रों से एक निश्चित अंतराल पर पार्टी कार्यालय में फुटेज भेजने की आवश्यकता होगी।" निष्पक्ष मतगणना सुनिश्चित करने और 'अनियमितताओं' की किसी भी संभावना को विफल करने के लिए पश्चिमी यूपी में 10 मार्च को सपा-रालोद गठबंधन के हजारों समर्थक मतगणना केंद्रों के आसपास मौजूद रहेंगे।रालोद नेताओं ने सभी उम्मीदवारों को अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्रों से कम से कम 1,000 समर्थकों की व्यवस्था करने का निर्देश दिया है जो मतगणना के दिन मतगणना केंद्रों के आसपास रहेंगे ताकि मतगणना के लिए अधिकारियों पर दबाव बनाया जा सके। मेरठ में जिला प्रशासन ने 10 मार्च को मतगणना शुरू होने तक एक उम्मीदवार के तीन प्रतिनिधियों को मतगणना केंद्रों पर रहने की अनुमति दी है।मेरठ में समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह ने कहा कि गठबंधन के प्रत्येक उम्मीदवार के तीन प्रतिनिधि मेरठ के दो मतगणना केंद्रों पर दिन-रात रुके हुए हैं, ताकि संग्रहीत ईवीएम पर नजर रखी जा सके। सिंह ने आगे कहा, "हम वोटों की गिनती को लेकर जोखिम नहीं उठा सकते हैं। खासकर यह देखने के बाद कि सत्ताधारी पार्टी के नेताओं और समर्थकों ने भाजपा के पक्ष में मतदान करने के लिए पंचायत के निर्वाचित सदस्यों पर दबाव डाला और अधिकारियों ने भी उनकी मदद की।"रालोद के राष्ट्रीय सचिव कुलदेरे उज्ज्वल ने कहा कि मतगणना के दौरान गठबंधन के कम से कम 10,000 समर्थक मौजूद रहेंगे। उज्ज्वल ने कहा कि मौजूदा परिस्थितियों में, वे अधिकारियों पर विश्वास नहीं कर सकते। उन्होंने विश्वास जताते हुए कहा, "इन समर्थकों की ताकत से निष्पक्ष मतगणना सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी।" इस बीच बीकेयू नेता राकेश टिकैत ने भी धांधली को लेकर आशंका जताई है। उन्होंने किसानों से मतगणना के दिन मतगणना केंद्रों पर कड़ी नजर रखने का भी आह्वान किया है।टिकैत ने किसानों को 9 मार्च की शाम तक अपने ट्रैक्टरों में मतगणना केंद्रों पर पहुंचने और परिणाम घोषित होने तक वहीं रहने को कहा है।भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारीRajya Sabha Election: राज्यसभा चुनाव में वोट नहीं दे सकेंगे अनिल देशमुख और नवाब मलिक, कोर्ट ने खारिज की मांग******Highlightsराज्यसभा चुनाव से पहले महाराष्ट्र में महाविकास आघाड़ी सरकार को तगड़ा झटका लगा है। 10 जून को होने वाले राज्यसभा चुनावों में उद्धव सरकार को 2 वोटों का बड़ा नुकसान हुआ है। दरअसल, अनिल देशमुख और नवाब मलिक की राज्यसभा में वोट देने की मांग को कोर्ट ने अस्वीकार कर दिया है। अब महाविकास आघाड़ी सरकार की ओर से मलिक और देशमुख वोट नहीं दे पाएंगे।विशेष PMLA कोर्ट ने राज्यसभा चुनाव में वोट डालने के लिए महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक और पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख द्वारा दायर याचिका को खारिज कर दिया। गौरतलब है कि महाराष्ट्र में राज्यसभा की 6 सीटों के लिए 10 जून को चुनाव होना है। राज्य की इन 6 सीटों के लिए सात उम्मीदवार मैदान में हैं, इसलिए राज्यसभा चुनाव में 24 साल बाद मतदान कराने की नौबत आ गई है।महाराष्ट्र विधानसभा की 288 सीटों में से भाजपा के पास 106, शिवसेना के पास 55, कांग्रेस के पास 44 और एनसीपी के 53 हैं। जिसमें से 2 विधायक नवाब मलिक और अनिल देशमुख जेल में हैं और कोर्ट ने अब उनकी देने देने की याचिका भी खारिज कर दी है।विधायक संख्या के हिसाब से सत्तारूढ़ शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी (राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी) के एक-एक और भाजपा के दो उम्मीदवार आसानी से जीत सकते हैं। लेकिन छठवीं सीट के लिए भाजपा और शिवसेना दोनों ने एक-एक अतिरिक्त उम्मीदवार खड़े कर दिए हैं। यह छठवीं सीट जीतने के लिए भाजपा को अपनी क्षमता से 13 और शिवसेना को उसकी क्षमता से 16 अधिक विधायकों की जरूरत पड़ेगी। चूंकि यह कमी छोटे दलों और निर्दलीय विधायकों से ही पूरी होनी है, इसलिए छोटे दल और निर्दलीय मिलकर एमवीए गठबंधन की बाहें मरोड़ने में लगे हुए हैं।भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारीइंग्लैंड की धरती पर भारत के पास वो करने का मौका जो कोई एशियाई नहीं कर सका, इस बार बदलेगा इतिहास?****** के बीच खेले जा रहे चौथे टेस्ट मैच में मेजबान टीम ने टीम इंडिया के सामने जीत के लिए 245 रनों का लक्ष्य रखा है। भले ही ये लक्ष्य बेहद छोटा नजर आ रहा है लेकिन सच तो ये है कि इंग्लैंड की धरती पर एशिया की कोई भी टीम 200 से ज्यादा का लक्ष्य हासिल नहीं कर सकी है। इसके अलावा भारतीय टीम का भी रिकॉर्ड एशिया के बाहर बेहद ही खराब है। लेकिन रिकॉर्ड टूटने और आंकड़े बदलने के लिए ही होते हैं। भारतीय टीम ने तीसरा टेस्ट जीतकर दिखा दिया है कि वो इंग्लैंड की धरती पर इस बार इतिहास लिखने आए हैं। भले ही आंकड़े भारत के पक्ष में ना हों, भले ही हालात अंग्रेजों के पक्ष में हों, भले ही भारतीय टीम सीरीज में पिछड़ रही हो। लेकिन विराट कोहली की इस टीम को हर हालात से निपटना आता है। ( आपको बता दें कि इंग्लैंड की धरती पर एशिया की कोई भी टीम चौथी पारी में 200 से ज्यादा का लक्ष्य कभी भी हासिल नहीं कर सकी है। इंग्लैंड में जब भी मेजबान टीम ने एशियाई टीम को चौथी पारी में 200 से ज्यादा का लक्ष्य दिया है हर बार उन्हें जीत मिली है। एशिया के बाहर भारत ने अब तक सिर्फ 3 बार ही चौथी पारी में 200 से ज्यादा का लक्ष्य हासिल किया है। इस दौरान भारत ने एशिया से बाहर चौथी पारी में सिर्फ 3 ही बार 200 से ज्यादा का लक्ष्य हासिल किया है। वहीं, टीम को 36 मैचों में हार मिली है और 22 मैच बराबरी पर खत्म हुए हैं। हालांकि इस मैच के ड्रॉ होने का कोई सवाल नहीं है। ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि क्या भारत इस मैच को जीतकर उस कारनामे को अंजाम दे पाता है जो अब तक कोई भी एशियाई नहीं कर सका है।

Ankita Bhandari Murder Case: भारी ग़म और गुस्से के बीच हुआ अंकिता भंडारी का अंतिम संस्कार, CM के आश्वासन के बाद माने प्रदर्शनकारी

भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारी'मैं तुम्हारा गला काट दूंगा', 2007 टी20 वर्ल्ड कप में फ्लिंटॉफ की इस बात से गुस्सा होकर युवराज ने लगाए थे 6 छक्के******भारतीय पूर्व हरफनमौला खिलाड़ी युवराज सिंह को हम सिक्सर किंग के नाम से भी जानते हैं। युवराज सिंह ने टी20 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टूअर्ट ब्रॉड की 6 गेंदों पर 6 छक्के लगाकर रिकॉर्ड बनाया था। इस मैच में गलती तो एंड्र्यूफ्लिंटॉफकी थी, लेकिन सजा ब्रॉड को भुगतनी पड़ी। ब्रॉड के ओवर से पहले फ्लिंटॉफ और युवराज सिंह के बीच कुछ बहस हुई थी जिससे युवराज सिंह काफी नराज हो गए थे और गुस्से का सही इस्तेमाल करते हुए उन्होंने 6 छक्के जड़ दिए थे।अब युवराज सिंह ने बताया है कि एंड्र्यू फ्लिंटॉफ और उनके बीच ब्रॉड के ओवर से पहले क्या बात हुई थी। इसका खुलासा उन्होंने इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन के साथ लाइव चैट में किया है।युवराज ने इस किस्से को याद करते हुए पीटरसन को बताया "मुझे याद है फ्रेडी ने दो अच्छी गेंदें डाली थी और उसने मुझे एक यॉर्कर भी डाली थी जिसपर मैं बाउंड्री लगाने में सफल रहा। तब उसने कहा ये हड़बड़ाहट में खेला हुआ शॉट है। तब वह मेरे से ज्यादा बोलने लगा। उसने मुझे कहा कि वो मेरा गला काट देगा तब मैंने उसे जवाब दिया तुम्हें मेरे हाथ में ये बैट देखा है? तुम्हें पता है मैं इस बैट से तुम्हें कहां मारूंगा? मुझे याद है जब मैंने ब्रॉडी को 6 छक्के लगाए तो मैं कितना गुस्से में था। मैंने इसके बाद दिमित्री मस्कारेन्हास और फिर फ्रेडी को देखे।"युवराज ने आगे बताया "मस्कारेन्हास ने वनडे मैच में मुझे 5 छक्के लगाए थे इस वजह से मैंने पहले उसे देखा। ये उन मैच में से एक है जो हम सभी को याद है।"बता दें,भारत और इंग्लैंड के बीच यह पहले टी20 वर्ल्ड कप का क्वार्टर फाइनल मैच था। इस मैच में युवराज सिंह ने 12 गेंदों पर सबसे तेज अर्धशतक लगाया था। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने वीरेंद्र सहवाग 68, गौतम गंभीर और युवराज सिंह के 58-58 रनों के दम पर इंग्लैंड को जीत के लिए 219 रन का लक्ष्य दिया था। इस लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड की टीम निर्धारित 20 ओवर में 200 ही रन बना सकी और भारत ने यह मैच जीतकर सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की की। सेमीफाइनल मेंऑस्ट्रेलिया को 15 रनों से और फाइनल में पाकिस्तान को 5 रनों से मात देकर भारत विश्व विजेता बना था।इस चैट के दौरान युवी ने संन्यास के बाद अपने प्लान के बारे में बताया। युवी ने कहा कि वह कमेंटेटर नहीं बल्कि कोचिंग पर ध्यान देना चाहते हैं। युवी ने कहा "मैं कोचिंग पर कमेंट्री से ज्यादा ध्यान देना चाहता हूँ। मेरे पास लिमिटेड ओवर्स क्रिकेट का काफी अच्छा ख़ासा अनुभव है। मैं युवाओं को परिस्थिति के अनुसार मानसिक तौर पर सलाह दे सकता हूँ। गेम के हर फेस को कैसे हैंडल करना है ये भी बता सकता हूँ। पहले मैं बतौर मेंटर शुरुआत करूँगा उसके बाद कोचिंग की तरफ रूख करूंगा। मेरे पास 16-17 क्रिकेट अकादमी है जिन पर मैंने पिछले 10 सालों से काम करना शुरू कर दिया था। मैं बिना कमेंट्री के काफी सेट हूँ।“भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारीIPL 2022: पंजाब के खिलाफ मिली हार के बाद हताश हुए फाफ डुप्लेसी, बताया कहां हुई टीम से चूक******इंडियन प्रीमियर लीग 2022 के 60वें मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को पंजाब किंग्स के हाथों 54 रनों से करारी हार का सामना करना पड़ा। इस हार के साथ ही आरसीबी के लिए प्लेऑफ में पहुंचने की गणित अब खराब हो गई है। आरसीबी की 13 मैचों में से यह छठी हार थी। हालांकि उसने 7 मैचों में जीत हासिल कर 14 अंक हासिल किए हैं लेकिन रन रेट कारण उसका खेल अब खराब हो सकता है।ऐसे में पंजाब के खिलाफ मिली हार के बाद आरसीबी के कप्तान फाफ डुप्लेसी काफी निराश नजर आए। मैच के बाद फाफ ने कहा, ''जॉनी ने जिस तरह बल्लेबाजी की, उसने हमारे गेंदबाजों को दबाव में ला दिया था। जब आप बड़े स्कोर का पीछा करते हैं तो आपको जल्दी विकेट नहीं गंवाने होते हैं और वहां हमसे गलती हुई।''फाफ ने कोहली के खराब फॉर्म को लेकर भी बात की और कहा, ''जब आप थोड़ा दबाव में होते हैं तो खेल आप पर और दबाव डाल देता है। आपके हाथ में सिर्फ इतना है कि आप मेहनत करना जारी रखें, सकारात्मक बने रहें। आज उन्होंने कुछ बेहतरीन शॉट्स भी खेले, वह अच्छी लय में दिख रहे थे। वह चीजों को बखूबी नियंत्रित भी कर रहे हैं। अब हमें अपने अगले मुकाबले की तैयारी करनी है जो कि हमारे लिए हर हाल में जीतना जरूरी है।"आपको बता दें कि इस मैच में आरसीबी की टीम ने टॉस जीतकर पंजाब को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया था। पंजाब ने इसका फायदा उठाते हुए जॉनी बेयरस्टो (66) और लिविंग लियामस्टोन (70) के धमाकेदार अर्धशतक के बदौलत निर्धारित 20 ओवरों के खेल में 9 विकेट के नुकसान पर 209 रन का स्कोर खड़ा किया।इसके जवाब में आरसीबी की टीम पूरी तरह से बिखर गई और लक्ष्य का पीछा करते हुए 20 ओवर में 9 विकेट खोकर सिर्फ 155 रन ही बना सकी।

Ankita Bhandari Murder Case: भारी ग़म और गुस्से के बीच हुआ अंकिता भंडारी का अंतिम संस्कार, CM के आश्वासन के बाद माने प्रदर्शनकारी

भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारीकोरोना वायरस के चलते अब कान्स फिल्म फेस्टिवल 2020 भी हुआ पोस्टपोन******मध्य प्रदेश में होने वाली आईफा अवॉर्ड्स और दिल्ली के राष्ट्रपति भवन में आयोजित होने वाले पद्म पुरस्कार सेरेमनी को के कारण पहले ही पोस्टपोन किया जा चुका है। अब कान्स फिल्म फेस्टिवल 2020 को भी स्थगित कर दिया गया है। ये फेस्टिवल 12 से 23 मई को आयोजित होने वाला था।कान्स फिल्म फेस्टिवल के ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर इसकी अनाउंस की गई है, जिसमें लिखा है कि 'स्वास्थ्य संकट और फ्रेंच व अंतरराष्ट्रीय स्थिति के विकास के लिए कान्स फिल्म फेस्टिवल 2020 को पहले से सुनिश्चित 12 से 23 मई की तारीख को नियोजित नहीं किया जाएगा।दुनिया के सबड़े बड़े फिल्म फेस्टिवल को अब मई की बजाए जून या जुलाई की शुरुआत में आयोजित किया जा सकता है। बता दें कि इस फेस्टिवल में बॉलीवुड जगत से ऐश्वर्या राय, सोनम कपूर, दीपिका पादुकोण और कंगना रनौत जैसी हस्तियां भी शामिल होती हैं।गौरतलब है कि कोरोना वायरस के कारण आईफा और पद्म पुरस्कार सेरेमनी जैसे बड़े इवेंट्स को पहले ही रद्द किया जा चुका है। केंद्र और राज्य सरकारों ने स्कूल, कॉलेज, सिनेमघरों, मॉल्स और जिम को बंद करा दिया है। साथ ही लोगों से घर में रहने की अपील की जा रही है।

भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारीIPL 2021 : रिकी पोंटिंग ने की भविष्यवाणी, दिल्ली कैपिटल्स का यह खिलाड़ी बन सकता है 'सुपरस्टार'******दिल्ली कैपिटल्स के मुख्य कोच रिकी पोंटिंग का मानना है कि टीम के सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ में सुपरस्टार खिलाड़ी बनने की क्षमता है। शॉ आईपीएल के पिछले सीजन में कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर सके थे। इसके बाद वह ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी फ्लॉप साबित हुए थे। शॉ ने हालांकि हाल ही में हुए विजय हजारे ट्रॉफी से फॉर्म हासिल की और आठ मैचों में 827 रन बनाए।पोटिंग ने क्रिकेट डॉट काम डॉट एयू से कहा, "पिछले साल आईपीएल में मेरी शॉ के साथ मजेदार चर्चा हुई। मैं समझने की कोशिश कर रहा था कि उन्हें कोचिंग देने का सही तरीका क्या है और मैं उनके लिए कैसे बेस्ट कर सकता हूं।"उन्होंने कहा, "पिछले साल बल्लेबाजी में उनकी थ्योरी दिलचस्प थी। जब वह रन नहीं बना पाते थे तो वह बल्लेबाजी नहीं करना चाहते हैं और जब वह रन बनाते थे तो हर वक्त बल्लेबाजी करना चाहते थे।"कोच ने कहा, "चार और पांच मैचों में जब वह 10 रन या उससे कम के स्कोर पर आउट हो रहे थे तो मैंने उनसे कहा कि हम नेट्स पर काम कर सकते हैं। लेकिन उन्होंने मेरी तरफ देखकर कहा कि नहीं, मैं आज बल्लेबाजी नहीं करूंगा।"पोटिग ने कहा, "मेरे ख्याल से उनमें बदलाव आया होगा। मुझे पता है कि पिछले कुछ महीनों में उन्होंने काफी काम किया है और उनकी पिछली थ्योरी भी शायद बदली होगी। मैं उम्मीद करता हूं कि ऐसा हो क्योंकि अगर हम उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन देख सके तो वह एक सुपरस्टार खिलाड़ी बन सकते हैं।"भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारीViacom18 ने किया Viacom18 डिजिटल वेंचर्स का ऐलान****** मल्टी-प्लेटफॉर्म एंटरटेनमेंट नेटवर्क वायकॉम18 ने सोमवार को अपने नए डिजिटल कारोबार 'वायकॉम18 डिजिटल वेंचर्स' के लांच की घोषणा की। वायकॉम18 के ग्रुप सीईओ सुधांशु वत्स ने एक बयान में कहा, "प्रसारण उद्योग तेजी से बढ़ रहा है और डिजिटल सामग्री, वितरण और उपयोग नए ग्रीन शूट (आर्थिक वसूली) हैं। हम हाइली डिजिटल दर्शकों और मौजूदा विषय प्रस्तावों के बीच के अवरोधों का फायदा उठाने की सोच रहे हैं।"वायकॉम18 डिजिटल वेंचर्स का मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) गौरव गांधी को नियुक्त किया गया है। उनकी यह नई भूमिका एक अगस्त से शुरू होनी है। गौरव ने कहा, "मैं वायकॉम18 के लिए एक कंज्यूमर-फेसिंग डिजिटल कारोबार विकसित करने के इस मौके से बेहद उत्साहित हूं।"

भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारीसाउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज से केन विलियमसन रह सकते हैं बाहर: रिपोर्ट******Highlightsसाउथ अफ्रीका के खिलाफ आगामी दो मैचों की टेस्ट सीरीज से न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन बाहर रह सकते हैं। बेवसाइट stuff.co.nz की एक रिपोर्ट में इस बात की जानकारी दी गई है। विलियमसन नवंबर 2021 में भारत के खिलाफ कानपुर टेस्ट के बाद से मैदान से बाहर हैं, क्योंकि अभी भी वह कोहनी की चोट से उबर रहे हैं।रिपोर्ट में कहा गया, "केन विलियमसन कोहनी की चोट से उभर रहे हैं, जिसने उन्हें ब्लैक कैप्स की पिछली तीन सीरीज से बाहर रखा है। 17 फरवरी से क्राइस्टचर्च में प्रोटियाज के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला शुरू हो रही है, जिसमें विलियमसन मौजूद नहीं होंगे।" अब उम्मीद की जा रही है कि बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट में टीम की कप्तानी करने वाले सलामी बल्लेबाज टॉम लैथम साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैचों की भूमिका में बने रहेंगे। टीम, जिसकी घोषणा सप्ताह के अंत में की जाएगी, जनवरी 2008 के बाद पहली बार ब्लैककैप टेस्ट क्रिकेट में विलियमसन और संन्यास ले चुके रॉस टेलर के बिना खेलेगी।विलियमसन 2021 की शुरुआत से कोहनी की चोट से परेशान हैं, जब उन्हें मार्च में बांग्लादेश के खिलाफ तीन वनडे से बाहर होना पड़ा था। बाद में भी विलियमसन फिर से कोहनी की समस्या के कारण इंग्लैंड के खिलाफ बमिर्ंघम टेस्ट से बाहर हो गए थे।विलियमसन ने तब साउथेम्प्टन में विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप जीतने के लिए न्यूजीलैंड की कप्तानी की और अक्टूबर-नवंबर में यूएई में टी20 विश्व कप में उपविजेता रहे। लेकिन कोहनी की चोट ने उन्हें मुंबई में भारत के खिलाफ दूसरे टेस्ट से बाहर कर दिया था, लेकिन 31 वर्षीय विलियमसन अब चोट से उबरने पर पूरा ध्यान दे रहे हैं।भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारीB'day Special: 34 साल के हुए मेसी... करियर में बनाए बड़े रिकॉर्ड्स जिन्हें तोड़ना है मुश्किल******24 जून 1987 में जन्में लियोनेल मेसी को दुनिया के महान फुटबॉलर्स में गिना जाता है। 6 बैलॉन डी ऑफ जीतने वाले मेसी ने अपना पूरा फुटबॉल करियर बार्सिलोना के लिए खेला, जिसमें उन्होंने 34 ट्रॉफी जीतीं। इसमें से 10 ला लीगा, 7 कोपा डेल रे और 4 चैंपियंस लीग ट्रॉफी हैं। मेसी बचपन से ही फुटबॉल खेलते आ रहे हैं। उनका पहला कॉन्ट्रैक्ट भी एक टिशू पेपर पर लिखा गया था। उनके जन्मदिन के मौके पर आइए देखते हैं इस अर्जेंटीना के खिलाड़ी के नाम कौन से बड़े रिकॉर्ड्स हैं-1) मेसी ने ला लीगा में अब तक सबसे ज्यादा हैट्रिक लगाई है। उनके नाम 36 हैट्रिक है और वे जिस फॉर्म में अभी चल रहे हैं, वे और भी ज्यादा हैट्रिक लगा सकते हैं।2) सबसे ज्यादा हैट्रिक के अलावा मेसी के नाम ला लीगा में सबसे ज्यादा गोल करने का भी रिकॉर्ड है। ला लीगा में सबसे ज्यादा गोल करने की लिस्ट में उनका नाम सबसे ऊपर है और उनके नाम 474 गोल हैं।3) ला लीगा में सबसे ज्यादा ज्यादा असिस्ट करने वाले खिलाड़ी भी मेसी ही हैं। इस खेल के इतिहास में मेसी ने अब तक 192 असिस्ट किए हैं। इससे मेसी की काबिलियत का पता लगाया जा सकता है।4) मेसी ने जीतना भी फुटबॉल खेला, सब बार्सिलोना के लिए खेला। उन्होंने इस क्लब के लिए 709 गोल किए हैं जो किसी भी अन्य खिलाड़ी के मुकाबले सबसे ज्यादा हैं। कोई भी अन्य खिलाड़ी 250 गोल के आगे नहीं पहुंचा है।5) चार बैलॉन डी ऑर जीतने वाले मेसी सबसे युवा फुटबॉलर हैं। उन्होंने 25 साल 6 महीने और 15 दिन की उम्र में चौथा बैलॉन डी ऑर जीता था।

भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारीसऊदी अरब ने नकदी-संकट से जूझ रहे पाकिस्तान के लिए की घोषणा, 100 से अधिक परियोजनाएं करेगा शुरू******Saudi Arabia announces over 100 projects for cash-strapped Pakistan during Imran’s visit पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की दो दिवसीय यात्रा के दौरान सऊदी अरब ने नकदी की कमी से जूझ रहे पाकिस्तान में खाद्य सुरक्षा, स्वास्थ्य, शिक्षा और जल के क्षेत्र में 12 करोड़ 30 लाख डॉलर से अधिक राशि की 118 परियोजनाओं की घोषणा की है। शाह सलमान मानवीय मदद एवं राहत केंद्र (केएसरिलीफ) के पर्यवेक्षक जनरल डॉ.अब्दुल्ला बिन अब्दुल अजीज अल राबीयाह ने कहा कि कोविड-19 वैश्विक महामारी के मद्देनजर इस सहायता की घोषणा की गई है। केएसरिलीफ ने के लिए खाद्य सुरक्षा, स्वास्थ्य, शिक्षा, जल और पर्यावरणीय स्वच्छता के क्षेत्र में 12 करोड़ 30 लाख डॉलर से अधिक राशि की 118 परियोजनाओं की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि सऊदी अरब ने महामारी से निपटने के लिए 15 लाख डॉलर से अधिक की चिकित्सा एवं निवारक सहायता मुहैया कराई है। पश्चिम एशिया संबंधी मामलों के लिए शाह के विशेष प्रतिनिधि शेख ताहिर महमूद अशरफी ने सऊदी प्रेस एजेंसी (एसपीए) से कहा कि इस यात्रा से इच्छित हितों एवं लक्ष्यों को हासिल करने के लिए सही दिशा में संयुक्त प्रयासों को गति मिलेगी और यह यात्रा राजनीतिक, सैन्य, राजनयिक, आर्थिक, वाणिज्यिक, विकासात्मक और सांस्कृतिक समन्वय एवं सहयोग बढ़ाने में भी योगदान देगी। खान ने इस्लामी सहयोग संगठन (ओआईसी) के महासचिव डॉ. यूसुफ बिन अहमद अल ओथाइमेन से मुलाकात की और इस्लामी दुनिया में विकास, गैर ओआईसी देशों में मुसलमानों की स्थिति और मुसलमानों के खिलाफ भय, घृणा एवं पूर्वाग्रह समेत ओआईसी एजेंडे में शामिल मामलों पर चर्चा की।इमरान खान और क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के बीच शिखर बैठक में आर्थिक एवं व्यापार संबंधों को बढ़ाने और कट्टरवाद के कारण पैदा होने वाली चुनौतियों पर चर्चा की गई। एसपीए ने बताया कि दोनों ने द्विपक्षीय सैन्य एवं सुरक्षा संबंधों की मजबूती पर संतोष जताया और दोनों देशों के साझा लक्ष्यों को हासिल करने के लिए सहयोग बढ़ाने पर सहमति जताई। उन्होंने कहा कि दोनों पक्षों ने अतिवाद एवं हिंसा से निपटने, सांप्रदायिकता को खारिज करने और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शांति एवं सुरक्षा हासिल करने के लिए इस्लामी दुनिया के ठोस प्रयासों की आवश्यकता पर जोर दिया।संयुक्त बयान में 2003 के समझौते के आधार पर नियंत्रण रेखा पर संघर्षविराम को लेकर पाकिस्तान और भारत के सैन्य प्राधिकारियों के बीच हाल में बनी सहमति के संदर्भ में भारत का जिक्र किया गया। बयान में कहा गया कि दोनों पक्षों ने पाकिस्तान और भारत के बीच वार्ता की महत्ता पर जोर दिया ताकि दोनों देशों (भारत एवं पाकिस्तान) के बीच खासकर जम्मू-कश्मीर विवाद समेत सभी मामलों को सुलझाया जा सके और क्षेत्र में शांति एवं सुरक्षा सुनिश्चित हो सके। भारत और पाकिस्तान की सेनाओं ने 25 फरवरी को अचानक घोषणा की थी कि उन्होंने जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा एवं अन्य सेक्टरों में संघर्षविराम संबंधी सभी समझौतों का कड़ाई से पालन करने पर सहमति जताई है।भारीग़मऔरगुस्सेकेबीचहुआअंकिताभंडारीकाअंतिमसंस्कारCMकेआश्वासनकेबादमानेप्रदर्शनकारीइंजिनियरिंग स्टूडेंट ने बनाया सैनिकों को ठंड और दुश्मनों से बचाने वाला स्मार्ट कैंप******Highlights हमारे देश के जवान किस तरह की भयंकर ठंड में भी राष्ट्र की रक्षा के लिए तैनात रहते हैं, ये हर कोई जानता है। ऐसी भयंकर ठंड होती है जिसके बारे में सुनकर ही आमजनों की हाड़ कांप जाती है। इसलिए एक इंजिनियरिंग स्टूडेंट ने सैनिकों के लिए स्मार्ट कैंप बनाया है। इस कैंप के कारण जवानों को सर्दी में राहत मिल सकती है और ये दुश्मनों पर भी नजर रखेगा।न्यूज एजेंसी आईएएनएस की जानकारी के अनुसार, मेरठ के एमआईईटी इंजिनियरिंग कॉलेज के अटल कम्युनिटी इनोवेशन सेंटर के अविष्कारक श्याम चौरसिया ने यह कैम्प तैयार किया है, जो न सिर्फ बर्फीली सीमा पर तैनात जवानों को सर्दी से बचाएगा, बल्कि उन्हें तकरीबन 50 किमी दूर तक दुश्मन सेना पर नजर भी रखेगा।श्याम चौरसिया ने बताया कि इस कैंप के अंदर छोटे-छोटे हीटर प्लेट्स लगे हैं। इन्हें हीट करने के लिये सोलर या बिजली की जरुरत नहीं है, बल्कि इन हीटर प्लेट्स को कैंप में रहने वाले जवान अपने हाथों से एक फिजिकल रोटेड चार्जर की मदद से चार्ज कर सकते हैं। बैकअप के लिए इसमें बैटरी भी है। जरुरत पड़ने पर इलेक्ट्रिक को जमा कर बाद में इस्तेमाल किया जा सकता।श्याम अपनी खोज को लेकर कहते हैं, इसमें लगे हाईटेक सेंसर्स दुश्मनों की आहट को 50 किलोमीटर दूर से भांप लेगी और कैंप में रहने वाले जवानों को अलर्ट भी करेगी। समय रहते जवान अलर्ट होंगे और दुश्मनों के हमलों से अपना बचाव भी कर सकेगें। चार्जेबल स्मार्ट आर्मी कैंप में 4 ह्यूमन रेडयो सेंसर लगे हैं। ये दुश्मन के नजदीक आने की जानकारी जवानों तक पहुंचाने में मदद करेंगे। यह रेडियो ह्यूमन सेंसर, रेडियो फ्रीक्वेंसी के जरिये जवानों के कैंप से जुड़ा होता है।चौरसिया का कहना है कि इस आर्मी कैम्प को तैयार करने के लिये मेरठ के एसीआईसी-एमएईटी से फंडिंग मिली। तकरीबन 2,40,00 रुपये का खर्च आया है। इससे प्रोजेक्ट को और बेहतर बनाया जा सका है। बनाने में एक हफ्ते का समय लगा है।श्याम चौरसिया का कहना है कि "मुझे मदद मिले तो मैं इस कैंप को बुलेटप्रुफ बना सकता हूँ। इसमें आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल किया जा सकता है।" एमआईईटी के वाइस चेयरमैन पुनीत अग्रवाल ने बताया कि "कॉलेज के अटल कम्युनिटी इनोवेशन सेंटर में आईडिया इनोवेशन रिसर्च लैब है। इनोवेटर के साथ मिल कर छात्रों द्वारा काम किया जा रहा है। समस्याओं को अपने नये-नये अविष्कार व नवाचार के जरिये हल कर रहे हैं। श्याम का प्रोजेक्ट स्मार्ट आर्मी कैंप देश के जवानों की सुरक्षा के लिये अच्छा प्रयास साबित होगा। श्याम द्वारा बनाये गये प्रोजेक्ट के सहयोग व मार्गदर्शन लिये प्रधानमंत्री और रक्षामंत्री को पत्र लिखा गया है।"

हाल का ध्यान

लिंक