वर्तमान पद:मुखपृष्ठ > चिज़ोऊ > मूलपाठ

Badhaai Do: क्या राजकुमार राव की साली लेस्बियन हैं? 'बधाई दो' मूवी के बाद हुआ खुलासा!

2022-10-04 17:24:32 चिज़ोऊ

क्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासाHyderabad News: एक बार फिर रेप से दहला हैदराबाद, नाबालिग लड़की को दो युवकों ने बनाया अपने हवस का शिकार******Highlightsहैदराबाद में एक बार फिर नाबालिग लड़की से रेप करने का मामला सामने आया है। खबर की सूचना मिलते ही पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और मामले की जांच-पड़ताल में जुट गई है। पुलिस ने लड़की के माता-पिता द्वारा की गई शिकायत के हवाले से बताया कि दोनों आरोपी 14 वर्षीय लड़की को दो दिन पहले एक लॉज में ले गए और उसका यौन उत्पीड़न किया। बुधवार को आरोपियों द्वारा लड़की को छोड़ने के बाद उसका पता चला। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि 13 सितंबर को शिकायत के आधार पर अपहरण का मामला दर्ज किया गया था, लेकिन बाद में आरोप को बदलकर बलात्कार किया गया।दोनों आरोपियों को पकड़ लिया गया हैउन्होंने बताया कि पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए भेजा गया। उसे महिलाओं और बच्चों के लिए 'भरोसा' सहायता केंद्र (शहर पुलिस की एक पहल) भी भेजा गया है। उन्होंने बताया कि दोनों आरोपियों को पकड़ लिया गया है और मामले के संबंध में आगे की जांच जारी है।इस साल मई के महीने भी ऐसी घटना हुई थीतीन महीने पहले भी ऐसी एक घटना सामने आई थी। 28 मई, 2022 को हैदराबाद के जुबली हिल्स में 17 साल की लड़की से कार में गैंगरेप का मामला सामने आया था। जानकारी के अनुसार एक पब में गई नाबालिग लड़की के साथ वहां मिले कुछ नाबालिग लड़कों ने बातचीत शुरू की। इसके बाद उनकी दोस्ती हो गई और वो लड़की को कार में बैठाकर किसी बहाने से ले गए और उसके साथ गैंगरेप किया।

क्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासाGoogle अब फेक रेटिंग और रिव्यू पर रखेगा नजर, गलती पकड़े जाने पर होगी कार्रवाई****** में ऐप रेटिंग और रिव्यू को वास्तविक बनाने के लिए एक नई ऐप रिव्यू पॉलिसी ला रहा है। Android Central की रिपोर्ट के अनुसार, यूजर्स द्वारा सबमिट की गई रिव्यू और रेटिंग को सार्वजनिक होने से लगभग 24 घंटे पहले अब रोका जा सकेगा। अगर इस बात की जानकारी लग जाती है कि ये फेक रिव्यू है। ऐसा गूगल ऐप के बारे में सही जानकारी यूजर्स तक पहुंचाई जा सके, इसके लिए कर रहा है।रिपोर्ट के अनुसार, का उद्देश्य नई नीति के लिए पर संदिग्ध रेटिंग और रिव्यू का पता लगाना है। Google ने एक एडवाइजरी में कहा है कि कंपनी संदिग्ध रेटिंग या गलत रिव्यू के बारे में अब पहले की तुलना में आसानी से पता लगा सकती है।रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है कि नई नीति ऑनलाइन उत्पादों पर नकली रिव्यू के प्रसार को कम करने में मदद कर सकती है। इससे यूजर्स को सही जानकारी मिलेगी और फ्रॉड के शिकार होने की संभावना कम हो जाएगी।Google को इस साल जुलाई में भारत में नए आईटी नियम 2021 के अनुपालन में रिकॉर्ड 137,657 उपयोगकर्ता शिकायतें मिलीं और उसी महीने देश में 6,89,457 आपत्तिजनक कंटेंट को हटा दिया गया। भारतीय उपयोगकर्ताओं से प्राप्त अधिकांश शिकायतें कॉपीराइट उल्लंघन (135,341) से संबंधित थीं, जबकि अन्य श्रेणियों में ट्रेडमार्क, न्यायालय आदेश, ग्राफिक यौन कंटेंट, धोखाधड़ी और अन्य शामिल थे। टेक दिग्गज को इसी अवधि में देश में निर्दिष्ट तंत्र के माध्यम से अलग-अलग उपयोगकर्ताओं से 37,173 शिकायतें मिलीं, जो थर्ड पार्टी कंटेंट से संबंधित हैं, जिनके बारे में माना जाता है कि वे विभिन्न गूगल प्लेटफॉर्मो पर स्थानीय कानूनों या व्यक्तिगत अधिकारों का उल्लंघन करती हैं।जून में, गूगल ने उपयोगकर्ता की शिकायतों के आधार पर 1,11,493 आपत्तिजनक कंटेंट को हटा दिया था। गूगल ने एक बयान में कहा, "शिकायतों में विभिन्न श्रेणियां शामिल हैं। कुछ अनुरोधों में बौद्धिक संपदा अधिकारों के उल्लंघन का आरोप लगाया जा सकता है, जबकि अन्य मानहानि जैसे आधार पर कंटेंट के प्रकारों को प्रतिबंधित करने वाले स्थानीय कानूनों के उल्लंघन का दावा करते हैं।" कंपनी ने अपनी मासिक अनुपालन रिपोर्ट में कहा, "हमारे यूजर्स की रिपोर्ट के अलावा, हम ऑनलाइन हानिकारक कंटेंट से लड़ने में भारी निवेश करते हैं और प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हैं और इसे अपने प्लेटफॉर्म से हटाते हैं।"कंपनी ने कहा कि अपनी स्वचालित पहचान प्रक्रियाओं के तहतउसने देश में 551,800 खातों को हटा दिया। गूगल ने कहा, "हम ऑनलाइन हानिकारक कंटेंट से लड़ने में भारी निवेश कर रहे हैं और अपने प्लेटफॉर्म से इसका पता लगाने और हटाने के लिए प्रौद्योगिकी का उपयोग कर रहे हैं। इसमें बाल यौन शोषण सामग्री और हिंसक चरमपंथी सामग्री जैसी हानिकारक कंटेंट के प्रसार को रोकने के लिए हमारे कुछ उत्पादों के लिए स्वचालित पहचान प्रक्रियाओं का उपयोग करना शामिल है।"क्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासाबढ़ती गर्मी के साथ हो रही है सनबर्न और टैनिंग की टेंशन तो यहां योग से मिलेगा सॉल्यूशन******कुदरत के लिहाज़ से भारत देश कितना खूबसूरत है। यहां हर दो महीने में मौसम बदलता है और मौसम के साथ बदल जाता है आसपास का नज़ारा आबोहवा। मौसम बदलते ही प्रकृति अपना रंग रूप भी बदलती है। कभी ऊंचे ऊंचे बर्फ से ढके पहाड़ मन को लुभाते हैं तो कभी बसंत के मौसम में हर तरफ पीले-पीले सरसों के फूल नजर आते हैं। बाग-बगीचे अलग-अलग फूलों से लदे होते हैं।बसंत के बाद आती है तपती चुभती - गर्मी। स्कूल-कॉलेज में पढ़ने वाले बच्चों के लिए लंबी छुट्टियों वाला मौसम, तरबूज, खरबूजा, लीची-आम यानी रसीले फलों वाला मौसम, लेकिन कहते हैं जब गर्मी बढ़ते ही धरती तपने लगती है तो लू के थपेड़े हरे-भरे पौधे-पत्तियों को ही नहीं शरीर को भी झुलसाने लगते हैं और इसका असर शरीर के इंटरनल ऑर्गेन पर तो पड़ता ही है। डायजेशन डिस्टर्ब होने के साथ-साथ गर्मी में होने वाली कई दूसरी परेशानियां शुरू हो जाती हैं। स्किन-बालों सबपर गर्मी का बुरा असर पड़ता है।फिर इन दिक्कतों को छुपाने के लिए लोग तरह तरह के कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स इस्तेमाल करते हैं, लेकिन असली खूबसूरती मेकअप से नहीं अंदरूनी तंदुरुस्ती से आती है तो चलिए कोरोना के बढ़ते संकट के बीच आज गर्मी में मजबूत इम्यूनिटी के साथ कैसे आए आपकी खूबसूरती मे जानते हैं।इस प्राणायाम को करने से पूरे शरीर में ऑक्सीजन का ठीक ढंग से प्रवाह होता है,जिससे आपको डायबिटीज के साथ-साथ कई अन्य बीमारियों से भी निजात मिल जाएगा। साथ ही स्किन भी दमकेगी अस्थमा वाले रोगी तेजी से न करें।कपालभाति करने से पूरे शरीर सकारात्मक ऊर्जा के साथ हर रोग से मुक्ति मिलती है। इसे रोजाना कम से कम 5-10 मिनट करना चाहिए।सबसे पहले पद्मासन की मुद्रा में बैठ जाएं। अब दाएं हाथ की अनामिका और सबसे छोटी उंगली को मिलाकर बाएं नाक पर रखें और अंगूठे को दाएं वाले नाक पर लगा लें। तर्जनी और मध्यमा को मिलाकर मोड़ लें। अब बाएं नाक की ओर से सांस भरें और उसे अनामिका और सबसे छोटी उंगली को मिलाकर बंद कर लें। इसके बाद दाएं नाक की ओर से अंगूठे को हटाकर सांस बाहर निकाल दें। इस आसन को 5 मिनट से लेकर आधा घंटा कर सकते हैं।काया कल्पवटी - 2-2 गोली खाली पेटनीम और गिलोय गोली- खाने के बादएलोवेरा जूस पी लें और लगा भी लेंएलोवेरा का जूस पिएं।एलोवेरा जेल लगाएं।अंकुरित चने और मूंगफली खाएं।बादाम, मुनक्का, अंजीर और चिलगोजा खाएं।खुमानी, अखरोट भी खाने में शामिल करें।तला हुआ खाना ना खाएं।तेज मसालों से परहेज करें।

Badhaai Do: क्या राजकुमार राव की साली लेस्बियन हैं? 'बधाई दो' मूवी के बाद हुआ खुलासा!

क्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासावर्क फ्रॉम होम करने वाले सभी लोग हो जाएंगे खुश, Jio, Airtel और Vi लेकर आए ऐसे शानदान रिचार्ज प्‍लान******Jio airtel vi best offer work from home recharge plans under 500 rupees check benefits details देश में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर के बीच वर्क फ्रॉम होम दोबारा ट्रेंड में आ गया है। पिछले साल टेलीकॉम कंपनियां जैसे जियो, एयरटेल, बीएसएनएल और वोडाफोन आइडिया ने वर्क फ्रॉम होम प्रीपेड प्‍लान पेश किए थे, जो केवल डाटा-बेनेफि‍ट के साथ आते हैं। इसके बाद टेलीकॉम कंपनियों ने वर्क फ्रॉम होम कैटेगरी में कोई भी नया प्रीपेड प्‍लान नहीं जोड़ा है। वह अभी भी प्‍लान और डाटा-ओनली रिचार्ज प्‍लान पेश कर रही हैं जिनका उपयोग यूजर्स वर्क फ्रॉम होम या स्‍ट्रीमिंग के लिए कर सकते हैं। एयरटेल और वीआई 48 रुपये में डाटा-ओनली प्रीपेड प्‍लान के तहत 3जीबी डाटा ऑफर कर रही हैं और इसकी वैलेडिटी 28 दिनों की है। वीआई इसके साथ वीआई मूवीज और टीवी का एक्‍सेस भी दे रही है।जियो का 51 रुपये वाला प्रीपेड प्‍लान में 6जीबी अनलिमिटेड डाटा मिलता है। यह प्‍लान एक ऐड-ओन प्‍लान है और इस प्‍लान की वैलेडिटी मौजूदा प्‍लान के जितनी ही होती है। एयरटेल के 98 रुपये वाले प्रीपेड प्‍लान में ग्राहकों को 12जीबी डाटा मिलता है। यह प्‍लान भी एक ऐड-ओन प्‍लान है और इसकी वैलेडिटी भी मौजूदा प्‍लान के बराबर रहेगी। वोडाफोन आइडिया एक 16 रुपये का डाटा वाउचर देती है। इसमें 1जीबी डाटा मिलता है और इसकी वैलेडिटी सिर्फ 24 घंटे की होती है। इसके अलावा वोडाफोन आइडिया का 98 रुपये वाला प्रीपेड प्‍लान में 12जीबी डाटा मिलता है। इस प्‍लान की वैलेडिटी 28 दिनों की है। जियो के पास एक 101 रुपये का प्रीपेड प्‍लान भी है, जिसमें यूजर्स को 12जीबी डाटा मिलता है और इसकी वैलेडिटी यूजर्स के मौजूदा प्‍लान के बराबर होती है।जियो के 151 रुपये वाले वर्क फ्रॉम होम प्रीपेड प्‍लान में 30 दिनों की वैलेडिटी के साथ 30जीबी डाटा मिलता है। वहीं एयरटेल 251 रुपये में प्रीपेड 4जी डाटा प्‍लान लेकर आया है जिसमें 50जीबी डाटा मिलता है। इस प्‍लान की वैलेडिटी यूजर्स के मौजूदा प्‍लान के बराबर होती है। यह प्‍लान सभी सर्किल में उपलब्‍ध नहीं है।जियो के 251 रुपये वाले प्रीपेड प्‍लान में 30 दिनों के लिए 50जीबी डाटा मिलता है। वोडाफोन आइडिया के 251 रुपये वाले प्रीपेड प्‍लान में 28 दिनों की वैलेडिटी के साथ 50जीबी डाटा उपलब्‍ध कराया जा रहा है। इसमें ग्राहकों को वीआई मूवीज और टीवी का भी फ्री सब्‍सक्रिप्‍शन मिलता है।एयरटेल के 401 रुपये के डाटा रिचार्ज प्‍लान में 28 दिनों के लिए 30जीबी 4जी डाटा मिलता है और इसके अलावा डिज्‍नीप्‍लस हॉटस्‍टार पर उपभोक्‍ता आईपीएल मैच देख सकते हैं और अन्‍य शो स्‍ट्रीम कर सकते हैं। जियो के 499 रुपये वाले डाटा रिचार्ज प्‍लान में यूजर्स को 56 दिनों तक प्रतिदिन 1.5जीबी डाटा मिलता है। इसमें यूजर्स को डिज्‍नीप्‍लस हॉटस्‍टार, जियो टीवी के साथ ही अन्‍य जियो एप्‍स का एक्‍सेस मिलता है। इस प्‍लान के साथ लाइव आईपीएल मैच भी देखे जा सकते हैं। वोडाफोन आइडिया 501 रुपये का रिचार्ज प्‍लान की पेशकश करता है, जिसमें उपभोक्‍ताओं को 75 जीबी डाटा और 1 साल के लिए डिज्‍नीप्‍लस हॉटस्‍टार का सब्‍सक्रिप्‍शन मिलता है।क्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासाVastu Tips: अपने घर में लगाएं ये खास पौधे, बीमारियां रहेंगी दूर, खूब आएगी संपन्नता******Highlightsपेड़-पौधे मनुष्य के सच्चे दोस्त होते हैं व इनका आस-पास होना बहुत शुभ माना जाता है। वहीं पेड़-पौधे पर्यावरण को भी शुद्ध करते हैं। जिस कारण हम खुलकर सांस ले पाते हैं। इतना ही नहीं कई पेड़ बीमारियों को ठीक करने का भी काम करते हैं। वास्तु के नियमों में यह भी शामिल है कि हमें अपने घर में कैसे पौधों को किस दिशा में लगाना चाहिए। आज आचार्य इंदु प्रकाश से जानिए अपने घर में पौधों को लेकर वास्तु के नियम।यह तो हम सभी जानते हैं कि वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में या ऑफिस में रखी जाने वाली हर चीज़ का खास महत्व होता है। फिर वो चाहे वो पौधे ही क्यों ना हों, घर के आंगन की तुलसी हो या बालकनी में रखा एलोवेरा या फूल का पौधा, सबकी अपनी खास जगह है। यदि आप थोड़ा भी वास्तु पर ध्यान देते हैं तो ये आपके लिए बेहद ज़रूरी है कि हर पौधा अपनी सही दिशा में रखा जाए।वास्तु शास्त्र के अनुसार सकारात्मक ऊर्जा हमेशा पूर्व से पश्चिम, उत्तर से दक्षिण या पूर्वात्तर से दक्षिण-पश्चिम के नैऋत्य कोण की ओर बहती है, इसलिए उत्तर और पूर्व में कम घने और छोटे पौधे लगाना चाहिए जिससे सकारात्मक उर्जा के आने में अवरोध न उत्पन्न हो। घर में पूर्व दिशा में फूलों के पौधे, घास और मौसमी पौधे लगाने से घर के लोग कम बीमार पड़ते हैं।वहीं कुछ ऐसे पौधे भी हैं जो आपके रिश्तों को मजबूत करते हैं। जैसे- पान, हल्दी, चन्दन आदि कुछ पौधों को पश्चिम-उत्तर के कोने में लगाने से परिवार के सदस्यों में आपसी प्रेम बढ़ता है। जब आपस में प्रेम होगा तो जाहिर सी बात है कि घर में संपन्नता और धन भी आएगा ही।क्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासाविदेशी निवेशकों ने अप्रैल में अबतक भारतीय बाजारों से 4,615 करोड़ रुपए निकाले******विदेशी निवेशकों ने अप्रैल में अबतक भारतीय बाजारों से 4,615 करोड़ रुपए निकालेविदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने अप्रैल में अबतक भारतीय बाजारों से 4,615 करोड़ रुपये निकाले हैं। कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच विभिन्न राज्यों में सर्वजनिक प्रतिबंधों की घोषणा बाद विदेशी निवेशकों में बेचैनी है और वे भारतीय बाजार से निकासी कर रह हैं। डिपॉजिटरी के आंकड़ों के अनुसार विदेशी निवेशकों ने एक से 16 अप्रैल के बीच शेयरों से शुद्ध रूप से 4,643 करोड़ रुपये निकाले और -पत्र या बांड बाजार में 28 करोड़ रुपये डाले। इस तरह भारतीय पू्ंजी बाजार से उनकी शुद्ध निकासी 4,615 करोड़ रुपये रही।एफपीआई ने मार्च में बाजारों में 17,304 करोड़ रुपय फरवरी में 23,663 करोड़ रुपये और जनवरी में 14,649 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश किया था। कोटक सिक्योरिटीज के कार्यकारी उपाध्यक्ष एवं प्रमुख-बुनियादी शोध रुस्मिक ओझा ने कहा, ‘‘कई राज्यों ने कोविड-19 पर अंकुश के लिए प्रतिबंधात्मक कदम उठाए हैं। संक्रमण के बढ़ते मामलों तथा भारतीय मुद्रा की विनिमय दर में गिरावट से आशंकित विदेशी निवेशक धन की निकासी कर रहे हैं।’’ एलकेपी सिक्योरिटीज के प्रमुख (शोध) एस रंगनाथन ने कहा, ‘‘कोरोना वायरस के प्रसार की वजह से कुल धारणा प्रभावित हुई है। कई राज्यों ने महामारी का प्रसार रोकने के लिए कदम उठाए हैं। पिछले सप्ताह फार्मा को छोड़कर अन्य सभी सूचकांक नुकसान में रहे।’’

Badhaai Do: क्या राजकुमार राव की साली लेस्बियन हैं? 'बधाई दो' मूवी के बाद हुआ खुलासा!

क्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासाCongress President Election: अजय माकन बोले- कांग्रेस के संविधान के अनुसार ही हो रहे हैं पार्टी के चुनाव******अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव अजय माकन ने पार्टी के अध्‍यक्ष पद की चुनाव प्रक्रिया को लेकर उठाई जा रही आपत्तियों को खारिज करते हुए गुरुवार को यहां कहा कि ये चुनाव पार्टी के संविधान व तय नियमों के अनुसार ही हो रहे हैं और इस पर किसी को आपत्ति नहीं होनी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस ही वह पार्टी है जहां इस तरह (अध्‍यक्ष व अन्य पदों) के लिए चुनाव होते हैं। पार्टी की चार सितंबर को प्रस्तावित 'हल्‍ला बोल रैली' की तैयारियों के सिलसिले में यहां आए माकन ने पार्टी के कुछ नेताओं द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव प्रक्रिया की निष्पक्षता को लेकर सवाल उठाए जाने के बारे में पूछे जाने पर कहा, “कांग्रेस पार्टी के चुनाव, पार्टी के निर्धारित नियमों के अनुसार हो रहे हैं जैसे पहले होता रहा है उसी तरीके से हो रहा है।” उन्‍होंने कहा, “सभी को संतुष्‍ट होना चाहिए क्योंकि किसी भी राजनीतिक दल में चुनाव नहीं होते। आप मुझे बताएं कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में जे.पी. नड्डा का चुनाव किसी ने सुना या देखा, अमित शाह का चुनाव किसी ने देखा या सुना?” माकन ने कहा, “कांग्रेस में ही चुनाव होते हैं जहां सोनिया गांधी, ज‍ित‍ेंद्र प्रसाद के खिलाफ चुनाव लड़कर अध्‍यक्ष बनती हैं। कांग्रेस पार्टी में ही चुनाव होता है और जो पुरानी परंपरा है उसी के अनुसार होता है और जो पार्टी के नियम हैं, पार्टी के संविधान के अनुसार ही (चुनाव) हो रहे हैं इसमें किसी को भी आपत्ति नहीं होनी चाहिए।”महंगाई एवं बेरोजगारी के मुद्दे पर कांग्रेस का 'हल्ला बोल रैली'उल्लेखनीय है कि कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए चुनाव 17 अक्टूबर को होना है और परिणाम 19 अक्टूबर को घोषित किया जाएगा। वहीं कांग्रेस द्वारा देश में बढ़ती महंगाई एवं बेरोजगारी के विरूद्ध दिल्ली के रामलीला मैदान में चार सितम्बर को 'हल्ला बोल रैली' की तैयारियों को लेकर यहां कांग्रेस के नए 'वॉर रूम' में बैठक हुई। पहले माकन व प्रदेश अध्‍यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने जयपुर में पदाधिकारियों के साथ बैठक की। बाद में मुख्‍यमंत्री गहलोत अशोक गहलोत, माकन व डोटासरा ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से राज्‍य भर के पदाधिकारियों और अन्य कांग्रेसजनों के साथ बैठक की। बैठक में डोटासरा ने कहा कि रैली में राजस्थान से सर्वाधिक संख्या में प्रतिभागी भाग लेंगे। उन्होंने कहा कि रैली की तैयारियों के लिए जिला एवं बूथ स्तर तक कांग्रेस नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने बैठक आयोजित की है तथा कांग्रेस नेताओं एवं कार्यकर्ताओं का उत्साह दर्शाता है कि राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी को दिए गए लक्ष्य से अधिक लोग दिल्ली पहुंचकर रैली में शामिल होंगे।कांग्रेस के कार्यकर्ता हमेशा मजबूती के साथ चुनौतियों का सामना करते है -गहलोतमाकन ने प्रदेश कांग्रेस कमेटी का 'वॉर रूम' शुरू होने पर सभी कांग्रेसजनों को बधाई दी और कहा कि राजस्थान में 2023 में होने वाले चुनावों की तैयारियों का आगाज हो गया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली की महारैली के लिए आमजन की अधिकाधिक संख्या में भागीदारी सुनिश्चित की जाए क्योंकि आज देश में सबसे ज्वलंत मुद्दे बढ़ती महंगाई एवं बढ़ती बेरोजगारी है जिससे देश का हर नागरिक एवं हर परिवार आहत है। मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि आज की बैठक महत्वपूर्ण है क्योंकि कांग्रेस के कार्यकर्ता हमेशा मजबूती के साथ चुनौतियों का सामना करते है। उन्होंने आरोप लगाया कि आज देश में जो हालात है किसी से छुपे नहीं है, संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही है, लोकतंत्र खतरे में है तथा ध्रुवीकरण की राजनीति की जा रही है। उन्होंने कहा कि अपने राजनीतिक फायदे के लिए सत्ताधारी भाजपा देश के सबसे बड़े और पुराने राजनीतिक दल कांग्रेस तथा पार्टी के नेता राहुल गांधी पर हमलावर है।क्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासाFloods In Pakistan: अमेरिका ने पाकिस्तान की मदद के लिए बढ़ाया हाथ, 3 करोड़ डॉलर रुपये देने का किया ऐलान******Highlightsअमेरिका ने बाढ़ ग्रस्त पाकिस्तान को तीन करोड़ डॉलर की मानवीय सहायता देने की मंगलवार को घोषणा की। अमेरिका के विदेश एंथनी ब्लिंकन ने कहा कि ‘‘ हम इस मुश्किल घड़ी में पाकिस्तान के साथ खड़े हैं।’’ उन्होंने आगे कहा कि ‘‘ पाकिस्तान के भयानक बाढ़ की चपेट में आने के कारण अमेरिका ‘यूएसएआईडी’ के जरिए भोजन, सुरक्षित पेयजल और आश्रय जैसी महत्वपूर्ण मानवीय सहायता के लिए तीन करोड़ डॉलर प्रदान कर रहा है।’’विदेश मंत्रालय के प्रधान उप प्रवक्ता वेदांत पटेल ने पत्रकारों को बताया कि बाढ़ से अनुमानित 3.3 करोड़ लोग प्रभावित हुए हैं और 1,100 से अधिक लोगों की जान गई है जबकि 1,600 से अधिक लोग घायल हैं। पटेल ने बताया कि ‘यूनाइटेड स्टेट्स एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट’(यूएसएआईडी) के साझेदार इस कोष का इस्तेमाल भोजन, पोषण, सुरक्षित पेयजल, बेहतर स्वच्छता, आश्रय सहायता आदि जरूरी मदद मुहैया कराने के लिए करेंगे। पाकिस्तान हाल के इतिहास में सर्वाधिक भीषण बाढ़ का सामना कर रहा है।बाढ़ की वजह से पाकिस्तान में अब तक की 3 हजार किलोमीटर की सड़कें बह चुकी हैं। ऐसे में जनता को राहत सामग्री पहुंचाने में भी दिक्कत हो रही है। इसके अलावा बाढ़ ने फसलों को भी काफी नुकसान पहुंचाया है। करीब 20 लाख एकड़ में फैली फसल नष्ट हो चुकी है। बाढ़ का सबसे ज्यादा असर सिंध, बलूचिस्तान, खैबर-पख्तूनख्वा और पंजाब राज्य में दिखाई दे रहा है। पाकिस्तान में औसतन 130 मिमी बारिश होती है लेकिन इस बार ये बारिश 385 मिमी हुई है। मौसम विभाग के मुताबिक, सितंबर तक इसी तरह भारी बारिश का अनुमान है। इस बार सिंध में सामान्य से 784 प्रतिशत, बलूचिस्तान में 522 प्रतिशत, गिलगित बालिटस्तान में 225 प्रतिशत, पंजाब में 62 प्रतिशत और खैबरपख्तूनख्वां में 54 प्रतिशत ज्यादा बारिश हुई है।संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने कहा कि पाकिस्तान बाढ़ के कारण गंभीर स्थिति का सामना कर रहा है और भारी बारिश तथा बाढ़ के कारण व्यापक प्रभाव पड़ा है। गुतारेस ने कहा कि इस राशि से 52 लाख लोगों को भोजन, पानी, स्वच्छता, आपातकालीन शिक्षा, सुरक्षा और स्वास्थ्य संबंधी मदद दी जा सकेगी। यह कदम ऐसे समय उठाया गया है, जब पाकिस्तान सरकार और संयुक्त राष्ट्र द्वारा संयुक्त रूप से मंगलवार को ‘2022 पाकिस्तान बाढ़ प्रतिक्रिया योजना (एफआरपी)’ की इस्लामाबाद और जिनेवा में एक साथ शुरुआत की गई। पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के अनुसार, विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी ने विदेश मंत्रालय द्वारा आयोजित कार्यक्रम में मुख्य भाषण दिया। इसके बाद संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस का वीडियो संदेश जारी किया गया।संयुक्त राष्ट्र एजेंसी ने दुनिया से राहत प्रयासों को जारी रखने का आग्रह करते हुए कहा कि सिंध में 1,000 से अधिक स्वास्थ्य केंद्रों को या तो आंशिक रूप से या पूरी तरह से नुकसान हुआ। बाढ़ से सबसे बुरी तरह प्रभावित क्षेत्र बलूचिस्तान है, जहां 198 स्वास्थ्य प्रतिष्ठानों को नुकसान हुआ है।

Badhaai Do: क्या राजकुमार राव की साली लेस्बियन हैं? 'बधाई दो' मूवी के बाद हुआ खुलासा!

क्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासाGold Rate: सोना चांदी की कीमतों में आज आया बदलाव, जानिए दिल्ली, पटना, लखनऊ, कानपुर में 22 और 24 कैरेट के दाम******Gold PriceHighlightsGold Rate: अगर आप सोना खरीदने की सोच रहे हैं तो जल्दी कीजिए, क्योंकि सोने और चांदी की कीमत में तेजी आ रही है। गुरुवार 23 जूनको सोने की कीमतों में फिर से उछाल आया। 22 कैरेट सोने की कीमत 200 रुपये बढ़कर 47,650 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गई, जबकि इससे पहले यह 47,450 रुपये थी। इस बीच 24 कैरेट सोने का भाव भी 230 रुपये की तेजी के साथ कारोबार कर रहा था। 24 कैरेट सोने की कीमत 51,990 रुपये थी, जो इससे पहले 51,760 रुपये थी।अमेरिका में कमरतोड़ महंगाई खिलाफ अमेरिकी फेडरल रिजर्व के प्रमुख की ब्याज दरें आगे भी बढ़ाने के ऐलान के बाद अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने की कीमत में कमी दर्ज की गई है। हाजिर सोना 0.2% की गिरावट के साथ 1,832.91 डॉलर प्रति औंस पर 0239 GMT था। रॉयटर्स की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि अमेरिकी सोना वायदा 0.2% गिरकर 1,834.30 डॉलर पर आ गया।राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को सोने की कीमत 205 रुपये की गिरावट के साथ 50,487 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गई, जो कीमती धातु की अंतरराष्ट्रीय दरों में गिरावट के अनुरूप है। पिछले कारोबारी दिन में पीली धातु 50,692 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुई थी। चांदी भी 926 रुपये की गिरावट के साथ 59,959 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई, जो पिछले कारोबार में 60,885 रुपये प्रति किलोग्राम थी।

क्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासाPakistan Road Accident: पाकिस्तान में दो भीषण सड़क हादसे, 20 यात्रियों की जलकर हुई मौत, कुल 28 की गई जान******Highlightsपाकिस्तान के पंजाब और सिंध प्रांत में मंगलवार को हुए दो अलग-अलग सड़क हादसों में कम से कम 28 लोगों की मौत हो गई और 26 लोग जख्मी हो गए। बचाव कर्मियों ने बताया कि पंजाब प्रांत में मुल्तान-सुक्कूर राजमार्ग (एम-5) पर एक यात्री बस और एक तेल टैंकर के बीच टक्कर होने से कम से कम 20 लोगों की जलकर मौत हो गई और छह अन्य जख्मी हो गए।मुल्तान के उपायुक्त ताहिर वट्टू ने बताया, "एक यात्री बस लाहौर से कराची जा रही थी और सुक्कुर के पास जलालपुर पीरवाला इंटरचेंज पर उसने पीछे से एक तेल के टैंकर को टक्कर मार दी। बस का चालक सो गया था जिस वजह से यह हादसा हुआ।" उन्होंने कहा कि टक्कर के बाद दोनों गाड़ियों में आग लग गई और इस वजह से 20 लोगों की मौके ही मौत हो गई, क्योंकि वे बस में फंस गए थे।अधिकारियों के मुताबिक, आग में झुलस गए छह यात्रियों को और शवों को मुल्तान के निश्तार अस्पताल भेजा गया है। निश्तार अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ अमजद चांडियो ने कहा कि मृतकों की पहचान की पुष्टि के लिए डीएनए परीक्षण की प्रक्रिया की जा रही है और घायलों का इलाज किया जा रहा है।पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की। उन्होंने ट्वीट किया, "मैं हादसे में 20 लोगों की जान जाने की खबर से दुखी हूं। शोक संतप्त परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं।"दूसरा हादसा सिंध प्रांत के सुक्कुर जिले के रोहरी में हुआ जहां एक बस राजमार्ग पर पलटकर एक गड्ढे में गिर गई। दुर्घटना में महिलाओं और बच्चों समेत कम से कम आठ लोगों की मौत हो गई और 20 अन्य लोग घायल हो गए। रोहरी राजमार्ग कराची को मुल्क के बाकी के हिस्सों से जोड़ता है।बचाव कर्मियों के अनुसार, बस स्वात से कराची जा रही थी, और चालक बस को मोड़ने के दौरान उस पर से नियंत्रण खो बैठा और यह पलट गई और एक गहरे गड्ढे में गिर गई। स्वास्थ्य क्षेत्र में काम करने वाले गैर सरकारी संगठन ईधी सेंटर के एक अधिकारी ने कहा कि मृतकों में चार महिलाएं और दो बच्चे शामिल हैं। घायलों को रोहरी तालुका अस्पताल ले जाया गया है जहां आपात स्थिति घोषित कर दी गई।क्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासाCM KCR on PM Modi Speech: PM मोदी के भाषण पर CM केसीआर ने साधा निशाना, कहा- कुछ भी उपयोगी नहीं******Highlightsतेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्होंने अपने स्वतंत्रता दिवस के भाषण में 'संवाद' अदायगी और सिर पर पहनी लंबी पगड़ी के प्रदर्शन के अलावा कुछ भी उपयोगी नहीं किया। केसीआर नाम से लोकप्रिय राव ने तेलंगाना के विकाराबाद में एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री के 'रेवड़ी संस्कृति' वाले बयान को लेकर भी उन पर निशाना साधा और कहा कि देश में कोई और राज्य नहीं है जो तेलंगाना की तरह कल्याणकारी योजनाओं को लागू कर रहा हो।राव ने आरोप लगाया, "कल मैं भी प्रधानमंत्री का भाषण सुन रहा था। उन्होंने आठ साल तक कुछ नहीं किया, लेकिन फिर भी मैंने सोचा कि बाकी के दो साल के लिए वे कुछ कहेंगे। एक घंटे के पूरे भाषण में संवादों, सिर पर पगड़ी, पहनावे के अलावा और कुछ नहीं था। किसी नई योजना की घोषणा नहीं की गई। देश के कल्याण के लिए एक भी शब्द नहीं कहा गया।"तेलंगाना के मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार राज्यों को कोयला आयात करने के लिए बाध्य कर रही है, जबकि यह भारत में सस्ती दर पर उपलब्ध है। अपने काफिले के गुजरने के दौरान कुछ बीजेपी कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन की कोशिश का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि विकराबाद की जनता को इन भगवा पार्टी के कार्यकर्ताओं से पूछना चाहिए कि मोदी ने पिछले आठ साल के शासन में किया क्या है।राव ने कहा, "मैं प्रधानमंत्री से पूछता हूं कि आपने पिछले आठ साल में क्या किया है। किसान, महिलाएं, आदिवासी, मुस्लिम और दलित। किस वर्ग को फायदा हुआ। किसी को नहीं। इस पर भी जब राज्य सरकारें अपनी सीमा में रहते हुए कुछ कल्याणकारी योजनाओं को लागू कर रही हैं, तो उन्हें मुफ्त की सौगात (फ्रीबीज) कहा जाता है।"गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को देश के 76वें स्वतंत्रता दिवस पर दिल्ली में लाल किले की प्राचीर से अपने भाषण के समय 'आजादी का अमृत महोत्सव' समारोहों की तर्ज पर सिर पर सफेद साफा पहना था, जिस पर तिरंगे वाली पट्टियां बनी थीं।

क्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासा'मैं इंतजार में हूं बता दो सोचकर मुझको....' वैलेंटाइन डे के खास मौके पर वो दिलकश शायरी जिसे आपने अबतक नहीं सुनी होगी******को हर युगल जोड़ा सेलिब्रेट करना चाहता है। हर कोई अपने-अपनेअनुसार इसे मनाता है। 7 दिन चलने वालेइस प्रेम-पर्व आज आखिरी दिन है। यानी कि आज वैलेंटाइन डे है।इस दिन का प्यार करने वालों को बेसब्री होता है। हर कोई अपने अनुसार प्यार का इजहार करता है। पहले जमाने की बात करें तो प्यार केइजहार करने का अपना ही तरीका था। जिसमें शायरियों का यूज किया जाता था। जिससे हर लवर बिना देरी किए उस प्यार के प्रपोजल को स्वीकार कर लेती है लेकिन आज के समय में ऐसा नहीं है।अगर आप भी अपने प्यार से कुछ अलग ढंग में प्यार का इजहार करना चाहते है, तो इन शायरियों से कर सकते है। वो जरुर हां करेगी।कहीं तो रखा है दिल में संभालकर मुझकोतभी रुके हैं तुम्हारे कदम देखकर मुझको।जुबां पे लाओगे कब तुम निगाह की बातेंमैं इंतजार में हूं बता दो सोचकर मुझको।।बात आंखों से कही जाती रहीखामोशी तेरी प्यार जताती रही।हम कुछ और ही समझते रहेजिंदगी और कुछ समझाती रही।।राह फूलों से इतनी भरो मतकुछ कांटों पे भी हक हमारे।इस कदर प्यार इतना करो मतकि हम जी न सकें बिन तुम्हारे।।जीते रहे हैं जिसके लिए वो अब मेरी मोहब्बत में कहां हैऐ रात तू तो सो जा, नींद अब मेरी किस्मत में कहां है।।यूं चुप रहो न प्यार के दो बोल, बोल देबिखरे हुए हैं गीत मेरे प्राण घोल दे।माना कि तेरे दर पे पहरे बड़े हैं सख्तक्या बुरा है गर तू दरीचा जो खोल दे।।क्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासाDelhi News: दिल्ली में अब नहीं होगी शराब कि किल्लत, जानें सरकार का फैसला******Highlights दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में शराब की किल्लत को देखते हुए शराब की दुकानों के मौजूदा लाइसेंस की समय- सीमा को 31 अगस्त तक बढ़ाने का रविवार को फैसला किया। अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी। दिल्ली में शराब की 468 निजी दुकानें 31 जुलाई को लाइसेंस की समाप्ति के बाद सोमवार से बंद होने वाली थीं। हालांकि, उपराज्यपाल की मंजूरी के बाद ही आबकारी विभाग के आदेश से शराब की दुकानें खुलेंगी। एक अधिकारी ने बताया, ''दिल्ली सरकार ने शराब की दुकानों के मौजूदा लाइसेंस की अवधि को एक महीने यानी 31 अगस्त तक बढ़ाने के कैबिनेट के फैसले को उपराज्यपाल के पास भेज दिया है। 31 जुलाई के बाद शराब की दुकानों को खोलने की अनुमति देने के आदेश उपराज्यपाल की मंजूरी के बाद जारी किए जाएंगे।''पुरानी आबकारी नीति फिर से होगी लागूदिल्ली सरकार ने पुरानी आबकारी नीति फिर से लागू करने और 6 महीने तक खुद दुकानें चलाने का निर्णय शनिवार को लिया था। आबकारी नीति 2021-22 (Delhi New Liquor Policy) के तहत शहर में 468 दुकानें संचालित हो रही हैं, जिनका लाइसेंस 31 जुलाई के बाद खत्म हो जाने वाला था। दिल्ली में कई शराब की दुकानों में, कीमतों में छूट देकर और एक के साथ दो फ्री जैसी नई स्कीम पेशकर पहले का भंडार खत्म किया गया और दुकानें बंद कर दी गईं।सरकार इन चार निगमों द्वारा बेचेगी शराबसरकार फिर से 4 निगमों के द्वारा शराब बेचने जा रही है। इनमें दिल्ली स्टेट इंडस्ट्रियल और बुनियादी ढांचा विकास निगम (DSIIDC), दिल्ली पर्यटन और परिवहन विकास निगम (DTTDC), दिल्ली उपभोक्ता सहकारी थोक स्टोर (DCCWS) और दिल्ली राज्य नागरिक आपूर्ति निगम (DSCSC) शामिल हैं। दिल्ली सरकार के फाइनेंस डिपार्टमेंट ने इन 4 निगमों के प्रमुखों के साथ उनके द्वारा संचालित शराब की दुकानों के विवरण के लिए समन्वय करने का निर्देश दिया है।

क्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासाआम बजट में कृषि क्षेत्र के लिए रिकॉर्ड 10 लाख करोड़ रुपए के ऋण का लक्ष्य******वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस साल के बजट में कृषि पर विशेष जोर देते हुए किसानों की आय अगले पांच साल में दोगुना करने की सरकार की प्रतिबद्धता दोहराई है तथा कृषि क्षेत्र के लिए वित्त वर्ष 2017-18 में कर्ज का लक्ष्य एक लाख करोड़ रुपये बढ़ाकर रिकॉर्ड 10 लाख करोड़ रुपए का प्रस्‍ताव किया है।अफोर्डेबल हाउसिंग को मिलेगा इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर का दर्जा, क्रेडिट लिंक्‍स सब्सिडी योजना की सीमा बढ़ीवित्त वर्ष 2017-18 में कृषि ऋण के लिए रिकॉर्ड 10 लाख करोड़ रुपये का लक्ष्‍य रखा गया है। सरकार पूर्वोत्तर तथा तथा जम्मू-कश्मीर में कृषि क्षेत्र के लिए ऋण प्रवाह सुनिश्चित करने के लिए विशेष उपाय करेगी।Budget Top 10शेयर बाजार में लिस्‍टेड होंगी रेलवे की कंपनियां, जल्‍द आएंगे IRCTC, IRCON तथा IRFC के आईपीओक्याराजकुमाररावकीसालीलेस्बियनहैंबधाईदोमूवीकेबादहुआखुलासाघाटे से उबरने के लिए फूडपांडा ने उठाया बड़ा कदम, 300 कर्मचारियों को नौकरी से हटाया****** ऑनलाइन फूड ऑर्डर व आपूर्ति फर्म फूडपांडा इंडिया ने अपने लगभग 15 फीसदी कर्मचारियों को नौकरी से हटा दिया है। इस तरह से कंपनी ने लगभग 300 लोगों की छंटनी की है। कंपनी का कहना है कि उसने अपने परिचालन को चुस्त-दुरुस्‍त बनाने के लिए यह कदम उठाया है।फूडपांडा के प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी ने अपने कुल श्रमबल में 15 फीसदी की कमी की है, जो कि लगभग 300 कर्मचारी हैं। ईमेल से भेजी प्रतिक्रिया में कंपनी ने कहा है कि उसने ऑर्डर पर काम करने में 98 फीसदी ऑटोमेशन हासिल करते हुए मानवीय हस्तक्षेप कम करने में सफलता पाई है, इसी के चलते श्रम बल में लगभग 15 फीसदी की कमी की गई है। फूडपांडा इंडिया के सीईओ सौरभ कोचर ने कहा कि हम प्रसंस्करण व प्रौद्योगिकी में निवेश जारी रखेंगे लेकिन इसके साथ ही हमें कुछ मुश्किल फैसले भी करने होंगे। लेकिन हमारा मानना है कि लक्षित समयसीमा में टिकाउ व लाभप्रद बनाने की हमारी राह में ये जरूरी कदम हैं।गोल्डमैन सैक्‍स के भारतीय मूल के पूर्व निदेशक रजत गुप्ता की भेदिया कारोबार के आरोप में दोषसिद्धि का फैसला पलटने संबंधी याचिका खारिज हो गई है, हालांकि, उनकी सजा समाप्त होने में तीन महीने ही बचे हैं। अमेरिका की अपीलीय अदालत ने गुप्ता की याचिका खारिज कर दी, जिसमें उन्होंने कहा था कि यह साबित करने के लिए अपर्याप्त साक्ष्य हैं कि उन्हें सजायाफ्ता राज राजरत्नम को गोल्डमैन सैक्‍स के बारे में गोपनीय सूचना के बदले व्यक्तिगत लाभ मिला।गुप्ता की दो साल की कैद अगले साल मार्च में समाप्त होने वाली है और उन्होंने जून 2012 में दोषसिद्धि के बाद से कई अपील की है लेकिन अदालतों ने उनकी दलील खारिज कर दी और उनकी सजा बरकरार रखी।मैकिंजी के पूर्व प्रमुख फिलहाल मैसेच्यूसेट्स की एक जेल में सजा काट रहे हैं।

हाल का ध्यान

लिंक